Skip to content

डॉ. भीमराव अम्बेडकर की जीवनी

डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर जी के बारेमें अधिकतर बार पूछे जाने वाले सवाल – Quiz about Ambedkar

१. डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर जी का पूण्यस्मरण दिन (पुण्यतिथि दिन) कब होता है?

जवाब: ६ दिसंबर।

२. संयुक्त राज्य अमेरिका में डॉ.बाबासाहेब आंबेडकर जी का पुतला कहा पर स्थापित है?

जवाब: ब्रांडीज यूनिवर्सिटी, बोस्टन में।

३. भारतीय संविधान के जनक के रूप में किन्हें पहचाना जाता है? (Who is the Father of Indian Constitution?)

जवाब: डॉ. भिमराव आंबेडकर यानि के बाबासाहेब आंबेडकर जी को।

४. भारतीय संविधान का प्रारूप क्या है या फिर भारतीय संविधान कितने पन्नो का है? (How Many Pages in Indian Constitution?)

जवाब: भारतीय संविधान मार्गदर्शन तत्वों के अलावा २२ भागो में बटा हुआ है जिसमे कुल ४४८ अनुच्छेद है, जिसमे कुल १२ अनुसुचिया शामिल है। जिसको कुल ५ परिशिष्ट जोड़े गए है, और अबतक इसमें ११५ बार सुधार या संसोधन हुआ है।

५. डॉ. आंबेडकर जी की विश्व में पहचान किस तौर पर है? बाबासाहेब आंबेडकर कौन थे? (Who was Dr BR Ambedkar?)

जवाब: बाबासाहेब एक विद्वान महापुरुष थे जिन्होंने बहुत सारी शिक्षा की डिग्रियां हासिल की थी। बाबासाहेब जी के पास कुल ३२ डिग्रियां थी, जिसमे बैरिस्टर, डॉक्टरेट इत्यादि डिग्रियां भी थी। दलित एवं दबे कुचले वर्ग के प्रमुख नेता, दलितों के मसीहा इस तरह से उनके बारे में संबोधन होता है।

इसके अलावा भारतीय घटना के निर्माता और भारतरत्न इस तरह से भी उनको समूचे विश्व में पहचाना जाता है। बैरिस्टर आंबेडकर के नामसे बाबासाहेब खास तरीके से समाज में परिचित है।

६. बाबासाहेब आंबेडकर जी का समाधी स्थल कहा पर स्थित है?

जवाब: मुंबई के दादर में चैत्यभूमि स्थल पर बाबासाहेब आंबेडकर जी का समाधी स्थल है।

७. डॉक्टरेट की डिग्री बाबासाहेब आंबेडकर जी ने कौनसे विषय में हासिल की थी?

जवाब: अर्थशास्त्र विषय में।

८. स्वतंत्र भारत के प्रथम कानून मंत्री कौन थे?

जवाब: डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर।

९. डॉ.बाबासाहेब आंबेडकर जी की जयंती कौनसे दिन मनाई जाती है? (Ambedkar Jayanti)

जवाब: १४ अप्रैल।

१०. भारत के कौनसे सर्वोच्च नागरी सम्मान से बाबासाहेब आंबेडकर जी को पुरस्कृत किया गया है?

जवाब: भारतरत्न।

Pages: 1 2

271 thoughts on “डॉ. भीमराव अम्बेडकर की जीवनी”

  1. बाबासाहेब डॉक्टर अंबेडकर पर जितना पढ़ा जाए और लिखा जाए उतना ही कम है इस लेख के लिखने वाले ने शानदार एवं सराहनीय प्रयास किया है जिसके लिए उन्हें बधाई एवं धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published.