सबसे छोटी पर्वतारोही मलावाथ पुरना | Malavath Poorna Biography

माउंट एवरेस्ट पर चढ़ना बहुत ही कठिन कार्य समझा जाता है। कुछ लोगो को तो माउंट एवरेस्ट पर जाना असंभव सा लगता है। बड़े बड़े लोग भी यहापर जाने के नाम से ही घबरा जाते है। मगर कोई सोच सकता है क्या, की कोई कम उम्र में भी एवरेस्ट पर जाने के मुश्किल काम को बड़ी आसानी से कर सकता है। ऐसा मुश्किल काम 13 साल की मलावाथ पुरना – Malavath Poorna नाम की लड़की ने कर दिखाया है। दुनिया के सबसे कम उम्र में एवरेस्ट चढ़ने वाली वह पहली लड़की बन चुकी है। पुरना जैसी बहादुर लड़की भारत से है, यह हम सभी के लिए बड़े गर्व की बात है।

Malavath Poorna

सबसे छोटी पर्वतारोही मलावाथ पुरना – Malavath Poorna Biography

मलावाथ पुरना एक बहुत ही बहादुर भारतीय लड़की है और वह तेलंगाना में स्थित निजामाबाद जिले के पकला गाव में रहती है। उसका जन्म पकला गाव में 10 जून 2000 को हुआ। उसकी माँ का नाम लक्ष्मी है और उसके पिताजी का नाम देविदास है। उसके माँ और पिता खेतो में मजदूरी करते है।

मलावाथ पुरना ने 9 वी कक्षा की पढाई तेलंगाना के आंध्र प्रदेश के सामाजिक कल्याण आवासीय स्कूल में पूरी की। उसने पर्वतारोही की शिक्षा दार्जिलिंग के पर्वतारोही संस्था में ली।

150 छात्र की एक प्रतियोगिता ली गयी थी और उसमे केवल मलावाथ पुरना और साधनापल्ली आनंद कुमार को सर्वश्रेष्ट छात्रा चुना गया था। इनमेसे ही कुछ 20 छात्रों को दार्जिलिंग में प्रशिक्षण के लिए भेजा गया था लेकिन इंडो चाइना बॉर्डर पर जाने के लिए उसमेसे केवल 9 छात्रों को ही लिया गया था। आखिरकार अप्रैल महीने में माउंट एवरेस्ट पर जाने के लिए केवल मलावाथ पुरना और साधनापल्ली आनंद कुमार को चुना गया था।

मलावाथ पुरना के जीवन पर आधारित बायोपिक फ़िल्म – Malavath Poorna Biopic

राहुल बोस ने पुरना के जीवन पर प्रेरित करने वाली फ़िल्म भी बनायीं है। इस फ़िल्म में 2014 में पुरना नाम की लड़की ने जिस तरह से माउंट एवरेस्ट पर जाने का असंभव काम कर दिखाया था, उसे दिखाया गया है।

राहुल बोस इस फ़िल्म के निर्देशक और निर्माता है और उन्होंने खुद इस फ़िल्म में मलावाथ पुरना के प्रशिक्षक आर एस प्रवीण कुमार का किरदार निभाया है। इस फ़िल्म में मलावाथ पुरना की भूमिका 14 साल की अदिति इनामदार ने निभाई है और वह भी तेलंगाना की है।

यह फ़िल्म 2017 में रिलीज़ की गयी थी।

पूरी दुनिया में सबसे कम उम्र में माउंट एवरेस्ट पर जाने वाली मलावाथ पुरना पहली लड़की है और यह भारत के लिए बड़े गर्व की बात है। आज वह देश के सभी लड़कीयो के लिए आदर्श बन चुकी है।

कड़ी मेहनत और धैर्य की वजह से ही आज मलावाथ पुरना ऐसे बड़े मुकाम पर पहुच चुकी है।

Read More:

Note: You have more information about Malavath Poorna in Hindi, or the information given is something I feel wrong. We are promptly commenting on this and the email I wrote. If the life history of Malavath Purna is good in Hindi language, then please share it with us on Whatsapp and Facebook. Essay with short biography about e-mail membership and Malavath Poorna in Hindi and more new articles … on your email.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.