कठिन समय में खुद को कैसे रखें सकारात्मक – How to Stay Positive

How to Stay Positive

हर किसी के जिंदगी में उतार-चढ़ाव आते हैं वहीं कई बार तो स्थिति ऐसी बन जाती है कि आपके अंदर नकारात्मकता भर जाती है और आप अपनी सफलता के बारे में सोचना ही बंद कर देते हैं क्योंकि सफलता पाना आपको बेहद कठिन और मुश्किल लगता है और आप मायूस हो जाते हैं और यही आपको आगे नहीं बढ़ने देता है।

इसके साथ ही आपको पीछे की तरफ भी ढ़केलता है लेकिन कठिन दौर पर भी खुद को सकारात्मक कर आप नकारात्मक विचारों से दूर रह सकते हैं और अपनी सफलता के बारे में सोच सकते हैं।

How to Stay Positive
How to Stay Positive

कठिन समय में खुद को कैसे रखें सकारात्मक – How to Stay Positive

ऐसा भी कहा जाता है कि किसी शख्स की पहचान उसके बुरे और कठिन दौर में ही होती है क्योंकि जिंदगी के अच्छे समय में तो हर कोई सही फैसला लेने में सक्षम होता है लेकिन बुरे वक्त में जो सही फैसले का चुनाव करता है।

उसी से व्यक्ति की सही प्रतिभा का आकलन किया जा सकता है इसलिए इस बात को याद रखना बेहद जरूरी है कि कठिन समय में भी धैर्य और हिम्मत से काम लें और हर परिस्थिति का पूरे आत्मविश्वास और सकरात्मक सोच के साथ डटकर सामना करें।

अगर आपने गौर किया हो तो दुनिया में कई लोग ऐसे भी हैं जो कठिन से कठिन वक्त में भी मुस्कराते रहते हैं यही नहीं वे इस स्थिति का डटकर सामना करते हैं और अपनी जिंदगी में फिर से सफलता पाते हैं जिससे उनके अंदर असफलता को लेकर भय भी खत्म हो जाता है और उनमें आत्मविश्वास की भावना विकसित होती है।

आप सोच रहे होंगे कि लोग कठिन समय में सकारात्मक कैसे रह सकते हैं तो इसके लिए हम आपको अपने इस लेख में कुछ सुझाव देंगे जिसके माध्यम से आप भी अपनी जिंदगी के कठिन दौर में खुश रह सकेंगे और सफलता पा सकेंगे। क्योंकि बुरे वक्त में हर इंसान को सबसे ज्यादा जरूरत होती है तो वो हैं आपके अंदर के अच्छे विचार, धैर्य रखने और हिम्मत से काम लेने की –

  • जिन चीजों से आपको खुशी मिलती है वो करें

हर किसी की जिंदगी में कुछ न कुछ चीजें ऐसी होती हैं जिन्हें कर उन्हें खुशी मिलती है। छोटी-छोटी तमाम चीजें बुरे वक्त में भी आपको पॉजिटिव रखने में आपकी मद्द कर सकती हैं।

उदाहरण के तौर पर समझाएं तो अगर किसी व्यक्ति को गाना गाना, किताबें पढ़ना, संगीत सुनना, या फिर किसी से मिलने के बाद खुशी मिलती है तो वे अपने बुरे वक्त में ये सब करके खुद को पॉजिटिव रख सकते हैं इसके साथ ही उनके मन में कोई नकारात्मक विचार भी नहीं आएंगे और वे बुरे दौर में भी अच्छा महसूस करेंगे। इसके अलावा आपको इस बुरे दौर से निकलने में भी मद्द मिलेगी।

  • ऐसी घटनाओं का उदाहरण लें जो आपको पॉजीटिव रख सके

अगर आप अपने बुरे वक्त से गुजर रहे हैं और आपको अपनी नाकामयाबी के अलावा कुछ और नहीं सूझ रहा है तो ऐसे में खुद को संभालने की जरूरत है जिसके लिए जरूरत है कि आप खुद को सकरात्मक बना लें।

इसके लिए आप अपने आस-पास हो रही ऐसी घटनाओं का उदाहरण ले सकते हैं जिनसे आपको प्रेरणा मिले और आपको अपने बुरे वक्त का डटकर सामना करने की हिम्मत मिले। हमारे इर्द-गिर्द कई भी की ऐसी घटनाएं होती हैं जिन पर अगर हम ध्यान दें तो हमें हिम्मत मिल सकती है।

वहीं कई ऐसे लोगों का भी आप उदाहरण ले सकते हैं जिन्हें अपनी जिंदगी में काफी संघर्षों के बाद ही सफलता मिलती है। इसलिए ऐसे व्यक्तियों को हमेशा हमें बुरे वक्त पर उदाहरण के तौर पर देंखे और उनसे प्रेरणा लें और खुद को सफल बनाने के लिए सकारात्मक रखने की कोशिश करें।

  • सफल व्यक्तियों के बुरे वक्त और असफलता के बारे में जानने की कोशिश करें

हर सफल व्यक्ति के पीछे उसकी असफलता की ढेरों कहानियां होती हैं इसलिए उन्हें जानने की कोशिश करें।

क्योंकि ये कहानियां न सिर्फ आपको अपने बुरे वक्त में लड़ने में मद्द करेगी बल्कि इससे आपको कुछ आइडिया भी मिलेंगे कि बुरे वक्त में खुद को कैसे पॉजिटिव रखकर अपनी लक्ष्य की तरफ आगे बढ़ना है।

कभी अगर आपने गौर किया हो तो चाहे वो कितना सफल और धनी व्यक्ति क्यों न हो लेकिन कभी न कभी उसे अपने जिंदगी के कुछ ऐसे संघर्षों का सामना करना पड़ा है जिनकी बदौलत वो आज इस मुकाम पर पहुंचा है। इसलिए आपके लिए जरूरी है कि आप ऐसे व्यक्तियों के बारे में जाने और अपने बुरे वक्त का डटकर सामना करें।

  • हमेशा इसके बारे में फोकस करें कि आपके लिए क्या अच्छा है ?

बुरे वक्त में लोग खुद पर ध्यान नहीं देते हैं और पूरी तरह से नकारात्मक हो जाते हैं कई बार तो इसका खामियाजा उन्हें पूरी जिंदगी भुगतना पड़ता है। लेकिन अगर आप अपने बुरे वक्त से गुजर रहे हैं तो ऐसा बिल्कुल न करें क्योंकि ये आपको सफल होने से तो रोकेगा ही साथ ही आपकी सेहत पर भी इसका काफी बुरा प्रभाव पड़ सकता है और आप डिप्रेशन का शिकार हो सकते हैं।

इसलिए इन सबसे बचने के लिए और खुद को सकारात्मक रखने के लिए ये एक अच्छा विकल्प है कि आप हमेशा इसके बारे में सोचें कि आपके लिए क्या अच्छा है क्योंकि जब आप इसके बारे में नहीं सोचेंगे तो आप अच्छा महसूस नहीं करेंगे और आप अपनी जिंदगी से हार जाएंगे।

  • अपने लक्ष्य को पाने की कोशिश करते रहें

जब लगातार असफलता हाथ लगती है तो कई लोग इससे छुटकारा पाना ही बेहतर समझते हैं और किसी भी काम को बीच में ही छोड़ देते हैं। लेकिन अगर आप बुरे वक्त का सामना करना चाहते हैं और खुद को ऐसे दौर में पॉजिटिव रखना चाहते हैं तो आप ऐसा बिल्कुल भी नहीं करें क्योंकि ये आपको आगे बढ़ने से रोकता है और आप चाहकर भी सफल नहीं हो सकते।

इसलिए जो आपने अपने अच्छे समय के लिए सोच कर रखा है यानि कि सफल जीवन जीने के लिए आपने जो भी लक्ष्य का निर्धारण किया है उसे आप हमेशा पूरी करने की कोशिश में लगे रहिए। क्योंकि आप अपने लक्ष्य को तभी पूरा कर सकते हैं जब आप पूरे जोश, जुनून और जज्बे के साथ इसे पाने की कोशिश करते हैं।

वहीं लक्ष्य, हर किसी को उसके जीवन के प्रति सकारात्मक दृष्टिकोण प्रदान करता है। भले ही कोई व्यक्ति अपने लक्ष्य को तुरंत हासिल नहीं करें लेकिन अपने लक्ष्य के निर्धारण मात्र से ही उसे सकारात्मकता मिलती है। और वह अपने जिंदगी में सकारात्मक रहते हैं।

  • अपने समय को बर्बाद न करें

जाहिर है कि जब बुरा वक्त आता है तो इंसान को न तो खुद की परवाह होती है और न ही समय की। लेकिन समय बहुत बलवान होता है जो एक बार चला जाता है फिर कभी लौट कर वापस नहीं आता है इसलिए अपने बुरे वक्त में आपको खुद को अच्छा महसूस कराने की जरूरत है और जल्द से जल्द अपनी परेशानी का सामना करने की जरूरत है।

अगर आप ऐसा नहीं करोगे तो इससे न सिर्फ आपको काफी नुकसान होगा बल्कि आपको इसके लिए अपनी पूरी जिंदगी इसके लिए अफसोस भी हो सकता है।

  • मेडिटेशन करना न भूलें

मेडिटेशन हर किसी के लिए बेहद जरूरी है इससे न सिर्फ आपको खुद को समझने का मौका मिलता है बल्कि ये आपका ध्यान एक जगह करने में आपकी मद्द करता है और तो और ये स्वास्थ्य के लिए भी बेहद लाभकारी है।

इसके साथ ही मेडिटेशन करने से व्यक्ति को खुद को पॉजिटिव रखने में भी मद्द मिलती है। आपको बता दें कि रिसर्च भी यही कहती है कि दिन में किया गया 5 मिनट का मेडीटेशन ही आपके अंदर के डिप्रेशन के लक्षणों को कम करता है। और मानसिक स्वास्थ्य में भी काफी हद तक सुधार लाता है।

इस तरह से आप खुद को अपने बुरे वक्त में भी खुद को सकारात्मक रख सकते हैं और अपने लक्ष्य को आसानी से पा सकते हैं क्योंकि जब तक आप बुरे वक्त का डटकर सामना नहीं करते जब तक आप में आत्म विश्वास की भावना विकसित नहीं होती है और आप खुद को पॉजीटिव नहीं रख पातें।

Read More:

Note: अगर आपको कठिन समय में खुद को कैसे रखें सकारात्मक – How to Stay Positive In Hindi अच्छा लगे तो जरुर Share कीजिये. Note: E-MAIL Subscription करे और पायें More Motivational Articles In Hindi आपके ईमेल पर.

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.