मेडिकल की तैयारी कर रहें हो तो बहुत काम आयेंगें ये टिप्स…

Study Tips for Medical Students in Hindi

डॉक्टर एक ऐसा पेशा है जिसे भगवान का दर्जा दिया गया है क्योकि भगवान् जिन्दगी देता है तो डॉक्टर उसे जिन्दगी को बचाता है। लेकिन सबसे गौर करने वाली बात है की डॉक्टर बनना आसान नहीं है। कई सारे लोग इस प्रोफेशन में जाने के लिए मेहनत करते है लेकिन सफल नहीं होते है।

डॉक्टर बनने के लिए आपको एम्स या फिर नीट की परीक्षा पास करनी होती है और इसके लिए विशेष तैयारी की जरूरत होती है। बड़े बड़े कोचिंग संस्थानों में जाने वाले लोग भी सफल नहीं होते है अगर उन्होंने इन बातों का ध्यान नहीं रखा।

Study Tips for Medical Students

मेडिकल की तैयारी कर रहें हो तो बहुत काम आयेंगें ये टिप्स – Study Tips for Medical Students

  • समय लेकर आये

ये बात शायद आपको अजीब लगे लेकिन आपको समझ लेनी चहिये की अगर आप मेडिकल की तैयारी करने आ रहे है तो आप कम से कम तीन वर्षो का समय लेकर आये। दरअसल यह परीक्षा आसान नहीं होती है और शुरू के एक साल तो आपके बेसिक बनने में लग जाते है। हालाँकि कुछ लोग पहले साल में निकाल लेते है लेकिन अधिकतर लोग दो साल या तीन साल का समय लेते ही है। इसीलिए आप बिना किसी घबराहट के कम से कम तीन साल का समय इस तैयारी के लिए रखे।

  • बेसिक में ध्यान

दुनिया में कोई भी परीक्षा आप तब तक पास नहीं कर सकते है जब तक आप उस विषय से जुड़े हुए बेसिक क्लियर नहीं कर लेते है। आप मेडिकल की परीक्षा पास करने के लिए आने बेसिक में धयान दे। इसके लिए आप एनसीआरटी पढ़े और साथ में कक्षा 11 और 12 की बुक भी पढ़ते रहे।

  • याद करने की क्षमता बढायें

मेडिकल एक ऐसा फील्ड है जहाँ आप बहुत सारी चीजो को समझ नहीं बल्कि रट ही सकते है। बड़े बड़े नाम, अलग अलग जीव जन्तुओ की भोजन प्रणाली और बहुत सारी बातें आपको याद ही करनी पड़ेगी और इसके लिए आवश्यक है की आप अपनी याद करने की क्षमता को बढायें।

  • कोचिंग का बेहतर चुनाव

इस एग्जाम में पास होने के लिए आपको दिशा-निर्देश की आवश्यकता होती है और इसके लिए आप कोटा, पटना या फिर दिल्ली के बड़े कोचिंग संस्थान में दाखिला लेते है। कोचिंग संस्थान में जाने से पहले आप उसके बारे में जाने। आप पुराने बच्चों से सम्पर्क हो तो उनसे पूछे, कोचिंग का बैकग्राउंड पता करे और देखे की उसके पढ़ाने का तरीका क्या है। रेगुलर टेस्ट हो रहे है, डाउट क्लियर की क्लास है या नहीं और इसके बाद ही दाखिला लें।

  • रोज का काम रोज

यह एक ऐसी परीक्षा है ज्सिमे सिलेबस बहुत अधिक होता है और ऐसे में अगर आपने रोज का काम रोज नहीं किया तो आपको आगे मुश्किल हो जाएगी। जितना आज कोचिंग संस्थान में पढाया गया है उसे रिवाइज करे और साथ साथ पूरा होमवर्क आज ही खत्म करे इससे आपको लास्ट के समय में परेशान नहीं होना पड़ेगा।

  • वेटेज देखे

इतने बड़े सिलेबस में हर एक टॉपिक से प्रश्न आयेगे ऐसा संभव नहीं है। इसके लिए आप पहले ही ये देख ले किस टॉपिक से सबसे अहिक प्रश्न पूछे जाते है और बीते सालों में किसका वेटेज सबसे अधिक रहा है। इसके लिए आप बीते सालों के प्रश्न-पत्र उठाये और उनका सहारा लें। ऐसे में आपको कुछ विशेष चीजो में ही फोकस करना होगा। वैसे एक बार हर एक टॉपिक को जरूर पढ़े।

  • डाउट न रखे

ये एग्जाम ऐसा है जिसका सिलेबस बहुत अधिक होता है और ऐसे में छोटी से छोटी चीज भी महत्वपूर्ण है और सबसे महत्वपूर्ण है की आपके मन में कोई सवाल ना रह जाए। अक्सर देखने में आता है की स्टूडेंट्स सवाल नहीं पूछते और फिर वो हमेशा के लिए एक डाउट बन जाता है और अंत में परेशान होते है। ऐसे में आपके मन में जो सवाल आये उसे आप सीधे पूछ ही ले तो बेहतर होगा।

मेडिकल एग्जाम की तैयारी आसान भी है और मुश्किल भी है। यह इस बात पर निर्भर है की कितनी सटीक जानकारी आप रखते है और कितने सही तरीके से तैयारी के मैदान में उतरते है।

Read More:

Note: अगर आपको Study Tips for Medical Students अच्छा लगे तो जरुर Share कीजिये. Note: E-MAIL Subscription करे और पायें More Career Related Articles In Hindi आपके ईमेल पर.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.