गर्मियों में उत्तराखंड की इन जगहों में जाएँ घूमने – Places to Visit in Uttarakhand in Summer

Places to Visit in Uttarakhand in Summer

वादियों से घिरी जगह उत्तराखंड हमेशा ही सैलानियों की अपनी तरफ आकर्षित करता आ रहा है। इस राज्य में कई सारी ऐसी जगहें है जहाँ आप घूमने जा सकते हैं। अपने एडवेंचर स्पोर्ट्स के लिए मशहूर उत्तराखंड गर्मियों के मौसम में भी ठंडा रहता है। अगर आप गर्मी के मौसम में उत्तराखंड जाने का प्लान बना रहे हैं तो इन जगहों में जरूर जाएँ-

Places to visit in Uttarakhand in summer
Places to visit in Uttarakhand in summer

गर्मियों में उत्तराखंड की इन जगहों में जाएँ घूमने – Places to Visit in Uttarakhand in Summer

  • केदारनाथ – Kedarnath

इसकी भव्य सुन्दरता और वादियों से घिरा हुआ मंदिर देखकर हर कोई वही रुक जाना चाहेगा। केदरनाथ में भगवान् शिव का ज्योतिर्लिंग है और आप यहाँ गर्मियों में जाना चाहे तो घूम सकते हैं। आप यहाँ केदारनाथ मंदिर, चोराबरी ताल, वासुकी ताल आदि जा सकते हैं।

  • मसूरी – Mussoorie

इसे “पहाड़ियों की रानी” भी कहा जाता है। दून घाटी के दक्षिण में स्थित हरी भरी चोटियाँ आपका मन मोह लेती हैं। गर्मियों के मौसम में घूमने के लिए अच्छी जगह है। आप यहाँ मसूरी एडवेंचर पार्क, कैमल बेक रोड, झारिपानी फाल्स, मसूरी लेक, भट्टा फाल्स, चिल्ड्रेन्स लॉज, लाल टिब्बा, क्लाउड्स एंड, हैप्पी वैली, कंपनी गार्डन, केम्पटी फाल, माल रोड जैसी जगहों में जाकर मजे कर सकते हैं। यहाँ का केम्पटी फाल तो बहुत ही ज्यादा मशहूर है।

  • ऋषिकेश – Rishikesh

आध्यात्म और खूबसूरती का मिश्रण अपने अंदर समेटे ये जगह बहुत ही ज्यादा आकर्षक है। यहाँ सबसे अधिक एडवेंचर स्पोर्ट्स होते हैं। आप गर्मियों के मौसम में ऋषिकेश जाकर मन खुश कर सकते हैं। आप यहाँ बंजी जम्पिंग का मजा ले सकते हैं।

ऋषिकेश में आप त्रिवेणी घाट, लक्ष्मण झूला, क्रिया योग आश्रम, जम्पिन हाइट, शिवपुरी और कुडियाला जैसी जगहों में घूमने जा सकते हैं।

यहाँ जाने पर आपको एक अलग ही सुख का अनुभव होगा। यहाँ कई सारे आश्रम हैं जहाँ आप कुछ दिन प्रकृति के बीच रहकर खुद के मन को शांत और एकाग्र कर सकते हैं।

  • नैनीताल – Nainital

जब कभी उत्तराखंड की वादियों में जाने का विचार आता है तो सबसे पहले इसी जगह का ध्यान आता है। झीलों से भरे इस जगह में गर्मियों के मौसम में भी तापमान लगभग 16-18 डिग्री सेल्सियस रहता है। आप गर्मियों में यहाँ घूमने जरूर जाएँ। नैनीताल में आप नैनी लेक, एको केव गार्डन, नैनीताल जू, हिमलायन व्यू पॉइंट, ठंडी सड़क, लैंड्स एंड आदि जगहों पर जरूर घूमने जाना चहिये।

  • रानीखेत – Ranikhet

एक खूबसूरत हिल स्टेशन जहाँ लैंडस्कोप और हरियाली का अनोखा संगम है। इस जगह में जाकर मन को सुकून सा मिलता है। आप यहाँ झूला देवी टेम्पल, चौबतिया ऑर्चर्ड, नंदा देवी माला, उपट और कलिका, मनकामेश्वर टेम्पल आदि जा सकते हैं। यहाँ पहुचते ही आपको बहुत अच्छा लगता है क्योकि वातावरण में शान्ति बहुत है।

  • अल्मोड़ा – Almora

जिन्हें प्रकृति से प्रेम है उनके लिये ये जगह स्वर्ग के सामान है। आप यहाँ जाकर खुद को एक अलग ही सुकून दे सकते हैं। गर्मियों में घूमने का प्लान बना रहे है तो इस जगह जाना चहिये। यहं जगह वाइल्ड लाइफ के लिए बहुत मशहूर है। आप यहाँ ब्राइट एंड कार्नर, कसार देवी टेम्पल, बिंसर वाइल्डलाइफ सेंचुरी, सिम्तोला, मारतोला, कटारमल सूर्य मंदिर जा सकते हैं।

  • पिथौरागढ़ – Pithoragarh

उत्तराखंड के पूर्व में स्थित ये जगहं फोटोग्राफी के लिए बहुत ही अधिक मशहूर है। आप यहाँ जाकर प्रकृति की अनुपम छटा का आनंद ले सकते हैं। आप यहाँ चंडक, पिथौरगढ़ फोर्ट, थाल केदार, अश्कोट सेंचुरी, झूलाघाट और रालम ग्लेशियर जा सकते हैं।

ये हैं उत्तराखंड की वो जगहें जहाँ आप घूमने का आनंद ले सकते हैं। इन सभी जगहों तक ट्रेन वगैरा नहीं जाती है इसीलिए कुछ कुछ जगह आपको लोकल टैक्सी करके पहुचना पड़ता है। गर्मियों के मौसम में दोस्तों के साथ कुछ बढ़िया देखना चाहते हैं और छुट्टियों को अच्छे से एन्जॉय करना चाहते हैं तो एक बार उत्तराखंड का प्लान बनाइए।

Read More:

Hope you find this post about ”Places to Visit in Uttarakhand in Summer” useful. if you like this article please share on Facebook & Whatsapp.

Note: We try hard for correctness and accuracy. please tell us If you see something that doesn’t look correct in this article About Places to Visit in Uttarakhand in Summer in Hindi… And if you have more information History of Places to Visit in Uttarakhand in Summer then help for the improvements this article.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.