प्रेसिडेंट बराक ओबामा का भाषण | President Barack Obama Speech

प्रेसिडेंट बराक ओबामा यूनाइटेड स्टेट ऑफ़ अमेरिका के 44 वे प्रेसिडेंट है और साथ ही अमेरिकी इतिहास के पहले काले प्रेसिडेंट है। प्रेसिडेंट बनने के कुछ समय बाद ही उन्हें नोबेल शांति पुरस्कार से नवाजा गया था। अपने स्वीकृत भाषण में दुनिया की शांति के बारे में कुछ कहाँ। उन्होंने अपने मिशन के बारे में बताते हुए कहा था की वे दुनिया और अपने देश में शांति का निर्माण करना चाहते है। यहापर बराक ओबामा का हिंदी में अनुवाद किया गया भाषण – President Barack Obama Speech :

10 दिसम्बर 2009, ओस्लो, नॉर्वे

Barack Obama Speech

प्रेसिडेंट ओबामा का नोबेल शांति पुरस्कार स्वीकारते समय का भाषण – President Barack Obama Speech

मै इस सम्मान को बड़ी कृतज्ञता और नम्रता के साथ स्वीकार कर रहा हूँ। अवार्ड ही हमारी अभिलाषा को बढ़ाते है। हम किस्मत से कैदी भी बन सकते है। आखिर में हमारे काम मायने रखते है, हमारे काम ही इतिहास को न्याय की दिशा में ले जाते है।

विवादों को जैसे तुम्हारे उदार निर्णयों ने ठीक किया है उसे यदि में स्वीकार नही करता तो मै निश्चित ही आलसी हूँ। बल्कि यह सब इसलिए है क्योकि मै अभी शुरुवात में ही हूँ और ना की अंत में, मेरे सहकर्मी आज वैश्विक स्तर पर पहुँच चुके है। यदि इतिहास में जिन महापुरुषों को यह पुरस्कार मिला उनसे मेरी तुलना करू तो मेरी उपलब्धि बहुत छोटी और कम है। और दुनिया में ऐसे कई इंसान और महिलाये है जो न्याय पाने के लिये जेल तक जा चुके है, कुछ लोगो ने मानवता के निर्माण के लिये कठिन परिश्रम तक किया है, कुछ लोगो ने अपने विचारो से ही लाखो असफल लोगो को प्रेरित किया है और हिम्मत बढाई है। लेकिन मेरे हिसाब से यह पुरस्कार मेरी झोली में इसलिए आया क्योकि मै दो मुख्य युद्ध के दौरान देश का कमांडर-इन-चीफ था और मैंने युद्ध के दौरान भी देश में शांति बनाये रखी।

Loading...

मै आज युद्ध का कारणों का उपर्युक्त सुझाव साथ लेकर नही आया हूँ। मै केवल इतना जानता हूँ की मैंने उस समय केवल कठिन परिश्रम कर मीटिंग का आयोजन किया था, और ऐसा करने के लिये आज मुझे कठिन परिश्रम करने वाले एक दशक पुराने साहसी इंसानों और महिलाओ की जरुरत होंगी। युद्ध के दौरान हमें नये सिरे से सोचने की जरुरत होती है ताकि हम देश में शांति बनाये रख सके।

अब मै उन तीन रास्तो के बारे में बताना चाहूँगा जिन्हें मैंने युद्ध के दौरान बनाया और शांति स्थापित की।

सबसे पहले मैंने उन देशो के साथ सौदे किये जो नियम और कानून को तोड़ते है, यदि हम देश में शांति चाहते है तो मेरा मानना है की हमें हिंसा के विकल्प विकसित करने चाहिये ताकि हम अपने व्यवहार को बदलने में सक्षम हो। ऐसा करने पर ही अंतर्राष्ट्रीय समुदाय को हम आकर्षित कर पाएंगे। वह शासन पद्धति जो नियमो को तोडती है उसे हमें जिम्मेदार मानना चाहिये। मंजूरी भी सही और वास्तविक कीमतों पर आधारित ही होनी चाहिये।

यही बात मुझे दुसरे पॉइंट तक ले गयी – शांति का स्वभाव जिसे हम ढूंढते है। शांति के लिये दिखाई देने वाले संघर्ष का आभाव जरुरी नही है। जन्मसिद्ध अधिकारों और हर एक इंसान की गरिमा पर आधारित शांति भी लंबे समय तक बनी रह सकती है। बहुत ज्यादा समय बीत जाने के बाद अक्सर ये शब्द लोग भूल जाते है। कुछ देशो में गलत सुझाव देकर मानवी हक्को का समर्थन किया जाता है, उन्हें कहा जाता है की ये सब पश्चिमी तत्व है और उन्हें अपने स्थानिक संस्कृति के अनुसार देश का विकास करना है।

तीसरा, शांति में सिर्फ नागरिक और राजनैतिक अधिकार ही शामिल नही है, बल्कि इसमें आर्थिक सुरक्षा और अवसर भी शामिल है। असल में वास्तविक शांति के लिये सिर्फ डर से ही आज़ादी नही बल्कि इच्छाओ की भी आज़ादी चाहिये।“

Thanks.

बराक ओबामा इस भाषण को देने के बाद से ही 21 वी शताब्दी में यूनाइटेड स्टेट में हो रहे गलत कामो को सकारात्मक रवैये के साथ करने लगे थे और देश में शांति विकसित करने के लिये उन्होंने कुछ सकारात्मक कदम भी उठाये। इस भाषण को देने के बाद यूनाइटेड स्टेट के लोगो का नजरिया भी उनके प्रति बदल गया था, अब वे अपने प्रेसिडेंट को और भी ज्यादा चाहने लगे थे।

More Speech Collection :- Speech In Hindi

Read More:-

Note :- आपके पास President Barack Obama Speech In Hindi मैं और Information हैं, या दी गयी जानकारी मैं कुछ गलत लगे तो तुरंत हमें कमेंट और ईमेल मैं लिखे हम इस अपडेट करते रहेंगे. धन्यवाद….
नोट :- अगर आपको President Barack Obama Speech In Hindi अच्छा लगे तो जरुर हमें facebook पर share कीजिये.
E-MAIL Subscription करे और पायें More Essay, Paragraph, Nibandh In Hindi. For Any Class Students, Also More New Article… आपके ईमेल पर.

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here