प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना – Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojana

Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojana

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश के विकास के लिए और लोगों के कल्याण के लिए तमाम योजनाओं की शुरुआत की है। उन्हीं में से एक है प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना। गरीबों के हित के लिए पीएम मोदी ने इस योजना की शुरुआत 16 दिसम्बर 2016 को की थी।

दररअसल देश के विकास के लिए सबसे ज्यादा जरूरी है कि देश से गरीबों को दूर किया जाए क्यों जब तक देश से गरीबी दूर नहीं होगी तब तक देश का का विकास नहीं होगा। इसी को ध्यान में रखकर मोदी सरकार ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना की शुरुआत की है।

जिसके तहत गरीबों को कई तरह की सुविधाएं दी जाएगी। वहीं इस योजना को लागू करने का मुख्य मकसद, देश के भ्रष्ट नागरिकों द्वारा जमा किये गए, काले धन से गरीबों का विकास काम करना था।

Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojana

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना – Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojana

यह योजना मुख्य रूप से सरकार ने उन लोगों के लिए शुरू की थी, जिनके पास अघोषित संपत्ति है। ऐसे लोग प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत पैसे जमा कर सकते हैं।

आपको बता दें कि सरकार ने काले धन पर रोक लगाने के लिए इससे पहले नोटबंदी का फैसला किया था। जिसमें पुराने 500 और 1000 रुपए के नोटों को बंद किया था। नोटबंदी के दौरान जिन लोगों के पास काला धन इकट्ठा था, उन्हें उजागर करना पड़ा था।

इन्हीं को ध्यान में रखकर पीएम ने इस योजना को लॉन्च किया था। वहीं प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत, जिसके पास भी अघोषित आय है, उन्हें कर, जुर्माना और सरचार्ज के रूप में 50 प्रतिशत देकर पाक-साफ होने का मौका दिया था।

इसके बाद सरकार ने आयकर अधिनियम 1961 में संशोधन किया था। इस नए आयकर अधिनियम के मुताबिक जो व्यक्ति अपना काला धन बैंक में जमा करना चाहता था, उसे 30% अकाउंट टैक्स के रूप में और 33% अतिरिक्त सरचार्ज का भुगतान करना पड़ा इसके साथ ही 10% पेनाल्टी भी देनी पड़ी।

इस तरह से काले धन के बाहर आने से इकट्ठे हुए धन का इस्तेमाल प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के लिए करने का प्रावधान केंद्र सरकार ने किया।

इस तरह किसी कालेधन रखने वाले को अपना पैसा बैंक में डिपोजिट कराने के लिए 30 % और प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के लिए 33 % अमाउंट जमा कराना होगा।

इस तरह से प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत जिन पैसों से गरीबों का भला करवाया जा रहा है। उन पैसों का इंतजाम देश में मौजूद काले धन के बाहर आने से हो रहा है।

इस तरह से सरकार ने नोटबंदी का फैसला कर काले धन को उजागर किया जिससे भ्रष्टाचार में तो कमी तो आई इसी के साथ गरीबों का भी भला हुआ।

क्या है प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना – What is Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojana

इस योजना की शुरुआत केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा 16 दिसम्बर 2016 को शुरु की गई इस योजना के तहत देश के गरीबों और पिछड़े वर्ग के लोगों को वर्कशॉप देती है, जिसमें गरीब, इस वर्कशॉप में अपने कौशल का विकास कर सकेंगे और इससे वे धन कमा सकेंगे जिससे उन्हें अपनी आजीविका चलाने में किसी तरह की कोई परेशानी नहीं होगी।

वहीं इस योजना का मुख्य उद्देश्य देश के नागरिकों द्वारा जमा किए गए काले धन को देश के गरीब वर्ग के कल्याण में लगाना है और देश से गरीबों की खत्म करना है।

मोदी सरकार की गरीब कल्याण योजना को लागू कर सरकार ने काला धन जमा करने वालों को टैक्स की चोरी के दंड से बचने का एक मौका दिया था और 31 मार्च 2017 तक अपने काले धन को केवल भारतीय बैंक खाते जमा करने का निर्देश दिया गया।

इस निर्धारित अवधि के बाद अगर किसी के पास काले धन की पुष्टि होती है, तो उस पर जुर्माने के साथ-साथ सख्त कार्रवाई करने का प्रावधान किया गया है।

इस योजना को लागू कर सरकार ने काला धन जमा करने वालों को टैक्स चोरी के दंड से बचने का एक मौका दिया, और 31 मार्च 2017 तक अपने काले धन को केवल भारतीय बैंक खाते जमा करने का निर्देश दिया गया।

वहीं सरकार द्धार निर्धारित की गई समय अवधि के बाद अगर किसी के पास काले धन मिलता है तो उस पर जुर्माने के साथ-साथ सख्त करवाई का भी प्रावधान किया गया है।

कालाधन रखने वाले वालों के लिए बैंक में पैसा जमा करने का आखिरी मौका

इस प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत जिस किसी भी व्यक्ति के पास कालाधन है, सरकार उन लोगों को अपने पैसे को बैंक में जमा करने के आखिरी मौका दे रही है।

जिन लोगों के पास कालाधन है, वे लोग इस योजना के तहत टैक्स और सर्चार्ज चुका कर अपना कालाधन बैंक में जमा करा सकते हैं।

इसके साथ आपको यह भी बता दें कि जो भी व्यक्ति इस स्कीम में पैसे जमा करेगा वह अगले चार साल तक उस खाते से पैसे नहीं निकाल सकता है। साथ ही उस खाते पर किसी तरह का ब्याज भी नहीं मिलेगा।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का मुख्य उद्देश्य – Purpose of Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojana

देश का विकास करने और देश से गरीबी जैसे बड़ी समस्या को जड़ से खत्म करने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना की शुरुआत की गई है। गरीबी वर्ग के लोगों को उच्च स्तर पर लाना इस योजना का मुख्य मकसद है।

इसके साथ ही इस योजना के तहत देश के निचले वर्ग के परिवारों की सहायता की जाएगी। जिससे देश की न सिर्फ आर्थिक स्थिती में सुधार किया  जा सकेगा बल्कि गरीब की स्थिति भी सुधारी जा सकेगी।

इसके अलावा इस योजना के माध्यम से भारत देश को गरीबी से मुक्ति दिलाई जा सकेगी। मुख्य रूप से देश से गरीबी को कम करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने प्रधानमंत्री  गरीब कल्याण योजना’ की शुरुआत की। इस योजना के उद्देश्यों के बारे में नीचे लिखा गया है –

  • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का मुख्य उद्देश्य देश में गरीबी की समस्या को जड़ से खत्म करना और समाज के गरीब, कमजोर तबके के लोगों के लिए काम करना है। इसके साथ ही इस योजना के माध्यम से केन्द्र सरकार उन सभी योजनाओं को फिर से अमल में लाना चाहती है। जो योजनाएं फेल हो चुकी है।
  • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत कई मंत्रियों और सांसदों को भी को शामिल किया जाना है , जिससे देश की अर्थव्यवस्था सही तरीके से चल सके।
  • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत देश के गरीबों को फायदा पहुंचाना है।
प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना की विशेषताएं – Characteristics of Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojana

गरीबों के विकास के लिए लॉन्च की गई प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना की कई विशेषताएं हैं जो कि निम्नलिखित है-

  • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना की खास बात यह है कि यह योजना गरीबों के विकास के लिए बनाई गई योजना है। इससे देश के विकास को बढ़ावा तो मिलेगा ही साथ ही गरीबों का उत्थान भी होगा । इसके तहत सरकार गरीबों और आम लोगों को अलग-अलग तरह के वर्कशॉप मुफ्त में देगी।
  • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के माध्यम से सिर्फ गरीबों के विकास पर ध्यान दिया गया है। इसके तहत सिर्फ गरीबों को ज्यादा से ज्यादा फायदा पहुंचाने के एंजेडा पर काम किया गया है और समाज के पिछड़े और गरीब लोगों की आर्थिक स्थिति में सुधार कर उन्हें आगे लाया गया है।
  • इस योजना की यह भी खासियत है कि इस योजना में सरकार सांसदों को भी वर्कशॉप में शामिल करती है, ताकि प्रतिनिधि इस वर्कशॉप के माध्यम से गरीबों की समस्या को आसानी से समझ सके उसका जल्द से जल्द निवारण कर सकें।
  • इस योजना के तहत गरीबों के लिए जिस वर्कशॉप का आयोजन किया गया था उसे वर्कशॉप को पेड वर्कशॉप के रूप में शुरू किया गया था। अर्थात इस वर्कशॉप का हिस्सा बनने के लिए पहले आवेदकों को फीस जमा करनी होगी , उसके बाद ही वे इस वर्कशॉप का हिस्सा बन सकेंगे।
  • मोदी सरकार की प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना की यह भी विशेषता है कि इस योजना का देश का कोई भी नगारिक फायदा उठा सकता है।
  • गरीबों के विकास के लिए तैयार की गई इस योजना की खास बात यह है कि कालेधन जमा करने वालों को राशि का एक हिस्सा ही गरीबों के विकास के लिए इस्तेमाल किया जाएगा।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के फायदे – Benefits of Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojana

गरीबों की मद्द करने के मकसद से चलाई गई प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना से लोगों को कई तरह की सुविधाओं का लाभ मिल रहा है जो कि निम्नलिखित हैं –

  • गरीबों के हित के लिए शुरु की गई प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का फायदा गरीबी रेखा से नीचे आने वाले नागरिकों को और जिनकी आय कम है उनको दिया जाएगा। यानि कि आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को इस योजना का बड़े स्तर पर फायदा पहुंचाया जाएगा।
  • इस योजना से यह भी फायदा है कि इसके तहत गरीबों के लिए वर्कशॉप का आयोजन किया जाता है जिससे कि उन्हें अपने कौशल को निखारने में और धन कमाने में भी मद्द मिलेगी।
  • इसके साथ ही खास बात यह है कि इस वर्कशॉप में शामिल होने वाले गरीब लोग, अपनी समस्या को इस वर्कशॉप में आए जनप्रतिनिधि जैसे सांसद या फिर विधायक को भी बता सकते हैं जिससे उनकी समस्या के निराकरण में मद्द मिलती है।
  • आपको बता दें कि इस योजना का यह भी सबसे बड़ा फायदा है कि इस योजना के तहत जो लोग भी आएंगे उन्हें कम पैसे में अनाज दिए जाने का भी प्रावधान दिया गया है ताकि गरीब तबके के लोग आसानी से अनाज खरीद कर अपना और अपने परिवार का पेट भर सकें।
  • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के सबसे बड़ा फायदा यह हुआ कि इससे काले धन का पता चला और यह पैसा गरीबों के कल्याण के लिए लगाया गया।
प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत काला धन जमा करने के लिए आवेदन की प्रक्रिया – Process of application for depositing black money under Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojana

गरीबों के लिए शुरु की गई प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का लाभ उठाने के लिए सबसे पहले आवेदक को सबसे पहले किसी भी बैंक की ऑथराइज्ड बैंक की शाखा में अकाउंट खोलना होगा। इसके साथ ही आवेदनकर्ता को अपना पैनकार्ड और अन्य डिटेल बैंक को देनी होगी।

इसके बाद आवेदक को अपनी समस्त काले धन को रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया या फिर किसी भी सरकारी बैंक में जिसमें उसका बैंक अकाउंट हैं उसमें जमा करनी होगी। जिसके बाद बैंक द्वारा उस धन राशि को चलन में चल रहे नए नोटों में बदल दिया जाएगा।

वहीं नए नोटों में बदली गई राशि को फिर से बैंक द्वारा जमा कर लिया जाएगा और काले धन पर निर्धारित टैक्स के प्रावधान के अनुसार टैक्स काट लिया जाएगा।

वहीं इस योजना के तहत आवेदक को RBI द्धारा एक खास फॉर्म उपलब्ध किया गया है जिसे केवल वही लोग भरेंगे जो अपनी अघोषित संपत्ति या काला धन को सफेद करना चाहते हैं।

आपको बता दें कि आवेदक को अपने घोषित धन का प्रमाण फार्म-II भरकर देना होगा। इसके बाद सरकार द्वारा निर्धारित नियमों के आधार पर काला धन जमा करने वाले की और उसके द्वारा जमा किए गए घोषित धनराशि की जांच की जाएगी। वहीं यह फॉर्म बैंक की ऑफिशियल  वेबसाइट पर पर आसानी से मिल सकेगा।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत लगने वाले दस्तावेज – Documents under Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojana

अगर आप प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का फायदा उठाना चाहते हैं तो इसके लिए आपके पास कुछ दस्तावेजों का होना जरूरी है। कौन-कौन से दस्तावेजों की होती है जरूरत चलिए हम आपको बताते हैं –

  • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत आवेदन करने के लिए आवेदक को भारत का नागरिक होना जरूरी है, देश का हर नागरिक इसकी वर्कशॉप का भी हिस्सा बन सकता है।
  • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का जो भी आवेदक फायदा उठाना चाहते हैं, उसके पास आधार कार्ड और आइडेंटिटी कार्ड और स्थानीय निवास सर्टिफिकेट होना आवश्यक है तभी वे लोग इस योजना का फायदा ले सकते हैं।
  • वहीं अगर गाांव में रहने वाला कोई व्यक्ति इस योजना का लाभ उठाना चाहता है, तो उसे अपने गांव के ग्राम पंचायत से संपर्क करना होगा। वहीं अगर शहर का कोई व्यक्ति इस योजना से जुड़ना चाहता है तो शहरी स्तर पर उस उम्मीदवार को रजिस्ट्रेशन करने के लिए नगर पालिका से संपर्क करना होगा।
  • जो भी आवेदन प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का हिस्सा बनना चाहते हैं उसे इसकी ज्यादा जानकारी लेने के लिए सरकार की ऑफिशियल वेबसाइट में जाकर जानकारी हासिल करनी होगी।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के कुछ नियम और शर्तें – Some Terms and Conditions of Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojana

गरीबों के कल्याण के लिए शुरु की गई इस योजना में अघोषित संपत्ति रखने वाले लोगों द्धारा जमा किए गए काले धन को सरकार गरीबों के विकास में लगाती है । इसके तहत सिर्फ एक बार ही पैसा जमा किया जा सकता है इसके अलावा कई और भी नियम और शर्तें हैं जो कि नीचे लिखी गई हैं –

कालाधन रखने वालों के लिए

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत कोई भी शख्स जिसके पास कालाधन है वह इस योजना के तहत पैसा जमा कर सकता है। आपको बता दें इस योजना के तहत पैसा जमा करने वालों के लिए यह नियम है कि अगर एक बार पैसा जमा करने के बाद व्यक्ति अगले चार साल तक उस खाते से पैसे नहीं निकाल सकता है। इसके साथ ही उस खाते पर किसी तरह का ब्याज भी नहीं मिलेगा।

किसी भी ऑथराइज्ड बैंक की शाखा में खुलवाना होगा खाता

जो भी आवेदक प्रधानमंत्री कल्याण योजना का लाभ लेना चाहते हैं। उन्हें पहले किसी भी ऑथराइज्ड बैंक की शाखा में अपना अकाउंट खोलना होगा। जिसके लिए उन्हें अपनी पहचाने के लिए पैनकार्ड और अन्य जानकारी बैंक को उपलब्ध करवानी होगी।

इस खाते के लिए RBI ने एक खास तरह का फॉर्म उपलब्ध करवाता है। जो कि वही शख्स भर सकता है जिसके पास अघोषित संपत्ति है।

अघोषित संपत्ति रखने वाले सिर्फ एक बार ही जमा कर सकते हैं पैसा

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत जो भी अघोषित संपत्ति रखने वाले और काले धन रखने वाले व्यक्ति पैसे जमा करना चाहते हैं। वे इस योजना के नियम के मुताबिक सिर्फ एक बार ही पैसा जमा कर सकते हैं। ऐसे लोगों को दोबारा पैसा भरने की सुविधा नहीं दी जाती है।

प्रधानमंत्री कल्याण योजना के तहत जमा पैसे नहीं कर सकते किसी को ट्रांसफर

इस योजना के नियम के तहत अगर किसी काले धन रखने वाले शख्स ने एक बार अपने बैंक अकाउंट में पैसा जमा कर दिए हैं तो वह किसी अन्य व्यक्ति को पैसा ट्रांसफर नहीं कर सकते हैं। वहीं अगर किसी अनहोनी की वजह से जमाकर्ता की मृत्यु हो जाती है तो वो पैसे नॉमिनी को मिल सकते हैं।

चार साल तक नहीं निकाल सकते पैसे, नहीं मिलेगा कोई ब्याज

प्रधानमंत्री कल्याण योजना के तहत जो भी शख्स पैसे जमा करता है वहीं इन पैसों को 4 साल तक नहीं निकाल सकता है। इसके साथ ही इस दौरान बैंक से किसी भी तरह का कोई ब्याज नहीं दिया जाएगा।

इस योजना के तहत जमा की गई राशि से होगा गरीबों का कल्याण और विकास

  • इस योजना के तहत जो भी काला धन रखने वाले व्यक्ति राशि जमा करेगा। उस जुर्माने की राशि से गरीबों का कल्याण और विकास किया जाएगा। वहीं इस योजना के तहत यह फायदा होगा कि जो भी अपने काले धन को सफेद करना चाहता है तो सरकार धन घोषित करने वालों के नाम गुप्त रखेगी।
  • वहीं अगर प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के बाद काले धन का पता चला और आय के स्त्रोत की जानकारी नहीं मिली तो 25 फीसदी टैक्स दण्ड के रूप मे देने का प्रावधान किया गया है।
  • आपको बता दें कि काले धन के आय के स्त्रोत का प्रमाण नहीं दे पाने की स्तिथि में 85 फीसदी पैसा भरना होगा वहीं इस योजना के बाद छापा पड़ने पर काला धन मिलने पर 60 फीसदी टैक्स जमा करने का प्रावधान किया गया है।
  • वहीं अगर छापा पड़ा और काला धन होने की बात स्वीकार ली गई तो उस केस में सरकार को 90 फीसदी पैसा टैक्स के रूप में देना होगा।

इस तरह से यह योजना प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गरीबों के कल्याण और उनके विकास के लिए शुरू की थी। यह योजना मोदी सरकार की एक सराहनीय पहल है। इस योजना के माध्यम से न सिर्फ गरीबों का फायदा पहुंचा है बल्कि कई गरीबों को अपने कौशल को निखारने और धन अर्जित करने में भी मद्द मिली है।

Read More:

Hope you find this post about ”Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojana” useful. if you like this articles please share on Facebook & Whatsapp. and for the latest update download : Gyani Pandit free android App.

Loading...
Previous article29 नवंबर का इतिहास – 29 November in History
Next articleहिडिम्बा देवी मंदिर – Hidimba Devi Temple
शिवांगी अग्रवाल , जिन्हें मीडिया में करीब साढ़े 5 साल का अनुभव है । वे मीडिया की जानी-मानी संस्थान न्यूज 18 न्यूज चैनल से भी लगभग 2 साल जुड़ी रही हैं । इसके अलावा वे इलैक्ट्रॉनिक और प्रिंट मीडिया के दैनिक जागरण समेत कई और संस्थानों में भी काम कर चुकी हैं । उन्होनें मीडिया के सर्वश्रेष्ठ संस्थान जामिया-मिलिया-इस्लामिया से मास कम्युनिकेशन की डिग्री भी प्राप्त की है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.