देश का सबसे पुराना और सबसे बड़ा नेशनल पार्क जिम कॉर्बेट इस नेशनल पार्क!

Jim Corbett National Park

दुनिया तेजी से बदल रही और लोग भी उससे दुगुनी तेजी से बदल रहे है। आज के में समय में विज्ञान ने काफी प्रगति कर ली है और इसकी कामयाबी से लोगो का भी बहुत विकास हो चूका है। विज्ञान और प्राद्योगिकी के कई ऐसे आविष्कार हुए है जिनसे लोगो का विकास तो हुआ है लेकिन इसके वजह से हमारे पर्यावरण की क्षति भी हो रही है।

मगर समय रहते लोगो को भी अपनी गलतियों का अहसास होने लगा उन्होंने इन सबको बचाने के लिए राष्ट्रीय उद्यान यानि नेशनल पार्क की निर्मित करना शुरू कर दिया। इसी तरह का एक नेशनल पार्क भारत के उत्तराखंड राज्य में है। यह उद्यान नैनीताल शहर में स्थित है और यह देश का सबसे पुराना और सबसे बड़ा नेशनल पार्क है। जिम कॉर्बेट इस नेशनल पार्क –   Jim Corbett National Park का नाम है। इस पार्क के बारे में पूरी जानकारी निचे दी गयी है।

Jim Corbett National Park

देश का सबसे पुराना और सबसे बड़ा नेशनल पार्क जिम कॉर्बेट इस नेशनल पार्क – Jim Corbett National Park

Jim Corbett National Park – जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क एक उद्यान तो है लेकिन यह कॉर्बेट टाइगर रिज़र्व का एक बड़ा हिस्सा है जो उत्तराखंड के नैनीताल जिले में स्थित है। इस पार्क का दृश्य बहुत ही सुदंर और मनोहारी दीखता है साथ ही यह पार्क खास तौर पर बाघों के लिए काफी पहचाना जाता है।

जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क का इतिहास – Jim Corbett National Park History

इस पार्क का निर्माण सन 1936 में करवाया गया था यह भारत का सबसे पुराना और बहुत ही जाना माना राष्ट्रीय उद्यान है। इस पार्क को इसीलिए भी जाना जाता है क्यों की इस जगह पर भारत में पहली बार सन 1973 में बाघों को बचाने की मुहीम अपनाई गयी थी। यह प्रदेश बाघों की जाती की लिए बहुत ही महत्वपूण समझा जाता है क्यों की इसी जगह से बाघों को बचाने की मुहीम को देश में पहली बार अपनाया गया था।

जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क का क्षेत्र – Jim Corbett National Park Area

यह नेशनल पार्क बड़े से इलाके में फ़ैल चूका है जो 520 किमी वर्ग क्षेत्र में फैला हुआ है। इस पार्क में उची उची पहाड़िया, नदी का लम्बा प्रदेश, हरे मैदान और बड़ी बड़ी झीले नजर आते है। इस खुबसूरत उद्यान को नजदीक से देखेने के लिए एक तो जीप का इस्तेमाल किया जाता है या फिर हाथी के पीठ पर बैठकर भी इस पार्क को देखा जाता है।

यह एक ऐसा अनोखा पार्क है जिसमे बाघ बड़ी तादात में है ही लेकिन उदबिलाव की दुर्लभ प्रजाति यहापर देखेने को मिलती है। यहापर महाकाय मगरमच्छ भी बड़ी संख्या में देखने को मिलते है। यहापर अगर कोई खास जगह है तो वह पाटिल डून की वादी की ढिकाला है जहापर पर्यटक अवश्य आते है क्यों की यहापर जंगली जानवर बड़ी संख्या में देखने को मिलते है।

जो इन्सान पंछियों से प्रेम करता है उसके लिए यह पार्क तो स्वर्ग ही है। यहापर 650 से भी अधिक पक्षियों की जातिया पायी जाती है यहापर अन्य देशो के पक्षी आते है तो उन्हें भी देखने का मौका मिलता है।

यहापर खास तौर पर ढिकाला में पक्षी बड़ी संख्या में पाए जाते है इसीलिए पक्षियों को देखने के लिए यह बहुत ही अच्छी जगह है साथ ही यहापर 50 से भी अधिक शिकारी पक्षियों की जातीया पायी जाती है। यहापर अलग अलग तरीके के पक्षी पाए जाते है जिसकी वजहसे उनकी हर तरह की मीठी आवाज सुनाई देती है। इसका मतलब की यहापर हर तरह से जंगली जानवर और हर किस्म के पक्षी पाए जाते है जिसमे बंगाल के रॉयल टाइगर, हाती, हिरन की चार पाच प्रजातिया और विविधि पक्षी पाए जाते है।

जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क के मुख्य आकर्षण – Best Zones in Jim Corbett

  • बिजरानी सफारी जोन – Bijrani zone
  • झिरना सफारी जोन – Jhirna zone
  • धेला सफारी जोन – Dhela zone
  • ढिकाला सफारी जोन – Dhikala Safari Zone
  • ढिकाला जोन – Dhikala zone
  • दुगा देवी जोन – Durga Devi zone
  • सिताबानी सफारी जोन – Sitabani Safari Zone
जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क तक पहुचने का रास्ता – How to Reach Jim Corbett National Park

इस जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क में अगर आना है तो उसके लिए रामनगर आना सबसे बेहतर विकल्प समझा जाता है और इसे मिलाकर ही सीटीआर का मुख्यालय बनता है। यह एक छोटा शहर होने के बाद भी यहापर बस से आने की सारी सुविधाए उपलब्ध है साथ ही दिल्ली, मुरादाबाद, नैनीताल और बरेली जैसे बड़ो शहरो से आने के लिए रेल की सुविधा है।

एक बार रामनगर में आने के बाद यहाँ से केवल आधे घंटे की दुरी पर कॉर्बेट नेशनल पार्क है इसीलिए इस पार्क में आसानी से पंहुचा जा सकता है। रामनगर रेलवे स्टेशन से यह पार्क केवल 15 किमी की दुरी पर है।

जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क देखने का सही समय – Jim Corbett National Park Best Time to Visit

यहापर आने का सबसे अच्छा समय नवम्बर से फरवरी तक रहता है।

यह देश का बहुत ही खास नेशनल पार्क है। इस जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क – Jim Corbett National Park में कई तरह के वृक्ष दिखाई देते है। यहापर पेड़ पौधों की ऐसी कुछ प्रजातिया है जो दुनिया में कहिपर भी देखने को नहीं मिलती। इसी वजह से यह काफी महत्वपूर्ण नेशनल पार्क समझा जाता है।

इसके अलावा यहापर कई किस्म के जंगली जानवर और पक्षी पाए जाते है जो बड़ी संख्या में यहापर देखेने को मिलते है साथ ही यहापर बाहरी देश के पक्षी भी आते है और वे काफी समय तक यहापर रहते और बाद में चले जाते है। इसीलिए जो पक्षी प्रेमी है उन्होंने यहापर जरुर आना चाहिए। उनके लिए यह एक जीवन का सुनहरा पल साबित हो सकता है।

Read More:

Hope you find this post about “Jim Corbett National Park” useful. if you like this article please share on Facebook & Whatsapp. and for latest update download: Gyani Pandit free Android app.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *