Sharechat – एक ऐसा स्टार्टअप जो लाखों युवाओं के लिए है प्रेरणा

भारत में उद्योगों का तेजी से विकास हो रहा है। वहीं अगर हम बात करें भारत में स्टार्ट अप की, तो हर रोज नए स्टार्ट-अप मार्केट में आ रहे हैं जिसमें से कई सफल और असफल स्टार्टअप है। वहीं कई ऐसे भी स्टार्टअप हैं जो काफी असफलताएं मिलने के बाद भी आज मिलियन डॉलर कमा रहे हैं। उन्हीं में से एक है शेयरचैट स्टार्टअप- इस स्टार्टअप की स्टोरी काफी प्रेरणादायक है जिसके बारे में आज हम आपसे अपने इस लेख में बताएंगे।

Sharechat Success Story

Sharechat – एक ऐसा स्टार्टअप जो लाखों युवाओं के लिए है प्रेरणा – Sharechat Success Story

ऑनलाइन सोशल मी़डिया प्लैटफॉर्म शेयरचैट देश का पहला स्थानीय भाषा में उपलब्ध सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म है। जो कि 14 भारतीय भाषाओं में उपलब्ध है। जैसे कि- हिन्दी, तेलुगू, मराठी, गुजराती, पंजाबी, मलयालम, बंगाली, तमिल, कन्नड़, ओड़िया, भोजपुरी, असमिया, राजस्थानी और हरियाणावी आदि। यह यूजर्स को आसानी से देश भर में अपनी स्थानीय भाषा में मित्रों और परिवार से जुड़ने का मौका देता है।

सोशल मीडिया एप्लीकेशन शेयरचैट की खास बात यह है कि इसमें कई तरह के जोक्स, व्हाट्सऐप स्टेट्स, नए अपडेट 14 स्थानीय भाषाओं में उपलब्ध है जिसे यूजर्स द्धारा सबसे ज्यादा पसंद किया जाता है। इसके अलावा इसकी खासियत यह है कि इसमें तमिल फिल्में, बॉलीवुड फिल्में, तेलुगु फिल्में, मराठी फिल्में और बंगाली फिल्में से वायरल वीडियो का एक बहुत बड़ी एल्बम है। शेयरचैट अपने यूजर्स को भारतीय फिल्मों से संबंधित नए अपडेट्स और नई खबरों को भी उपलब्ध करवाता है।

Sharechat App

इस सोशल मीडिया ऐप शेयरचैट की यह भी खासियत है कि लोग अपना टैलेंट दिखाकर इंटरनेट में सेलिब्रिटी बन सकते हैं। इसके साथ ही इस ऐप की मदत से यूजर्स सर्वश्रेष्ठ हिन्दी शायरी, लव शायरी, रोमांटिक शायरी समेत कई अन्य शायरी और जोक्स का आनंद ले सकते हैं। वहीं यह ऐप लोगों का टाइम पास करने में भी काफी मदत करती है और उनका मनोरंजन करती है।

यही वजह है कि आज की युवा पीढ़ी इस ऐप को खूब पसंद कर रहे हैं। इस सोशल मीडिया ऐप्लीकेशन शेयरचैट के माध्यम से लोग नए दोस्त बना सकते हैं और अजनबियों से बात कर सकते हैं।

इसके अलावा कई और अच्छे फीचर्स यह ऐप अपने यूजर्स को उपलब्ध करवाती है जैसे कि अच्छी क्वालिटी के पिक्चर, वॉलपेपर और कूल बैकग्राउंड्स जिसे यूजर्स आसानी से डाउनलोड कर सकते हैं। इसके साथ ही यूजर्स इसकी मद्द से ब्यूटी टिप्स ले सकते हैं और फिटनेस वीडियो भी देख सकते हैं।

आईआईटी कानपुर से ग्रेजुएट फरीद अहसान, भानु सिंह और अंकुश सचदेव ने 30 साल से भी कम उम्र में शेयरचैट स्टार्टअप के रूप में एक ऐसा ऑनलाइन प्लेटफॉर्म यूजर्स के लिए उपलब्ध करवाया है, जिससे कि न सिर्फ लाखों यूजर्स ऑनलाइन अपने दोस्तों के साथ बातचीत कर सकते हैं बल्कि महज कुछ सेकेंड में ही वे एक-दूसरे के साथ जोक्स, कोट्स और शायरी भी शेयर कर सकते हैं।

इसके साथ ही लेटेस्ट अपडेट भी जान सकते हैं। और यूजर्स इस सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म की सहायता से नए दोस्त भी बना सकते हैं।

