कर्नाटक के दर्शनीय स्थल | Tourist places in Karnataka

Tourist places in Karnataka

भारत के सभी राज्यों में कर्नाटक पर्यटन के उद्देश्य से चौथा सबसे प्रसिद्ध राज्य है। यहाँ किसी भी राज्य की तुलना में सर्वाधिक राष्ट्रिय संरक्षित स्मारक है, जिनकी संख्या तक़रीबन 507 है।

Tourist places in Karnataka

कर्नाटक के दर्शनीय स्थल – Tourist places in Karnataka

कन्नड़ साम्राज्य जैसे कदंबा, पश्चिमी गंगा, चालुक्य, राष्ट्रसुत्र, होयसला, विजयनगर और मैसूर साम्राज्य के बाद आज इसे कर्नाटक के नाम से जाना जाता है। उन्होंने बुद्ध, जैन और हिन्दू धर्म के बहुत सी प्रसिद्ध एतिहासिक धरोहरों का निर्माण यहाँ कर रखा है।

इन धरोहरों को बादामी, ऐहोले, पत्तादकल, महाकुटा, हम्पी, गलागनाथा, चौदय्यादनापुरा, बनवासी, बेलूर, हालेबिदु, श्रृंगेरी, श्रवणबेलागोला, सन्नाटी, नांजनगुड, मैसूर, नंदी पहाड़ी, कोलर मुदाबिदरी, गोकर्ण, बगली, कुरुवत्ती और बहुत सी जगहों पर संरक्षित कर रखा है।

प्रसिद्ध इस्लामिक धरोहर बीजापुर, बीदर, गुलबर्गा, रायचूर और राज्य के दुसरे भागो में भी हमें देखने मिलती है। गोल गुंबद, बीजापुर दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा पूर्व आधुनिक गुंबद है। कर्नाटक के हम्पी और पत्तादकल नामक दो वर्ल्ड हेरिटेज साइट्स है। टीपू सुल्तान द्वारा संरक्षण के लिए बनाए गए बेल्लारी किले को भी हम देख सकते है।

कर्नाटक में बहुत से महल जैसे बैंगलोर महल, मैसूर महल (अम्बाविलास पैलेस), टीपू सुल्तान महल, नालक्नद महल, राजेंद्र विलास, जगनमोहन महल, जयलक्ष्मी विलास मेंशन, ललिता महल, राजेंद्र विलास, चेलुवंबा मेंशन, शिवप्पा नायका पैलेस और दरिया दौलत बाघ महल इत्यादि भी देखने मिलते है।

कर्नाटक शिमोगा जिले के झरनों के लिए भी प्रसिद्ध है, जहाँ एशिया का दूसरा सबसे बड़ा झरना पाया जाता है। कर्नाटक के माल्पे, कूप, मर्वंठे, कारवार, गोकर्ण, मुर्देश्वर और सुरथाकल में बहुत से प्रसिद्ध समुद्र तट भी है। पर्वतारोहियों के लिए तो कर्नाटक किसी स्वर्ग से कम नही है। उत्तर कन्नड़ में याना, चित्रदुर्ग में किले, बेंगलुरु जिले में रामनगर, तुमकुर जिले में शिवगंगे और कोलर जिले में टेकल इत्यादि जगह पर्वतारोहियों के लिए स्वर्ग के समान है।

कर्नाटक के पहाड़ी इलाको पर साधारणतः ज्यादा लोग होते है और साथ ही दक्षिण भारत की पहाडियों की तुलना में यहाँ पायी जाने वाली पहाड़ियां ज्यादा प्राचीन है। राज्य के मुख्य पहाड़ी इलाको में अगुम्बे और कोदचादरी, शिमोगा जिले में बाबा बुदंगीरी, केम्मानगुंडी, चिक्कामागालुरु जिले में कुद्रेमुख इत्यादि। राज्य के दुसरे पहाड़ी शहरो और इलाको में मुल्लयानागिरी, पुष्पगिरी, नंदी पहाड़ी, कुंदादरी, ताड़ी और अमोल, तलाकावेरी, महादेश्वारा पहाड़ी, हिमवाद गोपालस्वामी बेट, अम्बरगुड्डा इत्यादि।

कर्नाटक राज्य में बहुत से वन्यजीव अभयारण्य और राष्ट्रिय उद्यान जैसे दंदेली वन्यजीव अभयारण्य, दंदेली; घटाप्रभा पक्षी अभयारण्य; दारोजी आलसी भालू अभयारण्य, बांकापुरा में मोर अभयारण्य, रानेबेन्नुर काला हिरण अभयारण्य, हावेरी जिला; देवराय वन्यजीव अभयारण्य, हम्पी; अत्तिवेरी पक्षी अभयारण्य, शिराहत्ती; बिलिगिरीरंगा स्वामी मंदिर वन्यजीव अभयारण्य, भद्रा वन्यजीव अभयारण्य, ब्रह्मगिरी वन्यजीव अभयारण्य, कावेरी वन्यजीव अभयारण्य, मेलुकोटे मंदिर वन्यजीव अभयारण्य, मंड्या जिला; मूकाम्बिका वन्यजीव अभयारण्य, नुहू वन्यजीव अभयारण्य, पुष्पगिरी वन्यजीव अभयारण्य, शरावाथी घाटी वन्यजीव अभयारण्य, शेत्तिहल्ली वन्यजीव अभयारण्य, सोमेश्वर वन्यजीव अभयारण्य, तलाकावेरी वन्यजीव अभयारण्य, गुडवि पक्षी अभयारण्य, मंदागद्दे पक्षी अभयारण्य, काग्गालादु बेल्लुर अभयारण्य, गुडवि पक्षी अभयारण्य और बोनल पक्षी अभयारण्य इत्यादि।

और भी रोचक जगह:

  • हम्पी, यूनेस्को वर्ल्ड हेरिटेज साईट
  • गोम्मतेश्वर स्टेचू, श्रावणबेला गोला
  • विजयनगर, यूनेस्को वर्ल्ड हेरिटेज साईट
  • पत्तादकल परिसर में जैन नारायण मंदिर, यूनेस्को वर्ल्ड हेरिटेज साईट
  • ब्रह्मा जिनालय, लक्कुंदी
  • गोल गुम्बज़, बीजापुर

Read More:

Hope you find this post about ”कर्नाटक के दर्शनीय स्थल – Tourist places in Karnataka” useful. if you like this information please share on Facebook.

Note: We try hard for correctness and accuracy. please tell us If you see something that doesn’t look correct in this article about Karnataka tourism… and if you have more information about Karnataka tourism then help for the improvements this article.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.