क्या आपने कभी सोचा हैं 33 साल से केवल चाय पीकर कोई जिन्दा रह सकता है

Chai Wali Chachi

हमारा शरीर सही से काम करता रहे और हम लम्बे समय तक जीवित रहें इसके लिए हमे अलग अलग पोषक तत्वों जैसे की प्रोटीन, विटामिन, कार्बोहाइड्रेट आदि की जरूरत होती है। इसके लिए हम एक ही आहार ना लेकर अलग अलग आहारो का सेवन करते है और यह हमारे लिए बहुत आवश्यक है। लेकिन ये सारे नियम एक महिला के सामने फेल हो जाते है क्योकि उसने बीते 33 सालों से अन्न और जल को हाथ नहीं लगाया है और केवल चाय पीकर जिन्दा है। इस महिला को लोग “चाय वाली चाची” के नाम से जानने लगे हैं।

Chai Wali Chachi

क्या आपने कभी सोचा हैं 33 साल से केवल चाय पीकर कोई जिन्दा रह सकता है – Chai Wali Chachi

ये है महिला-

छत्तीसगढ़ के कोरिया किले के बरदिया गाँव की रहने वाली पल्ली देवी ने 33 साल से चाय के अलावा किसी दूसरी चीज का सेवन नहीं किया है। 11 साल की उम्र से उन्होंने बाकि दूसरी चीजो को खाना छोड़ दिया था और तब से केवल चाय का सेवन कर रही हैं। इस महिला ने बीते 33 साल से अन्न और जल को हाथ नहीं लगाया और ना ही कभी इन चीजो को खाने की इक्षा अपने में रखी। उसे केवल और केवल चाय चाहिए जिसकी सहायता से वो जिन्दा है।

अचानक ही छोड़ा खाना- ऐसा नहीं है की पल्ली देवी ने प्लानिंग के साथ धीरे धीरे चीजे छोड़ी है बल्कि उन्होंने अचानक ही ऐसा सबकुछ किया है। पल्ली के पिता रतिराम बताते हैं की जब पल्ली कक्षा 6 में थीं तो कोरिया जिले में स्थित पटना स्कूल की ओर से टूर्नामेंट खेलने गई थी और इसके बाद जब वो घर आई तो अचानक से सबकुछ छोड़ दिया और केवल चाय का सेवन किया।

वहां से लौटने के बाद जाने ऐसा क्या हुआ की उन्होंने सबकुछ ही छोड़ दिया और केवल चाय को अपना साथी बना लिया। हालाँकि शुरुआती एक दो महीने तक पल्ली ने चाय के साथ ब्रेड और बिस्किट का सेवन किया लेकिन उसके बाद पूरी तरह से चाय पर निर्भर होते हुए उसका सेवन ही करने लगी और केवल चाय ही पीने लगी।

डॉक्टर्स भी कहते हैं चमत्कार- पल्ली के बारे में बात करते हुए कई बड़े डॉक्टर्स हैरान रह जाते है। उनका कहना है की ऐसा संभव नहीं हो सकता है। इंसान को जीने के लिए पोषक तत्व केवल चाय से नही मिल सकते है क्योकि यह नुकसान भी बहुत अधिक करती है।

लेकिन पल्ली की जीवनशैली को देखकर लगता है की वो किसी चमत्कार के सहारे जी रहीं हैं। ऐसा सामान्य इंसान के लिए संभव नहीं है। डॉक्टर्स कहते है की ये ईश्वर की लीला है और इस महिला के ऊपर कोई ना कोई शक्ति जरूर काम कर रही है। सबसे चौकाने वाले बात है की इस महिला का हेमोग्लोबिन भी हमेशा 8 से 9 के बीच रहा जो की सामान्य इंसानों का होता है।

इसके अलावा शरीर में कोई बाकी समस्या भी नहीं आई। बीते 33 सालों में वो दो बार बीमार हुई और इलाज के दौरान वो अस्पताल में भर्ती हुई लेकिन वहां भी पल्ली ने केवल और केवल चाय का सेवन ही किया और इसके अलावा उन्होंने और कुछ नहीं खाया। डॉक्टर्स ने उन्हें खूब समझाया लेकिन उन्होंने किसी की भी बात नहीं सुनी और केवल चाय के सहारे ठीक हो गई।

भक्ति के कटता है समय- पल्ली देवी भगवान् शिव की बहुत बड़ी भक्त है। उन्होंने हमेशा ही शिव की पूजा की है। पल्ली की ननद बताती हैं की सुबह के समय वो उठकर स्नान करती है और इसके बाद वो भगवान् की पूजा करती है। जब कभी हम घर में नहीं होते हैं तो घर के बाकी काम भी करती हैं। उन्होंने अदरक और नीम्बू वाली चाय बहुत अधिक पसंद है।

पल्ली को देखकर हर कोई हैरान है क्योकि ऐसे जीवित रहना आसान नहीं है। शरीर को हर एक पोषक तत्व चहिये जो की अलग अलग खाद्य पदार्थो से मिलते हैं लेकिन केवल चाय पीकर इतने सालों से जिन्दा और स्वस्थ रहना अपने आप में एक चमत्कार है।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.