मार्कशीट लोन क्या है? | What is Marksheet Loan

What is Marksheet Loan

अमीर बनने के सपने कौन नहीं देखता लेकिन इन सपनों को हकीकत में बहुत कम लोग ही बदल पाते हैं। वहीं अगर आप भी कुछ ऐसे ही सपने देख रहे हैं, तो निश्चत ही आपको अपने सपनों की सच्चाई में बदलने के लिए कुछ पैसों की जरूरत होगी, लेकिन अगर आपके परिवार की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं है तो पैसे जुटाने में काफी परेशानी हो सकती है। जिसकी वजह से आपको अपने लक्ष्य को हासिल करने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

वहीं अगर आप भी मे उन्हीं छात्रों में शामिल हैं जो आगे की पढ़ाई करना चाहते हैं लेकिन धन की कमी की वजह से अपनी मनचाहे प्रतिष्ठित कॉलेज में एडमिशन नहीं ले पा रहे हैं तो अब आपको इसके लिए अपने सपनों के साथ समझौता करने की जरूरत नहीं हैं क्योंकि सरकारी और निजी बैंकी ने इसी को ध्यान में रखते हुए, एक योजना लॉन्च किया है।

जिसके तहत टॉपर्स और अन्य छात्रों को अपने लक्ष्यों को हासिल करने और एक अच्छे कॉलेज से आगे की पढ़ाई करने के लिए लोन उपलब्ध करवाया जाएगा। मार्कशीट लोन के जरिए  छात्र अपने मनचाहे दुनिया के किसी भी कॉलेज में ए़डमिशन ले सकते हैं वो भी धन की बिना किसी टेंशन लिए।

Marksheet Loan
Marksheet Loan

मार्कशीट लोन क्या है? – What is Marksheet Loan

मार्कशीट लोन (Marksheet Loan) को एजुकेशन लोन और छात्र लोन के नाम से भी जाना जाता है। मार्कशीट लोन एक खास योजना है जिसके तहत वित्तीय संगठन उच्च शिक्षा के लिए आवेदकों को लोन देकर सहायताकरती हैं।

जिससे कि किसी भी छात्र को धन की कमी की वजह से अपने सपनों से समझौता नहीं करना पड़े। आपको बता दें कि मार्कशीट लोन, खासकर मेधावी छात्रों के लिए ही है। यानि कि जो छात्र पढ़ाई में अव्वल हैं या फिर अच्छे ग्रेड के साथ पास हुए हैं, लेकिन आर्थिक स्थिति सही नहीं होने की वजह से वे आगे की पढ़ाई नहीं कर पा रहे हैं तो ऐसे छात्रों को मार्कशीट लोन उपलब्ध करवाया जाता है।

इसके साथ ही इस खास योजना के तहत अच्छे अंक हासिल करने वाले छात्रों को आगे की पढ़ाई के लिए भारत में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी एडमिशन लेने के लिए भी लोन उपलब्ध करवाया जाता है।

वहीं अगर दूसरे शब्दों में कहें तो किसी राष्ट्रीय या फिर भरोसेमंद बैंक से लिया गया मार्कशीट लोन, आपकी पढ़ाई में आने वाली वित्तीय बाधाओं के डर को दूर भगाता है और उच्च शिक्षा के लिए वित्तीय मद्द कर, आपको एक प्रतिष्ठित कॉलेज में पढ़ने के लिए सक्षम बनाता है।

मार्कशीट लोन के लिए योग्यता छात्रों के पुराने एग्जाम की मार्कशीट , और पुराने क्लास के अंक के आधार पर तय होती है। आपको बता दें कि इसके तहत पिछले मार्कशीट इसलिए मायने रखती हैं।

क्योंकि किसी भी छात्र के शिक्षा में अच्छे प्रदर्शन के आधार पर ही ये आकलन किया जाता है कि ये लोन इसके लिए योग्य छात्रों के लिए ही मिल रहा है या नहीं। यही वजह है कि इस खास लोन को मार्कशीट लोन कहा जाता है ।

मार्कशीट लोन को लेकर कई लोग ये भी सोचते हैं कि, आवेदकों को इस लोन लेने के  दौरान, अपनी मार्कशीट को सुरक्षा के तौर पर जमा करनी पड़ती है, लेकिन हम आपको बता दें कि मार्कशीट लोन लेने के लिए ऐसा बिल्कुल भी नहीं है, कोई भी भारतीय बैंक इस लोन को आवेदकों को उपलब्ध करवाने के लिए मार्कशीट को सुरक्षा के तौर पर नहीं रखती है।

वहीं जो छात्र ये लोन लेना चाहते हैं। इसके लिए उन्हें अन्य जरूरी दस्तावेजों और जिस कॉलेज में वे एडमिशन ले रहे हैं, उसका प्रूफ और अपनी मार्कशीट की कॉपी जमा करनी होगी।

हालांकि मार्कशीट लोन पूरी तरह से आवेदकों की उच्च शिक्षा  के लिए उचित धन की व्यवस्था करने पर फोकस है। इसके तहत योग्य आवेदकों को कुछ जरूरी नियम और शर्तों के आधार पर उच्च शिक्षा के लिए लोन प्राप्त होता है ।

आपको बता दें कि मार्कशीट लोन लेने की प्रक्रिया एकदम आसान है, जिसका कोई भी छात्र बड़ी आसानी से मद्द ले सकते हैं। वहीं इस लोन की  खास बात यह है कि इसके तहत मिलने वाली अनुमोदित राशि बेहद कम समय के अंदर ही छात्रों को मुहैया करवा दी जाती है।

इसके अलावा मार्कशीट लोन वे लोग भी ले सकते हैं, जो कि नौकरी पेशा हैं या फिर कहीं रोजगार कर रहे हैं और आगे की पढ़ाई जारी रखना चाहते हैं।

मार्कशीट लोन के मुख्य उद्देश्य – Purpose of Marksheet Loan

पैसों की मद्द या फिर उचित वित्तीय सहायता, किसी भी छात्र को अपने सपनों को साकार करने में और सफलता हासिल करने में मद्द करती है। इसके साथ ही यह भी सुनिश्चत करती है कि बिना किसी टेंशन लिए छात्र उच्च शिक्षा हासिल कर अपने लक्ष्य को हासिल कर सकते हैं।

वहीं आपको बता दें कि मार्कशीट लोन इसी पर पूरी तरह से फोकस है कि छात्र के लिए शिक्षा का अधिकार केवल धन की कमी की वजह से किसी भी तरह  से बाधा नहीं डालना चाहिए।

मार्कशीट लोन (Marksheet Loan)लेने का मुख्य उद्द्देश्य , योग्य जरूरतमंद छत्रों को देश या विदेश में उच्च शिक्षा के लिए जरूरी वित्तीय सहायता देना है। वहीं अगर कोई भी जो प्रोफेशनल और टेक्निकल करियर एजुकेशनल कोर्सेस जैसे कि मैनेजमेंट, मेडिकल, इंजीनियरिंग आदि करना चाहते हैं तो वे भी मार्कशीट लोन ले सकते हैं।

वहीं जो भी छात्र ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स करना चाहते हैं, वे अपनी मर्जी के कॉलेज में एडमिशन लेकर ये कोर्स कर सकते हैं। वित्तीय संगठऩ मार्कशीट लोन के तहत ऐसे छात्रों की वित्तीय मद्द करती है।

वहीं दूसरे शब्दों में कहें तो मार्कशीट लोन प्रतिभाशाली, मेधावी गरीब और मध्यम वर्ग के छात्रों को सही समय पर आगे की पढ़ाई के लिए वित्तीय मद्द देने में अपनी अहम भूमिका निभाता है।

मार्कशीट लोन का मुख्य मकसद यह है कि किसी भी छात्र के लिए अपनी पसंद के कॉलेज से उच्च शिक्षा ग्रहण करने में धन की कमी आड़े नहीं आए।

मार्कशीट लोन के तहत कौन-कौन से कोर्सेस शामिल हैं – Which courses are included under marksheet loan