आपको बता दें कि फरीद अहसान, भानु सिंह और अंकुश सचदेव अपने ग्रेजुएशन के समय से ही स्टार्ट-अप पारिस्थितिक तंत्र का हिस्सा बनना चाहते थे। वहीं इस स्टार्टअप को इस मुकाम तक पहुंचाने के लिए इन तीनों ने कई असफल प्रयास किए लेकिन वे हार नहीं माने और अपने मजबूत इरादे और कठोर दृढ़संकल्प के साथ आगे बढ़ते रहे।

और करीब 14 से ज्यादा क्षेत्रों में फेल हुए जिनमें से रियल एस्टेट पोर्टल बनाना,क्राउड-सोर्सिंग प्लेटफॉर्म, और सिविएक डाटा प्लैटफॉर्म शामिल हैं। लेकिन लगातार असफल प्रयासों के बाद IIT कानुपर से ग्रेजुएट तीनों छात्रों ने साल 2015 में शेयरचैट लॉन्च किया और इसमें अपार सफलता हासिल की।

आपको यह भी बता दें कि आईआईटी कानपुर से ग्रेजुएट हुए यह तीनों छात्र उत्तरप्रदेश के रहने वाले हैं। 25 साल के फरीद अहसान लखनऊ के है जबकि 26 साल के भानु प्रताप सिंह गोरखपुर के और अंकुश सचदेव, गाजियाबाद के रहने वाले हैं, जिन्होंने बैंगलोर के आधार पर प्रौद्योगिकी के नेतृत्व में स्टार्ट-अप के रूप में स्थानीय नेटवर्किंग एप्लिकेशन शेयरचैट बनाई है।

वहीं इन तीनों युवाओं का लक्ष्य सोशल मीडिया अनुभव को दक्षिण एशियाई भाषाओं समेत हिंदी और पंजाबी के वक्ताओं के साथ साझा करना था, ताकि वे लोग सोशल मीडिया पर अपनी प्रोफाइल बना सके और डाटा शेयर कर अपने फोलोअर्स बढ़ा सकें।

यहां तक पहुंचना IIT ग्रेजुएट फरीद अहसान, भानु सिंह और अंकुश सचदेव के लिए इतना आसान नहीं था। काफी संघर्ष और कड़ी मेहनत के बाद ही आज इन तीनों ने इस मुकाम को हासिल किया है।

एक रिपोर्ट से मिली जानकारी के मुताबिक शेयरचैट स्टार्टअप के फाउंडर फरीद अहसान का मानना है कि वे लोग अगले अरबों स्मार्टफोन यूजर्स के लिए एक देसी सोशल नेटवर्क बना रहे हैं जिसकी मार्केट में काफी डिमांड रहेगी।

एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, चीनी मोबाइल कंपनी जिओमी इसमें करीब 100 मिलियन डॉलर का निवेश कर चुकी है। वहीं शैयरचैट तेजी से डाउनलोड होने वाली ऐप्लीकेशन बन चुकी है जो कि जून 2018 तक करीब 24 मिलियन डॉलर कमा चुकी है। इसके साथ ही शुनवेई, एसएआईएफ पार्टनर्स और इंडिया कोटिएंट (fund Shunwei, SAIF Partners, and India Quotient ) भी इस कंपनी में निवेशक हैं।

आपको बता दें कि आईआईटी स्टूडेंट्स के द्धारा बनाया गया यह सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म सोशल मीडिया एप्लीकेशन फेसबुक, ट्विटर और इंस्टाग्राम सभी के फीचर्स हैं यानि कि इस एक प्लेटफॉर्म पर ही यूजर्स बाकी अन्य सोशल मीडिया साइट्स की सुविधा का लाभ उठा सकता है।

इस कंपनी ने बेहद कम समय में ही सफलता की नई ऊंचाइयों को छुआ है। आपको बता दें कि 2015 से शुरु हुए इस स्टार्टअप के पास 16 मिलियन से भी ज्यादा एक्टिव यूजर्स हैं जबकि इसकी वेबसाइट पर 8 मिलियन यूजर्स एक्टिव हैं।

हम आपको यह भी बता दें कि यह ऐप वर्तमान में एंड्रॉइड प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध है इसके संस्थापक आने वाले दिनों में ही इसका आईओएस संस्करण भी लॉन्च करेंगे।

Loading...

Read More:

Hope you find this post about “Sharechat Success Story” inspiring. if you like this articles please share on Facebook & Whatsapp. and for the latest update download : Gyani Pandit free android App.

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.