अक्किनेनी नागार्जुन की बायोग्राफी – Nagarjuna Biography in Hindi

Nagarjuna Biography in Hindi

साउथ फिल्म इंडस्ट्री में टेलेंट की भरमार है, इसमें एक से बढ़कर एक एक्शन, रोमांटिक और कॉमेडी फिल्म स्टार्स हैं। ऐसे ही एक एक्टर हैं- अक्किनेनी नागार्जुन, जो कि एक लोकप्रिय तेलुगू फिल्म एक्टर, सफल प्रोड्यूसर होने के साथ-साथ एक अच्छे बिजनेसमैन भी हैं। नागार्जुन एक ऐसे फिल्म स्टार हैं, जिन्होंने अपने शानदार अभिनय के अंदाज से न सिर्फ तेलुगू फिल्में देखने वालों को अपना दीवाना बना लिया है, बल्कि कई बॉलीवुड फिल्मों को पसंद करने वाले दर्शकों की भी वे पहली पसंद बने हुए हैं। वहीं नागार्जुन की आर्कषक पर्सनैलिटी हर किसी का ध्यान उनकी तरफ खींचती है। रोमांस हो या फिर एक्शन हर फील्ड में नागार्जुन बॉलीवुड स्टार्स को कड़ी टक्कर देते हैं। Nagarjuna Biography in Hindi

अक्किनेनी नागार्जुन की बायोग्राफी – Nagarjuna Biography in Hindi

नाम (Name) अक्किनेनी नागार्जुन
जन्म (Birthday) 29 अगस्त, 1959, चेन्नई, तमिलनाडू
पिता का नाम (Father Name) नागेश्वरा राव अक्किनेनी (एक्टर, प्रोड्यूसर)
माता का नाम (Mother Name) अन्नपूर्णा अक्किनेनी
पत्नी (Wife Name) लक्ष्मी रामानायडू दग्गुबती (1984-1990) पहली पत्नी, अमला अक्किनेनी (दूसरी पत्नी)
शिक्षा(Education) ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग से M.s, बैचलर ऑफ इंजीनिरिंग
पेशा (Occupation) एक्टर, प्रोड्यूसर, बिजनेसमैन
नागरिकता (Nationality) भारतीय
नागार्जुन, तमिलनाडू राज्य के चेन्नई में 29 अगस्त साल 1959 में पैदा हुए हैं। वे नागेश्वर राव अक्किनेनी और अन्नपूर्णा अक्किनेनी के बेटे हैं। उनके पिता नागेश्वर एक मशहूर साउथ एक्टर हैं, जो अपने करियर में कई सुपरहिट फिल्में कर चुके हैं। नागार्जुन की गिनती सबसे ज्यादा पढ़े-लिखे फिल्म स्टार्स में भी होती है। वहीं छोटी उम्र में ही वे अपने परिवार के साथ चेन्नई से हैदराबाद शिफ्ट हो गए थे, इसके बाद उन्होंने हैदराबाद में हीं अपनी शुरुआती शिक्षा ग्रहण की। नागार्जुन ने हैदराबाद पब्लिक स्कूल से अपने स्कूल की पढ़ाई पूरी की। इसके बाद वे विदेश चले गए और उन्होंने अपनी ग्रेजुएशन की डिग्री ईस्टर्न मिशिगन यूनिवर्सिटी से हासिल की और फिर नागार्जुन ने कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग, गुइंडी से ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग में M.s की पढ़ाई की।

नागार्जुन का करिअर – Nagarjuna Career

आपको बता दें कि नागार्जुन ने बेहद कम उम्र में ही एक्टिंग करना शुरु कर दिया था। साल 1967 में उन्होंने अपने पिता नागेश्वर राव के साथ एक चाइल्ड आर्टिस्ट के रुप में तेलुगु फिल्म “सुदिगुंडालु” (Sudigundalu) में अभिनय कर अपने करियर की शुरुआत की थी। इसके बाद उन्होंने कई तमिल, तेलुगू और हिंदी में जबरदस्त ब्लॉकबस्टर फिल्में दीं। नागार्जुन ने साल 1986 में तेलुगु फिल्म “विक्रम” (Vikram) ने अपना डेब्यू किया था, यह फिल्म हिन्दी फिल्म हीरो की रीमेक थी, जिसमे जैकी श्रॉफ ने अपना मुख्य किरदार निभाया था। नागार्जुन ने अपने करियर की शुरुआत करने के कुछ समय बाद अपने पिता के साथ फिल्म “कलेक्टर गैरी अब्बाई” (Collector Gari Abbai) में भी शानदार अभिनय किया। वहीं नागार्जुन की सबसे बड़ी हिट फिल्म “आखिरी पोरात्तम” (Aakhari Poratam) थी, जिसमें उन्होंने बॉलीवुड की मशहूर अभिनेत्री स्वर्गीय श्री देवी के साथ शानदार अभिनय किया था। उनकी यह फिल्म करीब 100 दिन तक 12 सेंटर्स में दिखाई गई थी। इसके 3 साल बाद साल 1989 में नागार्जुन ने मणिरत्नम द्धारा डायरेक्ट की गई रोमांटिक तेलुगु फिल्म “गीतांजली” (Geethanjali) में अपना शानदार अभिनय कर लोगों के दिल में अपनी एक अलग छाप छोड़ी। और यहीं से उन्हें एक अच्छे रोमांटिक हीरो के रुप में पहचान मिली। वहीं उनकी इस फिल्म को साल 1990 में सबसे पसंद की जाने वाली फिल्म का दर्जा मिला और उन्हें इसके लिए नेश्नल फिल्म अवॉर्ड से भी नवाजा गया। इसके बाद नागार्जुन ने रामगोपाल वर्मा द्धारा डायरेक्ट की गई तेलुगु ब्लॉकबस्टर एक्शन फिल्म ”शिवा” (Shiva) की हिन्दी रीमेक फिल्म शिव में डेब्यू कर बॉलीवुड का ध्यान अपनी तरफ आकर्षित किया। “हैलो ब्रदर” (Hello Brother), “प्रेसिडेंट गारी पेलम” (President Gari Pellam) जैसी फिल्मों में अभिनय करने के बाद नार्गाजुन को एक मास हीरो के रुप में पहचाने जाने लगा। इसके बाद साल 1996 में नेशनल फिल्म अवॉर्ड्स में उनकी फिल्म “निन्ने पेल्लादुथा” (Ninne Pelladatha) को साल की सर्वश्रेष्ठ फिल्म के रुप में प्रतिष्ठित किया गया। वहीं नागार्जुन ने साल 1994 में महेश भट्ट की ब्लॉकबस्टर फिल्म “क्रिमिनल”(Criminal) में अपनी शानदार अदाकारी से बॉलीवुड में भी अपनी एक अलग पहचान बना ली। आपको बता दें कि ‘खुदा गवाह’,”क्रिमिनल’, ‘जख्म’ और ‘शिवा’ कुछ ऐसी हिंदी फिल्में रहीं जिनमें नागार्जुन की एक्टिंग काफी पसंद की गई। साल 1995 में नागार्जुन ने अपने भाई अक्किनेनी वेंकट रथनाम के साथ प्रोडक्शन में अपना हाथ आजमाया। इसके बाद साल 2004 में नागार्जुन की “नेत्रुत्रुन और मास” (Nenunnanu and Mass) दो फिल्में रिलीज हुईं, जो कि बॉक्स ऑफिस पर हिट रहीं। इसके बाद साल 2006 में रिलीज हुई उनकी फिल्म “श्री रामदासु” (Sri Ramadasu) सुपरहिट रही, इस फिल्म को नंदी अवॉर्ड से भी नवाजा गया। एक अच्छे फिल्म अभिनेता होने के साथ-साथ नागार्जुन एक सफल बिजनेसमैन भी हैं, जिनकी गिनती अमीर एक्टरों में की जाती है। अपनी सालाना कमाई और सबसे धनी स्टार होने की वजह से वे फोर्ब्स की लिस्ट में दो बार (2012 और 2013) जगह पा चुके हैं। इसके अलावा नागार्जुन अन्नपूर्णा स्टूडियो एवं इंडियन बैडमिंटन लीग की मुंबई मास्टर्स टीम के को-ऑनर भी हैं। बैडमिंटन के अलावा वे केरल के एक फुटबॉल क्लब के भी मालिक हैं। यही नहीं नागार्जुन मां टीवी के भी मालिक हैं। इसके साथ ही वे एक N3 रियल्टी एंटरप्राइजेज कंपनी के भी पार्टनर हैं। नागार्जुन समाज के हित के बारे में सोचने वाले एक अच्छे व्यक्ति भी हैं। वे अपनी पत्नी के साथ मिलकर हैदराबाद में ‘ब्लू क्रॉस नाम से एनजीओ भी चलाते हैं, जिसे उन्होंने जानवरों को बचाने और उन्हें संरक्षण देने के लिए शुरू किया था। इसके अलावा वे कई ऐसे धार्मिक संगठनों से भी जुड़े हुए हैं, जो गरीबों, जरूरमंदों और असहाय लोगों की मद्द करते हैं और समाज के उत्थान में अपनी भूमिका निभाते हैं। Read Also:  I hope these “Nagarjuna Biography in Hindi” will like you. If you like these “Nagarjuna Biography in Hindi” then please like our facebook page & share on whatsapp.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *