एम.एस.डब्ल्यू (MSW) कोर्स की संपूर्ण जानकारी

MSW Course Details in Hindi

जैसा के हम सभी समाज का एक अभिन्न हिस्सा होते है, जिसमे जितना हम समाज से जुडे होते है उतनी ही हमारे आसपास की गतिविधिया हमसे कही ना कही जुडी हुई होती है।सामाजिक गतीविधियो मे विभिन्न उपक्रम शामिल होते है, जिसका अध्ययन आजकल शिक्षाक्रम मे भी किया जाता है।

ऐसेही सामाजिक मुद्दो पर कार्य करने हेतू सोशल वर्क के तौर पर शिक्षाक्रम मौजूद है, जिसमे शिक्षा पूर्ण कर छात्र भविष्य मे समाज से जुडे विभिन्न क्षेत्रो मे रोजगार के तौर पर काम करने मे सक्षम हो जाते है।

इस महत्वपूर्ण लेख मे आप सोशल वर्क शिक्षाक्रम मे पोस्ट ग्रेज्युएशन स्तर की डिग्री एम.एस.डब्ल्यू (MSW) के बारे मे जानकारी हासिल कर पायेंगे, जिसमे सभी पह्लूओ पर जानकारी के माध्यम से नजर डालेंगे।

एम.एस.डब्ल्यू (MSW) कोर्स की संपूर्ण जानकारी – MSW Course Details in Hindi

MSW Course Details in Hindi
MSW Course Details in Hindi

एम.एस.डब्ल्यू का अर्थ या फुल फॉर्म क्या होता है? – MSW Full Form or What is MSW

एम.एस.डब्ल्यू (MSW) का फुल फॉर्म मास्टर ऑफ सोशल वर्क होता है, ये एक पोस्ट ग्रेज्युएशन स्तर का शिक्षाक्रम होता है। जिसमे शिक्षा के उपरांत छात्रो को सामाजिक क्षेत्र मे विभिन्न कार्यो को करने का मौका मिल जाता है।

एम.एस.डब्ल्यू कोर्स की अवधी – MSW Course Duration

इस शिक्षाक्रम का संपूर्ण अवधी २ साल का होता है, जिसमे किसी भी छात्र को इस कोर्स को पुरा करने हेतू न्यूनतम दो साल का अवधी देना होता है।

कोर्स हेतू शिक्षा का शुल्क – MSW Course Fees

बात करे शिक्षा शुल्क की तो एम.एस.डब्ल्यू शिक्षा क्रम को पुरा करने के लिये आपको लगभग एक लाख से २ लाख तक के बिच शिक्षा शुल्क लग सकता है। आपके महाविद्यालय का चयन भी एक प्रमुख वजह होती है जिसके अनुसार शिक्षा शुल्क तय होता है तथा इसमे बुनियादी अंतर देखने को मिल जाता है।

एम.एस.डब्ल्यू मे प्रवेश के लिये आवश्यक पात्रता – MSW Eligibility

  1. जिन छात्रो ने सोशल वर्क मे स्नातक डिग्री बी.एस.डब्ल्यू(BSW) शिक्षाक्रम को न्यूनतम ५० प्रतिशत अंको से पुरा किया है, वे सभी छात्र एम.एस.डब्ल्यू हेतू प्रवेश के लिये पात्र समझे जाते है।
  2.  इसके अलावा ह्यूमैनिटीज, सोशल सायन्स, मैनेजमेंट तथा अन्य शिक्षा धारा से न्यूनतम ५० प्रतिशत अंको से स्नातक की शिक्षा उत्तीर्ण छात्र भी इस कोर्स हेतू प्रवेश हासिल कर सकते है।

एम.एस.डब्ल्यू के लिये प्रवेश कि प्रक्रिया – MSW Admission Process

  1. बहुत से महाविद्यालयो मे साक्षात्कार और स्नातक परीक्षा के माध्यम से छात्रो को इस कोर्स हेतू प्रवेश दिया जाता है, जिसमे लिखित तौर पर साक्षात्कार के दौरान परीक्षा ली जाती है।
  2.  कुछ महविद्यालय या युनिव्हर्सिटी के अंतर्गत इस कोर्स मे प्रवेश हेतू पूर्व पात्रता परीक्षा(Entrance Exam) का आयोजन किया जाता है जिसमे अच्छे अंक प्राप्त छात्रो को प्रवेश दिया जाता है।
  3. आम तौर पर इस कोर्स मे प्रवेश के लिये किसी भी पात्रता परीक्षा को निर्धारित नही किया गया है, ये सब महाविद्यालय के उपर निर्भर चिजे होती है।

उपरोक्त विश्लेषण से यह बात सामने आती है के ज्यादातर महाविद्यालय आपके ग्रेज्यूएशन डिग्री मे प्राप्त अंको के आधार पर ही मेरीट सूची लगाकर उच्च अंक प्राप्त छात्रो को एम.एस.डब्ल्यू मे प्रवेश देते है।

कुछ महाविद्यालय/युनिव्हर्सिटी द्वारा लिये जाने वाली एंट्रेंस एग्जाम – Entrance Exam For MSW

एम.एस.डब्ल्यू के लिये कुछ महाविद्यालय तथा युनिव्हर्सिटी द्वारा लिये जाने वाले पात्रता परीक्षाओ कि जानकारी निम्नलिखित तौर पर दी गई है।

  1. अलिगढ युनिव्हर्सिटी एम.एस.डब्ल्यू एडमिशन टेस्ट
  2. कालिकत युनिव्हर्सिटी पात्रता परीक्षा
  3. मणिपाल युनिव्हर्सिटी प्रवेश पात्रता परीक्षा
  4. टाटा इन्स्टिट्यूट पात्रता परीक्षा, इत्यादी ..

एम.एस.डब्ल्यू शिक्षाक्रम के प्रमुख विषय – MSW Subjects

  1. सोशल वर्क एंड सोशल जस्टीस
  2. सोशल केस वर्क
  3. वुमेन एंड चाइल्ड डेवलपमेंट
  4. स्टडी ऑफ इंडिअन कंस्टीटूशन
  5. एनालिसिस ऑफ इंडिअन सोसायटी, इत्यादी…

एम.एस.डब्ल्यू से संबंधित कुछ प्रमुख महाविद्यालय/युनिव्हर्सिटी – Colleges / Universities For M.S.W

  1. दिल्ली युनिव्हर्सिटी
  2. ख्रीस्ट युनिवर्सिटी – बंगलौर
  3. बनारस हिंदू युनिव्हर्सिटी
  4. टाटा इन्स्टिट्यूट ऑफ सोशल सायन्स – मुंबई
  5. गुजरात विद्यापीठ – अहमदाबाद
  6. मद्रास स्कूल ऑफ सोशल वर्क
  7. अटल बिहारी वाजपेयी हिंदी विश्वविद्यालय – भोपाल
  8. देवी अहिल्या विश्वविद्यालय – इंदौर
  9. कर्वे इन्स्टिट्यूट ऑफ सोशल सायन्स – पुणे
  10. शिवाजी युनिव्हर्सिटी – कोल्हापूर, इत्यादि..

एम.एस.डब्ल्यू कोर्स के बाद रोजगार के अवसर तथा सैलरी – Jobs Opportunities And Salary After MSW

इस कोर्स को पुरा करने के बाद निम्नलिखित पदो पर कार्य करने का मौका मिल जाता है, जैसे के;

  1. एन.जी.ओ मे सहकर्मी
  2. हेल्थ केयर सेक्टर मे कर्मचारी
  3. आदिवासी विभाग मे सोशल वर्कर
  4. ह्युमन राइट्स कार्यालय मे कर्मचारी
  5. अनाथ आश्रम या फिर बुजुर्ग लोगो के सेवा केंद्र इत्यादी मे सहकर्मी
  6. जेल या कौन्सेलिंग सेंटर मे कर्मचारी
  7. सार्वजनिक क्षेत्र मे मानव संसाधन विभाग, महिला और बाल कल्याण विभाग, मजदूर संबंधी विभाग इत्यादी मे कर्मचारी, इत्यादि..

उपरोक्त पदो पर सालाना ३ लाख से लेकर ७ लाख तक कि सैलरी दी जाती है, जिसमे सेवा मे बढोतरी अनुसार सैलरी भी बढती है।

हम आशा करते है दी गई जानकारी आपको काफी पसंद आयी होगी, और इस जानकारी का आपको भविष्य मे लाभ भी होगा, हमसे जुडे रहने के लिये धन्यवाद।..

एम.एस.डब्ल्यू कोर्स के बारेमें अधिक बार पुछे गये सवाल – Questions about MSW Course

  1. एम.एस.डब्ल्यू का फुल फॉर्म क्या होता है?

जवाब: मास्टर ऑफ सोशल वर्क।

2. बी.एस.डब्ल्यू और एम.एस.डब्ल्यू मे क्या अंतर होता है?

जवाब: बी.एस.डब्ल्यू एक स्नातक स्तर का कोर्स होता है जिसका फुल फॉर्म बैचलर ऑफ सोशल वर्क होता है, एम.एस.डब्ल्यू एक मास्टर डिग्री होती है जिसका फुल फॉर्म मास्टर ऑफ सोशल वर्क होता है।

3. एम.एस.डब्ल्यू का अवधी कितना होता है?

जवाब: दो साल।

4. क्या मुझे एम.एस.डब्ल्यू के बाद सार्वजनिक क्षेत्र मे नौकरी संबंधित विकल्प मिल सकते है?

जवाब: हा।

5. एम.एस.डब्ल्यू कौनसे स्तर का शिक्षाक्रम होता है?

जवाब: पोस्ट ग्रेज्यूएशन या मास्टर स्तर का।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here