इंजीनियरिंग मे दाखिला लेना है तो कैसे करें तैयारी

How to Get Admission in Engineering

उच्च शिक्षा के लिये उपलब्ध विकल्पो मे से ज्यादातर छात्रो का पसंदीदा चुनाव या तो इंजीनियरिंग या फिर चिकित्सा (Medical) की शिक्षा होता है, दुनियाभर मे करोडो छात्र हर साल इस शिक्षा धारा मे उच्च शिक्षा प्राप्त करते है। तकनिकी क्षेत्र मे विगत कुछ सालो मे आये बदलाव और नवीनीकरण के कारण छात्रो का झुकाव इंजीनियरिंग की तरफ और अधिक बढ गया है, तथा विभिन्न इंजीनियरिंग मे मौजूद ब्रांचेस मे छात्रो की संख्या भी बढती हुई नजर आती है।

पुरे भारत वर्ष मे लगभग ४००० इंजीनियरिंग कॉलेज उपलब्ध है, इसमे से कुछ सार्वजनिक तथा अन्य निजी कॉलेज है। इस लिस्ट मे कुछ ऐसे भी कॉलेज है जिसमे हर एक छात्र दाखिला लेना चाहता है, पर कुछ ही छात्रो का सपना पुरा हो पाता है। इसकी एक मुलभूत वजह ये होती है के, कुछ कॉलेज काफी उचे स्तर की शिक्षा देनेवाले तथा मानक प्राप्त होते है, जहा पर शिक्षा पुरी होने के बाद अच्छे रोजगार प्राप्त होते है। पर यहा दाखिला लेने के लिये काफी प्रतिस्पर्धा रहती है, उसी के चलते कुछ अच्छे और मेहनती छात्र भी दाखिला लेने से चूक जाते है।

इस महत्वपूर्ण लेख मे आप ऐसेही कुछ बुनियादी तथा फायदेमंद तथ्यो के बारे मे जानकारी हासिल कर पायेंगे, जिसे पढने के बाद अगर आप भी ऐसे अच्छे इंजीनियरिंग कॉलेज मे दाखिले की सोच रखते है तो आपको मार्गदर्शन प्राप्त हो जायेगा।

इंजीनियरिंग मे दाखिला लेना है तो कैसे करें तैयारी – How to Get Admission in Engineering

How to Get Admission in Engineering
How to Get Admission in Engineering

शुरुवात से कैसे करे इंजिनीरिंग तैयारी – How to Prepare for Engineering

अत्याधिक छात्रो का इस विषय मे उद्देश्य तय नही होता के उन्हे आखिर इंजिनीरिंग करनी क्यो है, इसमे अधिकतर छात्र वो होते है जिन्हे केवल अन्य लोग इस शिक्षाक्रम को चून रहे है, इसलिये उन्होने भी चून लेना चाहिये इस तरह की सोच होती है।

यहा सबसे महत्वपूर्ण चीज होती है के आपका इंजिनीरिंग करने के प्रती लक्ष्य पहले निर्धारित करे, तभी आप इसपर ध्यान केंद्रित करने की सोचे, जरूर ये चीज आपको फायदेमंद साबित होगी।

केवल शौक के खातिर या फिर भीड का हिस्सा बन आप इस शिक्षाक्रम को चुनने से बचे, क्योंकी इसका बुरा परिणाम आगे चलके आपके परीक्षा के अंको मे आने की संभावनाए अधिक होती है।

दाखिला लेने के लिये प्रमुख आवश्यक पात्रताए – Eligibility for Engineering

आपने कक्षा बारवी मध्यम तौर पर अच्छे अंक के साथ विज्ञान शिक्षा धारा से उत्तीर्ण की होनी चाहिये, इसमे आपके मुख्य विषय भौतिक विज्ञान, गणित, रसायन विज्ञान, तथा अंग्रेजी होना अनिवार्य होता है।

