Skip to content

विज्ञान पर निबंध – Essay on Science

Essay on Science

आज के आधुनिक और चमत्कारिक युग को विज्ञान की दुनिया कहें तो गलत नहीं होगा, क्योंकि आज का युग और विज्ञान एक-दूसरे के पूरक बन चुके हैं, आज की मॉडर्न दुनिया में विज्ञान के बिना जीवन की कल्पना भी नहीं की जा सकती है, विज्ञान ने मानव जीवन को इतना सरल और आसान बना दिया है, कि मानव जीवन अब पूरी तरह से विज्ञान पर निर्भर हो गया है।

अब विज्ञान और टेक्नोलॉजी के युग से दूर रहकर जीवन की कल्पना करना मुश्किल हो गया है। आज हर क्षेत्र में विज्ञान का बोलबाला है, कोई भी क्षेत्र विज्ञान के बिना अधूरा है। विज्ञान की बदौलत आज हमारा आर्थिक और सामाजिक परिवेश पूरी तरह बदल गया है।

वहीं आजकल बच्चों के लेखन कौशल में सुधार लाने के लिए और उन्हें विज्ञान के महत्व को समझाने के लिए विज्ञान जैसे विषयों पर निबंध लिखने के लिए कहा जाता है, इसलिए हम आपको अपने इस लेख में विज्ञान के विषय – Essay on Science पर अलग-अलग शब्द सीमा के साथ निबंध उपलब्ध करवा रहे हैं –

विज्ञान पर निबंध – Essay on Science

Essay on Science
Essay on Science

विज्ञान पर निबंध 1(1250 शब्द) – Essay on Science 1 (1250 Word)

प्रस्तावना –

आधुनिक युग के निर्माण में विज्ञान ने अपनी मुख्य भूमिका निभाई है। मनुष्य का जीवन पूरी तरह से विज्ञान पर निर्भर हो चुका है। विज्ञान ने न सिर्फ मानव जीवन को बेहद सरल और आसान बना दिया है, बल्कि मानव जीवन से तमाम दुखों और कष्टों को दूर भगाने में और उसकी परेशानियों को कम करने में भी अहम भूमिका निभाई है।

विज्ञान एक ऐसा वरदान है जिसने मनुष्य की जिंदगी को पूरी तरह बदल दिया और असंभव से असंभव काम को भी संभव बना दिया है।

विज्ञान का अर्थ –

विज्ञान यानि वि+ज्ञान, जो कि दो शब्दों से मिलकर बना है, जिसका अर्थ है किसी वस्तु का विशेष ज्ञान। आज मनुष्य अपने जीवन को और ज्यादा सरल बनाने के लिए कई तरह के अविष्कार कर रहा है और विज्ञान की वजह से ही आज हम विकास कर पा रहे हैं। वहीं विज्ञान को विवेक का द्धार भी माना जाता है।

मनुष्य अपने भौतिक सुखों की प्राप्ति के लिए विज्ञान का आदि हो चुका है। विज्ञान के कई अद्भुत चमत्कारों ने मानव जीवन को पूरी तरह बदल कर रख दिया है। विज्ञान ने कई ऐसे चीजों को इजाद किया है, जिसे देख दुनिया के सभी लोग अचंभित हैं।

वहीं आज दुनिया के हर कोने में विज्ञान की चकाचौंध देखी जा सकती है। मनुष्य की जिंदगी से जुड़ी एक छोटी चीज से लेकर बड़े-बड़े हवाई जहाज भी विज्ञान की देन है।

विज्ञान की वजह से न सिर्फ कई प्राचीन तथ्यों पर खोज की गई है बल्कि दुनिया में व्याप्त अंधविश्वास को दूर करने में भी मद्द मिली है। विज्ञान की मदत से ही आज हमारी जिंदगी इतनी आसान हो गई है कि जहां पहले हमें मीलों दूर जाने के लिए महीनों लग जाते थे, अब हम इसे चंद मिनटों में ही पूरा कर लेते हैं।

यही नहीं विज्ञान की मद्द से ही आज मानव शरीर में होने वाली तमाम बीमारियों से लड़ने की क्षमता मिली है। मानव के जीवन से अंधकार मिटाने में भी विज्ञान का बहुत बड़ा हाथ है। आज मनुष्य के दैनिक जीवन से जुड़ी हर एक वस्तु विज्ञान की देन है।

आज का युग ‘विज्ञान का युग’

आज हमारी जिंदगी पूरी तरह विज्ञान के प्रभाव से विद्यमान है। आज के युग में रोज नए-नए अविष्कार किए जा रहे हैं। आज मानव के जीवन से जुड़ी हर एक चीज विज्ञान के अद्भुद चमत्कारों से ही जुड़ी हुई है।

विज्ञान ने आज मनुष्य के जीवन को पूरी तरह बदल दिया है। घर हो, कारखाना हो या फिर बिजनेस हो हर क्षेत्र में विज्ञान का बोलबाला है। चिकित्सा, यातायात, मनोरंजन, इलेक्ट्रिसिटी, संचार, शिक्षा, व्यापार, अंतरिक्ष, न्यूक्लियर समेत तमाम क्षेत्र ऐसे हैं जहां विज्ञान ने अपना अद्भुत प्रभाव छोड़ा है, विज्ञान से इन क्षेत्रों में अपार विकास हुआ है।

विज्ञान ने आज हमारी जिंदगी को बेहद आसान बना दिया है। जहां पहले इंसान को एक स्थान से दूसरे स्थान तक जाने के लिए महीनों लग जाते थे, अब इंसान मीलों की दूरी मिनटों में तय कर लेते हैं। यही नहीं पहले जिन कामों को करने के लिए मनुष्य को घंटों पसीने बहाने पड़ते थे अब विज्ञान ने कई ऐसी तकनीकों का इजाद किया है कि कुछ काम बिना किसी शारीरिक मेहनत के मिनटों में ही पूरे हो जाते हैं।

वहीं अब मनुष्य को किसी काम को करने के लिए शारीरिक रुप से ज्यादा मेहनत करने की जरूरत नहीं पड़ती है, क्योंकि विज्ञान की वजह से ही कई ऐसी मशीनों का निर्माण हुआ है, जिससे हर एक चीज बेहद आसान हो गई है।

विज्ञान की वजह से ही टीवी, एसी, फ्रिज, गाड़ी, मोबाइल फोन, लैपटॉप समेत कई ऐसे उपकरण बनाने में मदद मिली है, जिनसे मनुष्य को भौतिक सुखों को अनुभूति हुई है, वहीं अब इन उपकरणों के बिना मनुष्य अपने जीवन की कल्पना भी नहीं कर सकता है।

वहीं यह कहना गलत नहीं होगा कि, मनुष्य इस कदर विज्ञान की गिरफ्त में आ चुका है कि इससे निकल पाना बेहद मुश्किल हो गया है।

विज्ञान की वजह से आज हम घर पर बैठे-बैठे दुनिया के किसी भी कोने में बैठे शख्स से बातचीत कर सकते हैं, या फिर कोई महत्वपूर्ण दस्तावेज शेयर कर सकते हैं। मोबाइल फोन, इंटरनेट, ईमेल्स ने तो मानव जीवन को पूरी तरह से बदल कर ही रख दिया है।

आज लोग इंटरनेट के माध्यम से घर पर बैठे-बैठे न सिर्फ करोड़ों रुपए कमा रहे हैं बल्कि कई ई-कॉमर्स साइट्स के माध्यम से ऑनलाइन प्रोडक्ट बेच रहे हैं, जिससे लोगों को भी काफी सुविधा हुई है। अब हर चीज एक क्लिक पर ही बेहद आसानी से घऱ पर ही मिल जाती है।

कम्प्यटूर और मोबाइल फोन तो विज्ञान का अद्भुत अविष्कार है, जिनसे दुनिया का हर शख्स जुड़ा हुआ है।

विज्ञान की वजह से ही आज मनुष्य बेहद तेजी से अपनी क्षमता को उजागर कर पा रहा है और विज्ञान के नए अविष्कारों से खुद की जिंदगी को आसान बना रहा है।

