रहस्य भरी दुनिया का एक और हिस्सा “बरमूडा ट्रायंगल” क्या हैं इसका रहस्य?

Bermuda Triangle ka Rahasya

संसार में अनगिनत रहस्य हैं जो एक ऐसी पहेलियाँ बन गयी हैं जिन्हें आधुनिक तकनीकों की मदद से भी सुलझाया नही जा सका है। ऐसे ही रहस्यों में छिपा है अमेरिका के दक्षिण पूर्वी तट पर बना बरमूडा ट्रायंगल।

इस इलाके में आज तक बड़े से बड़े हवाई जहाज़ आश्चर्यजनक रूप से गायब हो गये हैं व दल और बल दोनों की सहायता से आज तक उनका पता नही लगाया जा सका है।

रहस्य भरी दुनिया का एक और हिस्सा “बरमूडा ट्रायंगल” क्या हैं इसका रहस्य? – Bermuda Triangle

Bermuda Triangle
Source: Bermuda Triangle

बरमूडा ट्रायंगल क्या हैं – What is Bermuda Triangle

बरमूडा को यह नाम 1964 में मिला था। बरमूडा त्रिभुज अमेरिका के फ्लोरिडा,प्यूर्टोरिको और बरमूडा द्वीप इन तीनों जगहों को जोड़ने वाला एक काल्पनिक ट्रायंगल है। इसे शैतान के त्रिकोण यानी Devil’s Triangle भी कहते हैं।

हादसा: अचानक जहाज़ और यात्री गायब – Bermuda Triangle Stories

बरमूडा ट्रायंगल पर 05 दिसंबर 1945 में एक ऐसा हादसा हुआ था। जिससे दुनिया भर के वैज्ञानिक सिर्फ सोच विचार ही करते रह गए थे। हुआ यूँ था की अमेरिका नेवी के पांच पेशेवर पायलट अपनी प्रशिक्षण अभ्यास के दौरान बरमूडा त्रिकोण की ओर निकल पड़े थे।

लेकिन सिर्फ एक घंटा 45 मिनट के बाद फ्लाइट लीडर लेफ्टिनेंट चार्ल्स टेलर ने नियंत्रण केंद्र में संदेश पहुंचाया कि यहां कुछ अजीब और गरीब गतिविधियां घटित हो रही हैं। चार्ल्स ने बताया की उनके पास तीन कंपास (Navigational Compasses) हैं जिन्होंने काम करना बंद कर दिया है। उन्हें नही मालूम था की वह कौन सी दिशा में हैं।

समुन्दर का रूप भी बेहद अलग था। थोड़ी ही देर बाद उनका सम्पर्क नियंत्रण केंद्र से टूट गया था। इस घटना में पायलट कहां लापता हो गए किसी को नही पता चल पाया।

चार्ल्स के दल को ढूंढ़ने के लिए दूसरा विमान भी भेजा गया पर महज़ 27 मिनट में उसका सम्पर्क भी कंट्रोल सेंटर से टूट गया और जहाज़ और पायलटों का कोई सुराग तक नही मिल पाया था। त्रिकोण से सम्बंधित ऐसी अनेक घटनायें हैं जिनके कारण बरमूडा अभी तक एक रहस्य बना हुआ है।

त्रिकोण से जुड़े दस्तावेज़, क्रिस्टोफर कोलंबस – Bermuda Triangle Theories

बरमूडा त्रिकोण के बारे में अद्भुत और अविश्वसनीय दस्तावेज़ प्रस्तुत करने वाला सबसे पहला व्यक्ति क्रिस्टोफर कोलंबस था। कोलंबस ने बताया था कि उसने और उसके साथियों ने क्षितिज पर बिजली का एक अजीब सा करतब देखा था। उन्हें आसमान में आग की कुछ लपटें भी दिखाई दी थी।

कोलंबस ने यह सब बातें अपनी लाग बुक में लिखी थी। इस लाग बुक की जांच कर रहे आधुनिक विद्वानों ने यह अनुमान लगाया है कि कोलंबस द्वारा देखा गया प्रकाश टेनो के रहवासियों द्वारा उनकी डोंगियों में लगाई गयी आग से उत्पन्न हुआ था।

अमेरिका ने किया शोध, निकला निष्कर्ष – Bermuda Triangle Mystery Solved

अमेरिका द्वारा एक शोध किया गया था। जिसमें बताया की समुद्री क्षेत्र के बड़े हिस्से में मिथेन गैस का भण्डार है। जिसके कारण अधिक बुलबुले उठते हैं और जहाज़ गायब हो सकते हैं। इसके अलावा यह एक अत्यधिक चुम्बकीय क्षेत्र होने के कारण लोहे से बनी वस्तुएं यहां काम करना बंद कर देती हैं और विमान अपना रास्ता भटक जाते हैं और दुर्घटना का शिकार हो जाते हैं।

विज्ञान आज दिन दुगनी रात चौगनी तरक्की बेशक कर गया हो पर बरमूडा के रहस्यों से जुड़ा कोई भी कथन आज तक पूरी प्रमाणिकता के साथ सामने नही आया है।

Read More:

Loading...

Hope you find this post about ”Bermuda Triangle” useful. if you like this Article please share on Facebook & Whatsapp. and for latest update download: Gyani Pandit free android app.

5 COMMENTS

    • धन्यवाद जी, हमारा मनोबल बढ़ाने के लिए और हमारे पोस्ट को पसंद करने के लिए। हम आगे भी इस तरह के पोस्ट अपडेट करते रहेंगे।

    • धन्यवाद मनजीत सिंह जी, हमें यह जानकर अच्छा लगा कि आपको हमारा यह पोस्ट पसंद आया। हम आगे भी अपनी वेबसाइट में इस तरह के पोस्ट अपलोड करते रहेंगे। हमें उम्मीद है कि आपको सभी पसंद आए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.