या फिर अगर आप कक्षा दसवी के बाद इंजिनीरिंग डिप्लोमा मे दाखिला लेते हो तो, स्नातक के लिये डिप्लोमा की ब्रांच को ही आप आगे बरकरार रख सकते हो तथा उसी ब्रांच मे इंजिनीरिंग की डिग्री हासिल कर सकते हो।

अगर आप कक्षा बारवी के बाद इंजिनीरिंग करना चाहते हो तो आपको इसके लिये आवश्यक पात्रता परीक्षा जे.ई.ई (जॉइंट एन्ट्रन्स एक्साम) अथवा बीटसाट (bitsat) को उत्तीर्ण करना अत्यंत अनिवार्य बन जाता है।

पात्रता परीक्षा पर अधिक ध्यान देना जरुरी – Entrance Exams for Engineering

जैसा के हमने शुरुवात मे बताया के अधिकतर छात्र अच्छे तथा मन पसंद कॉलेज मे दाखिला लेने का मन बना लेते है, पर आखिरकार उनका कॉलेज का चयन निर्भर करता है पूर्व मे होने वाले पात्रता परीक्षा के अंक पर।

इस अवस्था मे यहा एक महत्वपूर्ण चीज समझनी आवश्यक है के अगर आपको अच्छे कॉलेज मे दाखिला लेना है तो, आपका ज्यादातर ध्यान पात्रता परीक्षा मे अच्छे अंक हासिल करने पर होना चाहिये, इसके लिये कठोर परिश्रम तथा सही दिशा मे पढाई पे आपको ध्यान देना होगा।

इसके लिये आपको जे.ई.ई, तथा आपके राज्य की इंजिनीरिंग के लिये ली जाने वाली पूर्व पात्रता परीक्षा के विषय मे जानकारी हासिल कर उस दिशा मे पढाई करना जरूर फायदेमंद साबित होगा।जैसे के महाराष्ट्र मे एम.एच.सी.ई.टी (महाराष्ट्र कॉमन एन्ट्रन्स टेस्ट) और कर्नाटक राज्य मे क.सी.ई.टी (कर्नाटक कॉमन एन्ट्रन्स टेस्ट) जैसे परीक्षाए इंजिनीरिंग मे दाखिले हेतू ली जाती है।

अगर आप इस तरह के पूर्व पात्रता परीक्षा मे अच्छे अंक पा लेते हो तो, जरूर आपके राज्य के अच्छे अभियांत्रिकी कॉलेज मे दाखिला ले पाते हो, इसके अलावा जे.ई.ई मे अच्छे अंक प्राप्त करने पर आप पुरे भारत के अभियांत्रिकी कॉलेज मे दाखिला लेने के लिये पात्र हो जाते हो।

पात्रता परीक्षा कब होती है, तथा इसकी पात्रता क्या होती है? – Engineering Entrance Exams Information

आपको न्यूनतम बारवी कक्षा विज्ञान शिक्षा धारा से उत्तीर्ण करना अनिवार्य होता है, जिसमे भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान, गणित तथा अंग्रेजी आपके विषय होने चाहिये। बारवी की परीक्षा होने के बाद आम तौर पर इस पात्रता परीक्षा के विज्ञापन आते है, जहा छात्र परीक्षा हेतू फॉर्म भर सकते है।

अभियांत्रिकी पात्रता परीक्षा के पाठ्यक्रम संबंधी जानकारी – Engineering Syllabus

पात्रता परीक्षा के अधिकतर सवाल आपके ११ वी कक्षा एवं १२ कक्षा के पाठ्यक्रम पर आधारित होते है, इसके अलावा कुछ अद्ययावत् तरीके से पुछे जाने वाले सवालो के लिये आपको अच्छे परीक्षाभिमुख किताबो से पढाई जरुरी होती है, तथा उचित मार्गदर्शक का मार्गदर्शन लेना भी यहा आवश्यक होता है।

अभियांत्रिकी पात्रता परीक्षा के लिये कौनसी किताबे पढनी चाहिये? – Best Books for Engineering Entrance Examination Preparation

पात्रता परीक्षा मे अच्छे अंक प्राप्त करने हेतू, यहा आपको कुछ किताबे सुझाव के तौर पर दी गई है, जो के जरूर आपको फायदेमंद साबित हो सकेगी।

  • भौतिक विज्ञान:
  1. फंडामेंटल्स ऑफ फिजिक्स ( हॅलिडे, रेस्निक आणि वॉकर)
  2. कन्सेप्ट ऑफ फिजिक्स (वोल्युम १ और २ – एच. सी. वर्मा)
  3. अंडरस्टँडिंग फिजिक्स – डी. सी. पांडे (इलेक्ट्रिसिटी और मैग्नेटिझम, ऑप्टिक्स और मॉडर्न फिजिक्स, मेकानिक्स वोल्युम १ और २, वेव्ह्स और थर्मोडायनामिक्स)
  • गणित:
  1. अलजेब्रा बाय डॉ. एस.के गोयल(अरिहंत पब्लिकेशन)
  2. ओब्जेक्टीव मॅथेमॅटिक्स – आर. डी. शर्मा
  3. कम्प्लीट मॅथेमॅटिक्स फॉर जेईई मेन
  • रसायन विज्ञान:
  1. ओर्गानिक केमिस्ट्री बाय ओ.पी. टंडन
  2. एन.सी.ई.आर.टी टेक्स्ट बुक ११ वी और १२ वी
  3. संक्षिप्त अजैविक रसायनशास्त्र – जे.डी ली

तैयारी के लिये कितना समय आवश्यक होता है? – Engineering Admission Process

अगर आपका लक्ष्य अभियांत्रिकी मे अच्छी शिक्षा प्राप्त करना है, तथा एक अच्छे कॉलेज मे आप दाखला लेने की सोचते है तो कक्षा ग्यारवी से आपको अभियांत्रिकी के लिये ली जाने वाली राष्ट्रीय तथा राज्य स्तर की परीक्षा हेतू तैयारी करना शुरू करना उचित रहता है।

इसके साथ आपके बुनियादी शिक्षा के संकल्पनाओ को अधिक मजबूत करने पर जोर देने की कोशिश करिये, जो के कक्षा ८, ९, १० अत्यंत आवश्यक शिक्षा पाडाव होते है। इस तरह से ३-४ साल आपको निरंतर पढाई पे जोर देना होता है, जिससे भविष्य मे आपको अच्छा कॉलेज मिलता है तथा आपको एक अच्छा कैरियर बनाने का मौका भी मिल जाता है।

पात्रता परीक्षा की तैयारी हेतू कुछ महत्वपूर्ण कोचिंग संस्था – Top Engineering Colleges Entrance Exam

  1. टॉपर्स अ‍ॅकॅडमी
  2. एलन
  3. रेजोनंस
  4. एफ.आय.आय.टी.जे.ई.ई
  5. नारायणा
  6. आकाश
  7. व्हायब्रंट अ‍ॅकॅडमी
  8. पेस अकादमी, इत्यादी।…….

पात्रता परीक्षा हेतू आवश्यक सुझाव – How to Prepare for Engineering Entrance Exams

  • सातत्यपूर्ण पढाई करना:

निरंतर आपको सवालो के जवाब खोजने की आदत एक अच्छी चीज यहा साबित हो सकती है, इसके अलावा रोज नया कुछ सिखने की कोशिश करे। पढाई मे सातत्य रखना यहा आपके लिये परम आवश्यक चीज बन जाती है।

  • सवालो को स्वयं सुलझाने की आदत डाले:

जितना आप खुद्से सवालो के जवाब खोजने की एवं उन्हे सुलझाने का प्रयास करेंगे उतना आपको इस परीक्षा मे सफलता प्राप्त करने हेतू मदद मिलेगी।

  • सही किताबो का चयन करे:

हमेशा पात्रता परीक्षा के तैयारी हेतू अच्छे किताबो का चयन करे, जिससे आपको सही मार्गदर्शन मिल पाये।

  • पिछले सालो के प्रश्न पत्र हल करे:

जितना हो सके उतना पिछले कुछ सालो के इस परीक्षा के प्रश्न पत्र हल करने की आदत अपनाईये,इससे आपका मनोबल बढने मे मदद मिलती है तथा उचित समय पर प्रश्न सुलझाने की कला आपमे आ जाती है।

निष्कर्ष: 

दी गई संपूर्ण जानकारी एक मार्गदर्शन के तौर पर दी गई है, जिसका बुनियादी फायदा सभी अभियांत्रिकी के लिये इच्छुक छात्रो को हो सकता है। हालाकि आपको अपने मन पसंद अभियांत्रिकी ब्रांच के बारे मे शुरुवात से ही जानकारी इकठ्ठा करना चाहिये जिसमे कॉलेज के विकल्प, शिक्षा शुल्क, पाठ्यक्रम इत्यादी शामिल है। कोई भी अभियांत्रिकी ब्रांच आप चुने सभी स्थिती मे दी गई जानकारी आपके लिये लाभदायक साबित होती है।

इस विषय पर अधिकतर बार पुछे गये सवाल (FAQ)

१. अभियांत्रिकी मे दाखिला लेने से पूर्व मै क्या पढू?

जवाब: आपको अधिकतर भौतिक विज्ञान तथा गणित विषय पर अधिक ध्यान केंद्रित करना चाहिये।

२. एक सफल इंजिनियर बनने के लिये किस तरह के कौशल की जरुरत होती है?

जवाब: १. प्रॉब्लेम सोल्विंग की क्षमता २. टिम वर्क की आदत ३. संभाषण की कला ४. कलात्मकता ५. चीजो को विस्तार से समझने की कला ६. कम्प्युटर तथा तकनिकी चीजो की बुनियादी जानकारी

३. इंजिनियर बनने के लिये कितना खर्च लगता है ?

जवाब: तकरीबन ४ लाख – ३० लाख तक खर्च होता, जो के आपके कॉलेज, शिक्षा संबंधी अन्य चीजे, तथा रहने वगैरह चीजो के नियोजन पर निर्भर होता है।

४. अभियांत्रिकी करने के बाद भविष्य मे क्या रोजगार विकल्प होते है?

जवाब: जिस भी ब्रांच मे आप अभियांत्रिकी करते है उससे संबंधित क्षेत्र मे रोजगार के अच्छे विकल्प सामने आते है, जैसे कम्प्युटर अभियांत्रिकी के छात्र भविष्य मे कम्प्युटर के क्षेत्र मे अच्छे रोजगार प्राप्त कर सकते है। इसके अलावा सार्वजनिक क्षेत्र मे भी रोजगार संबंधी विकल्प उपलब्ध होते है।

५. अभियांत्रिकी करने के बाद मै कितना कमा सकता हु?

जवाब: ये आपके अभियांत्रिकी के ब्रांच के उपर निर्भर करता है।

६. अभियांत्रिकी की डिग्री पुरी करने के लिये कितना समय लगता है?

जवाब: आम तौर पर ये डिग्री ४ साल की होती है, परंतु ये आपके उचित समय पर पुरा करने पर निर्भर होता है, अन्यथा तय समय से ज्यादा वक़्त भी लग सकता है।

७. अभियांत्रिकी के लिये भारत मे सबसे बढीया कॉलेज कौनसा है?

जवाब: भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, मद्रास ( Indian institute of technology- Madras) भारत मे अभियांत्रिकी के लिये सबसे बढीया कॉलेज है, इसके अलावा बिट्स पिलानी (बिर्ला इन्स्टीट्युट ऑफ टेक्नोलॉजी तथा साइंस) इत्यादी अच्छे विकल्प उपलब्ध है।

Gyanipandit.com Editorial Team create a big Article database with rich content, status for superiority and worth of contribution. Gyanipandit.com Editorial Team constantly adding new and unique content which make users visit back over and over again.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.