एलन मस्क का जीवन परिचय | Elon Musk Biography

बिज़नस और कंप्यूटर की दुनिया में कई सारे लोगो ने अपना अपना योगदान दिया है। इस तेजी से दौड़ने वाली दुनिया कब, कहा क्या हो जाए कोई बता नहीं सकता। ऐसी ही इस जगात के जाने माने व्यक्ति है जिन्होंने अपने काबिलियत से सबको हैरान कर रखा है। Elon Musk – इलोन मस्क वो व्यकी है जिसने खुद के दम पर इस दुनिया में अपनी अलग पहचान बनायीं है।

उन्हें बचपन से ही कंप्यूटर में बड़ी रुची थी। उनके जिंदगी से सबसे ज्यादा चौकानेवाली बात यह है की जब वो केवल 10 साल के थे तो उस वक्त उन्होंने खुद कंप्यूटर का प्रोग्राम तयार किया था। इलोन मस्क केवल इसी बात पर ही नहीं रुके और इसके आगे भी कंप्यूटर में उन्होंने बड़े बड़े काम किये। जब वो केवल 12 साल के थे तो उन्होंने गेम का सॉफ्टवेयर बनाया था और उसे खुद मार्किट में बेचने का काम भी किया।

Elon Muskएलोन मुश्क का जीवन परिचय – Elon Musk Biography

इलोन मस्क का जन्म 28 जून 1971 को दक्षिण अफ्रीका के प्रिटोरिया में हुआ था। इलोन मस्क की माँ कनाडा से थी और पिताजी ब्रिटिश थे लेकिन उनके पिताजी का जन्म दक्षिण अफ्रीका के प्रिटोरिया में हुआ था। लेकिन 1980 में उनके माँ और पिताजी का तलाक हो गया और इस घटना के बाद वो अपने पिताजी के साथ ही रहते थे और जब वो अपने पिताजी के साथ में रहते थे तो अफ्रीका के कई सारी जगह पर रह चुके थे।

उन्होंने अपनी पढाई वाटरक्लूफ़ हाउस प्रिपरेटरी स्कूल में पूरी की और प्रेटोरिया बॉयज हाई स्कूल में डिग्री की पढाई पूरी की। जब उन्हें कनाडा का नागरिक बनाया गया, तो उसके बाद में 1988 में वो कनाडा चले गए थे, उस वक्त वो केवल 17 साल के थे। उनकी माँ कनाडा से थी इसीलिए उन्हें बड़ी आसानी से कनाडा का नागरिक बनाया गया था।

उनकी दक्षिण अफ्रीका की मिलिटरी की सर्विस शुरू होने से पहले ही वो कनाडा पहुच चुके थे। जब वो कनाडा में रहते थे तो उन्होंने सोचा की यहाँ से दक्षिण अफ्रीका जाने की बजाय अमेरिका जाना काफी आसान होगा और उन्होंने वैसा किया भी।

बाद में उन्होंने ओंटारियो के क्वीन्स स्कूल ऑफ़ बिज़नस में दो साल तक पढाई की। इन दो साल की पढाई करने के बाद में वो पेनसिलवेनिया यूनिवर्सिटी गए और वहा के व्हार्टन स्कूल से अर्थशास्त्र में डिग्री हासिल की।

भौतिकशास्त्र की एक और डिग्री पूरी करने के लिए वो वहापर एक साल रहे। बाद में वो कैलिफ़ोर्निया गए क्यों की वहापर उन्हें स्तान्फोर्ड में एप्लाइड फिजिक्स में पीएच डी करनी थी।

एलोन मुश्क का करिअर – Elon Musk Career

1988 में वो कनाडा चले गए और एक अमेरिकन नागरिक बन गए। फिलहाल वो टेस्ला मोटर्स, सोलर सिटी के सीईओ और मुख्य उत्पाद के शिल्पकार है साथ ही वो स्पेस एक्स के भी सीईओ और सीटीओ है।

फाल्कन हैवी राकेट की डिजाईन में और उसे बनाने में इलोन मस्क का बहुत ही बड़ा योगदान है, इसी वजह से अधिकतर लोग उन्हें फाल्कन राकेट के लिए भी जानते है।

इलोन मस्क और उनके भाई ने मिलकर सन 1995 में ज़िप2 नाम की एक सॉफ्टवेयर कंपनी खोल दी थी। लेकिन 1999 में उन्होंने इस कंपनी को बेच दिया और करोड़पति गए। उसके बाद में उन्होंने एक्स डॉट कॉम नाम की कंपनी खोली लेकिन कुछ समय के बाद ही उन्होंने इसे कांफिनिटी कंपनी के साथ में जोड़ दिया और जब यह दोनों कंपनिया साथ में मिल गयी तो उनमेसे पेपाल नाम की नयी कंपनी बनायीं गयी।

एक्स डॉट कॉम को ही आगे चलकर पेपाल नाम दिया गया और नाम देने के बाद इलोन मस्क ने इस कंपनी को ओर बड़ा करने पर जोर दिया। उसके बाद में उन्होंने स्पेसएक्स कंपनी खोली और टेस्ला के सीईओ बन गए।

मगर वहापर पहुचने पर केवल दो दिन के बाद ही उन्हें इस कोर्स को छोड़ना पड़ा क्यों की वो इन्टरनेट, नविकरनिय उर्जा और अवकाश के क्षेत्र में बिज़नस करना चाहते थे। वो 2002 में अमेरिका के नागरिक बन गए।

इलोन मस्क ने बचपने से ही अविश्वसनीय काम करने शुरू कर दिए थे। उनका इस तरह के अद्भुत काम करने का दौर आगे भी चलता रहा। उनके कई सारे कार्य में एक फाल्कन राकेट को लेकर है। इस राकेट की डिजाईन बनाने का काम खुद इलोन मस्क ने ही किया है और साथ ही इस बड़ी मुहीम को कामयाब बनाने में सबसे अधिक योगदान उनका ही रहा है। अधिकतर लोग उन्हें इस फाल्कन राकेट की कामयाबी के लिए ही पहचानते है।

Read More:

Hope you find this post about ”Elon Musk Biography” useful and inspiring. if you like this articles please share on facebook & whatsapp. and for the latest update download : Gyani Pandit free android App.

Loading...

2 COMMENTS

  1. आपने एलोन मस्क के बारे में काफी धैर्य पूर्वक और काफी सहजता से लिखा है आशा करते हैं आप ऐसे ही आगे और भी बेहतर आर्टिकल लिखते रहेंगे हमारी शुभकामनाएं आपके साथ हैं धन्यवाद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here