भ्रष्टाचार पर निबंध – Essay on Corruption in Hindi

भ्रष्टाचार पर निबंध (300 शब्द) – Essay on Bhrashtachar in Hindi (300 Word)

प्रस्तावना –

भ्रष्टाचार, आज देश की सबसे बड़ी समस्या बन चुकी है, जिससे देश की नैतिक और समाजिक मूल्यों का जमकर हनन हो रहा है, इसके साथ ही देश की प्रतिष्ठा और छवि भी धूमिल हो रही है।

भ्रष्टाचार की वजह से सबसे ज्यादा नुकसान देश के ईमानदार और सच्चे लोगों को हो रहा है और उनकी भावना को ठेस पहुंच रही है, जो सही मार्ग अपनाकर अपनी प्रतिभा के बल पर आगे बढ़ना चाहते हैं।

भ्रष्टाचार की प्रमुख वजह

इंसान का बढ़ रहा लालचपन और अत्याधिक स्वार्थी प्रवृत्ति ही भ्रष्टाचार को बढ़ावा दे रही है।आज लोग अपने भौतिक सुखों को भोगने की चाह में गलत तरीके से सच्चे लोगों को नुकसान पहुंचा रहे हैं और उनके धन का अनैतिक तरीके से इस्तेमाल कर रहे हैं, जिसकी वजह से भ्रष्टाचार की समस्या लगतार देश में अपने पांव पसारती जा रही है।

इसके अलावा लोग अपनी झूठी प्रतिष्ठा और दिखावे के लिए गलत तरीके से धन अर्जित कर रहे हैं, जिससे भ्रष्टाचार को बढ़ावा मिल रहा है।

चाहे शिक्षा का क्षेत्र हो, खेल का हो, मनोरंजन का हो या फिर अन्य कोई क्षेत्र हर क्षेत्र में छोटे से छोटे कर्मचारियों से लेकर सर्वोच्च पदों पर काबिज अधिकारी भी भ्रष्टाचार के आरोपों में घिरे हुए हैं, अधिक धन की चाहत में लोग गलत तरीके से अपने पद और ताकत का इस्तेमाल कर रहे हैं, जिससे नैतिक मूल्यों का हनन हो रहा है।

भ्रष्टाचार पर कैसे लगेगी लगाम

  • ईमानदार लोगों को प्रेरित कर
  • नैतिक मूल्यों के महत्व पर दिया जाए जोर
  • ज्यादा से ज्यादा लोगों को शिक्षित कर
  • भ्रष्टाचार के प्रति कठोर नियम कानून बनाकर
  • समाज में फैली असमानता को दूर कर
  • त्याग और आत्मनियंत्रण की जरूरत

निष्कर्ष –

भ्रष्टाचार पर जल्द से जल्द लगाम लगाने की जरूरत है, नहीं तो हमारा देश आर्थिक रुप से कमजोर होता चला जाएगा और देश का विकास रुक जाएगा और अपराधों को बढ़ावा मिलेगा। इस दिशा में हम सभी को सहयोग करने की जरूरत है, तभी भ्रष्टाचार जैसी विकराल समस्या पर काबू पाया जा सकता है।

Read More:

Slogans on corruption

Hope you find this post about ”Essay on Corruption in Hindi” useful. if you like this Article please share on Facebook & Whatsapp. and for latest update download: Gyani Pandit free Android app.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *