Monuments

भारत की शान एवं प्रेम का प्रतीक ताजमहल

Taj Mahal History in Hindi ताजमहल अपनी बेमिसाल खूबसूरती और भव्यता की वजह से दुनिया के सात अजूबों में से एक है। ताजमहल को मोहब्बत की मिसाल माना जाता है। यह मुगल शासक शाहजहां और उनकी सबसे चहेती बेगम मुमताज महल के अटूट प्रेम की याद दिलवाता है। आगरा में स्थित ताजमहल की सुंदरता को …

भारत की शान एवं प्रेम का प्रतीक ताजमहल Read More »

 “स्टैच्यू ऑफ यूनिटी” भारत के लौहपुरुष को होगी श्रद्धांजली!

Statue of Unity भारत करोड़ो की जनसंख्या वाला देश हैं जहाँ आज हर कोई स्वतंत्र रूप से सांस लेने में सक्षम है, पर आज़ादी से पूर्व यह एक जीता जागता नरक था। इस आज़ादी के लिए बहुत से स्वतंत्रता सेनानियों ने अपना बलिदान दिया है। जब देश एक ऐसी परिस्थिति में था और जब देशवासियों …

 “स्टैच्यू ऑफ यूनिटी” भारत के लौहपुरुष को होगी श्रद्धांजली! Read More »

सबसे बड़ी खगोलीय वेधशाला जयपुर के जंतर-मंतर का इतिहास

Jantar Mantar Jaipur History in Hindi जयपुर में स्थित जंतर मंतर भारत के सबसे  प्रमुख एवं महत्वपूर्ण ऐतिहासिक स्मारकों में से एक है, जिसका निर्माण 18वीं सदी में महाराजा सवाई जय सिंह द्धारा करवाया गया है। जयपुर का जंतर मंतर देश के पांच खगोलीय वेधशालाओं में सबसे विशाल है। यह भारत के मुख्य पर्यटकों एवं …

सबसे बड़ी खगोलीय वेधशाला जयपुर के जंतर-मंतर का इतिहास Read More »

महाराष्ट्र का डरावना शनिवार वाड़ा जहां आज भी सुनाई देती हैं दर्द भरी गूंज…

Shaniwar Wada History in Hindi महाराष्ट्र के पुणे शहर में स्थित शनिवार वाड़ा अपने आप में कई अनसुने  रहस्यों को समेटे हुए है। यह विशाल किला मराठा साम्राज्य को नई ऊंचाईयों में पहुंचाने वाले बाजीराव द्धारा 1746 ईसवी में बनवाया गया था। शनिवार वाड़ा बाजीराव-मस्तानी की अधूरी प्रेमकहानी के साथ ही पेशवाओं के प्रगति और …

महाराष्ट्र का डरावना शनिवार वाड़ा जहां आज भी सुनाई देती हैं दर्द भरी गूंज… Read More »

दुनिया की सबसे लंबी दीवार “दी ग्रेट वॉल ऑफ़ चाइना”

The Great Wall of China in Hindi  चीन की विशाल दीवार मनुष्यों द्धारा निर्मित एक महान संरचना है, जिसका इतिहास 2 हजार साल से भी ज्यादा पुराना है। यह अपनी अद्भुत वास्तुकला और भव्यता की वजह से विश्व के सात अजूबों में से एक है। इस विशाल दीवार को ”छांग छंग” के नाम से भी …

दुनिया की सबसे लंबी दीवार “दी ग्रेट वॉल ऑफ़ चाइना” Read More »