विश्व की बड़ी कपंनीज में सीईओ के पद पर विराजमान भारतीय

Top Indian CEOs in the World

कभी भारत हर क्षेत्र में उच्च हुआ करता था। फिर चाहे वो समृद्धि की बात हो या फिर शिक्षा या रहन सहन की। लेकिन आक्रमणकारियों के कारण भारत की सभ्यता पर बहुत गहरी चोट पहुंची और सोने की चिड़िया कहा जाने वाला भारत आक्रमणों के कारण अपनी समृद्धि को खोता चला गया। लेकिन धन चले जाने से बुद्धि तो नहीं चली जाती। और भारतीयों की बुद्धि, चतुराई को तो आज भी पूरा विश्व सलाम करता है शायद यही वजह है कि दुनिया की टॉप कंपनीज के सीईओ भारतीय – Top Indian CEOs in the World है।

जिन्होनें अपनी मेहनत और अपने हुनर के दम पर पूरे विश्व में भारत का नाम रोशन किया। वैसे तो दुनियाभर की टॉप कंपनीज में सीईओ – Top Indian CEOs in the World के पद में विराजमान भारतीयों की लिस्ट काफी लंबी है लेकिन आज हम आपको विश्व की पांच बड़ी कपंनीज में सीईओ के पद पर विराजमान भारतीयों के बारे में बताने वाले हैं।

Top Indian CEOs in the World
Top Indian CEOs in the World

विश्व की बड़ी कपंनीज में सीईओ के पद पर विराजमान भारतीय – Top Indian CEOs in the World

  • सुंदर पिच्चई, गूगल – Sundar Pichai (Google)

पिच्चई सुंदराजन जिन्हें आज पूरा विश्व सुदंर पिच्चई के नाम से जानता है।  सुंदर पिच्चई मौजूदा समय में दुनिया की सबसे बड़ी सर्च इंजन कंपनी गूगल के सीईओ है। सुंदर पिच्चई भारत के तमिलनाडु के रहने वाले है। जिनका जन्म मदुरई के एक तमिल परिवार में साल 1972 में हुआ है। पिच्चई ने अपनी इंजीनियरिंग की पढ़ाई भारत के आईआईटी खड़गपुर से की है। पिच्चई ने गूगल साल 2004 में ज्वाइन किया था।

जिसके बाद साल 2015 में उन्हें सीईओ का पद प्राप्त हुआ। गूगल का सीईओ बनने के बाद सुंदर पिच्चई की एक माह की सैलरी 200 मिलियन डॉलर है। यकीन करना मुश्किल है कि दुनिया के सबसे बड़े सर्च इंजन कंपनी का सीईओ कोई ओर नहीं एक भारतीय है पर गूगल को इतना आगे पहुंचाने में सुंदर का बहुत योगदान है और इसी वजह से वो आज इस कंपनी के सीईओ है।

  • सत्य नडेला, माइक्रोसॉफ्ट – Satya Nadella ( Microsoft)

आज के समय में जितने भी लोग लैपटॉप, कंम्प्यूटर पर काम करते है वो सभी माइक्रोसॉफ्ट कंपनी के बारे में भली भांति जानते है लेकिन क्या आप लोग ये जानते है कि माइक्रोसॉफ्ट कंपनी के सीईओ एक भारतीय है। भारतीय मूल के सत्या नेडला को साल 2014 में माइक्रोसॉफ्ट का सीईओ बनाया गया था। सत्या नडेला का जन्म साल 1967 में आंध्र प्रदेश के अनतपुरम में एक तमिल परिवार में हुआ था।

सत्या नडेला ने अपनी मास्टर्स की पढ़ाई मनीपाल इंस्टीयूट ऑफ टेक्नॉलजी से की है। वहीं एमबीए शिकागों यूनिवर्सिटी से पूरी की। सत्या नडेला की प्रति माह सैलरी 20 मिलियन डॉलर है।

  • अजयपाल सिंह भांगरा, मास्टर कार्ड – Ajaypal Singh Banga (MasterCard)

अमेरिकन मल्टीनेशनल कंपनी मास्टरकार्ड जो आज हर देश में इस्तेमाल होता है उसके सीईओ अजयपाल सिंह भांगरा भी भारतीय ही है। जिन्होनें अर्थशास्त्र में दिल्ली के सेंट सिटीफन कॉलेज से अपनी पढ़ाई पूरी की है। अजयपाल सिंग भांगरा को उनके बेहतरीन काम और योगदान के लिए भारत सरकार की तरफ से भारत के चौथा सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार पद्म श्री ने भी सम्मानित किया जा चुका है। मास्टर कार्ड के सीईओ अजयपाल सिंह भांगरा की प्रति माह सैलरी सात मिलियन डॉलर है।

  • राजीव सूरी, नोकिया – Rajeev Suri (Nokia)

राजीव सुरी जानी मानी आईटी कंपनी नोकिया के सीईओ है जिन्होनें साल 1995 में नोकिया ज्वाइन किया था। इसके बाद राजीव सुरी नोकिया में अलग – अलग पदों पर विराजमान रहते हुए कंपनी को ऊंचाइयों पर पहुंचाने में अहम योगदान निभाई। यही कारण है कि वो नोकिया के सीईओ पद पर विराजमान है।

राजीव सुरी का जन्म भारत की राजधानी दिल्ली में हुआ था। वहीं राजीव सुरी ने अपनी इंजीनियरिंग की पढ़ाई मनीपाल इंस्टीयूट ऑफ टेक्नॉलजी से पूरी की है। राजीव सूरी अब फिनलैंड के इस्पो शहर में रहते है जहां पर नोकिया का हेडक्वाटर है।

  • इंदिरा कृष्णमूर्ति नूई, पेप्सीको – Indra Nooyi (PepsiCo)

आप सोच रहे होगें कि क्या मल्टीनेशनल कंपनीज में केवल भारतीय पुरुष ही सीईओ पद पर है लेकिन ऐसा नहीं है भारतीय महिलाएं भी किसी से पीछे नहीं है जिसका सबसे अच्छा उदाहरण इंदिरा कृष्णमूर्ति नूई है जो अमेरिकन फूड बीवरेज कंपनी पेप्सीको की सीईओ है। इंदिरा कृष्णमूर्ति का जन्म तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई में हुआ था।  नुई ने अपनी पढ़ाई इंडियन इंस्टीटूयट ऑफ मैंनजमेंट में से की है।

इंदिरा नूई ने साल 1994 में पेप्सीको ज्वाइन किया था। जबकि साल 2006 में उन्हें कंपनी सीईओ नियुक्त किया गया। इंदिरा फोर्ब्स मैगजीन की विश्व की सौ शक्तिशाली महिलाओं की लिस्ट में भी शामिल है। इंदिरा नूई की प्रति माह सैलरी 30 मिलियन डॉलर है।

इन पांच नामों के अलावा भी बहुत सारे भारतीय है जो मल्टीनेशनल कंपनीज में सीईओ और दूसरे बड़े पदों पर विराजमान है। जो विश्व भर में भारत की बुद्धि का एक बहुत बड़ा प्रमाण है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *