ACP बनना चाहते है तो जानिए इस अहम जानकारी को…

ACP Kaise Bane

हमारे सामाजिक माहौल मे अमन बरकरार करने के साथ कानून के नियम और सामाजिक अनुशासन को लागू करने मे पुलिस का अहम योगदान रहता है। समाज मे सुरक्षा को कायम रखने का प्रमुख दायित्व पुलिस पर होता है, जिसको सुचारू करने के लिये पुलिस विभाग के अंतर्गत विभिन्न स्तर के अफसर मौजूद होते है। इनमे कमिशनर, जिला पुलिस अधीक्षक, पुलिस इन्स्पेक्टर, ए.सी.पी आदि शामिल होते है।

अधिकतर बार आपने पुलिस विभाग के ए.सी.पी (ACP) अफसर के बारे मे सुना या पढा होगा, जिस पद के विषय मे आपको उतनी बुनियादी जानकारी नही होती।शायद आप मे से बहुत सारे लोग पुलिस सेवा से जुडने की इच्छा रखते होंगे, इनमे से जो लोग खासकर ए.सी.पी पद प्राप्त करना चाहते है, उन सभी के लिये इस लेख द्वारा दी जानेवाली जानकारी काफी खास होनेवाली है।

यहाँ लेख के माध्यम से आपको ए.सी.पी पद हेतू आवश्यक पात्रता, इस शब्द का फुल फॉर्म, पद हेतू आवश्यक परीक्षा तथा परीक्षा शिक्षाक्रम इत्यादी प्रमुख पहलूओ की बुनियादी जानकारी देने का हमारा प्रयास होगा।हमे विश्वास है के इस जानकारी को पढने के बाद आपको काफी लाभ होगा और इस विषय से जुडी आपके मन मे बसे हुये शंकाओ का समाधान भी हो जायेगा।

ACP बनना चाहते है तो जानिए इस अहम जानकारी को… – ACP Kaise Bane

क्या होता है ए.सी.पी का फुल फॉर्म – Full Form of ACP

अधिकतर बार आपको ए.सी.पी इस शब्द के फुल फॉर्म को जानने की जरूर उत्सुकता होती होगी, तो इसका सही फुल फॉर्म “असिस्टंट कमिशनर ऑफ पुलिस” होता है। मुख्य रूप से इसका हिंदी अनुवाद सहायक पुलिस आयुक्त होता है, जो के पुलिस विभाग का उच्च स्तर पद होता है।

भारतीय पुलिस सेवा द्वारा चयन किये गये उम्मिदवारो को प्रमुखता से इस पद पर नियुक्त किया जाता है, जिससे संबंधी अधिक जानकारी को हम आगे आपके सामने रखेंगे।

ए.सी.पी पद के चयन हेतू संक्षेप मे जानकारी- How to become ACP in Hindi

आपको बता दे की यहाँ आपके पास दो प्रमुख मार्ग होते है जिसके द्वारा आप इस पद को प्राप्त कर सकते है। जिसमे भारतीय पुलिस सेवा मे अगर आपका संघ लोकसेवा आयोग द्वारा चयन होता है, तो कुछ समय पश्चात आप इस पद पर नियुक्त हो सकते है।

इसके अलावा जो उम्मिद्वार राज्य लोकसेवा आयोग द्वारा उप जिला पुलिस अधीक्षक/सहायक पुलिस अधीक्षक/ अतिरिक्त जिला पुलिस अधीक्षक आदि पदो पर चयनित होते है। वो सभी अगर राज्य पुलिस सेवा मे लगभग १५ से २० साल की सेवा देते है, या फिर विभाग अंतर्गत कुछ परीक्षाओ को उत्तीर्ण कर पदोन्नती हासिल करते है, तब भी वो ए.सी.पी पद पर नियुक्त हो सकते है।

किसी भी हाल मे उम्मिद्वार सीधे तौर पर ए.सी.पी पद प्राप्त नही कर सकते है, उन्हे उपरोक्त दिये गये विकल्पो द्वारा प्रयास करने होते है। अंततः इस पद को प्राप्त किया जा सकता है, जो के भारतीय पुलिस सेवा मे काफी प्रतिष्ठीत पद होता है।

यु.पी.एस.सी द्वारा ए.सी.पी पद प्राप्त करने की प्रक्रिया – ACP Selection Process Through UPSC

संघ लोक सेवा आयोग द्वारा देश के विभिन्न सरकारी विभागो मे उच्चस्तरीय पदो पर उम्मीदवारो की भर्ती की जाती है, इस आयोग के अंतर्गत आनेवाले भारतीय पुलिस सेवा मे चयन किये गये पात्र उम्मीदवार भविष्य मे ए.सी.पी पद हासिल करते है।

यहाँ सबसे पहले आय.पी.एस दर्जे के उम्मिद्वार को उप जिला पुलिस अधीक्षक/सहायक पुलिस अधीक्षक/अतिरिक्त सहायक पुलिस अधीक्षक आदि पदो पर कुछ सालो तक कार्य करना होता है।

इन पदो पर कार्य करते समय जिन अफसरो का सेवाकाल उत्कृष्ट रहता है तथा जिन्होने समझदारी, समयसूचकता, कठीण परिस्थिती मे सराहनीय कार्य किया होता है उनको विशेष पदोन्नती द्वारा ए.सी.पी पद पर नियुक्त किया जाता है।

निचे संक्षेप मे आपको संघ लोकसेवा आयोग द्वारा भारतीय पुलिस सेवा से जूडने हेतू आवश्यक पात्रता की जानकारी दे रहे है, जिस से आपको इस प्रक्रिया को समझने मे आसानी होगी। इसमे शामिल पात्रताए इस प्रकार से है –

  1. इच्छुक उम्मीदवार की न्यूनतम आयु २१ साल तो अधिकतर आयु ३२ साल होना आवश्यक होता है, जिसमे भारतीय संविधान द्वारा दिया जानेवाला जातिगत आरक्षण लागू होता है, इसके अनुसार ओबीसी वर्ग – ३ साल, एस.सी/एस.टी वर्ग – ५ साल का आयु मर्यादा मे शिथिलीकरण दिया जाता है। यहा सामान्य वर्ग को अधिकतर आयु मर्यादा ३२ साल ही होती है।
  2. जो भी छात्र आय.पी.एस हेतू इच्छुक होते है उन सभी के पास भारतीय नागरिकता होना अनिवार्य होता है। हालाकि कुछ अन्य देशो के नागरिक भी इस परीक्षा मे सम्मिलित हो सकते है, पर अंततः उन सभी के पास स्थायी भारतीय नागरिकता होना परम आवश्यक होता है।
  3. उन सभी छात्रो के पास न्यूनतम स्नातक/बैचलर शिक्षा डिग्री होना परम आवश्यक होता है जो आय.पी.एस परीक्षा द्वारा भारतीय पुलिस सेवा मे चयन के इच्छुक है। यहाँ स्नातक शिक्षा डिग्री को मान्यताप्राप्त युनिवर्सिटी से उत्तीर्ण करना भी अनिवार्य होता है, यहाँ सभी शिक्षा धारा से स्नातक उत्तीर्ण छात्र इस परीक्षा हेतू पात्र होते है।
  4. महिला हो या पुरुष जो भी उम्मिद्वार आय.पी.एस द्वारा ए.सी.पी बनने की इच्छा रखते है वो सभी शारीरिक और मानसिक दृष्टी से तंदुरुस्त होना अत्यंत आवश्यक होता है। यहाँ पुरुष उम्मिद्वार की न्यूनतम लंबाई १६५ सेंटीमीटर तथा सिने की चौडाई ८५ सेंटीमीटर होना आवश्यक होता है। बात करे महिला उम्मिद्वार की तो इनकी न्यूनतम लंबाई १५० सेंटीमीटर होना अनिवार्य होता है।
  5. यहाँ पूर्व परीक्षा, मुख्य परीक्षा तथा साक्षात्कार के चरणो से गुजरकर आय.पी.एस हेतू चयन होता है, जिसमे पुलिस के प्रशिक्षण के बाद पद नियुक्ती दी जाती है।

शुरू मे भारतीय सेवा से चयन हुये उम्मिद्वारो को उप जिला पुलिस अधीक्षक/सहायक पुलिस अधीक्षक/अतिरिक्त सहायक पुलिस अधीक्षक आदि पदो पर नियुक्त किया जाता है, जिनको पदोन्नती द्वारा आगे ए.सी.पी पद दिया जाता है।

राज्य लोकसेवा आयोग द्वारा ए.सी.पी बनने की प्रक्रिया संक्षेप मे – ACP Post Through State Public Commission Exam

भारत के लगभग सभी राज्य मे स्वतंत्र राज्य लोकसेवा आयोग होते है, जिनके द्वारा हर साल संबंधित राज्य के पुलिस विभाग मे उच्चस्तरीय अफसर पदो हेतू भर्ती प्रक्रिया को पुरा किया जाता है।

इनमे से जो उम्मिद्वार उप जिला पुलिस अधीक्षक/सहायक पुलिस अधीक्षक/ अतिरिक्त सहायक पुलिस अधीक्षक आदि पदो पर चयनीत होते है, वे सभी लगभग १५-२० साल की सेवा कार्यकाल को पुरा करने के बाद ए.सी.पी पद पर पदोन्नती द्वारा नियुक्त किये जाते है।

यहाँ आप जिस राज्य के निवासी है वहा के राज्य लोकसेवा आयोग से संबंधित पात्रता और अन्य जानकारी को आपको स्वतंत्र रूप से जाँचना होगा क्योंकी प्रत्येक राज्य के पात्रता और अन्य मानदंडो मे थोडा बहुत अंतर देखने को मिलता है। तो यहाँ बेहतर है आप इस विषय से संबंधित जानकारी को सावधानी पूर्वक पढे और पुलिस विभाग के भर्ती हेतू आवेदन करे।

ए.सी.पी हेतू परीक्षा का शिक्षाक्रम- Syllabus for ACP Exam

जैसा के हमने आपको पहले ही बताया के इस पद हेतू आपको संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) के भारतीय पुलिस सेवा द्वारा चयनीत होना होता है। इसके अलावा राज्य लोक सेवा आयोग द्वारा आप ए.सी.पी पद हेतू प्रयास करने की सोच रहे है, तो आपके राज्य के लोकसेवा आयोग के अधिकृत संकेस्थल से इस विषय मे जानकारी को हासिल करना होगा।

हम आपको फिरसे बता देना चाहेंगे की सीधे तौर पर इस पद हेतू कोई परीक्षा नही होती, क्रमबध्द चरणो द्वारा आपको ये पद प्राप्त करना होता है।

ए.सी.पी पद हेतू सैलरी – ACP Salary

ए.सी.पी पद पर कार्य कर रहे व्यक्ती को प्रतिमाह लगभग ८४,००० रुपये से लेकर ९५,००० रुपये तक सैलरी दी जाती है, जो के लगभग संपूर्ण भारतभर मे एक जैसी होती है कहने का तात्पर्य ये है के इसमे राज्य अनुसार ज्यादा अंतर देखने को नही मिलता।

इस तरह से अबतक आपने ए.सी.पी पद हेतू सभी आवश्यक जानकारी के बारे मे पढा जिसमे हमारी कोशिश यही थी की इस विषय के सभी महत्वपूर्ण बुनियादी पह्लूओ से आपको परिचित कराया जाये।

आशा करते है इस जानकारी को आप अच्छेसे समझे होंगे, और अगर आपको लगता है के अन्य लोगो के लिये भी ये फायदेमंद हो सकती है तो उन सभी तक इस जानकारी को साझा करे। हमसे जुडे रहने हेतू बहुत बहुत धन्यवाद…

ए.सी.पी के विषय मे अधिकतर बार पुछे जाने वाले सवाल – Gk Quiz on ACP

Q. ए.सी.पी और डी.सी.पी मे से कौनसा पद उच्च स्तर का होता है? (ACP or DCP which is higher post?)

जवाब: तुलनात्मक दृष्टी से देखे तो डी.सी.पी पद ए.सी.पी पद से उच्च स्तर का होता है।

Q. मुझे ए.सी.पी का फुल फॉर्म बताये? (Full Form of ACP)

जवाब: असिस्टंट कमिशनर ऑफ पुलिस।

Q. ए.सी.पी बनने हेतू कौनसे विभिन्न मार्ग उपलब्ध होते है? (Different ways to become an ACP officer?)

जवाब: १. संघ लोक सेवा आयोग के भारतीय पुलिस सेवा द्वारा चयन प्राप्त कर कुछ सालो की पुलिस सेवा के पश्चात ए.सी.पी पद पर नियुक्ती होती है २. राज्य लोक सेवा आयोग द्वारा राज्य पुलिस विभाग मे नियुक्त होने के बाद लगभग १५-२० साल की सेवा के पश्चात ए.सी.पी पद पर नियुक्ती की जाती है।

Q. क्या ए.सी.पी पद हेतू सीधे तौर पर भर्ती हेतू कोई परीक्षा मौजूद होती है?( Is there any kind of exam available for direct recruitment of ACP post?)

जवाब: नही।

Q. क्या महिला उम्मिद्वार को ए.सी.पी पद नियुक्त किया जाता है? (Is it possible about recruitment of female candidate on ACP post?)

जवाब: हाँ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here