आईआईटी में सलेक्ट होने के लिए ये टिप्स…

How to Get Admission in IIT after 12th

हर एक स्टूडेंट जब कक्षा 12वीं पास करता है तो उसके मन में एक बार सपना जरूर आता है की वो आईआईटी में जाए और अपना भविष्य बेहतर करे। उसका ये सपना हकीकत में बदले इसके लिए उसे आईआईटी का एंट्रेंस एग्जाम पास करना होता है जो की आसान नहीं होता है।

इसके लिए युवा कोटा, पटना और दिल्ली के बड़े बड़े संस्थानों में कोचिंग करते है तब जाकर सफलता मिलती है। अगर आप आईआईटी में जाना चाहते है तो उसके लिए आपको कुछ खास टिप्स में ध्यान देना चाहि।

How to Get Admission in IIT after 12th

आईआईटी में सलेक्ट होने के लिए ये टिप्स – How to Get Admission in IIT after 12th

  • तय कर लें की जाना है

अक्सर देखने में आता है की युवा कहते है की होगा या नहीं होगा एक बार ट्राई तो मार लेते है और इस मानसिकता के साथ आने पर उनका सच में नहीं होता है। ट्राई मारने के चक्कर में वो कई साल कोचिंग तो करते रहते है लेकिन सफलता नहीं मिलती है। ऐसे में साल भी बर्बाद होता है और पैसे भी, इसीलिए तय करके आये की आपको जाना ही है।

  • सही कोचिंग का चुनाव

आईआईटी की तैयारी के लिए कोचिंग संस्थान का सहारा लेना आवश्यक है क्योकि यहाँ रेगुलर और बेहतर पाठ्यक्रम पढाया जाता है और वही पढ़ाया जाता है जो आवश्यक होता है। इसके अलावा एक अलग माहौल के चलते आपकी पढाई भी होती है।

अगर आप ड्राप कर रहे है तो कोचिंग जरूर ज्वाइन करे क्योकि इससे आपको एक सज सजाया फॉर्मेट मिल जाएगा जिससे आप तैयारी कर सकेंगे। इसके लिए आप बेहतर कोचिंग का चुनाव करे।

  • शुरू से ही लगे, कोर्स ना छोड़े

अक्सर देखने में आता है की जब बच्चा आईआईटी की तैयारी के लिए जाता है तो फिर वो शुरुआत में ढीला हो जाता है की अरे अभी बहुत समय है पढ़ लेंगे फिर, अभी तो सालभर बाकी है और ऐसे बच्चो का फिर नही ही होता है।

इसीलिए शुरुआत से ही कोर्स में पकड बनाये रखे और रोज का काम रोज करे। अगर आज कोचिंग में मिले होमवर्क को आप आज ही खत्म कर रहे है तो इसके बाद आपको लास्ट में परेशान नहीं होना पड़ेगा की ये नहीं हुआ, और ये छूट गया। इसीलिए आप ये बात समझ ले की आपको कुछ छोड़ना नहीं है और हर एक चीज समय में पूरी करनी है।

  • वेटेज वाले टॉपिक मजबूत करे

आईआईटी का सिलेबस बहुत बड़ा होता है और इसके सभी टॉपिक आप कवर कर सके यह संभव नहीं है। इसलिए आप उन टॉपिक पर अधिक ध्यान दे जिनका वेटेज अधिक होता है। जैसे की फिजिक्स में रोटेशन, इलेक्ट्रोडायनामिक्स जैसे चैप्टर्स और मैथ्स में इंटीग्रेशन, कैलकुलस वाले चैप्टर और केमिस्ट्री में आर्गेनिक वाला भाग अधिक महत्वपूर्ण है।

आप इनमे अधिक ध्यान दें। इसके अलावा आप बीते दस सालों का पेपर उठाये और उसे सोल्व करे जिससे आपको खुद समझ आ जाएगा की किस टॉपिक को अधिक महत्व देना है।

  • शार्ट नोट्स जरूरी

आप शुरू से ही एक ऐसा काम करने लग जाए जो की सब बच्चे नहीं करते है और वो शार्ट नोट्स बनाना शुरू कर दें। आप तीन कॉपी ले जिसमे एक में फिजिक्स के महत्वपूर्ण टॉपिक, एक में केमिस्ट्री के महत्वपूर्ण टॉपिक और तीसरे में मैथ्स के महत्वपूर्ण टॉपिक लिखे।

ये आपको एग्जाम से बीस दिन पहले काम आयेगे जब आप रिवीजन कर रहे होंगे। ऐसे में आपको उस समय अलग अलग किताबो और कोचिंग की नोट्स के पीछे नहीं भटकना होगा और आपके पास सभी चीजे एकत्रित रहेगी।

  • नींद बहुत जरूरी

देखने में आता है की स्टूडेंट्स का कहना होता है की एक साल ही है तो सोने से क्या होगा जितना पढ़ ले उस्तना सही जबकि ये गलत है। आप छ घंटे जरूर सोये और ये बहुत जरूरी है। सोने से आपका दिमाग फ्रेश रहता है और आपको चीजे याद रहती है।

एक बात और दोपहर सोने की आदत ना डाले क्योकि आईआईटी का एग्जाम दो शिफ्ट में होता है और एक एग्जाम दोपहर में होता है और ऐसे में आपकी आदत रहेगी तो एग्जाम में नींद आएगी।

  • सिटिंग कैपिसिटी बनाये

ये वो काम है जो सब बच्चे नहीं करते है। आप तीन तीन घंटे की अपनी सिटिंग कैपिसिटी बनाये और कोई भी पेपर लेकर साल्व करे। दरअसल हमारे दिमाग को लगातार तीन घंटे सवाल साल्व करने की आदत नहीं होती है और एग्जाम में फिर चीजे भूल जाती है। इसीलिए इसकी आदत पहले से बनाये रखे।

आईआईटी में बेहतर पॅकेज मिलता है और आपका जीवन बन जाता है लेकिन यही सबकुछ नहीं है। आईआईटी के निदेशक कहते है की “आईआईटी में अगर आप नहीं जा पाए तो उसकी किस्मत खराब है आपकी नहीं, इसीलिए अपना 100% दे और परिणाम को ना सोचे।”

Read More:

Note: अगर आपको जानिए How to Get Admission in IIT अच्छा लगे तो जरुर Share कीजिये. Note: E-MAIL Subscription करे और पायें More Career Related Articles In Hindi आपके ईमेल पर.

Loading...

3 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.