गुस्से को कैसे काबू में करे | How To Control Anger In Hindi

क्या आप ने “Angry Bird” movie देखी है ? वैसे तो यह बच्चों की movie है लेकिन इसमें हम बड़ों के लिए भी एक सीख दी गयी है। इस movie में मुख्य किरदार बहुत ही गुस्सैल था और इस कारण ही वह birds की बस्ती से दूर समुंद्र के किनारे घर बना कर रहता था। और जब वह अपने गुस्से पर नियंत्रण करना सीख जाता है तो वह बस्ती का hero बन जाता है। movie में यह सीख मुख्य रूप से दी गयी है कि गुस्सा किसी भी चीज का हल नहीं होता है। तो चलो देखते हैं – How To Control Anger In Hindi :

How To Control Anger Hindi
How To Control Anger

गुस्सा किसी चीज का हल नहीं होता – How To Control Anger In Hindi

यह बात सच है कि गुस्सा यानि क्रोध एक प्राकृतिक और सामान्य भावना है और यह व्यक्ति की बुनियादी भावनाओं में से एक है। यह व्यक्ति की एक शारीरिक प्रतिक्रिया है। अगर ये कहें कि गुस्सा व्यक्ति की खुशी और गम की तरह ही एक भावना है तो गलत नहीं होगा, लेकिन कभी – कभी किसी का गुस्सा इस हद तक बढ़ जाता है कि वह खुद की जिंदगी और दूसरों की खुशियों पर असर डालने लगता है। बहुत से लोग ऐसे भी होते है जिन्हें गुस्सा तो आता है मगर यह मानने को तैयार नहीं होते की वह गुस्सैल स्वभाव के है जबकि सच यह होता है कि जब उन्हें गुस्सा आता है तो वह out of control हो जाते है। ऐसे में वह जिन्हें प्यार करते है उन्हीं को नुकसान पहुचाने लगते है। हम में से बहुत कम लोग ही ऐसे होते है जो यह मानने को तैयार होते है कि उनका स्वभाव गुस्सैल है। आज मैं आप से अपने गुस्से को पहचानने के signs तथा उनसे कैसे निपटा जाएँ, इसी विषय बाते करूंगी।

गुस्सा पहचानने के signs –

जीवन केवल खुशियों का नाम नहीं है, इसमें खुशियों के साथ परेशानियां भी आती – जाती रहती है। ऐसे में कठिन परिस्थितियों से मुह मोड़ लेने में समझदारी नही है बल्कि अपने गुस्से की आंच से अपने रिश्तों को बचाने में समझदारी है। अत: गुस्से के कुछ ऐसे साफ sings होते है जिससे यह पता चलता है कि हम गुस्से में है जैसे –

• धैर्य की कमी
• गाली देना
• सामने वाले को नीचा दिखाना
• चिड़चिड़ाना
• हर चीज के लिए दुसरे को दोषी ठहराना
• गुस्सा होने पर काम करना बंद कर देना या पीछे हट जाना
• लोगो का आप से बचने की कोशिश करना
• पत्नी बच्चों और रिश्तेदारों का आप से बात करने में डरना

loading...

इसे आप एक प्रकार से सामान्य लक्षण मान सकते है। लेकिन इन सब के अलावा भी गुस्से के बहुत सारे sings हो सकते है। हमारे आस – पास के लोगो, दोस्तों, रिश्तेदारों या फिर खुद में भी इस तरह के लक्षण हो सकते है पर इनसे किसी भी प्रकार की शर्मिंदगी नहीं होनी चाहिए बल्कि इस समस्या का समाधान ढूढना चाहिए। इसलिए अगर लगता है कि आपको गुस्सा आता है तो इसमे आपको खुद ही पहल करनी पड़ेगी। अब सवाल यह उठता है कि कैसे लाएं अपने गुस्से को काबू में तो उसके लिए निम्नलिखित उपाय है :

गुस्से को काबू में करने के कुछ आसान से उपाय – How to control anger techniques & tips :

ज्यादातर लोग अपने गुस्से को दोस्तों, रिश्तेदारों से छुपा ले जाते है लेकिन इनके गुस्से का पता इन लोगों का अपनों प्रियजनों के साथ किए गए व्यवहार से चलता है। इनका गुस्सा के दर्शन आप तब कर सकते है जब ऐसे लोग उन पर गुस्सा होते है जिनसे ये प्यार करते है। अगर आप भी इतने गुस्से वाले इन्सान है तो कुछ आसान से उपायों को अपनाकर आप गुस्से को झट गायब करके अपने रिश्ते को सुन्दर बना सकते है –

10 तक number गिने –

जब आप को लगे कि आप गुस्से में है तो सबसे पहले कोई प्रतिक्रिया करने के वजाय शान्त हो जाएं और गहरी सांस लें। इससे आपको गुस्से पर control करने में मदद मिलेगी और एक बात जो मैं आप से कहने जा रही हूँ, हो सकता है आप को बचकाना लगे और वो यह है कि 10 तक नंबर गिने। इससे आपको सोचने – समझने का थोड़ा वक्त मिल जायेगा।

एक break लें –

अगर आप गुस्से में बेकाबू हो जाते है तो सबसे जरुरी है ऐसी परिस्थितियों में जब आप को लगे कि गुस्सा बहुत ज्यादा आ रहा है तब आप किसी भी बहस में शामिल न हो क्योंकि हो सकता है कि आप अपना आपा खो दे। इसलिए अच्छा होगा कि आप उस जगह से हट जाए / एक छोटा सा break ले / ठंडा पानी पिए और थोडा टहल ले। इस तरह से जब आप और दूसरा व्यक्ति शांत हो जाएं तब अपने चर्चा को दुबारा शुरू कर सकते है।

पहचानें गुस्से का कारण –

गुस्से से डील करने के लिए सबसे जरुरी होता है यह पता लगाना कि किन परिस्थितियों के कारण गुस्से को बढ़ावा मिला है। परिस्थितियों और कारणों को अच्छे से समझे और उससे उपजी परेशानियों को दूर करे।

व्यायाम करेगा गुस्से को शांत –

व्यायाम और विश्राम के साथ अपने गुस्से के स्तर को कम करने की कोशिश करें। कुछ exercise जैसे swimming, morning walk और योग से गुस्से को कंट्रोल किया जा सकता है। सुबह की ताजी हवा में प्रकृति के साथ कुछ समय रहना, गहरी सांसे लेना आदि भी मन को सुकून देगा और गुस्से पर काबू पाने में बेहद फायदेमंद रहेगा। इसलिए अपने दैनिक जीवन में ध्यान और योग को जरुर शामिल करे।

Sleep well –

कभी – कभी work load के कारण हम ठीक से सो नहीं पाते है जिसके कारण सिरदर्द, तनाव और चिड़ाचिड़ाहट होने लगती है और हम बेवजह दूसरों पर चीखते – चिल्लाते है। इसलिए आप अपने व्यस्त दिनचर्या से 7 घंटे का वक्त सोने के लिए जरुर निकले क्योंकि 7 से 8 घंटे की नींद अच्छे स्वास्थ के लिए आवश्यक होता है।

गुस्सैल स्वभाव इंसान के सारे अरमानों पर पानी फेर देता है। इसलिए अपने गुस्से को दबाएँ नहीं बल्कि अपने गुस्से के कारणों को पहचाने और गुस्से को दूर करने का प्रयास करें। एक बार कोशिश तो करके देखिए फिर आप खुद ही महसूस करेंगे कि गुस्से के गायब होने से रिश्ता कितना सुन्दर बन जाते है।

ये बेहतरीन लेख हमें बबीता जी ने भेजा हैं।

नाम : बबीता जी,
ब्लॉग : khayalrakhe.com

नमस्ते दोस्तों, मेरा नाम बबीता है और मैं professionally एक टीचर हूँ और साथ ही एक NGO से जुड़कर women empowerment के लिए काम कर रही हूँ | मेरा अपने ब्लॉग “khayalrakhe.com ” के माध्यम से अपने readers से जुड़ी समस्याओं जैसे सेहत, self improvement , रिश्तों की उलझनों को सुलझाने और उनके बारे में aware करने का एक छोटा सा प्रयास है।

If you like anger management techniques & tips then more article for you – 

    1. चिंता को दूर करने के उपाय
    2. सफल लोगो की 12 अच्छी आदते
    3. सफलता के लिये ज्ञान की बाते
    4. 5 प्रेरणादायक जीवन मंत्र
    5. Self Confidence

Note :- अगर आपको How To Control Anger In Hindi अच्छी लगे तो Please इसे आपके दोस्तों के साथ Share कीजिये।
Note :- For more articles like “How To Control Anger In Hindi” And Personality Development Article please download – Gyanipandit free android App.

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here