इन मैन्युफैक्चरिंग बिज़नेस से आप हो सकते हैं मालामाल

Manufacturing Business Ideas

क्या आप भी अपना कोई नया मैन्युफेक्चरिंग बिजनेस – Manufacturing Business शुरु करने के बारे में सोच रहे हैं जो कि बेहद कम पूंजी के साथ शुरु किया जा सके, तो यह आर्टिकल आपके लिए उपयोगी साबित हो सकता है।

Manufacturing Business Ideas in India

इन मैन्युफैक्चरिंग बिज़नेस से आप हो सकते हैं मालामाल – Manufacturing Business Ideas

जो लोग यह सोचते हैं कि स्मॉल बिजनेस से वह अच्छा पैसा नहीं कमा सकते हैं और खुद का बिजनेस स्टार्ट करने के लिए बहुत ज्यादा पूंजी लगाने की जरूरत है, तो आपको बता दें कि ऐसा सोचना बिल्कुल गलत है क्योंकि छोटे स्तर के मैन्यूफैक्चिरिंग वाले बिजनेस को पूरी दुनिया में नए स्टार्टअप उद्यमियों के लिए ज्यादा फायदेमंद माना गया है।

वहीं सबसे आर्कषक मैन्यूफैक्चरिंग व्यापार में से कागज, खाने के प्रोडक्ट्स, रबड़, चमड़ा, कृषि उद्योग से संबंधित प्रोडक्ट के मैन्यूफैक्चरिंग के व्यापार शामिल हैं। इस तरह के छोटे स्तर के मैन्युफैक्चिंग उद्योग को न सिर्फ आसानी से शुरु किया जा सकता है बल्कि इस तरह के व्यापार किसी भी देश की जीडीपी में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

यहां, हम आपको कुछ कम लागत वाले मैन्युफैक्चरिंग बिजनेस आइडियाज – Manufacturing Business Ideas दे रहे हैं, जिन्हें आप सूक्ष्म, लघु और मध्यम पैमाने के आधार पर शुरू कर सकते हैं। ये बिजनेस आईडिया कुछ इस तरह हैं –

मैन्युफैक्चरिंग बिज़नेस आइडियाज- Manufacturing Business Ideas

  • मोमबत्ती बनाने का बिजनेस
  • टैम्पर्ड ग्लास मैन्युफैक्चरिंग का बिजनेस
  • अगरबत्ती बनाने का बिजनेस
  • कागज और नोटबुक मैन्युफैक्चरिंग का बिजनेस
  • कागज की प्लेट मैन्युफैक्चरिंग का बिजनेस (Paper plate manufacturing business)
  • कृत्रिम फूल बनाना (Artificial Flower Making)
  • बिस्किट बनाने का बिजनेस
  • कॉटन बडस मैन्युफैक्चरिंग का बिजनेस
  • डिज़ाइनर बिंदी बनाने का बिजनेस
  • खाने में इस्तेमाल होने वाले रंग को बनाने का बिजनेस
  • फोल्डर, फाइल और लिफाफा बनाने का बिजनेस
  • साबुन और डिटर्जेंट मैन्युफैक्चरिंग का बिजनेस
  • बाल तेल उत्पादन का बिजनेस
  • खेल सम्बंधित सामान बनाने का बिजनेस
  • हस्तनिर्मित बिस्कुट बनाने का बिजनेस (Handmade Biscuit making)
  • मधु उत्पादन का बिजनेस (Honey making)
  • जेम-जेली बनाने का बिजनेस (Jam Jelly making)
  • प्लास्टिक बोतल बनाने का बिजनेस (Manufacturing of Plastic bottles)
  • उर्वरक बनाने का बिजनेस (Making of Fertilizer)
  • स्टेशनरी वस्तुओं को बनाने का बिजनेस (Manufacturing of Stationary items)
  • आंखों के लिए ग्लास या फ्रेम मैन्यूफैक्चरिंग का बिजनेस (Eye Glass or Frames manufacturing)
  • पानी फ़िल्टर यंत्र लगाने का बिजनेस (साफ पानी उत्पादन का व्यवसाय) Water Filter Plant Manufacturing
  • कपड़ा बनाने का बिजनेस (Cloth Making)
  • चमड़े से सम्बंधित सामान के उत्पादन का बिजनेस (Production of Lather related items)
  • बच्चों के खिलौने का निर्माण का बिजनेस। (Manufacturing of Children’s Toys)
  • इलेक्ट्रिक बल्ब और इलेक्ट्रिकल फिटिंग उत्पादन का बिजनेस।
  • रग्स और रबर कालीन उत्पादन का बिजनेस।
  • मोबाइल फोन एक्सेसरीज उत्पादन का बिजनेस।
  • बैग बनाने का बिजनेस (Bags Manufacturing)
  • टच लाइट मैन्युफैक्चरिंग का बिजनेस (Touch Light Manufacturing)
  • छाता, रेनकोट्स और बरसात के जूते बनाना (Umbrella, Raincoats and Rain boots Manufacturing)
  • चप्पल या बेल्ट उत्पादन का बिजनेस (Foot wares and Belts Manufacturing)
  • फोटो फ्रेम उत्पादन का बिजनेस (Picture Frames Manufacturing)
  • दरवाजें का निर्माण करने का बिजनेस।
  • एल्यूमीनियम के सामान के उत्पादन का बिजनेस।
  • हवा साफ़ करने वाले सामान का उत्पादन (Air Freshener Production)
  • कपड़ों के बटन का उत्पादन (Manufacturing of Buttons for Clothes)
  • कैंडी बनाने का बिजनेस (Candy Maker)
  • ब्रेड बनाने का बिजनेस।
  • डायपर उत्पादन का बिजनेस।
  • तकिया बनाने का बिजनेस।
  • फलों के गूदे के उत्पादन का बिजनेस।
  • जीन्स उत्पादन का बिजनेस (Jeans Manufacturing)
  • जूट बैग के निर्माण का बिजनेस।
  • मिनरल वाटर मेकिंग का बिजनेस।
  • नमकीन बनाने का बिजनेस।
  • सोया सॉस बनाने का बिजनेस (Soya Sauce Manufacturing)
  • नूडल्स मैन्युफैक्चरिंग का बिजनेस।
  • क़ागज कैरी बैग बनाने का बिजनेस Paper Carry Bags Making
  • पैकेजिंग बॉक्स बनाने का का बिजनेस।
  • मधुमेह रोगी के लिए खाने का सामान बनाने का बिजनेस।
  • डिस्पोजेबल कप और प्लेट का निर्माण करने का बिजनेस।
  • आभूषण बनाने का बिजनेस।