  • यूजीसी / एआईसीटीई / आईएमसी / सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त (approved ) प्रसिद्ध कॉलेजों या विश्वविद्यालयों से ग्रेजुएशन, पोस्ट ग्रेजुएशन / डिग्री / डिप्लोमा कोर्सेस आदि।
  • आईआईएम, आईआईटी जैसे प्रमुख स्वायत्त शैक्षिक संस्थानों द्वारा आयोजित रेग्यूलर डिग्री और डिप्लोमा कोर्सेस।
  • इंजीनियरिंग, मैनेजमेंट, मेडिसन, कंप्यूटर साइंस, प्योर साइंस, , आर्किटेक्चर, एग्रीकल्चर, होटल और होस्टपिटेलिटी, फाइन आर्ट्स और डिजाइन समेत शैक्षिक विषयों पर आधारित कोर्सेस।
  • आदि जैसे टेक्नीकल और वोकेशनल ट्रेनिंग कोर्सेस जैसे एविएशन (विमानन ), एयर होस्टेस, शिपिंग, नर्सिंग, टीचर ट्रेनिंग के कोर्सेस शामिल हैं।

मार्कशीट ऋण में कौन से कौन से खर्चे शामिल होते हैं – What are the expenses involved in the marksheet loan?

मार्कशीट लोन के तहत निम्नलिखित खर्चे शामिल होते हैं –

  • कॉलेज- ट्यूशन फीस का 100%
  • आवास शुल्क (Accommodation charges)
  • किताबें और पढ़ाई में इस्तेमाल होने वाले उपकरण
  • पुस्तकालय शुल्क (Library fees)
  • परीक्षा शुल्क (Examination fees)
  • विदेश में पढ़ाई के लिए यात्रा का खर्च (Travelling expenses for studying )
  • कोर्स पूरा करने के लिए जरूरी अन्य खर्च भी शामिल हैं।

मार्कशीट लोन लेने के लिए योग्यता – Eligibility for taking a marksheet loan

  • मार्कशीट लोन (Marksheet Loan)लेने के लिए जरूरी है कि आवेदक, भारत का निवासी हो साथ ही उसने भारत और विदेश के किसी भी प्रसिद्ध कॉलेज या फिर विश्वविद्यालयों में एडमिशन लिया हो ।
  • मार्कशीट लोन लेने के लिए यह भी जरूरी है कि लोन लेने के वक्त आवेदक की आयु 18 से 35 साल  के अंदर हो, तभी वह इस लोन को लेने के लिए पात्र माना जाएगा।
  • मार्कशीट लोन लेने के लिए आवेदन को अपनी आगे की पढ़ाई के लिए ग्रेजुएशन, पोस्ट ग्रेजुएशन, डिग्री और पीजी डिप्लोमा कोर्स करने चाहिए।
  • मार्कशीट लोन लेने के लिए आवेदकों को यूजीसी / सरकार / एआईसीटीई आदि द्वारा मान्यता प्राप्त कॉलेज / विश्वविद्यालय में एडमिशन लेना जरूरी है, तभी वह यह लोन लेने के लिए पात्र होगा।
  • फुल टाइम कोर्सेस के लिए आवेदन करने वाले अभ्यर्थियों के पास एक सह-आवेदक होना जरूरी है। वह उसका माता-पिता / अभिभावक / पति / सास-ससुर ( अगर विवाहित हो तो ) हो सकते हैं।
  • जिस बैंक से मार्कशीट लोन प्राप्त कर रहे हैं, आपका उसी बैंक में खाता होना चाहिए।
  • मार्कशीट लोन लेने के लिए सबसे प्रमुख पात्रता यह है कि आवेदक पागल या दिवालिया घोषित नहीं होना चाहिए।
  • मार्कशीट लोन लेने के लिए यह भी जरूरी है कि आवेदक पर किसी भी तरह का बैंक लोन बकाया नहीं होना चाहिए अगर किसी आवेदक के पास बकाया लोन है तो उस केस में आवेदक मार्कशीट लोन लेन के योग्य नहीं होगा।

मार्कशीट लोन के लिए आवश्यक दस्तावेज़ – Required Documents for Marksheet Loan

  • लोन एप्लीकेशन फॉर्म
  • प्रवेश पत्र (एडमिशन लेटर)
  • 10 वीं / 12 वीं की मार्कशीट या हायर शिक्षा प्रमाण पत्र
  • पढ़ाई के खर्च का पूरा विवरण (statement)
  • 2 पासपोर्ट साइज की फोटोग्राफ
  • छात्र और अभिभावक के पैन कार्ड और आधार कार्ड

पहचान का  प्रमाण पत्र

  • ड्राइविंग लाइसेंस / मतदाता पहचान पत्र/ पासपोर्ट की कॉपी/ आधार कार्ड , इनमें से किसी एक की कॉपी ।

पता का प्रमाण पत्र-

  • छात्र या गारंटर या सह-उधारकर्ता के पिछले 6 महीने के बैंक स्टेटमेंट, रेंटल एग्रीमेंट, राशन कार्ड, इलेक्ट्रिसिटि बिल, टेलीफोन बिल, गैस बुक (इनमें से किसी एक की कॉपी )

आय का प्रमाण पत्र-

  • माता-पिता / अभिभावक / सह-उधारकर्ता की नवीनतम सैलरी स्लिप या फॉर्म 16।
  • पिछले 6 महीने का बैंक स्टेटमेंट या अप़डेटेड बैंक पासबुक।
  • 2 साल का अपडेटेड आईटीआर (आय गणना के साथ इनकम टैक्स रिटर्न) या माता-पिता / अभिभावक / सह-उधारकर्ता के  पिछले 2 साल के आईटी मूल्यांकन ऑर्डर।
  • अभिभावक / अभिभावक / सह-उधारकर्ता की संपत्ति और देनदारियों के स्टेटमेंट।

वहीं अगर इसके अलावा कोई एडिशनल डाक्यूमेंट्स किसी बैंक के संस्थान द्वारा मांगे जाते हैं। तो उसकी जानकारी आपको उस  बैंक या संस्थान द्वारा ही प्राप्त होगी।

मार्कशीट लोन किस बैंक से ले ? – Which bank can you take the marksheet loan from?

जो भी आवेदक मार्कशीट लोन (Marksheet Loan)लेकर अपने आगे की पढ़ाई जारी रखना चाहते हैं और अपने सपनों को पूरा करना चाहते हैं। वे  इस लोन को प्राप्त करने के लिए किसी भी बैंक का चुनाव कर सकते हैं।

दरअसल, आजकल सभी सरकारी और निजी बैंक इसके लिए कम ब्याज दर पर लोन मुहैया करवा रही हैं। इसके साथ ही आपको बता दें कि आप अपने किसी भी पास के बैंक से लोन ले सकते हैं।

वहीं पढ़ाई आदि की जरूरतों को देखते हुए ज्यादातर बैंक ने इस पर लोन देना शुरू कर दिया है । चलिए अब हम आपको बताते हैं कि कौन-कौन सी प्रमुख बैंक हैं जो मार्कशीट लोन उपलब्ध करवा रही हैं –

मार्कशीट लोन देने वाली मुख्य बैंक – Marksheet loan principal bank

  • भारतीय स्टेट बैंक ऑफ इंडिया
  • आईसीआईसीआई बैंक
  • एचडीएफसी बैंक
  • ऐक्सिस बैंक
  • कैनरा बैंक
  • एसबीबीजे
  • यूनियन बैंक
  • यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया
  • देना बैंक
  • यूको बैंक
  • बैंक ऑफ बड़ौदा
  • पंजाब नेशनल बैंक
  • सिंडिकेट बैंक
  • गैर बैंकिंग वित्त कंपनी (एनबीएफसी)

इससे साफ है कि, मार्कशीट लोन उन छात्रों के भविष्य को संवार रहा है, जिन छात्रों को अपनी उच्च शिक्षा हासिल करने के लिए आर्थिक सहायता की जरूरत होती है।

मार्कशीट लोन (Marksheet Loan), छात्रों के बीच न सिर्फ एक बेहद लोकप्रिय लोन का विकल्प बन चुका है बल्कि मार्कशीट लोन के माध्यम से देश की शैक्षणिक प्रणाली भी अपग्रेड हो रही है, साथ ही शिक्षा को बढ़ावा भी मिल रहा है।

Read More:

Hope you find this post about ”What is Marksheet Loan” useful. if you like this articles please share on Facebook & Whatsapp. and for the latest update download: Gyani Pandit free android App.

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.