27 अक्टूबर का इतिहास | 27 October in History

27 October in history

27 अक्टूबर को देश विदेश के इतिहास में बहुत सी घटनाएँ घटी हैं आज हम इस लेख में उन्ही महत्वपूर्ण घटनाओं के बारेमें जानेंगे।

27 अक्टूबर का इतिहास – 27 October in History

27 October History
27 October History

27 अक्टूबर की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ – Important events of  October 27

  • पोलैंड और तुर्की ने 1676 में वारसा की संधि पर हस्ताक्षर किए।
  • अमेरिका और स्पेन ने 1795 में सैन लोरेंजो की संधि पर हस्ताक्षर किए।
  • फ्रांस की सेना 1806 में बर्लिन में घुसी।
  • अमेरिका ने 1810 में स्पेन के पूर्व उपनिवेश पश्चिमी फ्लोरिडा को अपने अधिकार में लिया।
  • नार्वे स्वीडन से अपना गठजोड़ समाप्त करके 1905 में स्वतंत्र हो गया।
  • रूस और चीन के साथ कई वर्षों के युद्ध के बाद जापान को 1910 में इन दोनों देशों पर विजय मिली।
  • लीग आॅफ नेशन का मुख्यालय जिनेवा 1920 में स्थानांतरित किया गया।
  • उज़्बेक एसएसआर 1924 को सोवियत संघ में मिला।
  • फ्रांस में जनमत संग्रह के बाद इस देश के चौथे राष्ट्रपतिकाल के संविधान को 1946 में जनता की स्वीकृति मिली इस प्रकार फ्रांस में चौथा लोकतंत्र आरंभ हुआ।
  • जम्मू कश्मीर के राजा हरि सिंह ने 1947 को भारत में जम्मू कश्मीर के विलय को स्वीकार कर लिया।
  • पाकिस्तान के राष्ट्रपति स्केदर मिर्जा को 1958 में अपदस्थ कर जनरल अय्यूब खां पाकिस्तान के शासक बने।
  • पश्चिमी मेक्सिको में 1959 को चक्रवाती तूफान से कम से कम 2000 लोग मरे।
  • मेक्सिको सिटी में 1968 को 19वें ओलंपिक खेलों का समापन हुआ।
  • मिस्र के राष्ट्रपति अनवर सादात और इजरायल के प्रधानमंत्री मेनाचेम को 1978 में शांति का नोबेल पुरस्कार के लिए चुना गया।
  • चीन ने अपनी जनसंख्या एक अरब से अधिक होने की घोषणा 1982 में की।
  • तुर्कमिनस्तान की उच्च परिषद ने 1991 में सोवियत संघ से इस देश की स्वतंत्रता को स्वीकृति दी।
  • यूक्रैन में 1995 को कीव स्थित चेननोबिल परमाणु संयुत्र सुरक्षा संबंधी खामियों के कारण पूर्णत: बन्द किया गया।
  • एडिनबर्ग (स्काटलैंड) में राष्ट्रकुल शिखर सम्मेलन 1997 में सम्पन्न हुआ।
  • आमेंनिया संसद पर 1999 को हुए आतंकी हमले में पीएम वाजगेन सर्गस्यान व स्पीकर कारेन देमिर्च्यान मारे गए।
  • चीन में 2003 को भूकम्प से 50,000 से अधिक लोग प्रभावित, बगदाद में बम धमाकों से 40 लोगों की मृत्यु।
  • चीन ने विशालकाय क्रेन का निर्माण 2004 में किया।
  • केन्द्र सरकार ने 2008 में अख़बार उद्योग के पत्रकारों और ग़ैर पत्रकारों को अंतरिम राहत की अधिसूचना जारी की।

27 अक्टूबर को जन्मे व्यक्ति – Famous Birthdays on 27 October

  • सिलाई मशीन का आविष्कारक आइजैक मेरिट सिंगर का जन्म 1811 में हुआ।
  • स्वतंत्रता सेनानी और क्रांतिकारी जितेंद्र नाथ दास उर्फ जतिन दास का कलकत्ता (अब कोलकाता) में जन्म 1904 को हुआ।
  • भारत के राष्ट्रपति के. आर. नारायणन का जन्म 1920 में हुआ
  • डेनमार्की अभिनेता और गायक पाउल बंदगार्ड का जन्म 1922 में हुआ
  • ब्राज़ील के पैतीसवें राष्ट्रपति लुइज़ इंसियो लूला दा सिल्वा का जन्म 1945 में हुआ
  • फिल्‍म जगत के साथ-साथ भजनों से खास पहचान बनाने वाली अनुराधा पौडवाल का जन्‍म 1952 में हुआ।
  • भारत के शतरंज खिलाड़ी दूसरे ग्रैंड मास्टर दिब्येन्दु बरुआ का जन्म 1966 में हुआ।
  • श्रीलंका के पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज कुमार संगकारा का जन्म 1977 में हुआ। उन्होंने 134 टेस्ट मैचों में 12400 जवकि 404 वनडे में 14234 रन बनाये।
27 अक्टूबर को हुए निधन – Famous Death on 27 October
  • मुगल साम्राज्य के तीसरे शासक अकबर का फतेहपुर सीकरी में 1605 को निधन हुआ।
  • भारतीय स्वतंत्रता सेनानी ब्रह्मबांधव उपाध्याय का निधन 1907 में हुआ।
  • भारत के स्वतन्त्रता संग्राम में सम्मिलित होने वाले प्रमुख भारतीयों में से एक टी.एस.एस. राजन का निधन 1953 में हुआ।
  • गांधी जी के निजी सचिव प्यारे लाल का निधन 1982 में हुआ।
  • मशहूर भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी विजय मर्चेन्ट का निधन 1987 में हुआ।
  • भारत के प्रसिद्ध हिन्दी साहित्यकार डॉ. नगेन्द्र का निधन 1999 में हुआ।
  • हिन्दी फिल्मों के प्रसिद्ध अभिनेता प्रदीप कुमार का निधन 2001 में हुआ।

Read More:

We hope you have been satisfied with the information given above, if not, then please tell us through Please Comment and if you have more information about the history of 27 October today, also tell us through the comments, will do.

2 thoughts on “27 अक्टूबर का इतिहास | 27 October in History”

    1. शुक्रिया अभय जी, इस पोस्ट को पढ़ने के लिए, हमें जानकर खुशी हुई कि आपको यह आर्टकिल पसंद आया। हम आगे भी अपनी वेबसाइट पर इस तरह के पोस्ट अपडेट करते रहेंगे। कृपया आप हमारी वेबसाइट से जुड़े रहिए।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *