गोवा के पर्यटन स्थल | Goa Tourism Places in Hindi

Goa tourism places in Hindi

गोवा का नाम आते ही दिल को छु जाने वाला समुद्र तट और आसमान को छुते हुए नारियल के पेड़ हमारे आँखों के सामने आ जाता हैं। गोवा भारत के सबसे प्रसिद्ध पर्यटन स्थलों में से एक है। पर्यटकों की यह पसंदीदा जगह है और दुनिया भर से पर्यटक यहां आते हैं।

Goa tourism places

गोवा के पर्यटन स्थल – Goa tourism places in Hindi

पश्चिमी भारत मे स्थित राज्य गोवा अपनी प्राकृतिक खूबसूरती तथा मनमोहक दृश्यों के लिए पूरे विश्व मे मशहूर है। गोवा एक ऐसा राज्य है जिसका मुख्य व्यापार ही पर्यटन है।

पर्यटक आमतौर पर गोवा के समुद्र तटों से प्रभावित होकर यहां खिंचे चले आते हैं। वैसे तो गोवा के प्रति युवाओं में अधिक आकर्षण देखने को मिलता है, परन्तु हर उम्र के लोगो के घूमने की दृष्टि से गोवा एक श्रेष्ठ पर्यटन स्थल है।

गोवा में जहां एक तरफ प्रकृतिक सुंदरताओं से भरपूर रोमांटिक जगहें हैं तो वही दूसरी तरफ कई तीर्थस्थल भी हैं। अगर आप छुट्टियों में कही घूमने का प्रोग्राम बना रहे हैं तो गोवा उसके लिए सर्वश्रेष्ठ जगह हो सकती है। फिर आप चाहे फैमिली के साथ जाना चाहते है, या आप हनीमून कपल हो, या फिर आप प्रोग्राम बना रहे हो दोस्तो के साथ ट्रिप पर जाने का, हर स्थिती में गोवा एक श्रेष्ठ स्थान हो सकता है।

ज्यादातर यूरोपीय पर्यटक सर्दियों में गोवा के ट्रिप की योजना बनाते हैए वही अगर बात की जाए भारतीय पर्यटक की तो ये ज्यादातर गर्मी में अथवा बरसात के मौसम; जुलाई से सिंतबर में गोवा जाना पसंद करते हैं, क्योकि इस मौसम में गोवा के नजारा काफी खूबसूरत हो जाता है।

साथ ही मानसून सीजन में गोवा में काफी डिस्काउंट ऑफर भी चलते रहते है जिससे उचित मूल्य में ट्रिप का मजा लिया जा सकता है। चारो तरफ फैली हरियाली यहां की सुंदरता में चार चांद लगा देते हैं।

पुर्तगाली शासन एवं लैटिन संस्कृति से अतिप्राचीन समय से प्रभावित गोवा विदेशी पर्यटकों के मध्य आकर्षण का प्रमुख केंद्र है। गोवा के संविधान तथा गोवा में स्थित चर्चों को यूनिस्को द्वारा विश्व विरासत स्थल घोषित किया गया है।

गोवा राज्य का इतिहास – Goa Hstory in Hindi

गोवा राज्य को 1987 में स्थापित किया गया था। गोवा की राजधानी पणजी है। और अगर बात की जाए गोवा राज्य के सबसे बड़े शहर की तो वह वास्कोडिगामा है।

गोवा कैसे पहुंचे – How to Reach Goa

गोवा पहुंचने के लिए आप बसए ट्रेन अथवा फ्लाइट का सहारा ले सकते है।

  • गोवा का इंटरनेशनल एयरपोर्ट श्गोवा इंटरनेशनल एयरपोर्टश् वास्कोडिगामा में स्थित है, जहां नेशनल एवं इंटरनेशनल फ्लाइट्स का आवागमन होता है।
  • गोवा के वास्कोडिगामा एवं मडगांव शहर में दो बड़े जंक्शन स्थित हैं।
  • गोवा पहुचने का तीसरा रास्ता यह है कि आप मुम्बई, महाराष्ट्र पहुँचकर वहाँ से पब्लिक ट्रांसपोर्ट का सहारा लेकर गोवा पहुँच सकते हैं। मुम्बई से गोवा के लिए कई वाल्वों बसें चलती है जिनके सहारे आराम से गोवा पहुंचा जा सकता है।

