भारत की पहली महिला फाइटर पायलट | India’s First Women Fighter Pilots

India’s First Women Fighter Pilots

महिलाएं हर क्षेत्र में तरक्की कर रही हैं। जमीन से लेकर आसमान तक हर जगह महिलाओं ने अपना दबदबा बनाया हुआ है। हर क्षेत्र में महिलाएं पुरुषों से कंधे से कंधा मिलाकर चल रही हैं। आज के दौर में महिलाएं हर क्षेत्र में अव्वल हैं। नारी सशक्तिकरण की इन्ही मिसालों में से एक हैं, भारत की मोहना सिंह, भावना कांत एवं अवनी चतुर्वेदी जिन्होंने भारत की पहली महिला फाइटर पायलट – India’s First Women Fighter Pilots बनकर इतिहास रचा है।

भारत की पहली महिला फाइटर पायलट – India’s First Women Fighter Pilots

India's First women fighter pilots
India’s First women fighter pilots

एयरफोर्स अकादमी की फ्लाइट कैडेट्स – Flight Cadets of Air Force Academy

एयरफोर्स अकादमी के फ्लाइट कैडेट्स को उड़ान को तीन श्रेणियों में बांटा गया है, जिनमे शामिल हैं

  • हेलिकॉप्टर्स
  • ट्रांसपोर्ट
  • फाइटर्स

वर्ष 2015 तक फ्लाइट कैडेट्स के उड़ान की इन श्रेणियों में से फाइटर्स श्रेणी को केवल पुरुष वर्गों के लिए आरक्षित किया गया था। इसके बाद फिर भारतीय वायुसेना ने अपने फाइटर फ्लाइंग प्रोग्राम में महिला कैडेट्स को भी शामिल करने का ऐतिहासिक फैसला लिया। इसके बाद 2016 में अवनी चतुर्वेदी, भावना कांत एवं मोहना सिंह इन तीन महिला फाइटर पायलट के पहले बैच को भारतीय वायुसेना के फाइटर श्रेणी में शामिल किया गया।

इन तीन महिलाओं ने अन्य भारतीय महिलाओं के लिए एक मिसाल कायम की है और साथ ही सबको यह बता दिया है की दिल मे अगर जज्बा है, और हौसलों में उड़ान हो तो इंसान को किसी भी ऊंचाई तक पहुँचने से कोई रोक नही सकता है।

आईये हम आपको महिला फाइटर पायलट के पहले बैच में शामिल इन तीनो महिलाओं के बारे में संछिप्त जानकारी देते हैं।

  • अवनी चतुर्वेदी – Avni Chaturvedi

अवनी चतुर्वेदी भारत की तीन पहली महिला फाइटर पायलटो में से एक हैं। इनका जन्म 27 अक्टूबर 1993 में मध्यप्रदेश राज्य में हुआ था। इनके पिता का नाम दिनकर प्रसाद चतुर्वेदी है जो बाण सागर डैम प्रोजेक्ट में एक एग्जेक्युटिव इंजीनियर थे वही इनकी माता एक हाउसवाइफ हैं जिनका नाम है सविता चतुर्वेदी।

इनकी प्रारम्भिक शिक्षा मध्यप्रदेश के शहडोल जिले से हुई। तत्पश्चात इन्होंने राजस्थान से अपनी बी. टेक. की पढ़ाई पूर्ण की। सन 2014 में बीटेक की पढ़ाई करते हुए ही इन्होंने भारतीय वायुसेना की परीक्षा को भी उत्तीर्ण किया।

वायुसेना में अपने प्रशिक्षण को एक वर्ष पूर्ण करने के बाद जून 2016 में इनको लड़ाकू पायलट के लिए चयनित किया गया।

अवनी चतुर्वेदी, कल्पना चावला से काफी प्रेरित हैं। इसके साथ ही इन्हें परिवार में शामिल सेना अधिकारियों द्वारा इस क्षेत्र में आने की प्रेरणा मिली।

  • भावना कांत – Bhawana Kanth

भारत की पहली महिला फाइटर्स की लिस्ट में दूसरा नाम आता है भावना कांत का। भावना कांत का जन्म 1 दिसम्बर 1992 को बिहार राज्य के बरौनी में हुआ था। इनके पिता इंडियन ऑयल में इंजीनियर है। भावना ने अपनी दसवीं तक की पढ़ाई बेगूसराय बिहार से पूरी की है। इसके बाद इन्होंने कोटा के विद्या मंदिर स्कूल में दाखिला लिया और फिर यही से इन्होंने इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा की भी तैयारी शुरू कर दी।

इसके बाद बेंगलुरु के बीएमएस कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग में इनका चयन बीटेक के लिए हो गया।

भावना बचपन से ही वायुसेना में पायलट बनने का सपना देखती थी, अतः इंजीनियरिंग करते हुए ही इन्होंने भारतीय वायुसेना में भर्ती होने का फैसला किया। और फिर उन्होंने भारतीय वायुसेना की परीक्षा दी और सफल हुई, जिसके बाद जून 2016 में इनका चयन लड़ाकू पायलट के लिए हो गया।

  • मोहना सिंह – Mohana Singh

मोहना सिंह पहली महिला फाइटर्स पायलट की लिस्ट में तीसरी महिला हैं। मोहना राजस्थान के झुनझुनु जिले से हैं। इनके पिता भारतीय वायुसेना के अधिकारी है और इनकी माता शिक्षिका हैं। इनके दादाजी एविएशन रिसर्च सेंटर पर एक गनर थेए जिन्हें 1948 में भारत पाकिस्तान के मध्य हु, युद्ध के दौरान वीर चक्र पुरस्कार से नवाजा गया था।

मोहना ने अपनी प्रारम्भिक शिक्षा दिल्ली के एयरफोर्स स्कूल से पूरी की। इसके बाद इन्होंने अपनी इंजीनियरिंग की पढ़ाई जीआईएमइटीए अमृतसर से साल 2013 में 83.7% अंको के साथ पूर्ण की।

मोहना को वायुसेना के प्रति आकर्षण उन्हें अपने पिता एवं दादाजी से विरासत में मिला है।

जून 2016 में अवनी एवं भावना के साथ इन्हें भारत की महिला फाइटर पायलट की टीम में शामिल किया गया था।

इन तीनो भारतीय महिलाओं ने जिस तरह से सफलता का परचम लहराया है, वह सारे देश की महिलाओं के लिए एक आदर्श बन चुकी हैं।

Read More: 

  1. सुनीता विलियम की जीवनी
  2. अंतरिक्ष यात्री राकेश शर्मा
  3. चाँद का पहला यात्री – आर्मस्ट्रॉन्ग
  4. क्या आप जानते हैं भारत की मिसाइल वुमन कौन हैं ?

Hope you find this post about ”India’s First Women Fighter Pilots” useful. if you like these articles please share on facebook & WhatsApp. and for the latest update download: Gyani Pandit free Android App

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.