रंजन गोगाई बायोग्राफी | Ranjan Gogoi Biography

Ranjan Gogoi

किसी भी देश को चलाने के लिए न्यायपालिका का होना बहुत जरुरी होता है। क्योंकि न्यायपालिका देश में नागरिकों के हितों की रक्षा करती है साथ ही उन्हें न्याय दिलाती है भारत में तीन स्तरीय कोर्ट है – मैजिस्ट्रेट कोर्ट, हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट। सुप्रीम कोर्ट यानी देश की सर्वोच्च न्यायपालिका है।

अगर कोई व्यक्ति हाईकोर्ट के फैसले से सहमत नहीं है तो वह सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर दोबारा केस लड़ सकते है और सुप्रीम कोर्ट चाहे तो दलीलों को देखते हुए हाईकोर्ट के फैसले को बदल सकती है। सुप्रीम में न्यायधीशों की बेंच होती है और उनके ऊपर होतें मुख्य न्याधीश। जिन्हें चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया भी कहा जाता है। चीफ जस्टिस की नियुक्ति राष्ट्रपति दारा की जाती है। लेकिन चीफ जस्टिस के नाम का सुझाव मौजूदा चीफ जस्टिस अपने उत्तराधिकारी के तौर पर करते है।

इस साल भी चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया दीपक मिश्रा जो कि 2 अक्टूबर को रिटायर होने वाले उनके सुझाव के बाद राष्ट्रपति दारा जस्टिस रंजन गोगाई को देश का नया चीफ जस्टिस चुना गया है जो 3 अक्टूबर को अपने न्यायधीश पद की शपथ लेंगे। रंजन गोगाई सुप्रीम कोर्ट में दीपक मिश्रा के बाद दूसरे सबसे वरिष्ठ न्यायधीश है। रंजन गोगाई ने अपने करियर में कई अहम फैसले लिए है साथ ही कई बार विवादों में भी घिरे। चलिए आपको बताते है New Chief Justice of India – देश के नए जस्टिस बने वाले रंजन गोगाई – Ranjan Gogoi के बारे कुछ अहम बातें।

New Chief Justice of India Ranjan Gogoi

New Chief Justice of India Ranjan Gogoi

रंजन गोगाई बायोग्राफी – Ranjan Gogoi Biography

रंजन गोगाई का जन्म 18 नवम्बर 1954 को असम में हुआ था। साल 1978 से रंजन गोगाई ने बतौर वकील अपना करियर शुरु किया। शुरुआती दिनों में रंजन गोगाई गुवाहाटी हाई कोर्ट में वकालत करते थे। लेकिन 28 फरवरी साल 2001 में उन्हें स्थाई जज नियुक्त किया गया। इसके बाद साल 2010 में उनका ट्रांसफर पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट में हो गया। जिसके बाद साल 2011 में उन्हें हाईकोर्ट का चीफ जस्टिस नियुक्त किया गया।

और इसके एक साल बाद 23 अप्रैल 2012 को रंजन गोगाई की नियुक्ति सुप्रीम कोर्ट में न्यायधीश के तौर पर हुई। जिसके बाद रंजन गोगाई ने सुप्रीम कोर्ट की कई अहम पीठों का हिस्सा रहे जिसने कई ऐतिहासिक फैसले लिए।

रंजन गोगाई के अहम फैसले

रंजन गोगाई सुप्रीम कोर्ट की उस बेंच का हिस्सा रहें जिन्होनें चुनावों में उम्मीदवार की संपत्ति, शिक्षा, चल रहे सभी मुकदमों का ब्योंरा देने का आदेश दिया था। इसके अलावा रंजन गोगाई ने मुंबई हाईकोर्ट के उस फैसले को भी निरस्त किया था। जिसमें अभिनेता अमिताभ बच्चन पर कौन बनेगा करोड़पति के सीजन 2002 – 03 से हुई कमाई से 1.66 करोड़ टैक्स कम देने का आरोप लगाया गया था। आपको बता दें रंजन गोगाई मौजूदा समय में असम में एनआरसी यानी नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजन के मामले की सुनवाई कर रहे है।

रंजन गोगाई से जुड़े विवाद

सुप्रीम कोर्ट के न्यायधीश और होने वाले चीफ जस्टिस रंजन गोगाई अपने करियर के दौरान कई बार विवादों से भी घिरे है। सबसे पहले रंजन गोगाई उस समय विवादों में घिरे जब साल 2011 में केरल में ट्रेन में एक महिला के बलात्कार के बाद उसे ट्रेन से फेंकर हुई मौत के केस में रंजन गोगाई ने हाईकोर्ट के फैसले को बदल दिया। दरअसल केरल में एक महिला के साथ एक व्यक्ति ने रेप कर उसे ट्रेन से फेंक दिया था। जिस पर हाईकोर्ट ने फांसी की सजा सुनाई थी।

लेकिन रंजन गोगाई की पीठ ने इसे बदलकर उम्रकैद में तब्दील कर दिया। जिसे लेकर कई समाजिक संगठनों ने उनकी काफी अलोचना की थी। साथ ही पूर्व जस्टिस मार्कंडेयू काटजू ने भी एक लेख लिखकर उनकी अलोचना की थी।

इसके अलावा आपको पिछले साल चार जजों की वो प्रेस कॉन्फ्रेंस तो य़ाद ही होगी। जिसने पूरे देश को हिलाकर रख दिया था। इतिहास में पहली बार सुप्रीम कोर्ट के चार जजो ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर चीफ जस्टिस की अलोचना की थी। इन चार जजों में रंजन गोगाई भी शामिल थे जिन्होनें चीफ जस्टिस पर आरोप लगाया था कि वह मामलों के आवंटन में सुप्रीम कोर्ट के मास्टर ऑफ द रोस्टर होने के अधिकार का गलत इस्तेमाल कर रहे है।

Read More:

Note: Hope you find this post about ”New Chief Justice of India Ranjan Gogoi in Hindi” useful. if you like this articles please share on Facebook & Whatsapp. and for the latest update download : Gyani Pandit free android App.

7 thoughts on “रंजन गोगाई बायोग्राफी | Ranjan Gogoi Biography”

    1. It is good to hear that our post motivated you to start your own blog. We wish you the best of luck with your new venture and keep visiting our website.

    1. Thank you for reading our post on gyanipandit.com. Your comments are a source of information which makes us write such an informative post.

Leave a Reply

Your email address will not be published.