“ओला कैब” के सीईओ और फाउंडर भविश अग्रवाल | Bhavish Aggarwal ola cab founder story

Bhavish Aggarwal – भविश अग्रवाल, ola cab – ओला कैब के सीईओ और फाउंडर हैं। जिन्होनें महज छोटी सी उम्र में ही सबसे बड़ी ऑनलाइन टैक्सी सर्विस की कंपनी खोलकर दिग्गज से दिग्गज बिजनेसमैन को हैरान कर दिया।

IIT स्टूडेंट रहे भविश अग्रवाल की कैब की शुरुआत करने के फैसले ने न उन्हें सिर्फ एक सफल बिजनेसमैन बनाया बल्कि ऑनलाइन कैब की सहज सुविधा देकर तमाम लोगों की यात्रा से जुड़ी सबसे बड़ी समस्या का चुटकियों में समाधान कर दिया, अब एक क्लिक में ही लोग “ओला कैब टैक्सी सर्विस” का फायदा ले रहे हैं, यही नहीं भविश अग्रवाल का नाम दुनिया के बेस्ट बिजनेसमैन की लिस्ट में शामिल भी हो चुका है।

Bhavish Aggarwal
Bhavish Aggarwal ola cab

“ओला कैब” के सीईओ और फाउंडर भविश अग्रवाल – Bhavish Aggarwal ola cab founder story

भविश अग्रवाल का जन्म 28 अगस्त 1985 को लुधियान में हुआ। भविश अग्रवाल ने IIT बॉम्बे से बीटेक इंजीनियरिंग की शिक्षा ग्रहण की है। और वे माइक्रोसॉफ्ट कम्पनी में भी अपना नाम रोशन कर चुके हैं, इस दौरान भविश ने दो पेटेंट भी हासिल किए थे।

लेकिन भविश का लक्ष्य नौकरी कर पैसा कमाना नहीं था बल्कि समाज की समस्या का समाधान कर खुद को साबित करने का था, ओला कैब फाउंडर भविश कुमार की इस सोच ने उन्हें आज इस मुकाम तक पहुंचाया है।

भविश ने बैंगलोर से बांदीकुई के सफर को आसान बनाने के लिए कार बुक की लेकिन वे अपनी मंजिल तक पहुंचे नहीं थे के बीच में ही ड्राइवर ने पैसों की मांग की और भविश के साथ गलत व्यवहार किया जिससे परेशान होकर भविश को अपनी बाकी की यात्रा बस से करनी पड़ी थी, इस दौरान उन्हें ऑनलाइन टैक्सी सर्विस की शुरुआत करने का ख्याल आया और उन्होनें यात्रा से जुड़ी लोगों का न केवल हल निकाल दिया बल्कि उनके इस कदम से वे आज देश के मशहूर बिजनेसमैन की सूची में शामिल हो गए हैं।

भविश के सफर के बुरे अनुभव ने उन्हें सफलता का मंत्र तो दिया ही बल्कि कम दामों में यात्रा को सुगम और सफल कैसे बनाया जा सकता है इसका भी भरपूर ज्ञान दिया, इसलिए उन्होनें कम दामों पर अच्छी ट्रेवलिंग ऑनलाइन सर्विस शुरू कर दी जिसके बाद उनकी कंपनी सफलता के आसमान छू रही है।

उनके द्धारा बनाई गई ओलाकैब कंपनी आज लगभग 100 से भी ज्यादा शहरो में करीब 1.50 लोग ओला कैब सर्विस का इस्तेमाल कर रहे है और आज देश की सबसे बड़ी आॉनलाइन टैक्सी सर्विस कंपनी बन गई है जिसकी आय 100 करोड़ से भी ज्यादा है। ओला एप्लीकेशन आज ज्यादातर स्मार्टफोन यूजर के फोन में डाउनलोड की जा जाने वाली मुख्य ऐप बन गई है।

भविश ने लगातार अपने प्रयास से अपनी मंजिल को पाकर लोगों के लिए एक उदाहरण पेश किया है और ये सच कर दिखाया है कि

“अगर किसी काम को सच्चे मन और पूरी लगन से किया जाए तो सफलता जरूर मिलती है।”

Read More Inspirational Stories:

Hope you find this post about ”Bhavish Aggarwal Success Story In Hindi” inspiring. if you like this Article please share on Facebook & Whatsapp. and for latest update download: Gyani Pandit free Android app.

Loading...

12 COMMENTS

  1. I saw you blog your blog speed design nd every thing is very good sir …

    Keep it up i found you are a very good blogger … Your content is very usefull for us ….

    Kindly tech me how to do this type of work

    Nd do check my blog

  2. भावेश जी की बहुत प्रेरणादायक जीवनी शेयर करने के लिए धन्यवाद, ज्ञानी पंडित जी।

  3. आप की जानकारी मुझे बेहद अच्छी लगी और आप ने ओला कैब के फाउंडर के बारे में जानकारी देखकर मोटिवेट किया है इसके लिए आपको धन्यवाद

  4. वाह भविश जी… शुक्रिया पंडित जी ऐसे ही मोटिवेशनल लेख लिखते रहें. वैसे आज बहुत दिन बाद आपके ब्लॉग पर आयें हैं… 🙂

  5. ओला कैब के फाउंडर भावेश अग्रवाल की कहानी हम सब के लिए प्रेरणा स्रोत है इससे हमें भी बहुत कुछ सीखने को मिलेगा.

  6. sir aapka inspiring entrepreneurs section bahut hi accha hai. yahan bahut se motivational stories hai jo hamesha lakshya ke tarf aage badhane ki prerna dete hai. mai aaj first time aapke site par aaya hun aur yah site mujhe bahut hi accha laga. thankyou sir.

  7. वाकई ओला कैब के फाउंडर भविश अग्रवाल की बॉयोग्राफी बेहद शानदार और प्रेरणादायी है। इससे लोगों को बहुत ही अच्छा मोटीवेशन मिलेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.