आंबेडकर जयंती (2020) पर बाबासाहेब के सर्वश्रेष्ठ विचार | Dr. B R Ambedkar Quotes

Dr. B R Ambedkar Quotes in Hindi

महामानव डॉ. भीमराव आम्बेडकर जी को दलितों के मसीहा के रुप में कौन नहीं जानता। भीमराव आम्बेडकर जी द्धारा समाज में किए गए अनगिनत कामों के बल पर उन्हें देश को एक सूत्र में बांधने वाले आधुनिक भारत के निर्माता और संविधान निर्माता जैसे नामों की संज्ञा दी गई।

आपको बता दें कि बाबासाहेब आम्बेडकर जी एक महान और बेहद प्रभावशाली चरित्र वाले महापुरुष थे, जिन्होंने अपना पूरा जीवन समाज की सेवा करने और दलितों के उत्थान में समर्पित कर दिया।

बाबासाहेब आम्बेडकर अपने पूरे जीवनभर समाज में दलितों को उनका हक दिलवाने के लिए, महिलाओं को उनके अधिकार दिलवाने के साथ समाज में फैली जातिगत असमानता एवं सतीप्रथा, बालविवाह, छूआछूत, मूर्तिपूजा और अंधविश्वास जैसी कुरोति को जड़ से खत्म करने के प्रयास में लगे रहे साथ ही उन्होंने समाज में शिक्षा पर भी विशेष जोर दिया।

इसके साथ ही बाबासाहेब आम्बेडकर जी ने सभी देशवासियों को उनके समान अधिकारों के दिलवाने के उद्देश्य से और एक नए एवं आधुनिक युग के सूत्रपात के लिए भारत के सबसे बड़े संविधान का निर्माण किया था। उनके विचार हमेशा बहुत आगे की उनकी सोच को दिखाते है। बाबासाहेब के कुछ श्रेष्ठ सुविचार यह पब्लिश कर रहें है। (BR Ambedkar Quotes in Hindi) जो आपको एक सीमित सोच से बाहर सोचने के लिए मजबूर कर देंगे।

बाबासाहेब के सर्वश्रेष्ठ विचार – Dr. BR Ambedkar Quotes in Hindi

BR Ambedkar Quotes in Hindi
BR Ambedkar Quotes in Hindi

“ज्ञान का विकास ही मनुष्य का अंतिम लक्ष्य होना चाहिए।”

“सागर में मिलकर अपनी पहचान खो देने वाली पानी की बूँद के विपरीत, मानव उस समाज में अपना अस्तित्व नहीं खोता, जहाँ वह रहता है। मानव जीवन स्वतंत्र है। वह केवल समाज के विकास के लिए नहीं पैदा हुआ है, बल्कि स्वयं के विकास के लिए भी पैदा हुआ है।”

“एक सफल क्रांति के लिए सिर्फ असंतोष का होना ही काफी नहीं है बल्कि इसके लिए न्याय, राजनीतिक और सामाजिक अधिकारों में गहरी आस्था का होना भी बहुत आवश्यक है।”

Ambedkar Quotes in Hindi

Ambedkar Quotes in Hindi
Ambedkar Quotes in Hindi

“जीवन लंबा होने की बजाय महान होना चाहिए।”

“मनुष्य का जीवन पूरी तरह स्वतंत्र है, इंसान समाज के विकास के लिए ही नहीं, बल्कि स्वयं के विकास के लिए पैदा हुआ है।”

“अगर गुलाम बनकर जिओगे, तो कुत्ता समझकर तुम पर लात मारेगी यह दुनिया और अगर नवाब बनकर जिओगे तो शेर समझ कर सलाम ठोकेगी।”

Ambedkar Quotes On Hinduism

डॉ. भीमराव आम्बेडकर जी का जीवन और उनके महान विचार वाकई प्रेरणास्त्रोत हैं, वहीं अगर जो भी इस महामानव के सुविचारों को अपने जीवन में अमल कर ले तो न सिर्फ वह न सिर्फ अपने जीवन की असीम ऊंचाईयों तक पहुंच सकता है, बल्कि अपने जीवन में आने वाली हर कठिनाई का आसानी से सामना भी कर सकता है।

