अल्जीरिया के इतिहास की महत्वपूर्ण घटनाएँ ऑर जानकारी | Algeria Information

Algeria – अल्जीरिया, अधिकारिक रूप से पीपल डेमोक्रेटिक रिपब्लिक ऑफ़ अल्जीरिया भूमध्य सागर के तट पर बसे उत्तरी अफ्रीका का एक श्रेष्ट राज्य है।

Algeria

अल्जीरिया के इतिहास की महत्वपूर्ण घटनाएँ ऑर जानकारी – Algeria Information

इसकी राजधानी और सर्वाधिक जनसँख्या वाला शहर अल्जीयर्स काफी दूर उत्तर में बसा हुआ है। 23,81,741 वर्ग किलोमीटर (9,19,595 वर्ग मीटर) के क्षेत्रफल के साथ, अल्जीरिया दुनिया का दसवाँ सबसे बड़ा देश और अफ्रीका का सबसे बड़ा देश है।

अल्जीरिया के उत्तर-पूर्व में तुनिशिया की बॉर्डर, पूर्व में लीबिया की, पश्चिम में मोरक्को की, दक्षिण-पश्चिम में पश्चिम सहारण प्रांत, मॉरिटानिया और माली की, दक्षिण-पूर्व में नाइजर और उत्तर में स्भुमध्य सागर की सीमाये है।

यह देश अर्द्ध राष्ट्रपति गणराज्य वाला देश है, जिसमे 48 प्रांत और 1541 कम्यून है। 1999 से अब्देलाज़िज़ बौतेफ्लिका देश के प्रेसिडेंट है।

प्राचीन अल्जीरिया बहुत से साम्राज्य और राजवंशो के लिए जाना जाता था, जिसमे प्राचीन नुमिडियन, फोएनिसियन, कार्थागिनियन, रोमन, वाण्डल, बीजान्टिन, उमय्याड्स, अब्बसिड्स, इद्रिसि, अघ्लाबि, रुस्तामि, फतिमि, ज़िरिड, हम्मादिड्स, अल्मोराविड्स, अल्मोहड़, ओटोमन और फ्रेंच औपनिवेशिक साम्राज्य का समावेश है। बेर्बेर्स को साधारणतः अल्जीरिया का स्वदेशी निवासी माना जाता है।

अल्जीरिया में धार्मिक और मध्य शक्ति है। उत्तरी अफ्रीकन देश अत्यधिक मात्रा में प्राकृतिक गैस की आपूर्ति यूरोप में करते है और उर्जा निर्यात देश के अर्थव्यवस्था की रीढ़ की हड्डी की समान है।

OPEC के अनुसार अल्जीरिया दुनिया का 17 वा सबसे ज्यादा तेल भंडार वाला देश और अफ्रीका का दूसरा सर्वाधिक तेल भंडार वाला देश है, जबकि प्राकृतिक गैस के भंडार में यह 9 वा सबसे बड़ा देश है। देश की राष्ट्रिय तेल कंपनी सोनाट्रच अफ्रीका की सबसे बड़ी कंपनी है।

अल्जीरिया अफ्रीका के सबसे विशाल सैन्य देशो में से एक है और उपमहाद्वीप में इसका सैन्य बजट सर्वाधिक है, अल्जीरिया में ज्यादातर हथियारों का आयात रशिया से किया जाता है, जिनके साथ उनका अच्छा गठबंधन भी है।

अल्जीरिया मुख्य रूप से अफ्रीकन संघ, अरब लीग, OPEC, यूनाइटेड नेशन का सदस्य और मघ्रेब संघ का संस्थापक सदस्य भी है।

अल्जीरिया के इतिहास के कुछ महत्वपूर्ण दिन – Important Dates in Algeria History

1830 – फ्रांस ने अल्जीयर्स को जप्त कर लिया, और तीन शताब्दियों तक ओटोमन साम्राज्य के स्वायत्त प्रांत बने रहने का अल्जीरिया का सफ़र समाप्त हुआ।

1939-1945 – फ्रांस की बर्बादी और द्वितीय विश्व युद्ध के समय में एंग्लो-अमेरिकन द्वारा उत्तरी अफ्रीका पर कब्ज़ा कर लेने के बाद अल्जीरिया के आज़ादी की संभावनाए बढ़ने लगी।

1945 – आज़ादी के बाद का प्रदर्शन सेटीफ में हुआ। आगामी अशांति के चलते हजारो लोगो को मार दिया गया।

1954-1962 – अल्जीरिया की आज़ादी का युद्ध हुआ।

1962 – आज़ादी।

1976 – अल्गेरियन और मोरक्कन सेना पश्चिमी सहारा के लिए आपस में संघर्ष करने लगी।

1989 – नये संविधान के तहत एक पार्टी राज्य को हटाया गया और समाजवाद से हटाकर पश्चिमी पूंजीवाद में ले जाया गया।

1991-1999 – गृह युद्ध ने सरकार के खिलाफ इस्लामवादियो को खड़ा कर दिया।

1999 – अब्देलाज़िज़ बौतेफ्लिका देश के प्रेसिडेंट बने और सभी को राष्ट्रिय सुलह निति का परिचय करवाया।

दोस्तों , अगर आपको हमारी अल्जीरिया के बारेमें दी गयी जानकारी पसंद आयी हो, तो और पढिए अल्जीरिया के बारेमें और भी कुछ रोचक बातें – Interesting Facts about Algeriaजिन बातों को पढ़कर आप हैरान रह जाओंगे।

Read More

I hope these “Algeria Information in Hindi” will like you. If you like these
“Algeria Information in Hindi with History” then please like our facebook page & share on whatsapp. and for latest update download : Gyani Pandit free android App

Leave a Reply

Your email address will not be published.