जीवन के प्रति सकारात्मकता बढ़ाने वाले सुकरात के सर्वश्रेष्ठ विचार

Socrates Quotes in Hindi

सुकरात एक महान दार्शनिक और विचारक थे। उन्होंने विवेकशीलता और महान विचारों से पश्चमी सभ्यता के विकास में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। उन्हें पश्चिमी दर्शन का जनक भी कहा जाता है।

वे खुद को विश्व का नागरिक मानते थे और धार्मिक आडम्बरों और रुढिवादी विचारधारा के खिलाफ थे। उनका मानना था कि सकारात्मक सोच और विचारों से समाज में कई बदलाव किए जा सकते थे।

उन्होंने धार्मिक सिद्धांतों के बजाय मानवीय आधार पर एक नैतिक प्रणाली स्थापित करने की कोशिश की। उनका मानना था कि एक संतुष्ट व्यक्ति सबसे ज्यादा धनवान और समृद्ध होता है, क्योंकि वे संतुष्टि को ही प्रकृति की दौलत मानते थे।

उनके कुछ ऐसे ही विचार जीवन के प्रति सकारात्मकता पैदा करने वाले हैं। वहीं सुकरात के सर्वश्रेष्ठ सुविचारों का जो भी अनुसरण करता है, अपने जीवन में सुख-समृद्धि और तरक्की हासिल करता है।

महान दार्शनिक सुकरात के अनमोल विचार – Socrates Quotes In Hindi

Socrates Quotes in Hindi
Socrates Quotes in Hindi

“एक ईमानदार आदमी हमेशा एक बच्चा होता है।”

“हमारी प्रार्थना बस सामान्य रूप से आशीर्वाद के लिए होनी चाहिए, क्योंकि भगवान जानते हैं कि हमारे लिए क्या अच्छा है।”

“हर व्यक्ति की आत्मा अमर होती है, लेकिन जो व्यक्ति नेक होते हैं उनकी आत्मा अमर और दिव्य होती है।”

“दोस्ती में डूबता समय धीरे-धीरे डूबे, लेकिन जब आप पूरी तरह डूब जाओ तब दोस्ती को हमेशा स्थायी रखे।”

Socrates Quotes

Socrates Quotes
Socrates Quotes

“बिना परीक्षा वाली जिंदगी का कोई मूल्य नही है।”

“मै किसी को कुछ नही पढ़ा सकता। मै बस उन्हें सोचने लायक की बना सकता हु।”

“मित्रता करने में धीमे रहिये, पर जब कर लीजिये तो उसे मजबूती से निभाइए और उसपर स्थिर रहिये।”

Sukrat ke Vichar in Hindi

विश्व के महान दार्शनिकों में से एक सुकरात को वेस्टर्न फिलॉसफी का जनक कहा जाता है। उनका मानना था कि हर व्यक्ति की आत्मा अमर होती है, लेकिन जो व्यक्ति नेक होते हैं, उनकी आत्मा दिव्य और अमर होती है।

इसके साथ ही उन्होंने अपने महान विचारों से लोगों को सकारात्मक जीवन जीने के लिए प्रेरित किया। सुकरात जी का मानना था कि एक जिंदगी नहीं, बल्कि अच्छी जिंदगी मायने रखती है। उनके ऐसे ही विचार जिंदगी में सफल होने की प्रेरणा देते हैं।

Sukrat ke Vichar in Hindi
Sukrat ke Vichar in Hindi

“सिर्फ जीना मायने नहीं रखता, सच्चाई से जीना मायने रखता है।”

“सच्चा ज्ञान हम में से हर किसी के पास आता है जब हमें इस बात का अनुभव होता है की हम जिंदगी, अपने और इस दुनिया के बारे में बहुत कम जानते है।”

“इस दुनिया में सम्मान से जीने का सबसे महान तरीका है कि हम वो बनें जो हम होने का दिखावा करते हैं।”

Sukrat ke Vichar

Sukrat ke Vichar
Sukrat ke Vichar

“सच्चा ज्ञान वही मिलता है जहा आपको पता चलता है की आपको कुछ नही पता।”

“जहाँ सम्मान है वहां डर है,पर ऐसी हर जगह सम्मान नहीं है जहाँ डर है, क्योंकि संभवतः डर सम्मान से ज्यादा व्यापक है।”

“व्यस्त जीवन के बाँझपन से सावधान रहे।”

Sukrat Quotes in Hindi

सुकरात विश्व के महान दार्शनिकों में से एक होने के साथ-साथ एक अच्छे योद्धा भी थे। जिन्होंने एथेंस की तरफ से कई लड़ाईयां लड़ी थीं।

वहीं उन्होंने अपने महान विचार, ज्ञान, दूरदर्शी सोच और सिद्धान्त से लोगों को जीवन जीने की कला सिखाई। सुकरात के सर्वश्रेष्ठ विचार जिंदगी में आगे बढ़ने की प्रेरणा देने वाले हैं।

Sukrat Quotes in Hindi
Sukrat Quotes in Hindi

“जिंदगी को बदलने के लिये पहले खुद को बदलीये।”

“शादी या ब्रह्मचर्य, आदमी चाहे जो भी रास्ता चुन ले, उसे बाद में पछताना ही पड़ता है।”

“मूल्यहीन व्यक्ति केवल खाने और पीने के लिए जीते हैं; मूल्यवान व्यक्ति केवल जीने के लिए खाते और पीते हैं।”

Sukrat Quotes

Sukrat Quotes
Sukrat Quotes

“खुद को ढूंडने के लिये खुद के लिये सोचिये।”

“अपना समय औरों के लेखों से खुद को सुधारने में लगाइए, ताकि आप उन चीजों को आसानी से जान पाएं जिसके लिए औरों ने कठिन मेहनत की है।”

“चाहे जो हो जाये शादी कीजिये। अगर अच्छी पत्नी मिली तो आपकी ज़िन्दगी खुशहाल रहेगी ; अगर बुरी पत्नी मिलेगी तो आप दार्शनिक बन जायेंगे।”

Sukrat Thought in Hindi

Sukrat Thought in Hindi
Sukrat Thought in Hindi

“वो सबसे धनवान है जो कम से कम में संतुष्ट है, क्योंकि संतुष्टि प्रकृति कि दौलत है।”

“हर व्यक्ति की आत्मा अमर होती है, लेकिन जो व्यक्ति नेक होते हैं उनकी आत्मा अमर और दिव्य होती है।”

“ज़िन्दगी नहीं, बल्कि एक अच्छी ज़िन्दगी को महत्ता देनी चाहिए।”

Sukrat Thought

Sukrat Thought
Sukrat Thought

“मृत्यु संभवतः मानवीय वरदानो में सबसे महान है।”

“सौंदर्य एक अल्पकालिक अत्याचार है।”

“झूठे शब्द सिर्फ खुद में बुरे नहीं होते, बल्कि वो आपकी आत्मा को भी बुराई से संक्रमित कर देते हैं।”

अगले पेज पर और भी…

1
2
Gyanipandit.com Editorial Team create a big Article database with rich content, status for superiority and worth of contribution. Gyanipandit.com Editorial Team constantly adding new and unique content which make users visit back over and over again.

2 COMMENTS

  1. बहुत बढिया विचार। सुकरात एक महान दार्शनिक थे और उनका विचार आज भी समाज के लिए मार्गदर्शक है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.