भारतीय क्रिकेटर “सौरव गांगुली” की कहानी

Sourav Ganguly Biography in Hindi

सौरव गांगुली जिनका पूरा नाम हैं सौरव चंदिदास गांगुली, जो एक पूर्व भारतीय क्रिकेटर है। वह भारतीय राष्ट्रीय टीम के सबसे सफल कप्तानों में से एक हैं। सचिन तेंदुलकर, राहुल द्रविड़ और वीवीएस लक्ष्मण के साथ, गांगुली ने भारतीय क्रिकेट टीम की प्रसिद्ध बल्लेबाजी लाइन का गठन किया।

भारतीय क्रिकेटर “सौरव गांगुली” की कहानी – Sourav Ganguly Biography in Hindi

Saurav Ganguly Biography in Hindi
Sourav Ganguly Biography in Hindi

क्रिकेटर सौरव गांगुली के बारेमें – Sourav Ganguly Information

पुरा नाम (Name)सौरव चंडिदास गांगुली
जन्म की तारीख (Birthday)८ जुलाई १९७२
जन्मस्थान (Birthplace)बहेला, कोलकता (पश्चिम बंगाल,भारत)
माता का नाम (Mother Name)निरुपा गांगुली
पिता का नाम (Father Name)चंडिदास गांगुली
पत्नी का नाम (Wife Name)डोना गांगुली
पुत्र/पुत्री (Son / Daughter Name)सना गांगुली(पुत्री)
प्रमुख उपलब्धियाँ (Achievement)
  • भारतीय क्रिकेट टीम कप्तान,
  • बीसीसीआय के अध्यक्ष,
  • एक दिवसीय क्रिकेट मे तेज गती से ९००० रन बनाने वाले बल्लेबाज,
  • एकदिवसीय खेल मे लगातार ४ बार मैन ऑफ द मैच का खिताब जितने वाले खिलाडी,
भारत सरकारद्वारा प्राप्त पुरस्कार (Awards)
  • अर्जुन खेल पुरस्कार (१९९७),
  • पद्म श्री पुरस्कार (२००४)

 

सौरव गांगुली की स्टोरी – Sourav Ganguly History in Hindi

सौरव गांगुली का जन्म 8 जुलाई, 1972 को कोलकाता के बहेला में चंडीदास गांगुली और निरुपा गांगुली के परिवार में हुआ था। वह कोलकाता में अपने भाई और पूर्व क्रिकेट खिलाड़ी स्नेहाशीश गांगुली के साथ बडे हुये।

गांगुली को प्यार से (Nickname) “दादा” कहा जाता है। सौरव गांगुली को फुटबॉल खेलना बहुत पसंद है और अक्सर खाली समय में फुटबॉल खेलते है। उन्होंने अपनी प्रारंभिक शिक्षा सेंट जेवियर्स कॉलेजिएट स्कूल, कोलकाता से पूरी की।

सौरव गांगुली और डोना गांगुली के प्यार की कहानी – Sourav Ganguly Love Story

क्रिकेटर सौरव गांगुली डोना गांगुली के साथ प्यार करते थे। 1997 में उन्होंने उनसे शादी कर ली और इस जोड़े को एक सुंदर बेटी हैं।

सौरव गांगुली का करियर – Saurav Ganguly Career

उन्होंने खुदको बचपन से क्रिकेट के लिए समर्पित किया गया था और वह हमेशा से ही क्रिकेट में अपना कैरियर बनाना चाहता था। उन्होंने विभिन्न प्रतियोगिताओं में कोलकाता का प्रतिनिधित्व किया और धीरे-धीरे अपना नाम बनाया। गांगुली ने 1992 में वेस्टइंडीज के खिलाफ अपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की शुरुआत की।

उन्होंने लगातार कई प्रदर्शन करके भारतीय क्रिकेट टीम में खुद को स्थापित किया। उनकी यादगार पारी में से कुछ; 1996 में इंग्लैंड के खिलाफ अपनी पहली टेस्ट में शतक, 1999 में विश्व कप में श्रीलंका के खिलाफ 183 रन और 2007 में चरम प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान के खिलाफ 239 रन थे।

Sourav Ganguly Photo

Sourav Ganguly Photo
Sourav Ganguly Photo

2000 में, गांगुली भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान बने उन्होंने चेहरे और भारतीय क्रिकेट टीम का भविष्य बदल दिया। उन्होंने कई बोल्ड फैसले किए, इसके द्वारा खड़े हुए और टीम को सूक्ष्म अनुग्रह के साथ ले लिया और भारतीय क्रिकेट टीम को नई ऊंचाई तक ले लिया।

दादा ने हरभजन सिंह, युवराज सिंह और वीरेंद्र सहवाग जैसे नई प्रतिभाओं को बढ़ावा दिया। सौरव गांगुली ने सचिन तेंदुलकर के साथ सफल साझेदारी की। उनकी शानदार स्ट्रोक-प्ले विकेट के वर्ग और कवर के माध्यम से अब भी देखने के लिए लायक हैं। 2008 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के सभी प्रकार के सेवानिवृत्त होने के बाद, वह कुछ वर्षों तक आईपीएल फ्रेंचाइजी के लिए खेले।

सौरव गांगुली को मिले हुए पुरस्कार – Saurav Ganguly Awards

  • 1997 – क्रिकेट के लिए अर्जुन पुरस्कार
  • 2004 – पद्म श्री

सौरव गांगुली के विचार/कथन – Sourav Ganguly Quotes

  1. “जितना आप असफलता को संभालना सिखते है, आपको सफलता को संभालना भी सिखना चाहिए क्योंकी यह भी महत्वपूर्ण होता है।”
  2. “किसी भी कप्तान को ढलने मे थोडा समय लगेगा,कोई भी सीधे तौर पर एक उत्कृष्ट नेता नही है।”
  3. “मै एक दृढ विश्वासी था कि हर क्रिकेटर को उचित मौका मिलना चाहिए।”
  4. “गलतियाँ है और जीवन चलता रहता है।”
  5. “मै वर्तमान मे रहता हु और ज्यादा आगे की नही सोचता।”
  6. “मै रैंकिंग मे विश्वास नही करता।कभी कभी रैंकिंग मुझे चौका देती है मुझे नही लगता के रैंकिंग के आधार पर किसी टीम को अंकना उचित है।”
  7. “मेरे लिए जीवन सरल और सुसंगत है।”
  8. “अगर प्रतिभा है तो उम्र कभी भी एक कारक नही होती है।”
  9. “मै युवाओ से असफलता के डर को दूर करना चाहता था, क्योंकी जब मै भारतीय टीम मे आया था तो मैने उस दबाव का सामना किया था।”
  10. “मेरी कप्तानी का आदर्श दो विशिष्ट स्तंभो की विशेषता थी। प्रतिभा की उचित पहचान और फिर यह सुनिश्चित करना की युवा निडर क्रिकेट खेले।”

सौरव गांगुली के बारे मे अधिकतर बार पुछे गये सवाल – Sourav Ganguly Quiz

1.सौरव गांगुली द्वारा कौनसी किताबे लिखी गयी है? (Sourav Ganguly Book)
जवाब: अ सेंच्युरी इज नॉट इनफ- माय रोलर कोस्टर राईड टू सक्सेस (आत्मकथा)।
 
2. सौरव गांगुली की कुल लंबाई (उचाई) कितनी है? (Sourav Ganguly Height)
जवाब: ५ फीट ११ इंच (१८० सेंटीमीटर)।
 
3. क्या सौरव गांगुली को पुत्र संतान है?(Sourav Ganguly Son)
जवाब: नही।
 
4. सौरव गांगुली के पुत्री का नाम क्या है?(Sourav Ganguly Daughter name)
जवाब: सना गांगुली।
 
5. सौरव गांगुली के पिता का नाम क्या है? (What is the Middle Name of Sourav Ganguly?)
जवाब: चंडिदास गांगुली।
 
6. आंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से सौरव गांगुली ने कब सन्यास लिया था? (Sourav Ganguly Retirement Date) जवाब: ६ नोवेंबर २००८ को आंतरराष्ट्रीय टेस्ट क्रिकेट का अंतिम मैच सौरव गांगुली ने खेला था इसके बाद उन्होने टेस्ट मैच से सन्यास लिया था, इसके साथ साल २००७ मे १५ नोवेंबर को उन्होने अंतिम आंतरराष्ट्रीय एकदिवसीय क्रिकेट मैच खेला था उसके बाद उन्होने एकदिवसीय खेल से सन्यास लिया था।
 
7. आंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर के कुल कितने टेस्ट मैच सौरव गांगुली ने खेले है?(Total Cricket Test Matches Played By Sourav Ganguly)
जवाब: ११३।
 
8. सौरव गांगुली भारतिय क्रिकेट टीम के कप्तान कब बने थे?(When Did Sourav Ganguly Becomes Captain of Indian Cricket Team)
जवाब: साल २००० मे।
 
9. हाल फिलहाल मे बीसीसीआय के प्रमुख कौन है?(Who is Current President of BCCI)
जवाब: सौरव गांगुली।
 
10. सौरव गांगुली को खेल जगत मे किस अन्य नामसे जाना जाता है? (Sourav Ganguly Nickname)
जवाब: दादा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here