केवलादेव नेशनल पार्क

Keoladeo Ghana National Park

राजस्थान का केवलादेव नेशनल पार्क यहाँ के अन्य नेशनल पार्क से बिलकुल अलग है। इस नेशनल पार्क की कई सारी विशेषताए है। पहली बात यह है की यह पार्क पक्षियों के लिए काफी प्रसिद्ध है। पूरी दुनिया के पक्षी यहापर देखे जाते है।

इसके अलावा यहापर कुछ जंगली प्राणी भी देखे जाते है। यहाँ की सबसे खास बात यह है की यहापर बड़े बड़े अजगर दिखाई देते है। इस नेशनल पार्क में भगवान शिव का मंदिर होने की वजह से इसे यह नाम दिया गया। इस मंदिर की जानकारी भी निचे विस्तार में दी गयी है।

Keoladeo National Park in Hindi

केवलादेव नेशनल पार्क – Keoladeo National Park in Hindi

केवलादेव घाना नेशनल पार्क आगरा और जयपुर इन दो बड़े शहरों के बिच में स्थित है और यह राजस्थान में है। इस नेशनल पार्क को भरतपुर पक्षी अभयारण्य भी कहा जाता है और यह नेशनल पार्क देश की राजधानी दिल्ली से केवल 190 किमी की दुरी पर स्थित है।

यह नेशनल पार्क सबसे अधिक पक्षियों के लिए जाना जाता है जो राजस्थान के भरतपुर में स्थित है। देश में सबसे ज्यादा पक्षी इस नेशनल पार्क में पाए जाते है यहापर 230 से भी अधिक प्रजातियों के पक्षी देखने को मिलते है।

इस नेशनल के मैदानों के उची उची घास है साथ ही जमीन में नमी होने के कारण यह जगह पक्षियों के लिए सही मानी जाती है। ठंडी के दिनों में यहापर अन्य देशो से भी पक्षी आते है। पुरे भारत में पक्षी देखने के लिए इससे और अच्छी जगह कही हो ही नहीं सकती।

केवलादेव नेशनल पार्क के वन्यजीव:

पुरे एशिया में पक्षियों के लिए यह एक बहुत ही महत्वपूर्ण नेशनल पार्क माना जाता है। इस पार्क में पक्षियों की 380 से भी अधिक प्रजातिया पायी जाती है। इनमे कुछ साइबेरियन क्रेन भी मौजूद है। जंगली बिल्ली, नीलगाय, सांबर, सुनहरा रंग का सियार, हैना, काला हिरण और जंगली भालू के लिए यह सबसे अच्छी जगह है।

भगवान शिव के मंदिर केवलादेव के नाम से इस जगह को यह नाम दिया गया था साथ ही यहाँ का जंगल काफी घना होने की वजह से इसे यह नाम दिया गया। ठंडियो के दिनों में यहापर महाकाय अजगर भी दिखाई देते है।

इस पार्क को नवम्बर से मार्च के बिच में भेट देनी चाहिए।

यह नेशनल पार्क भरतपुर शहर में स्थित है। इस शहर में होने की वजह से इसे भरतपुर पक्षी अभयारण्य भी कहा जाता है। पुरे राजस्थान के पक्षियों की सबसे ज्यादा प्रजातिया पायी जाती है। इस पार्क में घुमने के लिए ठंडी के दिनों में आना चाहिए।

लेकिन ठंडी के दिनों में यहापर सावधानी से घूमना चाहिये क्यों की इस समय यहापर अजगर भी दिखाई देते है। इसीलिए घूमते वक्त इस बात का पूरा ध्यान रखना चाहिए।

Read More:

Hope you find this post about “Keoladeo Ghana National Park” useful. if you like this article please share on Facebook & Whatsapp.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *