विश्व के सबसे शानदार अजूबो की अनसुनी जानकारी…

List of Wonders in The World

List of Wonders in The World
List of Wonders in The World

विश्व के सबसे शानदार अजूबो की अनसुनी जानकारी – List of Wonders in The World

चिचेन इत्ज़ा  (Chichen Itza)

यह मेक्सिको में स्थित बहुत पुराण मयान मंदिर है जिसे 600 ईस्वी में बनाया गया था। यहाँ हर साल 1.4 मिलियन पर्यटक घूमने के लिए आते है। यह 79 फुट ऊंचा व 5 किलोमीटर में फैला हुआ है। इसमें ऊपर जाने के लिए चारो दिशाओ से सीढ़ियां बनी हुई है व कुल 365 सीढ़िया है यानि हर दिशा में 91 सीढ़ियां मौजूद है। इसके अलावा यहाँ चक मूल का मंदिर, पिरामिड ऑफ़ कुकुलकन, कैदियों के खेलने का मैदान व हजार स्तम्भों का हॉल बना हुआ है।

क्राइस्ट रेडेण्टर स्टेचू ( Christo Redentor Statue)

यहाँ पर प्रभु यीशु मसीह की 38 मीटर, 28 मीटर चौड़ी व 130 फ़ीट ऊंची मूर्ती बनी हुई है। इससे ऊंची मूर्ती अभी तक कोई नहीं है परन्तु अब भारत में बनायीं गयी सरदार वल्लभ भाई पटेल की मूर्ती (स्टैचू ऑफ यूनिटी)  विश्व की सबसे बड़ी मूर्ती के रूप में जानी जाएगी।

यह कंक्रीट व पत्थरो से बनी हुई है जिसका निर्माण 1922 में शुरू किया गया था व 1931 में इसे स्थापित किया गया। यह ब्राजील के रिओ दी जेनेरियो में स्थित है। इसे फ्रेंच के महान मूर्तिकार लेन्डोवस्की द्वारा तैयार किया गया था। यह विश्व में ईसाई धर्म का प्रतीक मानी जाती है।

चीन की दीवार ( The Great Wall Of China)

यह दीवार चीन के राजाओ द्वारा देश की सुरक्षा के लिए बनायीं गयी थी। इसे 7वीं शताब्दी से 16वीं शताब्दी के बीच में बनाया गया था। इसे ग्रेट वाल ऑफ़ चाइना के नाम से पहचाना जाता है जोकि काफी मजबूत व विशाल है। यह 35 फ़ीट ऊंची है व 6400 किलोमीटर में फैली हुई है। वैज्ञानिको के अनुसार यह अंतरिक्ष से भी दिखाई देती है।

पेट्रा (Petra)  –

यह साउथ जॉर्डन में स्थित एक शहर है जिसकी कलाकृति सात अजूबो में से एक है। यह शहर चट्टानों को काटकर बनायीं गयी वास्तुकला व पानी की नालीनुमा प्रणाली के कारण काफी प्रसिद्ध है। यहाँ पर पत्थर को काटकर लाल रंग की कलाकृति बनाई गयी है जिससे इसे रोस ऑफ़ सिटी के नाम से भी जाना जाता है।

यहां ऊंचे ऊंचे मंदिर व तालाब और नहरे है। इस शहर को 312 BC में बसाया गया था। यह शहर जॉर्डन का मुख्य आकर्षण केंद्र है व यहाँ बहुत सारे पर्यटक आते है।

ताजमहल  (Tajmahal)

इसका निर्माण 1632 में शाहजहाँ द्वारा अपनी पत्नी की याद में किया गया था। इसे प्यार की निशानी के तौर पर जाना जाता है। यह अपनी खूबसूरत आकृति व कलाकृति के कारण दुनिया के सात अजूबो में से एक माना जाता है।

यह संगमरमर का बना हुआ है ताजमहल का निर्माण करने में 15 साल लगे थे। शाहजहां ने इसे बनाने वाले सारे मजदूरों के हाथ कटवा दिए थे ताकि वे ऐसा कुछ दूसरा न बना सके। यह भारत की शान है जोकि आगरा में स्थित है।

रोम का कोलॉज़ियम  (Rom Colleseum)

यह रोम में स्थित एक विशाल स्टेडियम है जोकि इटली शहर में बसा हुआ है। इसका निर्माण 72AD से लेकर 80AD हुआ था। यह एक ओवेल शेप की विशाल आकृति है जिसे रेत व कंक्रीट से बनाया गया था। यह भूकंप व प्राकृतिक आपदा से थोड़ी ध्वस्त हुई है परन्तु यह अब भी दुनिया के सात अजूबो में से एक है। यहाँ पर 50 हजार से लेकर 80 हजार लोग बैठ सकते है। यह 24 हजार वर्गमीटर में फैली हुई है जहा कई सारे सांस्कृतिक प्रोग्राम, जानवरो की लड़ाई, व खेल कूद किये जाते है।

माचू पिच्चू  (Machu Pichchu)

यह शहर दक्षिण अमेरिका के पेरू में समुद्र तल से 2430 मीटर की ऊँचाई पर स्थित शहर हुआ करता था। इसका निर्माण राजा पिच्चू ने 1400 ईस्वी पूर्व कराया था, स्पेन ने राज्य पर हमला कर विजय प्राप्त की व इस राज्य को ऐसे ही छोड़ दिया व इसका रखरखाव न होने के कारण यहाँ की सभ्यता नष्ट हो गयी थी जिस वजह से यह जगह गुम हो गयी थी।

1911 में अमेरिका के इतिहासकार हीराम बिंघम द्वारा इसकी खोज की व इसे दुनिया के सामने लाये तथा 1983 में यूनेस्को ने इसे विश्व धरोहर घोषित किया।  माचू पिच्चू  पर इंका सभ्यता की कलाकृति व चीज़े आज भी देखी जा सकती है जोकि लोगो का ध्यान अपनी और आकर्षित करती है।

द ग्रेट पिरामिड ऑफ़ गिजा  (The great Pyramid Of Giza)

यह दुनिया का सबसे पुराना व सबसे बड़ा पिरामिड है। इस पिरामिड को एक विशेष सम्मान प्राप्त है। यह प्राचीन 7 अजूबो में गिना जाता है। इसकी ऊँचाई 146.5 मीटर है। इजिप्ट में स्थित एक बहुत पुरानी कलाकृति है जोकि 2580-2560 में स्थापित की गयी थी व यह 2583283 क्यूबिक मीटर में फैली हुई है।

लीनिंग टावर ऑफ़ पीसा  (Leaning Tower Of Peesa)

यह टावर पीसा में स्थित है जिसका निर्माण 14 अगस्त 1173 को किया गया था। यह अपने झुके हुए आकार  के कारण विश्वभर में प्रसिद्ध है व यह अभी तक अच्छी तरह से स्थिर है तथा इसे कुछ नहीं हुआ है।

रोमन बाथ्स  (Roman Baths)

यह रोम में स्थित है जिसका उपयोग इतिहास में स्नानघर के तौर पर आम लोगो द्वारा किया जाता था। यह 6वीं शताब्दी में नष्ट हो चुका था। परन्तु 1800 में इसे पुनः स्थापित किया गया था। यह लोगो को अपनी कलाकृति के कारण मोह लेता है व यहाँ हर साल 1 मिलियन से ज्यादा लोग घूमने के लिए आते है। इसे 2005 में सात अजूबो में शुमार किया गया था।

Read More:

  1. ताजमहल का इतिहास और रोचक तथ्य
  2. Eiffel tower history information
  3. क़ुतुब मीनार का इतिहास और रोचक तथ्य
  4. लाल किले का इतिहास और जानकारी
  5. क्या हैं रामसेतु का सच जाने पूरा इतिहास
  6. Tallest Building in The World

Note: अगर आपके पास List of Wonders in The World मैं और Information हैं। या दी गयी जानकारी मैं कुछ गलत लगे तो तुरंत हमें कमेंट मैं लिखे हम इस अपडेट करते रहेंगे।
अगर आपको हमारी Information About List of Wonders in The World अच्छी लगे तो जरुर हमें Facebook पे Like और Share कीजिये।
Note: E-MAIL Subscription करे और पायें All Information List of Wonders in The World आपके ईमेल पर।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.