ऊपर लिखे गए कुछ मैन्यूफैक्चिंग बिजनेस इस प्रकार है।

मोमबत्ती बनाने का बिजनेस –

मोमबत्ती बनाने का बिजनेस एक स्टैंडर्ड बिजनेस है, जिससे कम लागत में अच्छा मुनाफा कमाया जा सकता है। इसे बिजनेस को बॉलीवुड स्टर अक्षय कुमार की पत्नी ट्विंकल खन्ना भी कर रही हैं। आज कल मोमबत्ती की डिमांड काफी ज्यादा बढ़ गई है।
इसका इस्तेमालसिर्फ धार्मिक उद्देश्य से या रोशनी के उद्देश्य से ही नहीं बल्कि डेकोरेशन के लिए काफी ज्यादा किया जाता है।

वहीं आजकल होटल और शादियों में भी कैंडल की डेकोरेशन, सजावट में चार चांद लगा रहे हैं, जो न सिर्फ देखने में आार्कषित करती हैं बल्कि कई सुगंधित कैंडल माहौल को भी अच्छा करती हैं।

खास बात यह है कि इंटरनेट के माध्यम से भी मोमबत्ती बनाना सीखा जा सकता है। वहीं कैंडल के बिजनेस के लिए कैंडल बनाने की मशीन, पैराफिन मोम, कच्चा माल (paraffin wax, raw material), मोमबत्ती सुगंध (Candle Fragrances), थ्रेड (thread), मोल्ड (स्टाइलिस्ट आकृति मोमबत्ती बनाने के लिए) की जरूरत होती है।

ये सभी सामान 50 हजार से भी कम लागत में खरीदा जा सकता है। वहीं एक कैंडल बनाने में करीब साढ़े 7 और 8 रुपए का खर्चा आता है, जो कि 30 रुपए और उससे ज्यादा की बाजार में बिकती है। इससे आप अंदाजा लगा सकते हैं कि यह बिजनेस कितना फायदेमंद है।

टेम्पर्ड ग्लास मैन्युफैक्चरिंग का कारोबार – Tempered Glass Manufacturing Business

टेम्पर्ड ग्लास स्मॉल मैन्युफैक्चरिंग का कारोबार इन दिनों फलफूल रहा है। इसकी विकास दर आसमान को छू रही है। क्योंकि इन दिनों स्मार्ट फोन काफी बड़ी संख्या में बिक रहे हैं। इसलिए टैम्पर्ड ग्लास का मैन्युफैक्चरिंग का कारोबार आपके लिए फायदे का कारोबार साबित हो सकता है।

इस कारोबार की शुरुआत बेहद कम लागत में की जा सकती है। आपको बता दें कि साल 2017 में लगभग 3 करोड़ स्मार्टफोन भारत में ही बेचे गए थे। जिससे आप टैम्पर्ड ग्लास के कारोबार के फायदे का अंदाजा लगा सकते हैं।

इस बिजनेस की शुरुआत करने के लिए आपको टेम्पर्ड ग्लास मेंकिग मशीन समेत हॉट सोफ्ट ग्लास स्क्रीन प्रोटेक्टर 9H नैनो फ्लैक्सिबल ग्लास फिल्म रॉ मटैरियल, कंम्प्यूटर, पैकेजिंग की जरूरत पड़ेगी। यह पूरा सामान डेढ़ से 2 लाख की लागत में आप बाजार से आसानी से खरीद सकते हैं।

अगरबत्ती बनाने का बिजनेस

कम लागत में शुरु होने वाला अगरबत्ती का बिज़नेस एक एवरग्रीन टाइप बिजनेस है, जिससे काफी मुनाफा कमाया जा सकता है। अगरबत्ती की डिमांड सिर्फ देश में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी है। लगभग सभी तरह के धर्म के लोग इसका इस्तेमाल बड़े पैमाने पर करते हैं। वहीं अगर आपको अगरबत्ती बनाना नहीं आता है, तो आप इंटरनेट पर भी देख कर सीख सकते हैं।

आपको बता दें कि 2016-2017 में भारत ने करीब 400 करोड़ अगरबत्ती का निर्यात किया था। वहीं यह बिजनेस चीन को भी भारी टक्कर दे रहा है। अगरबत्ती बनाने के बिजनेस की शुरुआत करने के लिए ऑटोमेटिक अगरबत्ती मेकिंग मशीन, रेडी मिक्स पाउडर, बांस की डंडी ( Bamboo Sticks), अगरबत्ती फ्रेगरेंस, डाई इथाइल फाथलेट (डीईपी ऑयल), अगरबत्ती पैकिंग पाउच (Agarbatti Packing Pouch), अगरबत्ती बॉक्स की जरूरत होती है। यह सब सामान करीब 60 हजार रुपए के अंदर आसानी से खरीदा जा सकता है। इसे ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों प्रकार से बेचकर खासा मुनाफा कमाया जा सकता है।

पेपर प्लेट बनाने का बिजनेस – Paper Plate Manufacturing Business

हाल के सालों में प्लास्टिक सामग्री पर प्रतिबंध के कारण, इस पेपर प्लेट बनाने के बिजनेस की मांग तेजी से बढ़ी है। वहीं इस बिजनेस को बेहद कम लागत में शुरु कर अच्छा मुनाफा कमाया जा सकता है। पेपर प्लेट जरुरत के अनुसार कई अलग-अलग आकार और डिजाइन में आते हैं।

पेपर प्लेट का बिजनेस शुरु करने के लिए ऑटोमेटिक पेपर प्लेट्स मेकिंग मशीन, हाइड्रॉलिक ऑयल, अच्छी क्वालिटी का प्रिंटेड पेपर, बॉटम रील और अन्य जरूरी प्रिटिंग सामान की जरूरत होती है। यह सब सामान 1से डेढ़ लाख की लागत में खरीदा जा सकता ता है और इससे प्लेट बनाने की व्यापार की शुरुआत कर अच्छा पैसा कमाया जा सकता है।

साबुन बनाने का बिजनेस – Soap Manufacturing Business Ideas

कम पूंजी के साथ शुरु होने वाला साबुन का बिजनेस एक सदाबहार प्रकार का व्यापार है। लगभग सभी लोगों द्धारा साबुन का इस्तेमाल नहाने, कपड़े धोने या बर्तन धोने समेत अन्य कामों के लिए किया जाता है।

वहीं साबुन बनाने के व्यापार में सबसे अच्छी और दिलचस्प बात यह है कि भारत में साबुन बनाने के लिए इस्तेमाल होने वाले कच्चे माल आसानी से उपलब्ध हो जाता है। जबकि अमेरिका जैसे देशों के पास कच्चा माल नहीं है, इसलिए वे आमतौर पर भारत से साबुन आयात करते हैं।

इसलिए कम लागत वाला यह बिजनेस आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। इसके अलावा आप डेटॉल, पीयर्स जैसी ब्रांडेड कंपनियों के लिए भी साबुन बना सकते हैं।

वहीं पतंजली जैसी जानी-मानी कंपनी ने कुछ साल पहले ही साबुन के बाजार में प्रवेश किया और इससे काफी पैसे कमाए।

आपको बता दें कि साबुन बनाने के लिए सोप मैन्युफैक्चरिंग प्लांट, सोप नूडल्स, सोप स्टोन पाउडर, इलैक्ट्रिसिटी, सोप परफ्यूम, सोप डायज, सोप बॉक्स जैसे कच्चे माल की जरूरत होती है। इस व्यापार को 5 से साढ़े 5 लाख रुपए में शुरु किया जा सकता है।

साबुन जैसा उत्पाद न सिर्फ ऑफलाइन बल्कि ऑनलाइन भी खूब बिक रहा है। वहीं साबुन की डिमांड भी हर घर में होती है, इसलिए इस उत्पाद की मैन्युफैक्चरिंग भी एक अच्छा विकल्प साबित हो सकती है। इसके साथ ही अच्छा मुनाफा भी कमाया जा सकता है।

इसके अलावा भी कई ऐसे और मैन्युफैक्चरिंग बिजनेस आइडियाज हैं, जो न सिर्फ लोगों को आत्मनिर्भर और सफल बनाते हैं, बल्कि देश की अर्थव्यवस्था को मजबूत करने में भी मद्द करते हैं।

Read More:

Note: अगर आपको Manufacturing Business Ideas in India in Hindi अच्छी लगे तो जरुर Share कीजिये।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.