वहीं बाबा साहेब के सम्मान में हर साल 14 अप्रैल को उनकी जंयती (Ambedkar Jayanti) भी बनाई जाती है, इसलिए आज हम अपने इस पोस्ट में आपको बाबासाहेब के सर्वश्रेष्ठ और प्रेरणादायक विचारों – B R Ambedkar Thoughts को उपलब्ध करवा रहे हैं, जिन्हें आप सोशल मीडिया साइट्स पर भी शेयर कर सकते हैं, और इन विचारों की गहराई को अपने मन में उतारकर एक सफल जीवन जी सकते हैं।

Ambedkar Quotes On Hinduism
Ambedkar Quotes On Hinduism

“मैं ऐसे धर्म को मानता हूँ जो स्वतंत्रता, समानता और भाई-चारा सीखाये।”

“आज भारतीय दो अलग-अलग विचारधाराओं द्वारा शासित हो रहे हैं। उनके राजनीतिक आदर्श जो संविधान के प्रस्तावना में इंगित हैं, वो स्वतंत्रता, समानता, और भाई -चारे को स्थापित करते हैं और उनके धर्म में समाहित सामाजिक आदर्श इससे इनकार करते हैं।”

“राजनीतिक अत्याचार सामाजिक अत्याचार की तुलना में कुछ भी नहीं और एक समाज सुधारक जो समाज को चुनौती देता हैं वह सरकार को चुनौती देने वाले राजनीतिज्ञ से कहीं अधिक साहसी है।”

Babasaheb Ambedkar Quotes Hindi

Babasaheb Ambedkar Quotes Hindi
Babasaheb Ambedkar Quotes Hindi

“यदि मुझे लगा की संविधान का दुरुपयोग किया जा रहा हैं, तो इसे सबसे पहले मैं जलाऊंगा।”

“एक सफल क्रांति के लिए सिर्फ असंतोष का होना ही काफी नहीं है, बल्कि इसके लिए न्याय, सामाजिक अधिकारों और राजनीतिक अधिकारों में गहरी आस्था का होना भी बेहद जरुरी है।”

B R Ambedkar Thoughts in Hindi

भीमराव आम्बेडकर जी एक महान समाजसुधारक ही नहीं बल्कि वे एक अच्छे लेखक और अर्थशास्त्री के ज्ञाता थे। इसके अलावा राष्ट्रीय नेता के रुप में भी उन्होंने अपना पहचान बनाई थी।

आपको बता दें कि उन्हें दलित होना की वजह से अपने बचपन में काफी संघर्षों को झेलना पड़ा था, जिसके चलते उनके अंदर पूरे दलित वर्ग की स्थिति को समाज में सुधारने की भावना पैदा हुई और आज उनके सफल प्रयासों के बल पर ही दलित वर्ग की स्थिति समाज में काफी सुधरी है और तो और आज कई दलित नेता और अधिकारी उच्च पदों पर आसीन है, दलित वर्ग के उत्थान के लिए उनके द्धारा किए गए काम करने को लेकर ही आम्बेडकर जी मसीहा के रुप में पहचाने जाना लगा।

वहीं आज भी बाबासाहेब आम्बेडकर जी के लिए समस्त देशवासियों के ह्रदय में अपार सम्मान है। आम्बेडकर जी के इन सर्वश्रेष्ठ विचारों को पढ़कर आपके मन में भी अपने जीवन के प्रति सकारात्मक भावना का संचार होगा साथ ही अपने जीवन के लक्ष्यों को पाने में मद्द मिलेगी।

Babasaheb Ambedkar Quotes In Hindi

“एक महान व्यक्ति एक प्रतिष्ठित व्यक्ति से अलग हैं, क्योकि वह समाज का सेवक बनने के लिए तैयार रहता हैं।” 

“किसी का भी स्वाद आसानी से बदला जा सकता है, लेकिन जहर को अमृत में कभी नहीं बदला जा सकता है।”

Ambedkar Jayanti Quotes

BR Ambedkar Quotes In Hindi

“समानता एक कल्पना हो सकती हैं, लेकिन फिर इसे एक गवर्निंग सिद्धांत के रूप में स्वीकार करना होगा।”

“मै किसी भी समुदाय की प्रगति को, महिलाओं ने जो प्रगति हासिल की है, उससे मापता हूं।”

BR Ambedkar Quotes

BR Ambedkar Quotes
BR Ambedkar Quotes

“पति-पत्नी के बीच का सम्बन्ध घनिष्ट मित्रों के सम्बन्ध के समान होना चाहिए।”

“हिन्दू धर्म में स्वतंत्र सोच, विवेक और कारण के विकास के लिए बिल्कुल भी गुंजाइश नहीं है।”

BR Ambedkar Slogan

BR Ambedkar Slogan
BR Ambedkar Slogan

“जब तक आप सामाजिक स्वतंत्रता पूर्ण रुप से हासिल नहीं कर लेते, तब तक कानून आपको जो भी स्वतंत्रता देता है, वो आपके किसी भी काम की नहीं है।”

“राजनीतिक अत्याचार, सामाजिक अत्याचार की तुलना में कुछ भी नहीं है, और एक सुधारक जो समाज को खारिज कर देता है वो सरकार को खारिज कर देने वाले राजनीतिज्ञ से ज्यादा साहसी है।”

BR Ambedkar Suvichar

BR Ambedkar Suvichar
BR Ambedkar Suvichar

“एक सुरक्षित से एक सुरक्षित सीमा से बेहतर है।”

“अगर हम वास्तव में एक एकीकृत आधुनिक भारत चाहते हैं तो सभी धर्मों के शास्त्रों की संप्रभुता का अंत होना बेहद आवश्यक है।”

BR Ambedkar Thoughts

BR Ambedkar Thoughts
BR Ambedkar Thoughts

“हम सबसे पहले और अंत में, भारतीय हैं।”

“हर व्यक्ति जो मिल के सिद्धांत कि ‘एक देश दूसरे देश पर शासन नहीं कर सकता’ को दोहराता है उसे ये भी स्वीकार कर लेना चाहिए कि एक वर्ग दूसरे वर्ग पर शासन नहीं कर सकता।”

DR Babasaheb Ambedkar Thoughts On Education

DR Babasaheb Ambedkar Thoughts On Education
DR Babasaheb Ambedkar Thoughts On Education

“दिमाग का विकास मानव के अस्तित्व का अंतिम लक्ष्य होना चाहिए।”

“इतिहास ग्वाह है कि जहां नैतिकता और अर्थशास्त्र के बीच मुकाबला होता है, वहां जीत हमेशा ही अर्थशास्त्र की होती है। वहीं अपने निहित स्वार्थों को तब तक स्वेच्छा से नहीं छोड़ा गया है, जब तक कि मजबूर करने के लिए पर्याप्त बल न लगाया गया हो।”

Dr. BR Ambedkar Quotes

Dr. BR Ambedkar Quotes
Dr. BR Ambedkar Quotes

“जो कौम अपना इतिहास तक नही जानती है, ऐसी कौम कभी भी अपना इतिहास नहीं बना सकती हैं।”

“क़ानून और व्यवस्था राजनीतिक शरीर की दवा है और जब राजनीतिक शरीर बीमार पड़े तो दवा ज़रूर दी जानी चाहिए।”

Ambedkar Quotes on Untouchability

Ambedkar quotes on untouchability
Ambedkar quotes on untouchability

“धर्म में मुख्य रूप से केवल सिद्धांतों की बात होनी चाहिए, यहां नियमों की बात नहीं हो सकती।”

“एक सफल क्रांति के लिए मात्र असंतोष का होना ही पर्याप्त नहीं। जो आवश्यक है, वह है न्याय, राजनीतिक तथा सामाजिक अधिकारों की अनिवार्यता एवं महत्व में गहन और पूर्ण आस्था।”

126 COMMENTS

  1. Very Nice Article.. I have learned many inspiring life-changing quotes from this post. Thanks to the admin for this beautiful post.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here