गोवा में ठहरने के लिए जगह – Hotels in Goa

गोवा में ठहरने के लिए भी काफी सुविधाएं उपलब्ध है। पर्यटन स्थल होने की वजह से यह पर होटलों की भरमार है, जहां आप अपनी क्षमता के अनुसार इसका चुनाव कर सकते है। इसके अलावा यदि आप कई लोगो के साथ ट्रिप पर जाने का प्रोग्राम बना रहे हैं तो यह हॉलिडे होम की भी सुविधा उपलब्ध है। जो कई लोगो के रुकने के उद्देश्य से सही रहता है।

गोवा में भ्रमण के मुख्य स्थान – Places to Visit in Goa

आईये हम आपके उन स्थानों के बारे में विस्तार से बताते हैं जो गोवा के भ्रमणीय स्थलों में शामिल है.

  • मांडवी नदी – Mandovi River

पणजी के कदम्बा बस स्टेशन से लगभग 1 किलोमीटर की दूरी पर मांडवी नदी का रिवर क्रूज पणजी का मुख्य आकर्षण है। शाम के सूर्यास्त के बेहतरीन अनुभव लेने की दृष्टि से यह रिवर क्रूज बहुत महत्वपूर्ण है।

महत्वपूर्ण जानकारियां –

  • यहाँ बस, कैब, ऑटो इत्यादि वाहनों की मदद से आराम से पहुंचा जा सकता है।
  • यहाँ घूमने में 1.30 से 2 घंटे का समय लग जाता है।
  • गोवा टूरिस्ट विभाग के द्वारा यहां पर एक पूरे दिन की (9.30 AM से 4 PM) बैक वाटर क्रूज यात्रा व्यवस्थित की जाती है।
  • रिस मगोस किला – Reis Magos Fort

यह किला गोवा पर्यटन स्थलों एवं गोवा राज्य के प्रमुख विरासत स्थलों में से एक है। इस किले का निर्माण पुर्तगाली वायसरॉय डी नोरोन्हा द्वारा 1551 में कराया गया था। यह किला गोवा के अन्य किलो की तुलना में काफी छोटा है। इस किले का इस्तेमाल वायसरॉय के निवासस्थान के रूप में किया जाता था।

महत्वपूर्ण जानकारियां –

  • यह कदम्बा बस स्टेशन से 7 कम की दूरी पर स्थित है।
  • यहाँ बस, कैब, ऑटो इत्यादि वाहनों की मदद से आराम से पहुंचा जा सकता है।
  • समय सारणी (10.30AM से 5.30 PM) सोमवार अवकाशद्ध
  • चर्च ऑफ सेंट ऑगस्टीन –  Church of St. Augustine

सेंट ऑगस्टिन के चर्च एवं मठ का निर्माण ऑगस्टिन 12 द्वारा 1572 में कराया गया था।

इस चर्च के 46 मीटर लम्बे टॉवर को दूर से ही देखा जा सकता है। सेंट ऑगस्टिन अपने समृद्ध इतिहास की वजह से हमेशा से ही दर्शको के आकर्षण का केंद्र रहा है। हालांकि अब यह अत्यंत जीर्ण अवस्था मे पहुच चुका है, फिर भी इतिहास पसन्द लोगो को आज भी अपनी तरफ आकर्षित करता है।

महत्वपूर्ण जानकारियां –  

  • यह कदम्बा बस स्टेशन से 8 किमी की दूरी पर बना हुआ है।
  • यहाँ पहुचने के लिए ऑटो एवं कैब का सहारा लिया जा सकता है।
  • यहाँ घूमने में 30 से 45 मिनट का समय लग जाता है।
  • समय सारणी (8.00 AM से 6.00 PM)
  • सेंट कैथेड्रल चर्च ऑफ सेंटा कैटरीना – Se Cathedral

यह चर्च भारत के सबसे बड़े चर्चों में से एक है जिसका निर्माण 1619 में हुआ था। यह चर्च 250 फीट लम्बाए 181 फीट चौड़ाए एवं 115 फीट ऊंचा है। क्रिसमस के समय मे यह चर्च हजारो तीर्थयात्रियों के आकर्षण का केंद्र बन जाता है।

इस चर्च के अंदर शानदार वेदियां देखने को मिलती है। साथ ही चर्च में लगी घंटी जिसे श्गोल्डन बेलश् भी कहा जाता है की सुमधुर आवाज लोगो को मन्त्रमुग्ध कर देती है।

महत्वपूर्ण जानकारियां:

  • यह पणजी से लगभग 9 किमी की दूरी पर है।
  • यहाँ पहुँचने के लिए आपको रेंट पर मिलने वाली बाइक का प्रयोग करना चाहिएए जो कि गोवा में बड़ी आसानी से मिल जाते हैं।
  • यहाँ घूमने में 30 मिनट से 1 घंटे का समय लग जाता है।
  • समय.सारणी (7.30 AM से 6.00 PM) प्रतिदिन
  • बेसिलिका ऑफ बॉम जीसस चर्च – Basilica of Bom Jesus

इस चर्च का निर्माण 1594 में शुरू हुआ था एवं 1605 में यह बनकर तैयार हुआ था। बेसीलिका ऑफ बोम जीसस चर्च ईसाई वास्तुकला के सर्वोच्च उदाहरणों में से एक है।

इस चर्च के इतिहास के अनुसार यहाँ सेंट फ्रोन्सिस जेवियर के शरीर को संग्रहित कर के रख गया है। यह चर्च चमत्कारी चिकित्सा शक्तियो के लिए प्रसिद्ध है।

महत्वपूर्ण जानकारियां:

  • यह पणजी से 9 किमी की दूरी पर स्थित है।
  • यहाँ पहुचने के लिए बसए कैबए ऑटो का इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • यह घूमने में कुल 1 से 2 घंटे का समय लग जाता है।
  • समय सारणी (सोमवार से शनिवार) 9.00AM से 6.3PM (रविवार) 10.00AM से 6.30 PM

गोवा बीच –  Beaches in Goa

गोवा राज्य अपने समुद्री किनारों पर स्थित बीच की वजह से लोगो के आकर्षण का प्रमुख केंद्र है। यहाँ पर कई बीच हैं जहां घूमना सुकून भर एवं आनंददायक है।

इनमें से कुछ निम्नलिखित है –

  • कालंगुट बीच –  Calangute Beach

गोवा के कलंगुट बीच को समुद्री तटों की रानी भी कहा जाता है। यह पणजी शहर के अगुआडा तक फैला हुआ है।

गोवा आये पर्यटकों के लिए यह बीच मुख्य आकर्षण का केंद्र है। समुद्र के किनारे की ताजी हवाएं लोगो को तरोताजा महसूस करने में कोई कसर नही छोड़ती। इसके अलावा इस बीच पर खाने पीने की सम्पूर्ण सुविधाएं उपलब्ध हैं।

इस बीच पर फन एक्टिविटीज की सुविधा भी उपलब्ध है जिनमेए पैरासेलिंगए वाटर सर्फिंगए बनाना राइड एवं जेट स्काई मुख्य रूप से शामिल हैं।

महत्वपूर्ण जानकारियां:

  • यह कदम्बा बस स्टेशन से लगभग 14 किलोमीटर की दूरी पर है।
  • यहाँ पर बसए ऑटो एवं कैब के द्वारा पहुँचा जा सकता है।
  • यहाँ घूमने के लिए किसी भी मौसम में जाया जा सकता है परन्तु नवंबर से मार्च का महीना यहाँ घूमने के लिए बेस्ट है।
  • बागा बीच –  Baga Beach

यह गोवा के उत्तरी भाग के समुद्र तट पर स्थित है। बागा बीचए यहाँ मिलने वाले स्वादिष्ट समुद्री भोजन के लिए प्रसिद्ध है।

इस बीच के पास ही नाईट क्लब भी बने हुए है जहाँ हमेशा भीड़ बनी रहती है।

महत्वपूर्ण जानकारियां:

  • यह कदम्बा बस स्टैंड से 15 किलोमीटर की दूरी पर है।
  • यहाँ पर जाने के लिए बसए ऑटो एवं कैब की सुविधा उपलब्ध है।
  • यहाँ घूमने के लिए कम से कम 2 घंटे का समय चाहिए।
  • अक्टूबर से फरवरी के महीना यहाँ घूमने के लिए बेस्ट है।
  • अंजुना बीच – Anjuna Beach

यह बीच चापोरा किले के नजदीक स्थित है। इस बीच पर लगने वाले नारियल के पेड़ तथा समुद्र के किनारे फैली हुई सफेद रेत की सतह से उत्पन्न अद्भुत प्राकृतिक सुंदरता के लिए यह बीच प्रसिद्ध है। इस बीच पर होने वाली मून लाइट रेव पार्टियां भारत ही नही अपितु विदेशी पर्यटकों को भी अपनी तरफ खींचती हैं।

यह बीच पर खरीददारी के उद्देश्य से भी काफी महत्वपूर्ण है। यहां आप कपड़े तथा इलेक्ट्रॉनिक गैजेट की खरीदारी कम दामो में कर सकते हैं।

महत्वपूर्ण जानकारियां:

  • यह बीच कदम्बा बस स्टेशन से 19 किमी दूरी पर स्थित है।
  • यहां जाने के लिए बस, कैब ऑटो आदि का सहारा ले सकते हैं।
  • यहाँ घूमने के लिए 1 से 1.30 घण्टे का समय लग जाता है।
  • वगाटर बीच – Vagator Beach

यह गोवा के अबसे अच्छे समुद्र तटों में से एक है। यह बीच अंजुना बीच के उत्तर में स्थित हैं।

वाटर स्पोर्ट्स प्रेमियों के लिए यहाँ बीच सर्वोत्तम है। यहाँ पर उचित दामो में विभिन्न वाटर राइड्स का मजा लिया जा सकता है।

महत्वपूर्ण जानकारियां:

  • यह बीच कदम्बा बस स्टैंड से 19 किमी की दूरी पर स्थित है।
  • यहाँ पहुचने की लिए ऑटो, बस तथा कैब का सहारा लिया जा सकता है।
  • चापोरा किला – Chapora Fort

इस विशाल किले का निर्माण आदिल शाह के द्वारा करवाया गया था जो कि बीजापुर के राजा थे। यह लाल लेटराइट पत्थरों से बनाया गया है। यह किला आदिल शाह के शासन के बाद नष्ट कर दिया गया थाए 1617 में पुर्तगालियों द्वारा इसका पुनः निर्माण किया गया।

महत्वपूर्ण जानकारियां:

  • यह पणजी के कदम्बा बस स्टैंड से 19 किमी के दूरी पर है। वही इसकी दूरी वास्कोडिगामा रेलवे स्टेशन से 46 किलोमीटर की है।
  • यहाँ पहुचने के लिए बसए ऑटो एवं कैब की सुविधा उपलब्ध है।
  • यह की ट्रिप में कदम्बा बस स्टैंड से 1 से 2 घंटे का समय लग जाता है।
  • पर्यटकों को यह सलाह दी जाती है कि अंधेरा होने से पहले यह से वापस लौट जाए।
  • मंगेशी मंदिर – Mangeshi Temple

इतिहास के अनुसार इस मंदिर का निर्माण 18वीं सदी में हुआ था। इस मंदिर से जुड़ी कई रोचक कहानियां है जो इस मंदिर के इतिहास का बयान करती हैं।

इस मंदिर के मुख्य देवता भगवान शिव है जिन्हें यहाँ पर मंगेश के नाम से पूजा जाता है। सोमवार के दिन जिसे शिव का दिन मन जाता है, इस दिन इस मंदिर में आरती का भव्य आयोजन किया जाता है तथा साथ ही पालकी निकली जाती है।

महत्वपूर्ण जानकारियां:

  • यह मंदिर पणजी के कदम्बा बस स्टैंड से 21 किमी की दूरी पर बना हुआ है।
  • यहाँ की ट्रिप में 2 से 3 घंटे का समय लग जाता है।
  • इस मंदिर तक पहुंचने के लिए बसए कैब एवं ऑटो की सुविधा उपलब्ध है।
  • समय – सारणी 6.00 AM से 10.00 PM प्रतिदिन।
  • श्री महालक्ष्मी मंदिर –  Mahalakshmi Temple Goa

यह मंदिर पोंडा से 4 किमी दूर बांदीवडे गांव में स्थित है। यह देवी महालक्ष्मी का मंदिर है। इस मंदिर का निर्माण 1866 में हुआ था।

यह मंदिर भगवान विष्णु के लकड़ी की बनी मूर्तियों के लिए पूरे भारत मे प्रसिद्ध है।

नवरात्रि के समय मे इस मंदिर में भव्य आयोजन किया जाता है। इसके साथ ही राम नवमीए महा शिवरात्रिए इत्यादि अवसरों का भी आयोजन धूमधाम से किया जाता है।

महत्वपूर्ण जानकारियां:

  • यह मंदिर कदम्बा बस स्टैंड से 27 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।
  • इस मंदिर के भ्रमण में कम से कम 1 घंटे का समय लग जाता है।
  • यहाँ पहुचने के लिए कैब एवं ऑटो की सुविधा उपलब्ध है।
  • समय – सारणी 6.00 AM से 8.00 PM प्रतिदिन।
  • शान्ता दुर्गा मंदिर –  Shantadurga Temple Goa

इस मंदिर का निर्माण छत्रपति शाहूजी महाराज ने 1738 में करवाया था। पुरानी मान्यता के अनुसार एक बार भगवान शिव एवं भगवान विष्णु के मध्य युद्ध छिड़ गया थाए जिसके बचाव हेतु देवी पार्वती ने शांता दुर्गा का रूप धारण किया था। मां पार्वती के इसी रूप की पूजा इस मंदिर में कई जाती है।

यह मंदिर पिरामिड एवं गुम्बद से बनाया गया है जो इसकी खूबसूरती में चार चांद लगाते हैं।

महत्वपूर्ण जानकारियां:

  • यह मंदिर कदम्बा बस स्टैंड से 28 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।
  • यहाँ घूमने में 1रू30 से 2 घंटे का समय लग जाता है।
  • यहाँ पहुँचने के लिए कैबए एवं ऑटो की सुविधा उपलब्ध है।
  • समय – सारणी 5.30 AM से 12.30 PM एवं 1.30 PM से 8.30 PM रोजाना।
  • दूधसागर वाटरफॉल – Dudhsagar Falls

यह वाटरफॉल गोवा के मंडोवी नदी पर स्थित है। यह भारत के सबसे ऊंचे झरनों में से एक है जिसकी ऊंचाई 1017 फ़ीट तथा चौड़ाई 100 फ़ीट है। यह कर्नाटक एवं गोवा राज्य की सीमा पर स्थित है।

इसकी प्राकृतिक सुंदरता लोगो को अपनी तरफ आकर्षित कर लेती है। इस वॉटरफॉल का मुख्य आकर्षण यहाँ पर होने वाली ट्रैकिंग एक्टिविटी है। जो लगभग 10 किमी लम्बी दूरी की होती है।

महत्वपूर्ण जानकारियां:

  • यह पणजी से 71 किमी की दूरी पर है।
  • यहाँ पहुँचने के लिए बस एवं कैब की सुविधा उपलब्ध है।
  • यहाँ घूमने के लिए आधे दिन या पूरे एक दिन का समय लग जाता है।
  • इस वॉटरफॉल के समीप दुकानों की सुविधा नही हैए अतः जब भी आप यह जाए खाने – पीने का सामान साथ ले जाएं।
  • समय – सारणी 9.00 AM से 3.00 PM रोजाना।
  • जीप राइड का खर्च. 400 Ru. प्रति व्यक्ति।

यह थी गोवा की कुछ महत्वपूर्ण जगहें जो घूमने के लिए काफी अच्छी हैं। इसके अलावा भी गोवा में घूमने के लिए कई बहुत सी चीजें हैए जो आपकी छुट्टियों एवं पिकनिक को मजेदार बनाने के लिए काफी महत्वपूर्ण है।

Read More:

Hope you find this post about ”गोवा के पर्यटन स्थल – Goa tourism places” useful. if you like this information please share on Facebook.

Note: We try hard for correctness and accuracy. please tell us If you see something that doesn’t look correct in this article about Goa tourism… and if you have more information about Goa tourism then help for the improvements this article.

3 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.