ओडिशा का इतिहास और जानकारी

Odisha History in Hindi

Odisha – ओडिशा यह राज्य भारत के पूर्व दिशा में आता है। इसे पहले ओरिसा नाम से पहचाना जाता था और इस राज्य के उत्तरपूर्व में पश्चिम बंगाल, उत्तर में झारखण्ड, पश्चिम में छत्तीसगढ़ और दक्षिण में आंध्र प्रदेश जैसे बड़े बड़े राज्य लगते है। क्षेत्र के दृष्टि के इस राज्य का स्थान 9 वा और जनजाति की संख्या की दृष्टि पुरे भारत में ओडिशा तीसरे नंबर पर है।

ओडिशा का इतिहास और जानकारी – Odisha History in Hindi

Odisha
Odisha State History Information

ओडिशा राज्य के बारे में जानकारी – Information About Odisha State in Hindi

राज्य का नाम:ओडिशा (Odisha)
राज्य निर्मिति का साल:१ अप्रैल १९३६
क्षेत्रफल की दृष्टी से राज्य का देश में स्थान:आठवाँ (8th)
राज्य में कुल जिले (District of Odisha):तीस (३०)
राज्य की प्रमुख मातृभाषा:ओड़िया
ओडिशा की राजधानी (Capital of Odisha)भूवनेश्वर
राज्य अंतर्गत प्रमुख पर्यटन स्थल और धार्मिक स्थल:
  1. पूरी जगन्नाथ मंदिर
  2. कोणार्क सूर्य मंदिर
  3. चिल्का सरोवर
  4. पारदीप
  5. बार्बिल इत्यादि।
राज्य से जुडी ऐतिहासिक पृष्ठभूमि:कलिंग युध्द
राज्य का अन्य नाम:उत्कल,कलिंग
राज्य के अंतर्गत आनेवाली प्रमुख नदियाँ (Rivers of Odisha):
  • महानदी,
  • ब्राम्हणी नदी,
  • वैतरणी नदी,
  • सिलेरू नदी,
  • सुवर्णलेखा नदी इत्यादि।
वन्यजीव संरक्षण हेतु परियोजनाए:
  • डेब्रीगढ़ वन्यजीव अभयारण,
  • कोटा गढ़ अभयारण,
  • उशाकोठी अभयारण,
  • चिल्का सरोवर पक्षी अभयारण इत्यादि।

 

ओडिशा राज्य के बारेमें – Odisha ke Bare Mein Jankari

ईसापूर्व 261 में जब मौर्य साम्राज्य का सम्राट अशोक ने कलिंग में जो युद्ध खेला था। वो इस लड़ाई से होने वाली हानी से घबरा गए थे और इसीलिए उन्होंने कलिंग की सेना के साथ होने वाले लड़ाई को छोड़ने का फैसला किया था और बाद में उन्होंने जल्द दी बौद्ध धर्म का स्वीकार कर लिया था।

सन 4 थी शताब्दी में यहापर गुप्त साम्राज्य का शासन था। भौमकारा वंश और बाद में सोम वंश ने करीब 10 वी शताब्दी तक शासन किया था। 13 वी और 14 वी शताब्दी में ओडिशा पर मुस्लीम सुलतान का शासन था और उनका यह राज्य सन 1568 तक चलता रहा। उसके बाद में मुघलो का शासन था जो औरंगजेब के मरने तक चलता रहा।

मुग़ल जाने के बाद ओडिशा पर हैदराबाद के नवाब और और फिर बाद में मराठा साम्राज्य ने शासन किया था और आखिरी में सन 1803 में ओडिशा पर ईस्ट इंडिया कंपनी ने कब्ज़ा जमा लिया था। और 1 अप्रैल 1936 को ओडिशा राज्य की स्थापना की गयी थी और यहाँ के ज्यादातर लोग ओडिया भाषा हो बोलते है।

इसीलिए 1 अप्रैल को यहाँ पर ओडिशा दिन (उत्कल दिवस) मनाया जाता है। इस प्रदेश को उत्कल भी कहा जाता है और इसका नाम हमारे राष्टीय गीत ”जन गण मन” में भी आता है। सन 1135 में अनंतवर्मन छोड़ागंगा ने कटक को इस राज्य की राजधानी बना दिया था और तभी से यही शहर कई राजा महाराज की राजधानी थी।

अंग्रेजो ने भी इसे सन 1948 तक ओडिशा की राजधानी के रूप में ही इस्तेमाल किया था। उसके बाद में भुवनेश्वर को ओडिशा की राजधानी बना दिया था।

ओडिशा के जिले – Districts of Odisha

ओडिशा में कुल 30 जिले है , जिसमे निम्नलिखित तौर पर जिले शामिल होते है जैसे के;

  1. बालासोर
  2. नयागढ़
  3. बौध
  4. भद्रक
  5. कटक
  6. रायगढ़
  7. देवगढ
  8. गजपति
  9. गंजम
  10. जगतसिंहपुर
  11. जयपुर
  12. झारसुगड़ा
  13. केंद्रपारा
  14. कोंझार
  15. खुर्दा
  16. ढेंकनाल
  17. कोरापुत
  18. अंगुल
  19. बारगढ़
  20. मालकनगिरीर
  21. मयुरभंज
  22. नवरंगपुर
  23. नौपारा
  24. कंधमाल
  25. पूरी
  26. संबलपुर
  27. बोलांगीर
  28. सोनेपु
  29. सुंदरगढ़
  30. कलाखंदी

ओडिशा राज्य के त्यौहार – Festival of Odisha State

इस राज्य में कई सारे त्यौहार मनाये जाते है। यहाँ का सबसे विशेष त्यौहार बोइता बन्दना है जिसमे यहापर सभी नावो की पूजा की जाती है। इस त्यौहार को विशेषरूप से अक्तूबर से नवम्बर के महीने में मनाया जाता है। पूर्णिमा से पहले पाच दिन तक चलने वाले इस त्यौहार सभी लोग नदी के किनारे इकट्ठा होते है और अपने पूर्वज जो दूर जा चुके है उनकी याद में छोटी छोटी नव बनाकर पानी में बहा देते है।

ओडिशा राज्य के मंदिर – Temples of Odisha State

Temples of Odisha
Temples of Odisha

यहाँ के पूरी शहर में देश का सबसे प्रसिद्ध मंदिर जगन्नाथ मंदिर स्थित है और जब यहापर रथयात्रा का आयोजन किया जाता है तो पुरे देश में से सभी भक्त भगवान के दर्शन के लिए यहाँ पर इकट्टा होते है। यहाँ से थोड़ी दुरी पर ही 13 वी शताब्दी में बनाया हुआ कोणार्क का सूर्य मंदिर है।

ओडिशा की संस्कृति – Culture of Odisha

इस राज्य की संस्कृत काफी समृद्ध है और इस राज्य की राजधानी भुवनेश्वर अपने दिव्य और शानदार मंदिरों के लिए काफी जाना जाता है। इस राज्य की जो संकृति है वो हिन्दू, बौद्ध और जैन धर्मं का एक मिश्रण है। आदिवासी लोगो की जो संस्कृति है वो इस राज्य का अहम हिस्सा माना जाता है। यहाँ का सबसे महत्वपूर्ण त्यौहार भगवान जगन्नाथ कली रथयात्रा है।

ओडिशा राज्य की भाषा – Odisha state language

ओडिया यहाँ की अधिकारिक भाषा है पुरे राज्य में इसी भाषा का इस्तेमाल किया जाता है। ओरिया भाषा इंडो आर्यन भाषा मानी जाती है और आज भी यहाँ के आदिवासी द्रविड़ी और मुंडा जैसी पुराणी भाषा बोलते है।

ओडिशा के नृत्य और संगीत – Dance and music of Odisha
Jagannath Temple Puri Images
Jagannath Temple Puri Images

ओडिसी उड़ीसा राज्य का प्रमुख शास्त्रीय नृत्य रूप है और यह भारत के सबसे पुराने शास्त्रीय नृत्य रूपों में से एक माना जाता है। ओडिसी शास्त्रीय नृत्य कृष्ण और उसकी पत्नी, राधा के दिव्य प्रेम के बारे में है। भारत के ओडिशा राज्य में हमें विविधता देखने को मिलती हैं।

भारत के चार पवित्र धामों में से एक जगन्नाथ पुरी का 800 वर्ष पुराने मुख्य मंदिर का एक जग प्रसिद्ध महोत्सव यानि यहाँ की जगन्नाथ रथ यात्रा। इस दस दिवसीय रथयात्रा महोत्सव की तैयारी अक्षय तृतीया के दिन श्रीकृष्ण, बलराम और सुभद्रा के रथों के निर्माण के साथ ही शुरू हो जाती है। इसे देखने देश विदेश से लोग आते हैं। हमें भी इस यात्रा का हिस्सा बनने के लिए ओडिशा जरुर जाना चाहिए।

ओडिशा राज्य से जुड़े कुछ रोचक तथ्य – Facts about Odisha

Facts about Odisha
Facts about Odisha
  1. भारत के बड़े क्षेत्रफल के राज्यों की सूचि में शामिल ओडिशा राज्य का इतिहास कालीन नाम कलिंग था जो के बादमे बदलकर उत्कल रखा गया था। पर भाषा के आधार पर राज्य निर्मिति के प्रस्ताव के बाद इस १ अप्रैल १९३६ से ओड़िया भाषी लोगो के राज्य का ओडिशा नामकरण किया गया था।
  2. भारत में हुए सफल परमाणु परिक्षण में सबसे अधिक परिक्षण ओडिशा के चांदीपूर नामक स्थान पर किये गए है, जिसकी भूमि खास तौर ऐसे परीक्षणों के लिए लाभदायक सिध्द हुई है।
  3. बंगाल के उपसागर का तटवर्तीय इलाखा ओडिशा राज्य से भी जुड़ा हुआ है, जिसमे पारदीप नामक समुद्री तट पर्यटन के दृष्टी से खासा प्रसिध्द है, जिसमे देश दुनिया के पर्यटक यहाँ का नयन रम्य अद्भुत नजारा देखने के लिए सालभर आते रहते है।
  4. भारत में लंबाई के दृष्टी से सबसे बड़े नदियों की सूचि में शामिल महानदी ओडिशा राज्य की प्रमुख नदी है, जिसपर हीराकुड नामक भारत का सबसे बड़ा डैम स्थित है जिसके पानी का लगभग सभी प्रमुख क्षेत्रो के लिए उपयोग किया जाता है।
  5. ओडिशा राज्य के अंतर्गत मयूरभंज, जेजपुर, जोड़ा, केवनिझर,सुंदरगढ़ इत्यादि प्राकृतिक संपत्ति से समृध्द खाने मौजूद है, जहाँ पर प्रचुर मात्रा में लोह, स्टील, तांबा, कोयला, लोह के उपधातु इत्यादि पाए जाते है ।
  6. यहाँ के प्रमुख त्योहारों में कलिंग उत्सव, जगन्नाथ रथयात्रा, चंदन उत्सव, कोणार्क सूर्य मंदिर उत्सव, दुर्गापूजा इत्यादि प्रमुख होते है। इसके अलावा इस राज्य में कला महोत्सव भी समय समय पर आयोजित किये जाते है, जिसमे रेत पर प्रतिकृति उतारना खासा प्रसिध्द है। सालभर में देश और दुनिया की विभिन्न घटनाओ की प्रतिकृति हूबहू रेत पर उतारने वाले यहाँ के कुछ खास कलाकार देशभर में प्रसिद्ध है।
ओडिशा राज्य के बारेमें अधिकतर बार पूछे जाने वाले सवाल – Odisha Quiz Questions
  1. भारत के किस राज्य की मातृभाषा ओड़िया है? (Which state mother tongue is odiya?

जवाब: ओडिशा

2. ओडिशा राज्य की निर्मिति कब हुई थी?इसका नाम ओडिशा क्यों रखा गया था?

जवाब: १ अप्रैल १९३६ को राज्य की निर्मिति हुई थी, जिसमे ओड़िया भाषी लोगो के स्थान का नाम ओडिशा रख दिया गया था। भारत के लगभग सभी राज्यों का निर्माण भाषा के आधार पर ही हुआ है।

3. भारत के चांदीपुर नामक ठिकाण की क्या विशेषता है?ये किस राज्य में स्थित है? (What is the specialty of Chandipur place in India?Chandipur place belongs from which state?)

जवाब: भारत के लगभग सभी प्रमुख परमाणु मिसाईल परिक्षण चांदीपुर में किये गए है, जिसमे पृथ्वी, अग्नि, आकाश, शौर्य इत्यादि मिसाइले शामिल है।चांदीपुर ओडिशा का तटवर्तीय स्थान है जहा भारत के रक्षाप्रणाली को मजबूत करने के अद्भुत कार्य संपन्न हुए है।

4. भारत के किस राज्य में रेत पर कारागिरी और कला का अधिक प्रचलन हुआ है? रेत कला की वजह से भारत का कौनसा राज्य प्रसिध्द है? (Which Indian state is famous for sand arts?)

जवाब: ओडिशा।

5. हीराकुड बांध कहा स्थित है तथा कौनसे नदी पर इसका निर्माण किया गया है? (In which state hirakud dam is situated?On which river hirakud dam had been built?)

जवाब: ओडिशा राज्य के संबलपुर में महानदी के उपर लगभग २६ किलोमीटर की दुरी का हीराकुड बांध निर्मित किया गया है, जिसे दुनिया का सबसे अधिक लंबाई का बांध माना जाता है।

6. बंगाल के उपसागर से जुड़ा ओडिशा का कौनसा स्थान पर्यटन की दृष्टी से खासा महत्व रखता है? (Famous costal region in odisha state)

जवाब: पारदीप 7. यूनेस्को द्वारा भारत के ओडिशा राज्य के किस प्राचीन मंदिर को विश्व धरोहर में शामिल किया गया है? (Unesco recognized world heritage temple in odisha state)

जवाब: कोणार्क सूर्य मंदिर।

8. भारत के राज्य ओडिशा में कुल कितने राज्य है? (Total districts in odisha state)

जवाब: ३०।

9. ओडिशा राज्य की राजधानी क्या है?इस शहर में कौनसा प्राचीनकला से संपन्न शिव मंदिर है? (Capital of odisha and famous ancient temple in capital city)

जवाब: ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर शहर है, जहाँ पर स्थित भगवन शिव का लिंगराजा मंदिर प्राचीनतम कलाशैली का अद्भुत नमूना है।

10. हथिगुंफा की गुफाए किस राज्य का पर्यटन आकर्षण केंद्र है, किस राजा ने इन गुफाओ का निर्माण किया था?(Hathigumfa caves and king related to construction of this caves)

जवाब: ओडिशा राज्य में स्थित हथिगुंफा की गुफाए प्राचीन शिल्प वास्तुकला का बेहतरीन उदहारण है जिसका निर्माण खारवेल राजा के समय काल में हुआ था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here