Greece Information | ग्रीस के इतिहास के बारेमें महत्वपूर्ण घटनाएँ और जानकारी

Greece – ग्रीस अथवा यूनान यूरोप महाद्वीप में स्थित देश है। यहां के लोगों को यूनानी अथवा यवन कहते हैं। जानिए ग्रीस के बारेमें ऐसेही महत्वपूर्ण बातें–

Greece Information

ग्रीस के इतिहास के बारेमें महत्वपूर्ण घटनाएँ और जानकारी – Greece Information

ग्रीस, अधिकारिक रूप से यूनान गणराज्य, एतिहासिक रूप से यूनान के नाम से जाना जाता है, ग्रीस दक्षिण-पूर्वी यूरोप का ही एक देश है। सन 2015 में ग्रीस की जनसँख्या तक़रीबन 10.955 मिलियन थी। थेस्सालोनिकी के बाद देश का सबसे बड़ा शहर और राजधानी एथेंस है।

रणनीतिक रूप से ग्रीस यूरोप, एशिया और अफ्रीका के चौराहों पर बसा हुआ है। जो बाल्कन प्रायद्वीप के दक्षिणी कोने में स्थित है। इसके उत्तर-पश्चिम में अल्बानिया की बॉर्डर, उत्तर में मकदूनिया और बुल्गारिया की बॉर्डर और उत्तर-पूर्व में तुर्की की बॉर्डर है। ग्रीस में कुल 9 भौगोलिक क्षेत्र है : मकदूनिया, मध्य ग्रीस, पेलोपोन्नेस, थेस्सली, एपिरुस, दी एजियन आइलैंड, थ्रस, क्रीट और लोनियन आइलैंड। एजियन सागर मुख्य भूमि के पूर्व की तरफ, लोनियन सागर पश्चिम की तरफ, क्रेटन सागर और आभ्यंतरिक सागर दक्षिण की तरफ है। आभ्यंतरिक घाटी पर ग्रीस का सबसे लंबा समुद्री तट है और 13, 676 किलोमीटर लंबा यह तट विश्व का 11 वा सबसे लंबा समुद्री तट है। ग्रीस में बहुत से आइलैंड है, जिनमे से 227 तो वही बसे हुए है। ग्रीस का 80% भाग पहाड़ी है, जहाँ माउंट ओलम्पस पर्वत पर 2,918 मीटर ऊँचा देश का सर्वोच्च शिखर है।

ग्रीस को पश्चिमी सभ्यता का पालना और लोकतंत्र की जन्मभूमि माना जाता है। यहाँ हमें पश्चिमी दर्शनशास्त्र, ओलंपिक्स खेल, पश्चिमी साहित्य, हिस्टोरियोग्राफी, राजनीती विज्ञान, बहुत से वैज्ञानिक और गणितीय तत्व और पश्चिमी ड्रामा देखने को मिलते है। आठवी शताब्दी से, ग्रीस ने बहुत से आज़ाद शहरो का आयोजन किया है, जो पोलिस के नाम से जाने गये, साथ ही वे पुरे आभ्यंतरिक क्षेत्र और काले सागर में फ़ैल चुके थे। मैकडॉन के फिलिप ने अपने बेटे एलेग्जेंडर दी ग्रेट के साथ मिलकर ज्यादातर ग्रीस मुख्यभूमि को चौथी शताब्दी में एकत्रित किया था और ज्यादातर प्राचीन दुनिया, ग्रीस संस्कृति और विज्ञान का निर्माण भी इस काल में हुआ था। दूसरी शताब्दी में ग्रीस पर रोम ने कब्ज़ा कर लिया, इसके बाद ग्रीस रोमन साम्राज्य का आंतरिक भाग बन चूका था जहाँ ग्रीस भाषा और संस्कृति का विकास बीजान्टिन साम्राज्य में किया गया। पहले शताब्दी में ग्रीस रुढ़िवादी चर्च का निर्माण करने के बाद आधुनिक ग्रीस परंपराओ और संस्कृति का विकास किया गया और ग्रीस ने वैश्विक स्तर पर भी अपनी पहचान बनायीं। 15 वी शताब्दी के मध्य में ग्रीस, ओटोमन के अधिराज्य में चला गया, आधुनिक ग्रीस 1830 में आज़ादी के युद्ध के बाद ग्रीस उभरकर सामने आया। ग्रीस की 18 एतिहासिक धरोहरों को यूनेस्को वर्ल्ड हेरिटेज साइट्स में शामिल किया गया, जो यूरोप और पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा है।

Loading...

उच्च-आय अर्थव्यवस्था, जीवन की उच्च गुणवत्ता और जीने के काफी ऊँचे स्तर के साथ ग्रीस एक लोकतांत्रिक और विकसित देश है। यूनाइटेड नेशन का संस्थापक सदस्य होने के साथ-साथ ग्रीस यूरोपियन समुदाय का 10 वा सदस्य और २००१ से यूरोजोन का भी हिस्सा है। ग्रीस बहुत सी अंतर्राष्ट्रीय संस्थाओ का सदस्य भी है, जिनमे मुख्य रूप से ऑपरेशन एंड डेवलपमेंट (OECD), वर्ल्ड ट्रेड आर्गेनाईजेशन (WTO), आर्गेनाईजेशन फॉर सिक्यूरिटी एंड को-ऑपरेशन इन यूरोप (OSCE) और OIF शामिल है। ग्रीस की अद्वितीय सांस्कृतिक विरासत, विशाल पर्यटन उद्योग, मजबूत शिपिंग सेक्टर और भूरणनीतिक महत्त्व इसे मध्यम शक्ति वाला देश बनाते है। आर्थिक रूप से भी देश का वैश्विक स्तर पर बहुत योगदान रहा है।

ग्रीस के इतिहास के कुछ महत्वपूर्ण दिन – Important Dates in Greece History

1821-1829 – ओटोमन साम्राज्य से ग्रीस का आज़ादी के लिए हुआ युद्ध।

1832 – बवेरिया के प्रिंस ओट्टो को आज़ाद ग्रीस के पहले राजा के रूप में चुना गया।

1919-22 – ग्रीको-तुर्किश युद्ध – ग्रीस पर एशिया के आक्रमण करने से प्रथम विश्व युद्ध के बाद ओटोमन साम्राज्य समाप्त हो गया, जिसे तुर्किश सेना ने पराजित किया।

1924 – ग्रीस लोग राजशाही की समाप्ति के लिए वोट करने लगे, और देश गणराज्य बन गया।

1936 – जनरल लोंनिस मेटाक्सेस को प्रधानमंत्री पद पर नियुक्त किया गया, दक्षिणपंथी तानाशाही की स्थापना की गयी।

1940 – इटालियन तानाशाह बेनिटो मुस्सोलीनी की सेना ने इटालियन- अल्बानिया से ग्रीस पर आक्रमण किया, लेकिन फिर उन्हें पीछे हटना पड़ा।

1941 – मेटाक्सेस की मृत्यु हो गयी, ग्रीस जर्मन सेना के सामने झुक गया।

1944 – ब्रिटिश ओत ग्रीस दोनों सेना ने मिलकर नाज़ी को बाहर निकालने ला निर्णय लिया।

1946-1949 – राजशाही पार्टियाँ चुनाव जीत गयी। कम्युनिस्ट सेनाओ के हारते ही सिविल वॉर भी समाप्त हुआ।

1952 – नए संविधान में यह घोषित किया गया की ग्रीस साम्राज्य पर संसदीय लोकतांत्रिक शासन होंगा। ग्रीस नाटो में भी शमिल हो गया।

1967 – कुछ समय तक चुनावो की स्थगित किया गया और कोलोनियल जॉर्ज पपादोपोलुस ग्रीस के नए प्रधानमंत्री बने।

1975 – नए संविधान में ग्रीस को संसदीय गणराज्य वाला देश कहा।

दोस्तों , अगर आपको हमारी ग्रीस के बारेमें दी गयी जानकारी पसंद आयी हो, तो और पढिए ग्रीस के बारेमें और भी कुछ रोचक बातें – Interesting Facts about Greece जिन बातों को पढ़कर आप हैरान रह जाओंगे।

Read More –

I hope these “Greece Information in Hindi” will like you. If you like these “Greece Information in Hindi with History” then please like our facebook page & share on whatsapp. and for latest update download : Gyani Pandit free android App

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here