स्वच्छ भारत अभियान | Swachh Bharat Abhiyan

Swachh Bharat Abhiyan

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश को स्वच्छ और स्वस्थ बनाए रखने के उद्देश्य से स्वच्छ भारत मिशन – Swachh Bharat Abhiyan की शुरुआत की।

स्वच्छ भारत की परिकल्पना तभी की जा सकती है जब सब मिलकर इसमें सहयोग करें जिससे सभी गांव, शहर, गलियां, नालियां साफ-सुधरी की जा सकें जिससे बीमारी फैलने का खतरा कम हो और गंदगी की वजह से फैलने वाली बीमारियां जैसे डेंगू, मलेरिया, डायरिया, महामारी समेत कई बीमारियों से बचा जा सके। इसके साथ ही एक स्वस्थ और स्वच्छ भारत का निर्माण हो सके।

Swachh Bharat Abhiyan
Swachh Bharat Abhiyan

स्वच्छ भारत अभियान – Swachh Bharat Abhiyan

Swachh Bharat Abhiyan – “स्वच्छ भारत अभियान” को Clean India Mission – “क्लीन इंडिया मिशन” भी कहा जाता है जो कि मोदी सरकार की तरफ से देश के सभी कस्बो, गांवों और शहरों की स्वच्छता के लिए चलाया जा रहा है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने Swachh Bharat Abhiyan – “स्वच्छ भारत अभियान” की शुरुआत 2 अक्टूबर 2014 को महात्मा गांधी की जयंती पर की थी। क्यों कि महात्मा गांधी हमेशा स्वच्छता पर जोर देते थे।

महात्मा गांधी के स्वच्छ भारत के सपने को पूरा करने के मकसद से नरेन्द्र मोदी ने “क्लीन इंडिया मिशन” – Clean India Missionकी शुरुआत की। स्वच्छ भारत अभियान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के प्रमुख अभियानों में से एक है जिसके तहत ज्यादा से ज्यादा लोगों को स्वच्छता के प्रति जागरूक भी किया जा रहा है।

स्वच्छ भारत अभियान का उद्देश्य- Purpose of Swachh Bharat Abhiyan

स्वच्छ भारत अभियान का लक्ष्य भारत में ज्यादा से ज्यादा शौचालयों का निर्माण करवाना, ग्रामीण इलाकों में स्वच्छता कार्यक्रमों को बढ़ावा देना, सड़कों की सफाई करवाना है जिससे स्वच्छ भारत का निर्माण हो सके। स्वच्छ भारत अभियान का उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रों में रह रहे लोगों को सफाई के लिए जागरूक करना है साथ ही सार्वजनिक स्वास्थ्य के लिए प्रेरित करना है।

आपको बता दें कि स्वच्छ भारत अभियान के तहत मोदी सरकार का उद्देश्य साल 2019 तक पूरे भारत को खुले में शौच मुक्त के लक्ष्य को पूरा करना है जिससे 2 अक्टूबर, 2019 को महात्मा गांधी की जयंती पर गांधी जी को इसकी श्रद्धांजली दी जा सके।

स्वच्छ भारत मिशन का मुख्य मकसद ग्रामीण इलाके में रह रहे लोगों के रहन-सहन में सुधार करना भी है। इसके साथ ही इस मिशन के अंर्तगत हर साल 100 घंटे के श्रमदान के लिए लोगों को प्रेरित भी किया जाएगा।

स्वच्छ भारत मिशन के तहत लोगों को स्वच्छता से जुड़ी सारी सुविधाओं को उपलब्ध करवाने का भी लक्ष्य रखा गया है। साथ ही ज्यादा से ज्यादा लोगों को इस अभियान से जोड़ना है ताकि ज्यादातर लोग इस अभियान का हिस्सा बन सकें और सफाई के प्रति जागरूक हो सकें। इसके साथ ही स्वच्छ भारत मिशन के कुछ उद्देश्य निम्नलिखित है –

  • स्वच्छ भारत मिशन के तहत लोगों को सफाई के प्रति जागरूक किया जाएगा।
  • स्वच्छ भारत मिशन के तहत खुले में शौच मुक्त भारत को हासिल करने का लक्ष्य रखा गया है।
  • स्वच्छ भारत मिशन का उद्देश्य 2019 तक भारत के ग्रामीण इलाकों में करीब 1.96 लाख करोड़ रुपये की लागत से 1.2 करोड़ शौचालयों का निर्माण करना है।
  • साल 2019 तक स्वच्छ भारत के लक्ष्य को हासिल करना।
  • स्वच्छ भारत मिशन का मकसद ग्रामीण इलाकों में स्वच्छता कार्यक्रमों को बढ़ावा देना भी है।
  • स्वच्छ भारत मिशन के तहत लोगों को सफाई के प्रति जागरूक करने के लिए सार्वजनिक स्वास्थ्य और साफ-सफाई के कार्यक्रम से लोगों को जोड़ा जाएगा।

स्वच्छ भारत अभियान की जरूरत- Need for Swachh Bharat Abhiyan

अगर भारत के प्रधानमंत्री की तरफ से सफाई अभियान की पहल नहीं की होती तो क्लीन इंडिया सपना अधूरा रह जाता इसके साथ ही गंदगी की वजह से देश में कई घातक बीमारी पनप रही हैं जिसकी वजह के कई लोगों की मौत भी हो चुकी हैं इसलिए लोगों को साफ-सफाई के प्रति जागरूक करने के लिए सफाई अभियान की शुरुआत की गई।

लोगों के स्वस्थ और शारीरिक विकास के लिए भी स्वच्छ भारत अभियान की बेहद आवश्यकता है क्योंकि एक स्वच्छ समाज में ही स्वस्थ व्यक्ति का विकास संभव है अर्थात स्वचछता का मानव के विकास में अहम योगदान है।

व्यक्ति के रहन-सहन में और उनके जीवन के परिपरेक्ष्य में सफाई का बेहद अहम योगदान है। इस अभियान के तहत अगर सफाई मिशन के सपने को पूरा करना है तो सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है कि ज्यादा से ज्यादा लोगों को शौचालयों की सुविधा मिल सके जिसके लिए मोदी सरकार शौचालयों का निर्माण कराने पर भी जोर दे रही है।

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के इस अभियान को सफल बनाने के लिए बायोमेट्रिक टॉयलेट का भी निर्माण कराया जा रहा है। इसके साथ ही फ्लंशिग टॉयलेट के माध्म से मैनुअल स्केवेंजिंग सिस्टम को भी खत्म करने की कोशश की जा रही है।

इसके साथ ही मोदी सरकार के स्वच्छ भारत अभियान के तहत लोगों में स्वच्छता के तरीकों में भी बदलाव किया जाने की जरूरत है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के इस अभियान के तहत लोगों में स्वच्छता की भावना का विकास हुआ है।

इस मिशन के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में रह रहे लोगों की मानसिकता को बदलने की जरूरत है और सफाई को लेकर उनके रहन-सहन में बदलाव करने की जरूरत है ताकि स्वच्छ भारत में स्वच्छ समाज का विकास हो सके।

शहरी क्षेत्रों में स्वच्छ भारत अभियान – Swachh Bharat Abhiyan Urban

स्वच्छ भारत मिशन के तहत लोगों को साफ-सफाई के प्रति जागरूक किया जा रहा है इसके साथ ही शहरी क्षेत्रों में स्वच्छ भारत मिशन के तहत सामुदायिक शौचालयों का निर्माण भी कराया जाएगा इसके साथ ही इस मिशन के तहत खासकर बस स्टेशन, पर्यटन स्थल, रेलवे स्टेशन, बाजार समेत कई जगहों पर सार्वजनिक शौचालयों का निर्माण करवाया जा रहा है।

आपको बता दें कि मोदी सरकार के सफाई मिशन के तहत ज्यादा से ज्यादा लोगों को स्वच्छता कार्यक्रम से जोड़ा जाएगा।

सफाई मिशन के तहत ज्यादा से ज्यादा शौचालयों का निर्माण कराने, गंदे शौचालयों को फ्लश शौचालयों में बदलना, मैनुअल स्केवेन्गिंग को खत्म करने का भी लक्ष्य रखा गया है।

ग्रामीण स्वच्छ भारत मिशन – Swachh Bharat Mission Gramin

ग्रामीण स्वच्छ भारत मिशन के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में सफाई अभियान चलाया जा रहा है इसके साथ ही ग्रामीण इलाकों में सफाई से संबंधित कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है जिसमें ग्रामीण लोग बढ़चढ़ कर हिस्सा लेते हैं।

इसके साथ ही ग्रमाीण स्वच्छ भारत मिशन के तहत ग्रामीण क्षेत्रों को खुले में शौच मुक्त करने के लक्ष्य रखा गया है इसके लिए देश में 11 करोड़ 11लाख शौचालयों के निर्माण किया जाएगा जिसमें करीब 1 लाख 30 हजार करोड़ रुपए खर्च होने का अनुमान लगाया जा रहा है।

वहीं ग्रामीण क्षेत्रों में स्वच्छता कार्यक्रमों के माध्यम से ग्राम पंचायत, पंचायत समिति, जिला परिषद भी सम्मिलत होंगे। आपको ये भी बता दें कि, ग्रामीण स्वच्छ भारत मिशन के तहत लोगों की स्वच्छता संबंधी आदतों में सुधार करना है जिससे ग्रामीणों के रहन-सहन की आदत को और बेहतर बनाया जा सकेगा।

स्वच्छ भारत अभियान का लाभ – Benefits of Clean India Mission

स्वच्छ भारत अभियान के तहत जहां देश को साफ-सुधरा बनाने में मद्द मिलेगी वहीं गंदगी की वजह से पर्यावरण में फैलने वाली कई घातक बीमारियों से भी बचा जा सकेगा साथ ही एक स्वस्थ समाज का निर्माण होगा । स्वच्छ भारत अभियान से लोगों में साफ-सफाई को लेकर जागरूकता फैली साथ ही स्वास्थ्य शिक्षा के माध्यम से स्वच्छता सुविधाओं को भी काफी बढ़ावा मिला । स्वच्छ भारत अभियान के अंर्तगत लोगों के रहन-सहन में सफाई को लेकर काफी सुधार हुआ साथ ही नगर परिषद, नगर पालिका को भी लाभ पहुंचा स्वच्छ भारत मिशन से होने वाले लाभ निम्नलिखित है –

  • जागरूकता सृजन और स्वास्थ्य शिक्षा के माध्यम से स्वच्छता सुविधाओं को बढ़ावा मिला।
  • स्वच्छ भारत मिशन के तहत सफाई के प्रति लोगों में जागरूकता फैली।
  • स्वच्छ भारत योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में सामान्य जीवन स्तर में सुधार होगा।
  • नगर परिषद, नगर पालिका को भी काफी लाभ पहुंचा सफाई अभियान के तहत कई सफाई कर्मियों की भी नियुक्ति की गई जिससे देश को साफ-सुथरा रखा जा सके।
  • सफाई अभियान के तहत ग्रामीण भारत में कचरे का इस्तेमाल जैव उर्वरक और ऊर्जा के कई रूपों में बदलने के लिए किया जाएगा।

इसके अलावा स्वच्छ भारत अभियान के तहत जागरूकता फैलाने के लिए बड़े स्तर पर स्कूल,कॉलेज, सरकारी दफ्तर, ग्रामीण पंचायत के अलावा कई संस्थानों को जोड़ा जाएगा जिससे ज्यादा से ज्यादा लोग इस अभियान का हिस्सा बन सके इससे देश को साफ-सुथरा करने में भी मदत मिलेगी।

ग्रामीण क्षेत्रों में जिन घरों में शौचालय की व्यवस्था नहीं है ऐसे घरों में शौचलय के निर्माण के लिए राज्य सरकार 3000 रुपए की राशि देगी।

आपको बता दें कि सफाई अभियान के तहत टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज, महिंद्रा ग्रुप और रोटरी इंटरनेशनल समेत 14 कंपनियों ने भी अपना अहम योगदान दिया और करीब 3 हजार 195 नए शौचालयों का निर्माण करने का वादा किया है था इसके साथ ही आपको बता दें कि कई दिगग्ज हस्तियों ने सफाई अभियान में अपना योगदान दिया और भारत को साफ-सुथरा रखने की मुहिम छेड़ी।

स्वच्छ भारत मिशन मोदी सरकार की वाकई सराहनीय पहल है इस अभियान के माध्यम से न सिर्फ स्वच्छ भारत का निर्माण होगा बल्कि भारत की पहचान स्वस्थ देशों में की जा सकेगी।

Source and More Information: Official Website

Read More:

Hope you find this post about ”Swachh Bharat Abhiyan” useful. if you like this articles please share on Facebook & Whatsapp. and for the latest update download : Gyani Pandit free android App

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here