विश्व की सबसे ऊँची इमारत बुर्ज ख़लीफ़ा का इतिहास और जानकारी

Burj Khalifa History in Hindi

दुनियाभर में विविध प्राकृतिक सुंदरता और पर्यटन के दृष्टी से आकर्षण का केंद्र बने हुए स्थान मौजूद है, इसमें से सात अजूबो को तो आपमे से सभी लोग जानते होंगे, जिनकी कारागिरी सही मायनो में बेजोड़ है। पर आधुनिक जीवनशैली में स्थापत्यकला में आये नवीनीकरण से आज के युग में कई सारी अतिविशाल इमारत, बाँध, फ्लाई ओवर इत्यादि का निर्माण हुआ है।

पर पिछले कई सालो से दुनियाँ भर के लोगो का आकर्षण और चर्चा का विषय बनी हुई एक इमारत है जिसे दुनिया की आजतक की सबसे ऊँची इमारत का दर्जा प्राप्त है, जी हा हम बात कर रहे है ‘बुर्ज ख़लीफ़ा'(Burj Khalifa) की जिसे आप में से बहुत कम लोग जानते होंगे।

विश्व की सबसे ऊँची इमारत बुर्ज ख़लीफ़ा का इतिहास और जानकारी – Burj Khalifa History in Hindi

Burj Khalifa History in Hindi
Burj Khalifa History in Hindi

बुर्ज खलीफा का इतिहास – History of Burj Khalifa

दुनिया की सबसे ऊँची इमारत के तौर पर जानेवाली बुर्ज खलीफा का निर्माण कार्य साल २००४ में सबसे पहले शुरू हुआ था, जिसे बनने के लिए लगभग पाँच साल का समय लगा जिसके लिए तक़रीबन १२००० कारागिरो ने कार्य किया था। ये भव्य मंजिला इमारत संयुक्त अरब अमिरात के ‘दुबई’ शहर में स्थित है, जिसे शुरुवाती दिनों में ‘बुर्ज दुबई’ या ‘ख़लीफ़ा टॉवर’ के नामसे जाना जाता था।

१ अक्टूबर २००९ को इस इमारत का निर्माण कार्य पूरा किया गया था, जिसने चीन के शांघाई टॉवर को ऊँचाई के मामले में मात देते हुए दुनिया में अव्वल क्रम प्राप्त किया जो के अब तक बरकरार है।

Information About Burj Khalifa
Information About Burj Khalifa

आपको बता दे के ६ जनवरी २००४ को इस भव्य मंजिला इमारत का निर्माण कार्य आरंभ किया गया था, जिसमें इस इमारत का डिज़ाइन बनाने का कार्य अमेरिका के जाने माने आर्किटेक्चर फर्म स्किडमोर ओविंग्ज एंड मोरिल को दिया गया था। जिसके अंतर्गत इसी फर्म के कुशल आर्किटेक्चर एड्रियन स्मिथ ने बुर्ज खलीफा का डिज़ाइन बनाने का कार्य किया था।

कुल १३२५ दिनों तक चले निर्मिति कार्य में कारागिरो ने दिन रात कड़ी मेहनत करके इस आलीशान इमारत का निर्माण किया जिसकी खूबसूरती देखते ही बनती है।

मुख्य रूप से बुर्ज खलीफा के निर्माण का कार्य दक्षिण कोरिया की अग्रक्रम स्थापत्य निर्माण कंपनी सैमसंग सी एंड टी(Samsung C&T) को दिया गया था पर आगे काम बहुत जटिल और अधिक होने के कारण इस कंपनी ने संयुक्त रूप से बेल्जियम की कंपनी बेसिक्स और संयुक्त अरब की कंपनी अरब टेक के साथ मिलकर इस इमारत को बनाने का कार्य किया गया।

बुर्ज खलीफा की ऊँचाई २७१७ फीट यानि के ८२८ मीटर है, जिसको बनाने के लिए अलग तरीके के क्रेनों का इस्तेमाल किया गया था जो के केवल इस इमारत को बनाने हेतु निर्माण किये गए थे।

बुर्ज ख़लीफ़ा से जुडी दिलचस्प जानकारी – Facts about Burj Khalifa

बात करे इस इमारत में कुल १६३ मंजिला (Floors) मौजूद है, जिसमे से १५४ फ्लोर आम तौर पर उपयोग किये जाते है, वही अन्य नौ फ्लोर इमारत की सुरक्षा और रखरखाव हेतु आरक्षित तौर पर रखे गए है।

इमारत के अंदर लगभग २९५७ पार्किंग स्थान मौजूद है इसके साथ ३०४ होटल रूम्स और लगभग ९०० अपार्टमेंट मौजूद है।

इस प्रकार से आपने अब तक विश्व की सबसे विशाल ऊँचाई वाली इमारत के बारे में महत्वपूर्ण और मजेदार जानकारी को जाना, हमें विश्वास है आपको ये जानकारी बहुत पसंद आयी होगी। इसे अन्य लोगो तक पहुंचाने हेतु लेख को अवश्य शेयर करे तथा हमारे अन्य जानकारीपूर्ण लेख जरूर पढ़े, हमसे जुड़े रहने के लिए बहुत बहुत धन्यवाद।

बुर्ज खलीफा के बारे में अधिकतर बार पूछे जाने वाले सवाल – Burj Khalifa Quiz Questions Answers

  • विश्व की सबसे ऊँची इमारत बुर्ज खलीफा कहाँ पर स्थित है? (Where is Burj Khalifa?)
    जवाब: संयुक्त अरब अमिरात के दुबई शहर में।
  • बुर्ज खलीफा कुल कितनी मंजिला इमारत है? (How many floors are there in Burj Khalifa?)
    जवाब: १६३।
  • बुर्ज खलीफा में कुल कितने रूम्स मौजूद है? (How many rooms are there in Burj Khalifa?)
    जवाब: ३०४।
  • दुनिया में ऊँचाई में अग्रक्रम इमारत बुर्ज खलीफा की कुल ऊँचाई कितनी है? (Height of Burj Khalifa?)
    जवाब: २७१७ फ़ीट यानि के ८२८ मीटर।
  • बुर्ज खलीफा का निर्माण कार्य किसने किया है? (Who built Burj Khalifa?)
    जवाब: सैमसंग सी एंड टी(Samsung C&T) स्थापत्य निर्माण कंपनी ने बुर्ज खलीफा का निर्माण किया है, जिसमे इनके साथ बेल्जियम की बेसिक्स और संयुक्त अरब की अरब टेक कंपनी का साझा योगदान था।
  • बुर्ज खलीफा इमारत का इस्तेमाल प्रमुखता से किन चीजों के लिए किया जाता है? (Burj Khalifa used for what?)
    जवाब: बुर्ज खलीफा दुनिया भर के पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र बना हुआ है जिसके वजह ये इमारत पर्यटन स्थल के रूप में उपयोग की जाती है जिसे देखने हेतु १९०० रूपये से लेकर लगभग ७५०० रूपये तक एंट्री फी भी देना होता है, इसके अलावा यहाँ पर हॉटेलिंग की सुविधा मौजूद है जिसमे ३०४ कमरे है जहाँ पर पर्यटक रह सकते है।लगभग ९०० अपार्टमेंट इस बिल्डिंग में मौजूद है जिसमे लोग रहते भी है जिसको रेजिडेंशियल विभाग के अंतर्गत रखा गया है। इसके अलावा ढेर सारे रेस्टॉरेंट आपको इस इमारत में मिल जाते है जहाँ खानपान से संबंधित सेवाएँ मौजूद होती है, वही कॉर्पोरेट ऑफिस भी इस इमारत के अंतर्गत बनाये गए है जहाँ रोजगार से संबंधित कार्य भी किये जाते है। सबसे ऊपरी मंजिला से संपूर्ण दुबई का नजारा काफी सुहावना दिखता है जिसे ‘टॉप स्काई ऑब्जर्वेटरी’ के नामसे जाना जाता है जो के पर्यटकों को बेमिसाल खूबसूरती की अनुभूति देता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *