अभिनेत्री ज़ीनत अमान | Zeenat Aman Biography

Zeenat Aman – ज़ीनत अमान एक मॉडल और सत्तर और अस्सी के दशक की अभिनेत्री है। उन्होंने 1970 का मिस एशिया पसिफ़िक ख़िताब भी जीता था वह ये ख़िताब जीतनेवाली दक्षिण एशिया की पहली महिला बनी।

ज़ीनत अमान और परवीन बाबी ने एक साथ बॉलीवुड में कदम रखा था। उन्होंने बॉलीवुड में आते ही सब लोगों पर अपनी अलग तरह की छाप छोड़ दी थी।

Zeenat Aman अभिनेत्री ज़ीनत अमान – Zeenat Aman Biography

ज़ीनत अमान का जन्म 19 नवम्बर 1951 में मुंबई में पिता अमानुल्लाह खान और हिन्दू माता स्किंदा के घर में हुआ। उनके पिता भोपाल राज्य के शाही परिवार से थे। वह फिल्मो के लिए स्क्रिप्ट लिखा करते थे। उन्होंने मुग़ल ए आजम और पाकीजा जैसे मशहूर फिल्मो की स्क्रिप्ट लिखी है।

अमानुल्लाह खान उनकी सारी स्क्रिप्ट अमन नाम से लिखा करते थे। जिसके कारण जीनत ने भी उनके नाम के आगे अमन लगाना शुरू कर दिया था। और यहासे ही उनके ज़ीनत अमान नाम की शुरुवात हुई। ज़ीनत अमान केवल 13 साल की थी तब उनके पिताजी गुजर गए। उनकी मा ने बाद में हेंज नाम के जर्मन आदमी से शादी कर ली।

उन्होंने पंचगनी से स्कूल की पढाई पूरी की और बाद में वो फिर आगे की पढाई करने के लिए लोस अन्जेलेस के यूनिवर्सिटी ऑफ़ साउथर्न कैलिफ़ोर्निया में पढ़ी लेकिन वो डिग्री की पढाई पूरी ना कर सकी।

भारत में वापस आने पर उन्होंने’ फेमिना’ के लिए पत्रकार का काम किया। उन्हें मॉडलिंग पसंद था। कुछ ब्रांडो के लिए शुरुवात में उन्होंने मॉडलिंग की जिसमे उनकी 1966 की ताज महल चाय की मॉडलिंग भी शामिल है।

ज़ीनत अमान का फ़िल्मी करियर – Zeenat Aman Career

अपने करियर की शुरुवात 1971 में रिलीज़ हुई हलचल फ़िल्म से की। उस फ़िल्म में उन्हें छोटासा रोल मिला था। दूसरी बार उन्हें फ़िल्म में काम करने का मौका हंगामा (1971) फ़िल्म से मिला। उस फ़िल्म में गायक किशोर कुमार भी थे। लेकिन वो फ़िल्म भी कामयाब नहीं हो पाई।

देव आनंद ने उन्हें हरे रामा हरे कृष्णा (1972) फ़िल्म में ज़हीदा को भूमिका निभाने का काम दिया था। इस फ़िल्म के लिए उन्हें फिल्मफेयर सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री पुरस्कार भी दिया गया। उन्हें सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री बीएफजेए पुरस्कार भी मिला।

पुरे 1970 के दशक में देव और जीनत की जोड़ी ने आधे दर्जन से भी अधिक फिल्मो में काम किया। हिरा पन्ना (1973), इश्क इश्क इश्क (1974), प्रेम शस्त्र (1974), वारंट (1975), डार्लिंग डार्लिंग (1977) और कलाबाज़ (1977) फिल्मो मो देव आनंद और ज़ीनत अमान एक साथ नजर आये।

उन सभी फिल्मो में से वारंट बॉक्स ऑफिस पर सबसे ज्यादा कामयाब रही।
यादो की बारात (1973) फ़िल्म में उनपर एक गाना पिक्चरायिज किया गिया था। उस गाने में वो गिटार बजाते हुए दिखती है और वो गाना भी बहुत हिट हुआ था।

1970 के आखिरी कुछ सालो में उन्होंने बी। आर। चोप्रा, नासिर हुसैन, शक्ति समानता, मनोज कुमार और मनमोहन देसाई जैसे बड़े लोगों के साथ काम किया। उन सभी के फिल्मो में काम कर के उन्हें और भी कामयाबी हासिल हुई।

1978 में रिलीज़ हुई राज कपूर की बड़ी बजट वाली फ़िल्म ‘सत्यम शिवम सुन्दरम’ फ़िल्म में ज़ीनत अमान बहुत अहम किरदार निभाती हुई नजर आयी। इस फ़िल्म के लिए उन्हें फिल्मफेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री पुरस्कार के लिए नामित भी किया गया था।

डॉन फ़िल्म में उन्होंने जिस तरह से बदला लेने वाली एक्शन लड़की का किरदार निभाया है उसीके के कारण फ़िल्म में जान आ जाती है।

1989 में रिलीज़ हुई ‘गवाही’ फ़िल्म में वो मुख्य किरदार निभाती हुई नजर आयी थी। वो फ़िल्म उनकी आखिरी फ़िल्म थी।

1990 और 2000 में लगबग एक दशक के बाद वो भोपाल एक्सप्रेस फ़िल्म में नजर आयी। बूम (2003), जाना लेट्स फॉल इन लव (2006), चौराहे (2007), अगली और पगली (2008) और गीता इन पैराडाइस (2009) जैसे फिल्मो में उन्होंने छोटे किरदार निभाए है।

2004 के द ग्रजूएट के नाटक में वो मिसेस रोबिनसन की भूमिका निभाती हुई नजर आयी। वो नाटक मुंबई के सेंट एंड्रू ऑडिटोरियम में हुआ था।

ज़ीनत अमान को मिले हुए पुरस्कार – zeenat aman award

  • 1970- फेमिना मिस इंडिया एशिया पसिफ़िक पुरस्कार
  • 1970- मिस एशिया पसिफ़िक
  • 1970- विशेष पुरस्कार – मिस फोटोजेनिक एटमिस एशिया पसिफ़िक
  • 1972- हरे रामा हरे कृष्णा फ़िल्म के लिए फिल्मफेयर सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री पुरस्कार
  • 1972- बीएफजेए अवार्ड, हरे रामा हरे कृष्णा फ़िल्म के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री
  • 1978- सत्यम शिवम सुंदरम फ़िल्म के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री फिल्मफेयर पुरस्कार के लिए नामित
  • 1980- इंसाफ का तराजू फ़िल्म के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री फिल्मफेयर पुरस्कार के लिए नामित
  • 2003- बॉलीवुड का लाइफटाइम अचिएवेमेंट अवार्ड
  • 2006- फिल्मफेयर लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड
  • 2006- आठवे बॉलीवुड मूवी अवार्ड में ‘मोशन पिक्चर इंडस्ट्री में उत्कृष्ट योगदान के लिए भारत पुरस्कार’
  • 2008- लाइफटाइम अचीवमेंट जी सिने अवार्ड
  • 2010- ग्यारवे आईआईएफए अवार्ड में ‘भारतीय सिनेमा में उत्कृष्ट योगदान’
  • 2011- ग्यारवे आईआईएफए अवार्ड में ‘भारतीय सिनेमा में सर्वोत्कृष्ट योगदान’

फिल्मोग्राफी – Zeenat Aman Filmography
1970- द ईविल विदीन
1971-
• हंगामा,
• हरे रामा हरे कृष्णा
1973-
• यादो की बारात,
• हीरा पन्ना,
• रानी रणजीत सिंह
1974-
• रोटी कपडा और मकान,
• प्रेम शस्त्र,
• इश्क इश्क इश्क,
• मनोरंजन, अजनबी
1975-
• वारंट,
• चोरी मेरा काम
1976-
• दीवानगी,
• बालिका वधु
1977-
• पापी,
• कालाबाज़,
• धरम वीर,
• डार्लिंग डार्लिंग,
• छैला बाबु,
• आशिक हु बहारो का,
• हम किसीसे कम नहीं
1978-
• शालीमार,
• हीरालाल पन्नालाल,
• चोर के घर चोर,
• सत्यम शिवम सुन्दरम,
• डॉन
1979- द ग्रेट गैम्बलर
1980-
• टक्कर,
• राम बलराम,
• बॉम्बे 405 माइल्स,
• अब्दुल्लाह,
• अली बाबा और चालीस चोर,
• कुर्बानी, दोस्ताना,
• इंसाफ का तराजू,
1981-
• प्रोफेसर प्यारेलाल,
• कातिलो के कातिल,
• क्रोधी,
• लावारिस,
1982-
• सम्राट,
• प्यास,
• जानवर,
• दौलत,
• अशांति,
• गोपीचंद जासूस,
• वकील बाबु,
• तीसरी आख
1983-
• तक़दीर,
• पुकार,
• हम से है जमाना,
• महान,
• बंधन कच्चे धागों का
1984-
• ये देश,
• सोहनी महिवाल,
• पाखंडी,
• जागीर,
• मेरी अदालत
1985-
• यार कसम,
• भवानी जंक्शन,
• अमीर आदमी गरीब
• आदमी,
• यादो की कसम
1986-
• हातो की लकीरे,
• बात बन जाये,
• औरत
1987- डाकू हसीना
1988- नामुमकिन
1989- तुझे नहीं, गवाही
1999- भोपाल एक्सप्रेस
2003- बूम
2005- मोक्षं
2006- जाना: लेट्स फॉल इन लव
2007- सिर्फ़ रोमांस: लव बाय चांस
2008- अगली और पगली
2010- दुन्नो ना जाने क्यु
2014- स्ट्रिंग ऑफ़ पैशन
2015- सल्लू की शादी
2016- दिल तो दीवाना है

Read More:

I hope these “Zeenat Aman biography in Hindi” will like you. If you like these “Zeenat Aman information” then please like our Facebook page & share on Whatsapp. and for latest update download: Gyani Pandit free Android App.

2 thoughts on “अभिनेत्री ज़ीनत अमान | Zeenat Aman Biography”

  1. Deepawali 2018

    Gyani Pandit Ek Bahut Hi Accha Blog Hai , Jis par Mujhe Sare Articles padhne Ko Milte hai #MayurG Dil Se Shukriya !! Itne Effort Ke Liye

    1. Editorial Team

      धन्यवाद, हमें जानकर अच्छा लगा कि आपको हमारा ये ब्लॉग अच्छा लगा। हम आगे भी अपने ब्लॉग में प्रेरणादायक आर्टिकल अपलोड करते रहेंगे। जिसे आप पढ़ सकेंगे, आप हमारे फेसबुक पेज से भी जुड़ सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *