मशहूर शायर गुलजार साहब की मशहूर शायरी

Gulzar Shayari in Hindi

Gulzar Dil se Shayari
Gulzar Dil se Shayari

मशहूर शायर गुलजार साहब की मशहूर शायरी – Gulzar Shayari in Hindi

“सच को तमीज ही नही बात करने की,
झूठ को देखो कितना मीठा बोलता है।”

“बहुत अंदर तक जला देती हैं, वो शिकायते जो बया नहीं होती।”

“कुछ ऐसे हो गए है इस दौर के रिश्ते,
आवाज अगर तुम ना दो तो बोलते वह भी नही।”

Gulzar Hindi Shayari

Gulzar Hindi Shayari
Gulzar Hindi Shayari

“जिन्हें वाकई बात करना आता है,
वो लोग अक्सर खामोश रहते है।”

“मैं दिया हूँ! मेरी दुश्मनी तो सिर्फ अँधेरे से हैं, हवा तो बेवजह ही मेरे खिलाफ हैं।”

“समेट लो इन नाजुक पलो को,
ना जाने ये लम्हे हो ना हो,
हो भी ये लम्हे क्या मालूम शामिल,
उन पलो में हम हो ना हो।”

Gulzar Hindi Status

Gulzar Hindi Status
Gulzar Hindi Status

“कुछ शिकायत बनी रहे, तो बेहतर है,
चाशनी में डूबे रिश्ते वफादार नही होते।”

“सुना हैं काफी पढ़ लिख गए हो तुम, कभी वो भी पढ़ो जो हम कह नहीं पाते हैं।”

“टूट जाना चाहता हूँ, बिखर जाना चाहता हूँ
में फिर से निखार जाना चाहता हूँ
मानता हूँ मुश्किल हैं…
लेकिन में गुलज़ार होना चाहता हूँ।”

Gulzar Shayari Images

Gulzar Shayari Images
Gulzar Shayari Images

“इच्छाएं बड़ी बेवफा होती हैं,
कमबख्त पूरी होते ही बदल जाती हैं।”

“मैंने मौत को देखा तो नहीं,
पर शायद वो बहुत खूबसूरत होगी,
कमबख्त जो भी उससे मिलता हैं,
जीना ही छोड़ देता हैं।”

“तुझसे कोई शिकवा शिकायत नही है,
जिंदगी तूने जो भी दिया है वही बहुत है।”

Gulzar Shayari in Hindi on Life

Gulzar Shayari in Hindi on Life
Gulzar Shayari in Hindi on Life

“झूठी शान के परिंदे ही ज्यादा फड़फड़ाते है,
वरना बाज़ की उड़ान में कभी आवाज नही होती।”

“ना दूर रहने से रिश्ते टूट जाते हैं,
ना पास रहने से जुड़ जाते हैं,
यह तो एहसास के पक्के धागे हैं,
जो याद करने से और मजबूत हो जाते हैं।”

Gulzar Shayari on Life in Hindi

Gulzar Shayari on Life in Hindi
Gulzar Shayari on Life in Hindi

“एक सपने के टूटकर चकनाचूर हो जाने के बाद,
दूसरा सपना देखने के हौसले का नाम जिंदगी हैं।”

“थोड़ा सा रफू करके देखिए ना फिर से नई सी लगेगी जिंदगी ही तो है।”

Gulzar Dil se Shayari

Gulzar Shayari on Life
Gulzar Shayari on Life

“तोड़कर जोड़ लो चाहे, हर चीज दुनिया की,
सब कुछ काबिले मरम्मत है एतबार के सिवा।”

“हाथ छुटे भी तो रिश्ते नहीं छोड़ा करते,
वक्त की शाख से लम्हें नहीं तोडा करते।”

“दिल के रिश्ते हमेशा किस्मत से ही बनते है,
वरना मुलाकात तो रोज हजारों से होती है।”

Gulzar Shayari on Love in Hindi

Gulzar Shayari on Love in Hindi
Gulzar Shayari on Love in Hindi

“तुझ को बेहतर, बनाने की कोशिश में,
मैं तुझको ही वक्त नही दे पा रहा हूं,
माफ करना ए जिंदगी,
तुझको ही जी नही पा रहा हूं।”

“करेला बनो गुलाब जामुन नही,
वरना लोग खा जाएंगे।”

“कुछ जख्मो की उम्र नहीं होती हैं,
ताउम्र साथ चलते हैं, जिस्मो के ख़ाक होने तक।”

Gulzar Shayari on Love

Gulzar Shayari on Love
Gulzar Shayari on Love

“ज्यादा कुछ नहीं बदलता उम्र के साथ,
बस बचपन की जिद्द समझौतों में बदल जाती हैं।”

“नाराज हमेशा खुशियांही होती है,
गमों के कभी इतने नखरे नही रहे।”

Gulzar Shayari on Zindagi

Gulzar Shayari on zindagi
Gulzar Shayari on zindagi

“मिलता तो बहुत कुछ है इस ज़िन्दगी में,
​बस हम गिनती उसी की करते है जो हासिल ना हो सका।”

“आप के बाद हर घड़ी हम ने, आप के साथ ही गुज़ारी है।”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *