बेरोजगारी भत्ता योजना | Berojgari Bhatta Yojana

Berojgari Bhatta Yojana

मासिक भत्ता योजना जिसे हम बेरोजगारी भत्ता योजना Berojgari Bhatta Yojana भी कहते हैं। यह एक ऐसी योजना है जो भारत सरकार द्वारा गरीबों के लिए चलाई गई है। अरुण जेटली द्वारा 2017 के बजट पेश होने पर इस योजना की घोषणा की गई है। सरकार के द्वारा गरीबी को हटाने का ये एक बड़ा अहम फैसला है। 1 फरवरी 2017 – 18 के वित्तीय बजट में बेरोजगारों के लिए बुनियादी आय की घोषणा की गई है।

Berojgari Bhatta Yojana
Berojgari Bhatta Yojana

बेरोजगारी भत्ता योजना – Berojgari Bhatta Yojana

ये योजना उन गरीब लोगों के लिए है जिनके पास कमाई का कोई साधन नहीं है। और जिनके पास कोई नौकरी नहीं है। तथा जो लोग बिलकुल बेरोजगार हैं। सरकार उन सभी गरीबों की आर्थिक रूप से सहायता करना चाहती है। आप सभी रोज़ अखबारों और समाचारों में कई खबरें देखते रहते हैं जो गरीब लोगों और गरीब परिवार से जुड़ी रहती है। जिसमें सबसे ज्यादा खबर गरीब की आत्महत्या को लेकर आती है।

पैसे की कमी के कारण लोग आत्महत्या कर लेते हैं। ऐसे ही अपराधों को रोकने के लिए सरकार ने गरीबों की मदद करने के लिए ये योजना बनाई है। हमारा देश अंग्रेजों से तो बहुत पहले आज़ाद हो चुका पर गरीबी और बेरोजगारी से हमारा देश आजाद नहीं हो पाया है। इस गरीबी के धीमक को देश से हटाने के लिए ही सरकार ने मासिक भत्ता योजना शुरू की है।

सरकार चाहती है कि मासिक भत्ता योजना का लाभ सभी लोगों को मिल पाए।

मासिक भत्ता योजना भारतीय सरकार द्वारा चलाई गई एक ऐसी योजना है जिसका मुख्य उद्देश्य देश से गरीबी को मिटाना है। क्योंकि जब तक देश में गरीबी रहेगी तब तक कोई भी देश तरक्की की सीढ़ियां नहीं चढ़ सकता है।

आप सभी के मन में इस योजना को जानने की बहुत इच्छा हो रही होगी। आप सभी सोच रहे होंगे कि ये योजना कैसे गरीबों की मदद कर सकती है। कैसे इस योजना से देश गरीबी को खत्म कर के तरक्की कर सकता है। तो इन्हीं सब सवालों के जवाब जानने के लिए इस आर्टिकल को कृपया पूरा पढ़े।

बेरोजगारी भत्ता से मिलने वाले लाभ – Benefits from Berojgari Bhatta Yojana

  • गरीबों को जिनके पास कमाई का कोई स्त्रोत नहीं है उन्हें आर्थिक रूप से सहायता दी जाएगी।
  • इससे गरीब आत्महत्या करने को मजबूर नहीं होंगे।
  • इससे गरीब लोग सर उठाकर जी सकेंगे और गरीबी से बचने के लिए कोई गलत कदम नहीं उठाएंगे।
  • इस योजना का फायदा हर एक गरीब उठा पाएगा। इसमें जाति.पाति का कोई भी नियम नहीं होगा।
  • इस योजना के चलते गरीब और बेरोजगार को अपना जीवन जीने में आसानी होगी।

बेरोजगारी भत्ता पाने के नियम – Rules of Berojgari Bhatta Yojna

  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए व्यक्ति के पास कमाई का कोई स्त्रोत नहीं होना चाहिए।
  • व्यक्ति की आयु 20 से 35 साल के बीच में होनी चाहिए।
  • व्यक्ति की 35 साल की उम्र होने के बाद भत्ता मिलना बंद हो जाएगा।
  • और अगर कोई स्त्रोत है भी तो व्यक्ति की सालाना आय एक लाख से कम ही होनी चाहिए।
  • और मासिक भत्ता लेने के लिए व्यक्तियों के पास कोई भी सरकारी नौकरी नहीं होनी चाहिए।
  • और ये योजना सिर्फ भारतीय लोगों के लिए है। तो भारत के नागरिकों को ही इसका लाभ प्राप्त हो सकता है।
  • और मासिक भत्ता के लिए आधार कार्ड का होना बहुत ही ज़रूरी है नहीं तो व्यक्ति इसके लिए आवेदन नहीं कर सकते हैं।

बेरोजगारी भत्ता के लिए आवेदन करने के तरीके – Methods of applying for Berojgari Bhatta Yojna

  • ऑनलाइन – Online

ऑनलाइन आवेदन के लिए सबसे पहले आप इसकी ऑफिसियल वेबसाइट को खोलें। फिर वहां पर आपको एक फॉर्म दिखाई देगा। इस फॉर्म को पूरी तरह से पढ़ने के बाद अपनी पूरी जानकारी फॉर्म में भर दें। और फॉर्म भरते समय कोई गलती न करें और अगर गलती हुई तो आपका फॉर्म रद्द कर दिया जाएगा। जब फॉर्म भर जाए तो सबमिट बटन को दबा दें। और फिर फॉर्म की हार्ड कॉपी निकालकर अपने पास रख लें।

  • ऑफलाइन – Offline

ऑफलाइन आवेदन के लिए व्यक्ति को सबसे पहले व्यक्ति को बेरोजगार कार्यालय में जाकर अपना नाम रजिस्टर करवाना होगा। उसके बाद उसे अपना आय प्रमाण पत्र लेना समिति में जमा करवाना होगा। और आपकी आवेदन क्रिया पूरी हो जाएगी।

अलग अलग राज्य में बेरोजगारी भत्ता – Berojgari Bhatta in different states

कोई भी देश तभी पूर्ण रूप से आज़ाद माना जाएगा जब उस देश मे गरीबी का कोई नाम नहीं होगा। जब उस देश में कोई भी युवा बेरोजगार नहीं होगा। गरीबी को दूर करने के लिए अलग अलग राज्य ने मासिक भत्ता योजना चलाई है। आईये जानते हैं इस बारे में।

राजस्थान निवासी जिस युवा के पास नौकरी नहीं है वो इसमें आवेदन करके इसका लाभ उठा सकते हैं। और इस योजना के लिए व्यक्ति की आयु 21 से 35 वर्षों के बीच में ही होनी चाहिए। तथा उसका 12 वी पास होना आवश्यक है। और 12 वी के साथ ही ग्रेजुएशन की भी डिग्री होनी चाहिए। और आवेदक की पारिवारिक वार्षिक आय तीन लाख से कम होनी चाहिए।

इसके तहत वही युवा भत्ता पाने के योग्य होंगे जो राज्य सरकार द्वारा किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं पास होंगे। और इस के लिए आयु सीमा 20 से 35 वर्ष के बीच में होनी चाहिए। और किसी भी तरह की सरकारी नौकरी नहीं होनी चाहिए। मासिक भत्ता में पंजीकरण करने के एक साल के बाद ही मासिक भत्ता मिलना शुरू हो जाएगा।

इस योजना में आवेदक को उत्तर प्रदेश का निवासी होना अनिवार्य है। जिस किसी युवा के पास नौकरी का कोई स्त्रोत नहीं है वो इसमें आवेदन कर सकते हैं पर इसके लिये इंटर पास होना आवश्यक है। और आवेदक की आयु 21 से 35 होनी चाहिए। और वार्षिक आय 3 लाख से कम होनी चाहिए।

इसमें आवेदन करने के लिए हरियाणा का निवासी होना आवश्यक है। और आवेदन करने वाले के पास आधार कार्ड वोटर कार्ड होना भी आवश्यक है। तथा 12 वी पास होने के साथ ग्रेजुएशन की भी डिग्री होनी चाहिए। और आवेदक की उम्र 21 से 35 वर्ष के बीच होनी चाहिए।

सरकार ने मासिक भत्ता की मदद से गरीबों की राह आसान कर दी है। और हर महीने 1500 रुपये मासिक भत्ता के रूप में देने का एक अहम फैसला लिया है। इससे देश की तरक्की बढ़ जाएगी।

Loading...

Read More:

Hope you find this post about ”Berojgari Bhatta Yojana” useful. if you like this articles please share on Facebook & Whatsapp. and for the latest update download : Gyani Pandit free Android App

6 COMMENTS

    • शहजाद अली जी, शुक्रिया आपने हमारे इस पोस्ट को पढ़ा। बेरोजगारी भत्ता उन गरीबों को दिया जाएगा जिनके पास कमाई का कोई स्त्रोत नहीं है उन्हें आर्थिक रूप से सहायता दी जाएगी। वहीं बेरोजगारी भत्ता के नियम और शर्ते अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग हैं। हालांकि 12वीं पास होना जरूरी है।

  1. 2017se modiji ne berozgaari bhatt yojna chalai hai.
    kitna fekte ho.
    2013se Akhilesh Yadav ne Up me berozgari Bhadda dena chalu kardiya tha.
    kitna Jhoot bologe

      • इसके लिए आपको एक बार फिर से आवेदन प्रक्रिया की जांच करनी होगी। या फिर आप ऑनलाइन भी यह जांच कर सकते हैं कि कहीं आपका फॉर्म रद्द तो नहीं हो गया। बेरोजगारी भत्ता लेने से पहले इसकी अधिकारिक वेबसाइट पर सभी जानकारी हासिल करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.