अंडर वर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम का जीवन परिचय

Dawood Ibrahim Jeevan Parichay Dawood Ibrahim

अंडर वर्ल्ड डॉन एवं इंडिया का मोस्ट वांटेड डॉन दाऊद इब्राहिम का जीवन परिचय – Dawood Ibrahim Biography in Hindi

पूरा नाम (Name) दाऊद इब्राहिम कासकर
जन्मतिथि (Birthday) 26 दिसंबर 1955, खेद रत्नागिरी, महाराष्ट्र, भारत
पिता (Father Name) इब्राहिम कासकर (मुंबई पुलिस में हेड कांस्टेबल)
माता (Mother Name) अमीना बी (गृहिणी)
भाई (Brother)
  • शबीर इब्राहिम कास्कर,
  • नोरा इब्राहिम,
  • अनीस इब्राहिम,
  • सबिर अहमद,
  • मोहम्मद हुमायून,
  • मुस्ताकैम अली,
  • ज़ैतून अंतुले,
  • इकबाल हसन,
बहन (Sister)
  • सईदा पारकर,
  • फरज़ाना तुंगेकर,
  • मुमताज़ शैख़,
  • हसीना पारकर
पत्नी (Wife Name) मेहजबीन शेख (उर्फ जुबीना जरीन)
बच्चे (Childrens)
  • मोईन इब्राहिम,
  • मेह्रीन इब्राहिम,
  • मारिया इब्राहिम,
  • माहरुख इब्राहिम
स्कूल (School) अहमद सैलर हाई स्कूल, डोंगरी, मुंबई, भारत

दाऊद इब्राहिम का जन्म, परिवार, शिक्षा एवं शुरुआती जीवन – Dawood Ibrahim Story

अंडर वर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम महाराष्ट्र के रत्नागिरी में 27 दिसंबर 1955 को जन्में थे। उनके पिता शेख इब्राहिम अली कास्कर मुंबई पुलिस में हैड कांस्टेबल थे। इनकी मां का नाम अमीना बी है। दाऊद इब्राहिम का मन पैसे कमाने की ललक में शुरु से ही अपराधिक गतिविधियों में लगने लगा।

जिसकी वजह उन्होंने अपनी स्कूल की पढ़ाई बीच में छोड़ दी। दाउद, किशोर अवस्था से ही शराब पीने नशा करने जैसी बुरी आदतों का शिकार हो गया था। यही नही अपने इन शौक को पूरा करने के लिए वह छोटी उम्र से ही चोरी, ड्रग्स स्पलाई, डकैती, लूटपाट आदि अपराधों को अंजाम देने लगा था।

दाउद की गर्ल्फ्रैंड्स, शादी और बच्चे – Dawood Ibrahim History in Hindi

दाउद का नाम भारतीय अभिनेत्री मंदाकिनी से भी जुड़ चुका है। इन दोनों के शादी करने तक की खबरें मीडिया में आईं थी। फिलहाल दाउद के घरवालों ने उसकी अपराधिक हरकतों से परेशान होकर उसकी शादी महजबीन उर्फ जुबीना जरीन से करवा दी।

शादी के बाद उसे तीन मेहरीन, माजिया और माहरूख नाम की तीन बेटियां हुईं जबकि मोइन नवाज नाम का बेटा हुआ। उसकी  सबसे छोटी बेटी मारिया की मौत हो चुकी है।

उसने अपनी बड़ी बेटी माहरूख की शादी पूर्व पाकिस्तानी क्रिक्रेटर जावेद मियांदाद के बेटे जुनैद से करवा दी, और माहरीन की शादी पाकिस्तानी-अमेरिकी अयूब से हुई करवा दी जबकि बेटे मोइन की शादी सानिया नाम की लड़की के साथ करवाई है।

दाऊद इब्राहिम ऐसे बने डॉन – Dawood Ibrahim Don

मोस्ट वांटेड आतंकी दाऊद इब्राहिम को शुरु से ही गलत शौक और बुरी आदतों की वजह से अपराधिक गतिविधियों में दिलचस्पी बढ़ने लगी थी।

उसने सबसे पहले एक बिजनेसमैन के साथ लूटपाट कर पहली अपराधिक गतिविधि को अंजाम दिया, हालांकि उसे अपनी इस करतूत के लिए जेल भी जाना पड़ा, लेकिन जेल से छूटने के बाद भी दाऊद में कोई सुधार नहीं आया, बल्कि वह मुंबई के अंडरवर्ल्ड डॉन करीम लाला की गैंग के साथ जुड़ गया और क्रिमिनल गतिविधियों को अंजाम देने लगा, लेकिन इसके बाद उसने अपने भाई के साथ मिलकर अपनी एक अलग क्राइम गैंग बना ली।

दाऊद इब्राहिम को 1980 के दशक से पहले डॉन के रुप में ऐसी कोई खास पहचान नहीं मिली थी, लेकिन इसके बाद इसका नाम मुंबई अपराध जगत में तेजी से उभरा। 80 के दशक में दाऊद का नाम अपराध की दुनिया में सबसे बड़ा नाम बन गया था जो कि फिल्म फाइनेंसिंग से लेकर सट्टेबपाजी तक काम करता था।

वहीं अब तक दाऊद की अपराधिक गतिविधियां इतनी बढ़ चुकी थीं कि वो लोगों को डरा-धमकाकर देकर फिरौती वसूल करने लगा था। जिसकी वजह से वो मुंबई पुलिस की नजरों में एक अपराधी के रुप में चढ़ गया और अपने गुनाहों के लिए उसे कई बार जेल भी जाना पड़ा लेकिन हर बार वह जेल से छूट जाता और नई जुर्म की वारदात को अंजाम देता था।

यहां तक कि मुंबई में लोग उससे खौफ खाने लगे थे और वह लोगों को डरा-धमकाकर करोड़ों रुपए ऐंठने का काम करता था। हालांकि, इसके बाद लगातार वह अपनी अपराधिक कारनामों के लिए वह पुलिस के शिकंजे में फंसता रहा, 1990 में वह पुलिस को चकमा देकर दुबई भाग गया।

इसी दौरान उसकी मुलाकात एक अन्य डॉन छोटे राजन से हुई, दोनों मिलकर भारत के बाहर काम करने लगे और अपराधिक गतिविधियों को अंजाम देने लगें।

वह विदेश में बैठे-बैठे कई आतंकी संगठनों और अपनी गैंग के माध्यम से भारत में कई अपराधिक वारदातों को अंजाम देता रहा। 12 मार्च, 1993 में मुंबई में अलग-अलग जगह भयानक बम बिस्फोट हुए, जिसमें करीब 257 लोगों की मौत हो गई और 700 लोग घायल हो गए।

जांच में दाउद का नाम मुंबई बम धमाके के मास्टरमाइंड के रुप में उभरा। जिसके बाद वह अंडरवर्ल्ड के सबसे बड़े और इंडिया का मोस्ट वांटेड डॉन बन गया। हालांकि इस बम धमाके में छोटे राजन और दाऊद की दोस्ती में दरार पड़ गई और दोनों की दोस्ती दुश्मनी में बदल गई, दोनों अलग हो गए।

दाउद पाकिस्तान चला गया लेकिन वहां कराची में रहकर भारत के खिलाफ अपना जुर्म जारी रखा। इसके बाद 2005 में भारत की खूफिया एजेंसियों ने उसकी बेटी माहरूख की शादी के रिसेप्शन में उसे मारने का प्लान बनाया लेकिन प्लान लीक होने की वजह से वह बच निकला।

वहीं समय-समय पर दाईद को भारत पर लाने की मांग उठती रही और भारत सरकार पाकिस्तान पर दबाब बनाती रही लेकिन दाऊद अपना ठिकाना बदलता रहा और अभी तक नहीं पकड़ा गया आज भी वह भारत का मोस्ट वांटेड अपराधी है।

अपने नाम और पहचान बदलकर देता रहा गुनाहों को अंजाम:

कई रिपोर्ट्स और किताबों के मुताबिक दाऊद ने 13 बार अपनी अलग-अलग नाम और पहचान बदलकर अपराध की वारदात को अंजाम देता रहा है। उसके बारे में यह भी प्रसिद्ध है उसने कई बार पुलिस के शिकंजे से बचने के लिए अपने चेहरे की सर्जरी भी करवाई है।

इसके अलावा अंडर वर्ल्ड डॉन दाऊद के बारे में ऐसी भी खबरें हैं कि पाकिस्तान  में वो शेख दाऊद हसन के नाम से रह रहा है। उसके बाद डेविड भाई, अमीर साहब, हाजी साहब आदि के नाम से भी संबोधित करते है।

इसके अलावा दाऊद के कई अलग-अलग ठिकाना होने का भी दावा किया जाता है। दाऊद के पास 4 पासपोर्ट होने का भी दावा किया गया ह है।

दाऊद पर बनी फिल्में – Dawood Ibrahim Movie

अपराध की दुनिया का सबसे बड़ा नाम दाऊद इब्राहिम के जीवन  पर बॉलीवुड में कंपनी, डी, शूटआउट एट लोखंडवाला, ब्लैक फ्राइडे, और डी-डे, वन्स अपॉन ए टाईम इन मुंबई, आदि फिल्में भी बन चुकी है्ं।

अंडर वर्ल्ड डॉन दाउद इब्राहिम से जुड़े चर्चित विवाद – Dawood Ibrahim Controversy

1993 में हुए मुंबई में हुए भयानक बम विस्फोट का मास्टरमाइंड दाऊद इब्राहिम को ही माना जाता है। इस बम बिस्फोट में करीब 300 लोगों की मौत हो गई थी, जबकि 700 से ज्यादा लोग बुरी तरह घायल हो गए थे। अंडर वर्ल्ड डॉन दाउद इब्राहिम के भारत के ज्यादातर हवाला सिस्टम को कंट्रोल करते हैं।

अंडर वर्ल्ड डॉन दाऊद को लेकर कुछ खूफिया एजेंसियों ने यह भी दावा किया था कि वह ब्रिटेन, सिंडिकेट पश्चिमी यूरोप में बड़े स्तर पर नशीले और मादक पदार्थों का संचालन कर रहा है। दाऊद के संबंध अलकायदा आतंकी संगठन के नेता ओसामा बिन लादेन से होने का भी दावा किया गया था।

इसके अलावा दाऊद के संबंध अन्य बड़े आंतकवादी संगठन “लश्कर-ए-तैयबा” से भी बताए जाते हैं और ऐसा कहा जाता है कि दाउद इन संगठनों की खाने-पीने की व्यवस्था समेत फाइनेंशियली भी मद्द करता है।

साल 2003 में दाऊद इब्राहिम को भारत और संयुक्त राज्य अमिरका की सरकार द्धारा ग्लोवल टेरेरिस्ट (‘वैश्विक आतंकवादी’) करार दिया गया था।

Read More:

Hope you find this post about ”Dawood Ibrahim in Hindi” useful. if you like this information please share on Facebook.

Note: We try hard for correctness and accuracy. please tell us If you see something that doesn’t look correct in this article About Dawood Ibrahim biography… And if you have more information biography of Dawood_Ibrahim then helps with the improvements in this article.

84 thoughts on “अंडर वर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम का जीवन परिचय”

  1. mohd tousif qureshi

    saare janha se accha hindustaa humara sar kata sakte h lekin jhuka nhi sakte
    hum us desh ke waasi he janha loogo ke dil me tiranga rahta he
    aese haalat mat paida kar dena ki hindustaa ki awaam ko jaagna pad jaye or ye agr jaag gai
    to aese na jaane kitne don iski khaak me mil jayenge jai hind jai bharat

    1. inklab jindabad

      sahi bola mere bhai aese sale don ko kya pata apni india ki aukad .
      india jis din apne pe aa jayega na us din dawood kya dawood ke jaise soch rakhne wale
      mitti me miladega ye hamara india

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *