क्या है सौर सुजला योजना – Saur Sujala Yojana in Hindi

Saur Sujala Yojana

काफी कम कीमत पर सौर ऊर्जा से संचालित सिंचाई पंप वितरण कर किसानों को सशक्त बनाने और देश में खेती की अच्छी पैदावार के मकसद से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्धारा छत्तीसगढ़ राज्य में सौर सुजला योजना (Saur Sujala Yojana) की शुरुआत की गई थी।

Saur Sujala Yojana

क्या है सौर सुजला योजना – Saur Sujala Yojana in Hindi

इस योजना के तहत छत्तीसगढ़ राज्य सरकार खेती के लिए किसानों को अच्छी सिंचाई व्यवस्था उपलब्ध करवा रही है, जिससे किसान अपनी खेती से अच्छी पैदावार कर सकेंगे, इससे किसानों को तो फायदा पहुंचेगा ही, इसके साथ ही देश में खाद्य पदार्थों की उचित आर्पूति की जा सकेगी और देश की अर्थव्यवस्था में भी सुधार होगा।

यही नहीं सौर सिंचाई पंप के इस्तेमाल को बढ़ावा देने से बिजली की भी बचत होगी।

सौर सुजला योजना के लिए छत्तीसगढ़ को प्राथमिकता क्यों दी गई? – Creda Chhattisgarh

सौर सुजला योजना का मुख्य उद्देश्य खेती और छत्तीसगढ़ में ग्रामीण विकास को सशक्त एवं मजबूत बनाना है। आपको बता दें कि भारत में छत्तीसगढ़ एक ऐसा राज्य है, जिसने खेती के लिए अपनी एक अलग पहचान विकसित की है, इसलिए इसका नाम देश के मुख्य कृषि उत्पादक राज्यों की लिस्ट में शुमार है।

छत्तीसगढ़ में धान की अच्छी उपज होने की वजह से इसे मध्य भारत का ‘धान का कटोरा’ भी कहा जाता है।

जैसे कि हम सभी जानते हैं कि धान की फसल की अच्छी उपज के लिए सबसे ज्यादा पानी की आवश्यकता पड़ती है, लेकिन, इस राज्य में सिर्फ 20 फीसदी जमीन पर ही सिंचाई की सुविधा उपलब्ध है।

इसलिए बाकी कृषि भूमि में भी सिंचाई की सुविधा उपलब्ध करवाने के मकसद से इस खास योजना की शुरुआत की गई है, ताकि छत्तीसगढ़ की धान की खेती के लिए पहचान बरकरार रह सके, साथ ही यहां का ग्रामीण विकास हो सके और यहां के अन्नदाता आर्थिक रुप से मजबूत और सशक्त बन सकें।

कब हुई सौर सुजला योजना की शुरुआत – Saur Sujala Yojana Launched

कृषि की दशा सुधारने के लिए नवंबर साल 2016 में सरकार ने सौर सुजला योजना की शुरुआत की थी। इस योजना के अर्न्तगत छत्तीसगढ़ राज्य सरकार अपने राज्य के किसानों को काफी सस्ती दरों में सौर ऊर्जा से चलने वाले सिंचाई पंप प्रदान कर उन्हें सशक्त बना रही है।

आपको बता दें कि इस योजना को राज्य सरकार के ऊर्जा विभाग के तहत छत्तीसगढ़ राज्य अक्षय ऊर्जा विकास एजेंसी (Creda) लागू कर रही है, हालांकि किसानों के चुनाव करने की जिम्मेदारी कृषि विभाग को सौंपी गई है। सरकार की इस योजना के तहत छत्तीसगढ़ के करीब 51 हजार किसानों को फायदा पहुंचाया जाएगा।

सौर सुजला योजना का मुख्य मकसद – Objective Of Saur Sujala Scheme

  • कृषि की दशा सुधारने, कृषि उत्पादन में वृद्धि करने अथवा किसानों की आय को बढ़ाने और उन्हें आर्थिक रुप से सशक्त बनाने के मुख्य उद्देश्य से इस योजना को लॉन्च किया गया है।
  • सौर सुजला योजना के तहत किसानों को काफी सस्ती दरों में सौर ऊर्जा से संचालित सिंचाई पंप उपलब्ध करवाकर उन्हें मजबूती प्रदान करना है।
  • सौर सुजला योजना का उद्देश्य किसानों को अच्छी पैदावार करने के लिए प्रोत्साहित कर उन्हें सक्षम बनाना है।
  • सौर सुजला योजना के तहत ग्रामीण छत्तीसगढ़ में कृषि और ग्रामीण विकास को मजबूत बनाने में काफी मद्द मिली है।
  • सौर सुजला योजना के तहत सरकार छत्तीसगढ़ राज्य के करीब 51,000 किसानों को 3HP और 5HP क्षमता वाले सौर ऊर्जा संचालित सिंचाई पंप प्रदान किए गए हैं।
  • खेती के लिए इस लाभकारी “सौर सुजला योजना” को उन राज्यों में प्राथमिकता के आधार पर लागू किया जाएगा जिन क्षेत्रों में अभी तक बिजली नहीं पहुंची है।

सौर सुजला योजना का लाभ उठाने के लिए रजिस्ट्रेशन कैसे करें – Saur Sujala Yojana Registration

सौर सुजला योजना का लाभ उठाने के लिए किसानों को इसके लिए छत्तीसगढ़ सरकार के कृषि विभाग के तहत रजिस्ट्रेशन करवाना होगा तभी वे इस योजना का फायदा उठा सकेंगे।

इस योजना के लिए किसान रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन अथवा ऑफलाइन दोनों तरीके से कर सकेंगे –

सौर सुजला योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया – Online Registration

सौर सुजला योजना के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने के लिए सबसे पहले आवेदक को नीचे दी गई वेबसाइट लिंक पर जाना होगा।

वेबसाइट लिंक – Http://Www.Creda.In/

इसके बाद सौर सुजला योजना का एप्लीकेशन फॉर्म डाउनलोड करना होगा।

फॉर्म डाउनलोड करने के बाद अपना नाम, पता समेत सभी जानकारी को ध्यानपूर्वक भरें और फॉर्म भरने के बाद एक बार क्रॉस चैक जरूर करें।

फॉर्म भरने के बाद सबमिट बटन पर क्लिक कर अपना आवेदन फॉर्म जमा करें साथ ही इसका प्रिंटआउट भी अपने पास निकाल कर रखें।

सौर सुजला योजना के लिए ऑफलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया – Offline Registration

सौर सुजला योजना के लिए ऑफलाइन आवेदन भी कर सकते हैं, इसके लिए रजिस्ट्रेशन फॉर्म ब्लॉक कार्यालयों और कृषि कार्यालयों में उपलब्ध हैं।

आवेदन पत्र लेने के बाद इसमें सही जानकारी भरकर, सभी जरूरी डॉक्यूमेंट के साथ एग्रीकल्चर डिपार्टमेंट के ऑफिस में जमा करना होगा।

खेती की दशा सुधारने के लिए सरकार द्धारा चलाई गई इस योजना के लिए आवेदन मूल्य भी है, जो कि बेहद कम हैं। वहीं कृषि विभाग को रजिस्ट्रेशन फॉर्म मिलने के बाद इसकी सत्यापन किया जाता है। वहीं आवेदक के इस योजना का पात्र होने पर ही उन्हें इस योजना के तहत सौर ऊर्जा से संचालित सिंचाई पम्प सस्ती दामों में उपलब्ध करवाए जाते हैं।

सौर सुजला योजना के सही संचालन की जिम्मेदारी –

छत्तीसगढ़ राज्य अक्षय ऊर्जा विकास अभिकरण (Creda) को सौर सुजला योजना के सही तरीके से क्रियान्वन की जिम्मेदारी सौंपी गई है। Creda इस योजना के तहत पात्र किसानों के लिए सुरक्षित और अच्छी तरह से सौर पंप के उपकरणों को लगाने और रखरखाव के लिए पूरी तरह जिम्मेदार होगा।

सौर सुजला योजना के अर्न्तगत किस तरह के सोलर पंपों का होगा वितरण:

सौर सुजला योजना के तहत पात्र किसानों को दो तरह के सौर ऊर्जा से संचालित पंपों को उपलब्ध करवाया जा रहा है जो कि इस प्रकार है –

  • छोटे किसानों के लिए 3 Hp का सोलर सिंचाई पम्प
  • बड़े किसानों के लिए 5 Hp का सोलर सिंचाई पम्प

सौर सुजला योजना के तहत सोलर पंपों में मिलने वाली छूट –

सौर सुजला योजना के तहत किसानों को वितरित किए जाने वाले सोलर सिंचाई पंपों में सरकार की तरफ से भारी छूट दी जा रही है, ताकि आर्थिक रुप से कमजोर किसान भी इन पंपों को खरीदकर अच्छी पैदावार कर सकें। योजना के तहत सोलर पंपों में दी जाने वाली छूट इस प्रकार है –

  • 5 Hp के सौर सिंचाई पंप की कीमत बाजार में करीब चार लाख रुपये है जो कि इस योजना के तहत किसानों को महज 10,000 से 20,000 रुपये तक की कीमत पर प्रदान किया जा रहा है।
  • 3 Hp सौर सिंचाई पंप की कीमत बाजार में करीब साढ़े 3 लाख रुपये है, जो कि किसानों को 7,000 से 18,000 रुपये तक की कीमत पर उपलब्ध करवाया जा रहा है।

सौर सुजला योजना से मिलने वाले लाभ – Saur Sujala Yojana Benefits

  • कृषि की स्थिति में सुधार होगा।
  • खेती की पैदावार में बढ़ोतरी होगी।
  • सस्ती दरों में सौर ऊर्जा से संचालित सिंचाई पंप का वितरण किया जाएगा।
  • सौर ऊर्जा से चलने वाले सिंचाई उपकरण को बढ़ावा देने से बिजली की बचत होगी।
  • किसानों की आय में वृद्धि हो रही है, जिससे उनकी आर्थिक स्थिति सुधरेगी और वे सशक्त बनेंगे।

सौर सुजला के योजना लिए अहम दस्तावेज – Saur Sujala Yojana Documents

  • आवेदक का आधार कार्ड
  • आवेदक का वोटर आईडी कार्ड
  • आवेदक की प्रस्तावित भूमि का खसरा
  • आवेदक का निवास प्रमाणपत्र
  • बैंक खाते की डिटेल
  • 2 पासपोर्ट साइट फोटोग्राफ

इसके अलावा इस योजना के लिए आवेदन करने वाले किसानों को अपनो मोबाइल नंबर भी देना होगा ताकि SMS के द्धारा लाभार्थियों को सौर सुजला योजना के बारे में जानकारी दी जा सके।

कौन उठा सकता है सौर सुजला योजना का फायदा –

इस योजना का फायदा सभी तरह के किसान ले सकते हैं बशर्ते, आवेदक का छत्तीसगढ़ राज्य का अधिवास और सुजाला योजना के लिए योग्य होना अनिवार्य है।

इस योजना की अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए सौर सुजला योजना (Http://Www.Creda.In/) की अधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।

Read More:

Hope you find this post about ”Saur Sujala Yojana” useful. if you like this articles please share on Facebook & Whatsapp.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *