“मेड इन इंडिया” अल्बम की पॉप गायिका अलीशा शिनॉय | Alisha Chinai Biography

Alisha Chinai – अलीशा शिनॉय एक बहुत ही मशहूर भारतीय पॉप गायिका है। वो अपने पॉप अल्बम और हिंदी सिनेमा में गाना गाने के लुए बहुत ही जानी जाती है। 1990 के दशक में उन्होंने अनु मालिक के साथ मिलकर बहुत ही हिट गाने गाये है। लेकिन उनका अबतक का सबसे मशहूर और कामयाब गाना बंटी और बबली (2005) फ़िल्म का ‘कजरा रे……….’ है।

Alisha Chinai “मेड इन इंडिया” अल्बम की पॉप गायिका अलीशा शिनॉय – Alisha Chinai Biography

अलीशा शिनॉय का जन्म 18 मार्च 1965 में अहमदाबाद में हुआ। उन्होंने अपना नाम बहन के लड़की के नाम पर से रखा है। उनकी शादी उनके मेनेजर राजेश झवेरी से हुई थी लेकिन वो अब अलग रहती है।

अलीशा शिनॉय का करियर – Alisha Chinai Career

जादू, बेबी डॉल, आह अलीशा और मेड इन इंडिया ऐसे कुछ उनके शुरुवाती अल्बम है। अलीशा को हिंदी फिल्मो की संगीत कि दुनिया में लाने में मशहूर संगीत निर्देशक और संगीतकार बप्पी लाहिरी का सबसे बड़ा हाथ है। दोनों ने साथ में मिलकर बहुत सारे डिस्को हिट गाने 1980 के दौरान दिए थे। उन हिट फिल्मो में ‘टार्ज़न’, ‘डांस डांस’, ‘कमांडो’, ‘गुरु’, ‘लव लव लव’ शामिल है।

1985 में अलीशा ने रेमो फर्नांडिस के साथ मिलकर ओल्ड गोन गोल्ड अल्बम में गाने गए थे। उन्होंने पंकुज पराशर की फ़िल्म जलवा(1987) के लिए एक गाने की रिकॉर्डिंग भी की थी। उस गाने की रचना आनंद मिलिंद ने की थी। 80 के दशक में उनका सबसे मशहूर गाना ‘काटे नहीं कटते’ (मिस्टर इंडिया) 1987 में आया था।

जब अलीशा ने उनके साथ में मिलकर करियर की शुरुवात की तो उन्होंने एक पार्श्वगायिका के रूप में श्रीदेवी, मन्दाकिनी, माधुरी दीक्षित, जूही चावला, करिश्मा कपूर, स्मिता पाटिल, दिव्या भारती जैसी अभिनेत्री के लिए गाने गाये थे।

अलीशा ने जब दुबारा फिल्मो में गाने की शुरुवात की तो उन्हें यश राज की फ़िल्म मुझसे दोस्ती करोगे से एक बार फिर से मौका मिला। उस फ़िल्म में उन्होंने ‘ओह माय डार्लिंग’ गाना गाया था। 90 के दौरान उनका अनु मालिक के साथ झगडा होने के कारण काम करना बंद कर दिया था। लेकिन उन्होंने अनु मलिक के साथ समझौता करने के बाद बहुत सारे गाने की रिकॉर्डिंग की। उन रिकॉर्डिंग में इश्क विश्क, फ़िदा, नो एंट्री, लव स्टोरी 2050, मान गए मुघले आज़म, अगली और पगली, चेहरा और कमबख्त इश्क फिल्मो के गाने शामिल है।

2005 में जब उन्होंने ‘कजरा रे’ (बंटी और बबली) गाना गया तब उनका करियर उचाई की बुलंदी पर पहुच गया था। वो गाना बहुत ही हिट हुआ था और उन्हें उस गाने के लिए पहला फिल्मफेयर सर्वश्रेष्ठ पार्श्वगायिका पुरस्कार भी मिला था।

अलीशा शिनॉय को मिले हुए पुरस्कार – Alisha Chinai Award

  • 2005 में ‘कजरा रे’ (बंटी और बबली) गाने के लिए उन्हें फिल्मफेयर सर्वश्रेष्ट पार्श्वगायिका पुरस्कार मिला था।
  • जब मेड इन इंडिया अल्बम आया था तब उन्हें अंतर्राष्ट्रीय बिलबोर्ड पुरस्कार मिला था। उन्हें फ्रेडी मरक्युरी अवार्ड फॉर आर्टिस्टिक एक्सीलेंस के लिए मिला है।

I hope these “Alisha Chinai biography in Hindi” will like you. If you like these “Alisha Chinai biography in Hindi” then please like our Facebook page & share on Whatsapp.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *