हर इन्सान से कैसे सीखे? | How to Learn From Everyone in Hindi

Learn From Everyone

How to Learn From Everyone in Hindi

हर इन्सान से कैसे सीखे? How to Learn From Everyone in Hindi

जानवर और इन्सान में केवल एक समझ और ज्ञान का फर्क होता है, इन्सान की बुद्धि विकसित हो चुकी है. और वो धीरे-धीरे सीखता जा रहा है.

अगर आज के वक्त में कोई भी इन्सान कामयाब है तो उसकी एक बात जरुरी अच्छी होगी की वो हर वक्त सीखता है. सीखना ही इन्सान की एक पहचान है, क्योंकि जो सिख रहा है वही जिन्दा है बाकी सब अपनी जिंदगी में केवल समय को जाते देख रहे है.

चाहे आपका कोई भी फील्ड हो, हर इन्सान को काफी चीजे आनी जरुरी है, जैसे डॉक्टर को बात अच्छे से करनी आनी चाहिए नहीं जो डॉक्टर की पढाई में सिखाया जाता, एक अच्छे सेल्समेन का Attitude अच्छा होना चाहिए वरना कोई भी व्यक्ति उससे प्रोडक्ट नहीं खरीदेगा.

क्योंकि कहा जाता है, लोग आपके प्रोडक्ट को नहीं आपके attitude को खरीदते है, फिर चाहे आप कोई भी बेचों वो माइने नहीं रखता.

तो यह Attitude को सीखे कहा से? या डॉक्टर है तो उसे अच्छे से बात करनी सीखनी कहा से?

इसका जवाब है, हर इन्सान केवल बुक और एजुकेशन से नहीं सीखता है, कुछ बाते आपको लोगो से और आस पास के बदलते माहोल से ही सीखनी होती है.

उसके लिए आपके पास में हर इन्सान से सिखने की तकनीक भी होनी चाहिए जो मैं इस पोस्ट में शेयर करने वाला हूँ.

इन 5 तरीको से अपना ज्ञान हर इन्सान से लेकर बढ़ाते रहे

मेरा नाम मोहम्मद शकील है ज्ञानीपंडित वेबसाइट पर यह मेरी पहली गेस्ट पोस्ट है, तो चलिए इस टॉपिक को शुरू करते है. Learn From Everyone :

सबसे पहले अपने अवलोकन शक्ति को बढ़ाये

अवलोकन का मतलब होता है आप कितनी बारीकी से चीजो को देखते और सुनते हो. अगर आप किसी इन्सान से मिलो तो उसके बोलने के तरीके से कुछ सीखो, उसके खड़े होने के तरीके से कुछ सीखो, उसके चलने के और हर एक्टिविटी से सीखते चले जाओ.

इसके लिए आपकी अवलोकन शक्ति जितनी अच्छी होगी उतने ही जल्दी से आप लोगो को समझते जाओगे और उनसे सीखते जाओगे.

आप बस में, ट्रेन में हर जगह हर इन्सान से सीखते वक्त इतने एक्टिव हो जाओगे की तब आप हर पल कुछ न कुछ सिख रहे होगे.

आपको आलस दूर-दूर तक नहीं दिखेगा, आलस इन्सान को तब आता है जब इन्सान के पास कुछ interesting करने को नहीं रहता, लेकिन जब आप हर इन्सान से सीखोगे तब आपको जिंदगी भी अच्छी लगेगी.

इन्टरनेट पर अपने फील्ड के व्यक्ति से जुड़े

इन्टरनेट पर भारतीय लोग भी काफी वेबसाइट/ब्लॉग और YouTube पर चैनल बना रहे है, अगर आप चाहो तो उनसे भी कांटेक्ट करके बात करके उनसे भी काफी चीजे सिख सकते है.

उनके लिखे हुए ब्लॉग पर आर्टिकल पढ़ कर या YouTube की हर एक ज्ञान से भरी हुई विडियो देख कर सिख सकते है.

जैसे मानलो आपको राइटिंग पसंद है, तो इन्टरनेट पर आपको कई ब्लॉग मिल जाएगी जो अच्छा राइटर बनने को गाइड करते है.

अपनों से छोटो से भी सीखो

ऐसा जरुरी नहीं है अगर आप उम्र में या क्लास में आगे है तो आपको सब आता है, ऐसा आपके दिमाग में आना ही नहीं चाहिए की आपको इस विषय में सब आता है, क्योंकि अगर आप ऐसा करते है तो आपनी ज्ञान के बढ़ने के आकड़े को कम कर देते है.

आपको हर इन्सान से ज्ञान को लेना है, हर वक्त ज्ञान को लेने के लिए सतर्क रहना है.

असफल लोगो से भी सीखो

हाहा….!! आपको जरुर यह सुनने में अजीब लगा होगा कि उनसे क्या सीखना?

चलिए मैं एक उदहारण से इस बात को समझाता हूँ.

मानलो आप एक मेडिकल खोल रहे है, और आप मेरी इस बात को मान कर एक असफल मेडिकल चलाने वाले से सलाह ली तो आपको यह बात जानने को मिली की गलत जगह पर मेडिकल नहीं खोलना मेडिकल के लिए एक अच्छी जगह भी होना चाहिए.

सबसे इम्पोर्टेन्ट: ध्यान एक तरफ

अगर आपका ध्यान एक तरफ नहीं है तो कभी भी बारीक़-बारीक़ बातो को गौर करके नहीं सिख सकते. जितना आपका ध्यान लगाने की क्षमता अच्छी होगी उतने जल्दी किसी भी समस्या से आप समझ कर हल कर के बाहर आ सकते है.

  • टिप: घ्यान बढाने के लिए आप मैडिटेशन कर सकते है.

तो शुरू होता है अब आपके सिखने का सफ़र, क्योंकि जो इन्सान सिख रह रहा है वो जिन्दा है, जिसने सीखना बंद किया वो जिन्दा लाश है.

यह भी पढ़े:

Hope you find this post about ”How to Learn From Everyone in Hindi” useful and inspiring. if you like this post then please share on facebook & whatsapp.

Gyanipandit.com Editorial Team create a big Article database with rich content, status for superiority and worth of contribution. Gyanipandit.com Editorial Team constantly adding new and unique content which make users visit back over and over again.

21 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.