Babar History In Hindi | बाबर का इतिहास और जानकारी

BabarBabar image

पूरा नाम  – जहीर-उद-दिन मुहम्मद बाबर
जन्म      – 14 फरवरी, 1483.
जन्मस्थान – अन्दिझान (उज्बेकिस्तान)
पिता      – उमर शेख मिर्जा 2
माता      – Qutlugh Nigar Khanum
विवाह     – आयेशा सुलतान बेगम, जैनाब सुलतान बेगम, मौसमा सुलतान बेगम, महम बेगम, गुलरुख बेगम, दिलदार अघाबेगम, मुबारका युरुफझाई, सहिला सुलतान बेगम, हज्जाह गुलनार अघाचा, नाझगुल अघाचा, बेगा बेगम।

बाबर का इतिहास – Babar History In Hindi

Babar शब्द का अर्थ ‘सिंह’ है और वे इतिहास में इसी नाम से प्रसिध्द हैं। बाबर तैमुरलंग और चंगेजखा जैसे बहादुर मंगोल सरदारों के वंशज थे, जिनकी क्रूरता और वीरता के अनेक उदाहरण इतिहास के पृष्ठों में भरे पड़े हैं। परन्तु बाबर अपने इन वंशजों से कुछ भिन्न थे। इनके पूर्वज जहां दिल्ली तक पहुंचे और यहां मारकाट करने के बाद लूट का माल लेकर वापीस चले गये, पर बाबर हिन्दुस्तान के ही होकर रह गये। उन्होंने अपने-आपको विदेशी नहीं माना।

बाबर ने पानीपत की लड़ाई में दिल्ली के लोधी सुल्तान को भारी शिकस्त दी और उसके बाद दिल्ली के राजसिंहासन पर कब्जा करके उसके आस-पास के प्रदेशों को भी जीतकर अपने साम्राज्य का हिस्सा बनाया। इस प्रकार भारत में मृगल सल्तनत की आधारशिला रखी।

भारत में उस समय अनेक छोटे-छोटे राजओं, सामन्तों और जागीरदारों की कमी न थी। बाबर ने बहुत बड़े हिस्से को जीतकर भारत में एकता स्थापित करने का प्रयत्न किया और सम्भवत: बहुत अरसे के बाद यह भारत को एक सुत्र में बांधने का प्रयत्न था।

Loading...

इस प्रकार वह 1527 तक भारत के बहुत बड़े हिस्से पर अपना अधिकार जमा चूका था। बाबर की विशेषता यह थी कि उन्होंने यहीं का होकर रहने में अपनी भलाई समझी और इस प्रकार मृगल-साम्राज्य की स्थापना के लिए महत्त्वपूर्ण कार्य किया। उसने अपने राज्य की स्थापना के बाद लुट-खसोट के बदले विभिन्न प्रदेशों को संगठित करने का कार्य किया।

बाबर बहुत सुरुचिपूर्ण व्यक्ति थे। उनके प्रभाव से भारत की नष्टप्राय कलाओं का विकास फिर से प्रारंभ हुआ। उन्होंने अपने संस्मरण भी लिखे।

और अधिक लेख

Note:- आपके पास About King Babar in Hindi मैं और Information हैं, या दी गयी जानकारी मैं कुछ गलत लगे तो तुरंत हमें कमेंट और ईमेल मैं लिखे हम इस अपडेट करते रहेंगे।
अगर आपको Life History Of Babar in Hindi Language अच्छी लगे तो जरुर हमें WhatsApp और Facebook पर Share कीजिये।
Note:- E-MAIL Subscription करे और पायें Essay With Short Biography About Babar in Hindi and More New Article ईमेल पर। These History of Babar used on :- Mughal history in Hindi, Mughal emperor Babar, Babar history in Hindi, बाबर की जीवनी।

87 COMMENTS

  1. मै आदित्य सिंग ,मै बिहार का रहने बाला हु मुझे बाबरनामा बुक हिंदी में pdf फाइल में चाहिए मैंने बहुत खोजा मगर मैं असफल रहा अगर आप लोग के पास है या कोई लिंक है तो आप हमें जरूर बताये

    • Babar ne rana sanga ko haraya nae tha ballke rana sanga ne use invite kiya tha. lodi ko india se bhagane k liye lekin babar ne lodhi ko harakar khud hi india me sasan karne lga fr baad me rana sanga se yudh hua.

  2. Babar ki ek hi yuddh ke bare me diya gaya h,,,usane 4 mahan yuddh kiya that,panipath,khanawa,chandel or ghanghar Ka yudh,,eske bare me bhi information digia

  3. Mere Aziz bhaiyo Babar ke bare main Jana h aur uske khandan ke main Jana h to mughal samrajy pdo mere to dil ki khush ho inki khani pdkar

  4. Dear Sir,
    Babar ki puri History bhejiye & Babar ne babri masjid Ayyodhya main kyon bnai Hindustan main aur jagh nahi thi kya

  5. BABAR FATHER NAME UMARSHEK MEIRJA AND HE WAS A KING OF FARGANA AND BABAR SIT ON THE THORN OF FARGANA AT 1494 AND BABAR TAKES BADHSHA UPADI IN 1507.

    • Nisha deep ji,

      kuch hi dino me Babar ke bare me or janakari is lekh me update ho jayengi, GyaniPandit ke sabhi lekh par kaam chal raha hain. hamase jude rahe..

  6. Babar hindustan me apni beti ke kehne pe aaya jo bol nahi sakti thi sirf hindustan ki taraf ishara karti thi babar ne us vaqt ke najumio se pucha Kaun sa desh hai yaha jis taraf meri beti ishara karti hai to najumio ne bataya yaha hindusta hai fir babar ne apne kayi qasid bheje hindustan par koi sahi jawab nahi mila jisse babar mutmain ho usko Pata chala ke koi musalman badsha hai jo kafi zulmgar hai aur hindustan ke log usse kafi pareshan hai bas yahi vajah thi babar ke hidustan aane ki

    • Mohd junaid Sir,

      Usake liye pahale aap Free Email Subscribe Kare.. Apako mugal saltanat ka pura itihas mil jayenga.

      Dhanyawad

  7. I was surprised to tead about babar that he was brave and warrior.he was powerful.akbar the great inherited the qualities from his grandfather

  8. this is not enough information for a competitive student or anyone who is eager to know so mention how he entered in india ,who invited him, how many battle he fought before defeated lodi n so on…………………..

    • sayyad tofik sir,

      Apake Pass King Babar ke itihas ke bare me our janakari hai to yaha niche comment me likhe, achhi or sachhi lagane par ham use jarur lekh me UPDATE karenge.. kyoki Babar ke bare me itani janakari kafi nahi hai.. ham jald hi lekh me or janakari badhayege…

      apaka bahut dhanyawad… gyanipandit se jude rahe.

  9. Mangolon me bare me vistar se btanne ki jarurat hai.taimur lang wa changej kha me bare me bhi aur jankari dena uchit rahega.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here