वहीं अगर आज के युग में शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में विज्ञान की बात करें तो इन क्षेत्रों में विज्ञान का अत्याधिक प्रभाव पड़ा है, विज्ञान की वजह से कई बड़ी बीमारियां जैसे, कैंसर, टी.बी, डेंगू, ह्रदय रोग,डायरिया, अस्थमा, डिप्रेशन,मलेरिया समेत तमाम बीमारियों से लड़ने में मद्द मिली है।

मेडिकल साइंस ने कई ऐसी टेक्नोलॉजी का इजाद किया है, जिसकी मदत से मानव शरीर के अंदर हो रही हर गतिविधियों का बेहद आसानी से पता लगाया जा सकता है और इसका आसानी से इलाज किया जा सकता है।

कई ऐसे उपकरण आज चिकित्सा के क्षेत्र में मौजूद हैं, जिनकी सहायता से बड़ी-बड़ी बीमारियों का इलाज भी चुटकियों में संभव हो सका है।

कई तकनीकी उपलब्धियों और वैज्ञानिक खोजों ने देश को विकास की तरफ अग्रसर किया है और देश की आर्थिकी को मजबूत किया है।

वैज्ञानिक रिसर्च, नई तकनीक और नए विचारों के माध्यम से शिक्षा के क्षेत्र में कई बड़े और सकारात्मक बदलाव देखने को मिले हैं। शिक्षा के क्षेत्र में भी विज्ञान का अभूतपूर्व योगदान रहा है।

वहीं अगर यह कहें की विज्ञान ने शिक्षा के क्षेत्र को एक नई दिशा दी है, तो यह कहना गलत नहीं होगा, क्योंकि विज्ञान की वजह से अब प्रिटिंग इतनी आसान हो गई है कि हजारों पन्ने की किताब चंद मिनटों में छप जाती है, जिससे बाजार में बच्चों के तमाम विषयों की किताबें आसानी से मिल जाती हैं।

इसके अलावा बच्चों को अब इंटरनेट के माध्यम से पढ़ाई करवाई जा रही है। प्रोजक्टर और कम्प्यूटर के माध्यम से बच्चों को शिक्षा दी जाने लगी है, वहीं स्मार्ट क्लास और कम्प्यूटर का ज्ञान सब विज्ञान की ही देन है।

आज विज्ञान की बदौलत ही कृषि व्यापार में काफी हद तक विकास किया है। कृषि के काम में इस्तेमाल होने वाली कई ऐसे उपकरण और मशीनें बनाईं गईं, जिसने मनुष्य के शारीरिक मेहनत को कम कर दिया ताकि घंटों में होने वाले काम को मिनटों में किया जा सके। यही नहीं विज्ञान की बदौलत आज मनुष्य अंतरिक्ष तक में पहुंच गया है।

विज्ञान एक अभिशाप के रुप में –

विज्ञान ने जहां इंसान की जिंदगी ऐश और आराम की बना दी है, विज्ञान ने मनुष्य को तमाम भौतिक सुख प्रदान किए हैं, वहीं दूसरी तरफ इसने कई ऐसे विनाशकारी शक्तियों को जन्म भी दिया है, जिससे पल भर में पूरी दुनिया समाप्त हो सकती है। उदाहरण के तौर पर समझें तो, परमाणु ऊर्जा से बनने वाले हथियार अत्यंत विनाशकारी हैं।

उपसंहार –

हर सिक्के के दो पहलू होते हैं वैसे ही विज्ञान के भी है, विज्ञान ने एक तरफ मनुष्य को तमाम भौतिक सुखों को प्रदान किया है, और आज के आधुनिक परिवेश को बदलकर रख दिया है, वहीं दूसरी तरफ विज्ञान ने कई ऐसे विनाशकारी हथियार को जन्म दिया है, जिससे पल भर में पूरी दुनिया का विनाश हो सकता है। इसलिए,विज्ञान का इस्तेमाल मनुष्य जाति के कल्याण के लिए किया जाना चाहिए, इसके विनाश के लिए नहीं करना चाहिए।

अगले पेज पर विज्ञान पर और भी निबंध….

Pages: 1 2 3 4

4 thoughts on “विज्ञान पर निबंध – Essay on Science”

Leave a Reply

Your email address will not be published.