महिलाओं के लिए करियर के विकल्प

Career Options for Women in Hindi

आज हर क्षेत्र में महिलाएं पुरुषों के साथ कंधे से कंधे मिलाकर चल रही हैं, आज कोई भी क्षेत्र ऐसा नहीं है जहां महिलाएं पुरुषों से पीछे हों। पहले की तरह अब महिलाएं घर की रसोई तक सीमित नहीं है, बल्कि वे अपने घरों से बाहर निकलकर अपनी एक अलग पहचान बना रही हैं और अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन कर खुद को दुनिया के सामने साबित कर रही हैं।

इसके साथ ही आज के दौर में महिलाओं के प्रति लोगों की मानसिकता बदली है, और महिलाओं की शिक्षा पर जोर दिया गया है। जिससे महिलाओं को अपनी इच्छाएं और सपनों को साकार करने में मदत मिल रही है।

वहीं अगर करियर के विकल्पों और जॉब की संभावनाओं की बात करें तो आज हर क्षेत्र में महिलाओं के लिए ढेरो विकल्प मौजूद है। यही वजह है कि आज ज्यादातर महिलाएं कामकाजी हैं और अपने घर में आर्थिक रुप से भी सहयोग दे रही हैं।

वहीं अगर आप भी कुछ ऐसे विकल्पों की तलाश में हैं जहां आप अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन कर सकें और अच्छा वेतन पा सके तो इसके लिए हम आपको कुछ करियर ऑपशन्स के बारे में बता रहे हैं, जिनका चयन करना आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है –

महिलाओं के लिए करियर के विकल्प – Career Options for women

Career Options for women
Career Options for women

महिलाओं के लिए एयरहोस्टेस है एक बेहतर करियर विकल्प – Career in Air Hostess

एयरहोस्टेस का कोर्स आजकल महिलाओं के बीच काफी लोकप्रिय कोर्स हैं, वहीं अगर आपको घूमना-फिरना या नए-नए लोगों से बातें करना अच्छा लगता है, और इसके साथ ही आप गुड लुकिंग हैं एवं आपकी कम्यूनिकेशन स्किल भी अच्छी है, तो ऐसे में आपके लिए एयरहोस्टेस का कोर्स एक बेहतर करियर विकल्प साबित हो सकता है।

एयरहोस्टेज को वेतन भी अच्छा मिलता है, इसके साथ ही अलग-अलग जगहों पर जाकर बड़े होटल में ठहरने और नए-नए लोगों से बातचीत करने का मौका मिलता है। एयरहोस्टेज बनने के लिए आपके अंदर धैर्य, संयम, साहस और समर्पण के साथ मेहनत के साथ काम करने के गुण होने चाहिए।

एयरहोस्टेस के लिए शैक्षणिक योग्यता – Eligibility for Air Hostess

एयरहोस्टेस के लिए 12वीं पास होना अनिवार्य है, इसके बाद किसी भी मान्यता प्राप्त इंस्टीट्यूट से एयरहोस्टेस का कोर्स कर सकते हैं।

एयरहोस्टेस के लिए जरूरी स्किल्स – Air Hostess Skills

  • जिम्मेदार
  • आत्मविश्वासी और स्मार्ट
  • सुंदर, आकर्षक और पोलाइट पर्सनैलिटी
  • फिजिकल रुप से फिट होना जरूरी
  • पॉजिटिव एटीट्यूड
  • अच्छी कम्युनिकेशन स्किल्स
  • अच्छा सेंस ऑफ़ ह्यूमर

उम्र – Age

एयर होस्टेस बनने के लिए एक आयु सीमा 18-25 साल रखी गई है।

एयरहोस्टेस के लिए जॉब की संभावनाएं – Jobs for Air Hostess

इस क्षेत्र में डोमेस्टिक से लेकर इंटरनेशनल और प्राइवेट एयलाइंस में जॉब की काफी संभावनाएं हैं, इसमें एयर इंडिया, सहारा इंडिया, इंडियन एयरलाइंस, इंडियन एयलाइंस, टाटा, जेट एयरवेज, गो एयर समेत कई एयरलाइंस अच्छे सैलरी पैकेज पर एयरहोस्टेस को जॉब ऑफर करती हैं।

भारत में एयरहोस्टेस को मिलनेवाला वेतन- Air Hostess Salary in India

डोमेस्टिक एयरलाइंस की एयर होस्टेस की करीब 35 हजार से 50 हजार रुपए तक से सैलरी की शुरूआत होती है, वहीं इंटनेशनल एयरलाइंस की एयरहोस्टेस की सैलरी आमतौर पर डोमेस्टिक एयर होस्टेस से ज्यादा होती है। वहीं बाद में वर्क एक्सपीरियंस के हिसाब से एयरहोस्टेस की सैलरी में भी बढ़ोतरी की जाती है।

एयरहोस्टेस के कोर्स के लिए इंटरव्यू इंस्टीट्यूट – Air Hostess Institute in India

भारत में कई ऐसे इंस्टीट्यूट हैं जो एयर होस्टेस का कोर्स करवाते हैं, जिनमें से कुछ प्रसिद्ध इंस्टीट्यूट के नाम नीचे दिए गए हैं –

जर्नलिज्म एंड मास कम्यूनिकेशन में करियर बनाने का सुनहरा मौका – Careers in Journalism and Mass Communication

जर्नलिज्म का क्षेत्र काफी बड़ा क्षेत्र हैं इसमें कई सारे करियर के विकल्प मौजूद हैं, इस फील्ड में न सिर्फ लोगों को अच्छा पैसे कमाने का मौका मिलता है बल्कि बड़ी-बड़ी हस्तियों से मिलने का और खुद की प्रतिभा को निखारने का भी मौका मिलता है।

हालांकि, यह काफी चुनौतीपूर्ण और जोखिमभरा फील्ड है, वहीं जर्नलिस्ट की जॉब काफी सम्मान की भी जॉब है, पत्रकारों से बड़े-बड़े राजनेता भी खौफ खाते हैं, वहीं अगर आप भी इस फील्ड में अपना करियर बनाना चाहती हैं और अंजना ओमकश्यप और बरखा दत्त की तरह नाम कमाना चाहती हैं तो आपके पास अच्छी कम्यूनिकेशन स्किल्स के साथ-साथ सभी विषयों की जानकारी, प्रेंजेस ऑफ माइंड और अच्छा सेंस ऑफ ह्यूमर होना बेहद जरूरी है, तभी आप इस फील्ड में खुद को साबित कर सकेंगी।

जर्नलिज्म के लिए शैक्षणिक योग्यता – Eligibility for Journalism

इस क्षेत्र में डिग्री, मास्टर डिग्री या फिर डिप्लोमा कोर्सेस कर सकते हैं। मास कम्यूनिकेशन के डिग्री या फिर डिप्लोमा कोर्स के लिए 12वीं पास होना जरूरी है। जबकि मास्टर्स इन मास कम्यूनिकेशन के लिए बैचलर इन मास कम्यूनिकेशन की डिग्री जरूरी है। आपको यह भी बता दें कि कई संस्थान ग्रेजुएशन के बाद 1 साल का पीजी डिप्लोमा कोर्स भी ऑफर करते हैं।

जर्नलिज्म के लिए जरूरी स्किल्स- Journalism Skills

  • अच्छी कम्यूनिकेशन स्किल्स
  • अच्छी राइटिंग स्किल्स
  • आत्मविश्वास
  • आर्कषक पर्सनैलिटी

मास कम्यूनिकेशन एवं जर्नलिज्म के प्रमुख कोर्सेज – Mass Communication Course

  • बैचलर डिग्री इन मास कम्यूनिकेशन
  • पीजी डिप्लोमा इन ब्रॉडकास्ट जर्नलिज्म
  • एमए इन जर्नलिज्म
  • डिप्लोमा इन जर्नलिज्म
  • जर्नलिज्म एंड पब्लिक रिलेशन
  • पीजी डिप्लोमा इन मास मीडिया

जर्नलिज्म की पढ़ाई के लिए इंस्टीट्यूट – Institute for Journalism

  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्यूनिकेशन
  • माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता व संचार विश्वविद्यालय
  • एशियन कॉलेज ऑफ जर्नलिज्म
  • मास मीडिया रिसर्च सेंटर, जामिया मिलिया इस्लामिया
  • जेवियर इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्यूनिकेशन
  • सिम्बायोसिस इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्यूनिकेशन

जॉब की संभावनाएं – Jobs in Journalism

इस क्षेत्र में राइटर, एंकर, स्क्रिप्ट राइटर, प्रोड्यूसर, बुलेटिन प्रोड्यूसर या फिर मैनेजर के तौर पर न्यूज एजेंसी, प्राइवेज और सरकारी न्यूज चैनल, न्यूजपेपर, प्रोडक्शन हाउस, फिल्म मेकिंग, प्रसार भारती, पब्लिकेशन डिजाइन समेत अन्य मीडिया संस्था में नौकरी कर सकते हैं। इसके साथ ही इस क्षेत्र में फ्रीलान्सिंग कर भी पैसे कमाए जा सकते हैं।

फैशन डिजाइनिंग में करियर बनाना एक बेहतर विकल्प – Careers in Fashion Designing

आजकल फैशन डिजाइनिंग का कोर्स काफी लोकप्रिय कोर्सेस में से एक है। आजकल मॉडर्न और ग्लैमरस दुनिया में लोगों का रुझान इस तरफ और भी अधिक बढ़ रहा है, वहीं अगर आप क्रिएटिव हैं और आपकी रुचि लाइफस्टाइल और फैशन में है, इसके साथ ही आपको लेटेस्ट ट्रेंड और फैशन स्टाइल के बारे में जानकारी है तो आपके लिए यह एक अच्छा करियर विकल्प साबित हो सकता है –

फैशन डिजाइनिंग के लिए शैक्षणिक योग्यता – Eligibility for Fashion Designing

फैशन डिजाइनिंग के लिए 12वीं पास होना जरूरी।

फैशन डिजाइनिंग के लिए जरूरी स्किल्स – Fashion Designing Skills

  • क्रिएटिविटी
  • फैब्रिक की बेहतर समझ
  • सोचने की क्षमता
  • अच्छी कम्यूनिकेशन स्किल
  • विज़ुअलाइज़ेशन क्षमता
  • आर्टिस्टिक व्यू-प्वाइंट
  • लेटेस्ट ट्रेंड, फैशन और लाइफस्टाइल की जानकारी

फैशन डिजाइनिंग के लिए इंस्टीट्यूट – Institute of Fashion Designing

  • नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, नई दिल्ली
  • जेडी इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी (विभिन्न शहर)
  • नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ डिजाइन, अहमदाबाद
  • पर्ल एकेडमी ऑफ फैशन, नई दिल्ली
  • स्कूल ऑफ फैशन टैक्नोलॉजी, पुणे
  • नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ फैशन डिजाइनिंग, चंडीगढ़

फैशन डिजाइनिंग में जॉब की संभावनाएं – Jobs in Fashion Designing

फैशन डिजाइनिंग के फील्ड में जॉब की अपार संभावनाएं हैं, आप किसी भी फैशन हाउस में बतौर फैशन डिजाइनर काम कर सकते हैं, वहीं फिल्म और टीवी जगत में भी कॉस्टयूम और फैशन डिजाइनर की काफी डिमांड रहती है, इस कोर्स के बाद शुरुआत में आप 20-25 हजार रुपए कमा सकते हैं,फिर एक्सपीरियंस के बाद सैलरी बढ़ती जाती हैं, वहीं इस कोर्स के बाद आप अपना बिजनेस भी खोल सकते हैं।

सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट में करियर – Careers in Software Development

कंप्यूटर और टेक्नोलॉजी में रुचि रखने वाली महिलाओं के लिए सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट के क्षेत्र में भी करियर बनाने के कई विकल्प मौजूद हैं। इस क्षेत्र में गूगल, माइक्रोसॉफ्ट, आईबीएम जैसी कई बड़ी कंपनियों में जॉब कर महिलाएं अपना भविष्य संवार सकती हैं।

कंप्यूटर और तकनीकी के क्षेत्र में रोज नए-नए प्रयोग की वजह से इस क्षेत्र में सॉफ्टवेयर प्रोफेशनल्स की मांग भी लगातार बढ़ती जा रही है, वहीं आप भी बतौर सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट इंजीनियर बन अपना भविष्य संवार सकती हैं –

सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट के लिए शैक्षणिक योग्यता – Eligibility for Software Development

  • साइंस स्ट्रीम से 12वीं की परीक्षा पास करना जरूरी
  • इंजीनियरिंग का कोर्स जरूरी
  • बीई, बीटेक, एमई, एमएस या एमटेक डिग्री के बाद इस सॉफ्टवेयर प्रोग्रामिंग या डेवलपमेंट के क्षेत्र में करियर बना सकते हैं।

सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट के लिए प्रमुख इंस्टीट्यूट – Software Development Institute

  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, दिल्ली
  • आईआईटी रुड़की
  • चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी, चंडीगढ़

इसके अलावा महिलाएं टीचिंग, बैंकिंग, इंजीनियरिंग, होटेल मैनेजमेंट, इवेंट मैनेजमेंट, इंटीरियर डिजायनिंग, समेत मेडिकल के क्षेत्र में गाइनेकोलॉजिस्ट एंड ऑब्स्ट्रेटिशियन, पीडिएट्रिशियन, फिजीशियन और फार्मासिस्ट के तौर पर काम कर अपने बेहतर करियर का निर्माण कर सकती हैं।

Read More:

Hope you find this post about ”Career Options for Women in Hindi” useful. if you like this articles please share on Facebook & Whatsapp.

Gyanipandit.com Editorial Team create a big Article database with rich content, status for superiority and worth of contribution. Gyanipandit.com Editorial Team constantly adding new and unique content which make users visit back over and over again.

3 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.