क्रिसमस पर कवितायेँ – Christmas Poem

Christmas Poem in Hindi

सभी को क्रिसमस की ढेर सारी शुभकामनायें!! क्रिसमस जो हम हर साल 25 दिसंबर को मनाते हैं हम सभी जानते हैं की इस दिन ईसा मसीह या यीशु का जन्म हुआ था। भगवान यीशु मसीह के जन्म होने के पहले ही भविष्यवाणी हुयी थी की यीशु इस दुनिया में ईश्वर के पुत्र के रूप में जन्म लेगे, इसीलिए ज्यादातर देशो में उनका जन्मदिन बड़े धूम धाम से मनाते हैं।

आज इसी त्यौहार के अवसर पर आपके लिए कुछ कवियों ने लिखी उनकी क्रिसमस कवितायेँ – Christmas Poem लायें हैं आशा हैं जिन्हें पढने में आनंद मिलेंगा और आप और हर्षोउल्हास के इस त्यौहार को मनायेंगे।

क्रिसमस पर कवितायेँ – Christmas Poem

Christmas Poems

Jingle Bells Lyrics

क्रिसमस के पर्व को ईसाई धर्म के ईस्ट देवता ईसा मसीह के जन्मदिवस के उपलक्ष्य में मनाया जाता है। यह पर्व न सिर्फ ईसाई धर्म के लोगों द्धारा मनाया जाता है, बल्कि सभी धर्म के लोग हर्षोल्लास के साथ क्रिसमस के पर्व को मनाते हैं और गिरिजाघरों में जाकर सुख, समृद्धि की कामना करते हैं।

यह त्योहार नई उमंग, प्यार, खुशि और सोहार्द का पर्व है। इस दिन ईसा मसीह की शिक्षाएं और उनके द्धारा किए गए अच्छे कामों को याद किया जाता है।

साथ ही इस दिन ईसाई धर्म के लोग ईसा मसीह के उपदेशों का पालन करने का संकल्प भी लेते हैं। इस दिन को लोग अपने-अपने तरीके से मनाते हैं और केक खिलाकर एक-दूसरे का मुंह मीठा करते हैं और इस पावन पर्व की बधाई देते हैं। वहीं क्रिसमस डे पर लिखीं गईं यह बेहतरीन कविताएं इस पर्व को खास बना सकती हैं।

जिंगल बेल्स जिंगल बेल्स

जिंगल बेल्स जिंगल बेल्स,
जिंगल आल द वे,
ओह! व्हाट फन ईट इस टू राइड,
इन अ वन हॉर्स ओपन स्लै।।
डैशिंग थ्रु द स्नो,
इन अ वन हॉर्स ओपन स्लै,
ओवर द फील्ड वी गो,
लाफिंग आल द वे।।
बेल्स ओन बोब टेल्स रिंग,
मेकिंग स्पिरिट्स ब्राइट,
व्हाट फन ईट इस लाफ एंड सिंग,
अ स्लेईग सोंग टू नाइट।।
हे!!
जिंगल बेल्स जिंगल बेल्स,
जिंगल आल द वे,
ओह! व्हाट फन ईट इस टू राइड,
इन अ वन हॉर्स ओपन स्लै।।
अ डे ओर टू अगो,
आय थॉट आयड टेक अ राइड,
एंड सुन मिस फन्नी ब्राइट,
वांज सीटेड बाय माय साइड।।
द हॉर्स वांज लिन एंड लंक,
मिस फोर्चुन सिमंड हिज लोट,
वुई गोट ईंटो अ ड्रिफ्तेड बैंक,
एंड देन वी गोट अप्सोट।।
हे!!
जिंगल बेल्स जिंगल बेल्स,
जिंगल आल द वे,
ओह! व्हाट फन ईट इस टू राइड,
इन अ वन हॉर्स ओपन स्लै।।

Short Christmas Poems

सांता-सांता कहलाता वो

ठंडी-ठंडी हवाओं में
दूर कोई मेरी क्रिसमस गीत गाता है
हर बार बडासा एक थैला भरकर
वो सबके लिए गिफ्ट लेकर आता है
मम्मी हमसे कहती है
वो बच्चों को बहुत प्यार है करता
हरे भरे क्रिस्ट्मस ट्री को
वो खुबसुरत सज़ा के देता
25 दिसंबर को आता वो
सांता-सांता कहलाता वो

Christmas Poems about Jesus

ईसाई धर्म का प्रमुख त्योहार क्रिसमस का पर्व 25 दिसंबर को पूरे विश्व में धूमधाम के साथ मनाया जाता है। इस त्योहार पर अलग ही रौनक देखने को मिलती है।

चर्च, घरों, बाजारों एवं शॉपिंग मॉलों को बेहद खास तरीके से सजाया जाता है, साथ ही इनमें बेहतरीन लाइटिंग की जाती है।

इस पर्व के मौके पर स्कूल समेत तमाम संस्थाओं में कई अलग-अलग तरह के कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है और जगह क्रिसमस पार्टी का भी आयोजन किया जाता है, जिसमें सांता क्लॉज की वेष धारण कर बच्चों को तमाम तरह के गिफ्ट और चॉकलेट बांटी जाती हैं।

इसके साथ ही इस मौके पर बच्चे भी सांता क्लॉज की वेशभूषा में नजर आते हैं। वहीं क्रिसमस डे के मौके पर लोग अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को सोशल मीडिया साइट्स पर क्रिसमस डे कोट्स और कविताओं के माध्यम से शुभकामनाएं संदेश भेजते हैं और उनके सुखी जीवन की कामना करते हैं।

इसलिए आज हम आपको अपने इस आर्टिकल में क्रिसमस डे पर कुछ खास कविताएं उपलब्ध करवा रहे हैं। जिन्हें आप अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स पर अपने दोस्तों के साथ भी शेयर कर सकते हैं।

आओं हम सब क्रिसमस मनाएंगे।

क्रिसमस ट्री हम सजायेंगे, आओं हम सब क्रिसमस मनाएंगे।

सांता क्लोस आएंगे। गिफ्ट हमें दे जायेंगे।

गिरजाघर में कैरल गाएंगे। यीशु मसीह का जन्मदिन मनाएंगे।

मैरी माँ के घर इस दिन भगवान् का बेटा आया था।

जिसने इस संसार में खुशियों का दिया जलाया था।

पर जब बादशाह को खबर हुई। वह तो डर कर काँप गया।

छोटे-छोटे बच्चों को मार कर वह डाल गया।

लेकिन भगवान् के बेटे को, मार नहीं वह पाया था।

और इस संसार ने अपने जीसस को पाया था।

भगवान समझा सबने जीसस को, केफस बहुत घबराया था।

अपनी गहरी चालों से यीशु को सूली चढ़वाया था।

आज भी उनकी याद में हम सब कैरल गाते हैं।

जन्मदिन पर उनके हम दीपों से जग को महकाते है।

गिरजाघर को हम बहुत सुन्दर सजाते हैं।

इस दिन को हम बहुत धूम धाम से मनाते हैं।

खुशियों को बांटकर हम क्रिसमस को हम मनाते हैं।

प्यारे यीशु के जन्मदिवस पर शांति का सन्देश फैलाते हैं।

छोटे-छोटे बच्चे भी बहुत खुश हो जाते हैं।

सांता जब उनको गिफ्ट बहुत दे जाते हैं।

क्रिसमस ट्री हम सजायेंगे, आओं हम सब क्रिसमस मनाएंगे।

सांता क्लोस आएंगे, बच्चे सब खुश हो जायेंगे।

Famous Christmas Poems

तुमको क्रिसमस की बहुत बधाई

देखो देखो क्रिसमस है आया
संग अपने ढेरों खुशियाँ लाया
चारों तरफ है सितारों की चमक
है संग सांता क्लॉस की दमक
चॉक्लेट कैंडी की है छाई बहार
खिलौनों और कपड़ों से हैं सजे बाज़ार
चर्च में हैं कैरल गाये जा रहे
जीसस का जन्मदिन सब हैं मना रहे
खुश तुम रहो यूँ ही हमेशा
तुमको क्रिसमस की बहुत बधाई

Christmas Poems for Children

क्रिसमस के पर्व को बड़े, बुजुर्ग, युवा, महिलााएं सभी वर्ग के लोग धूमधाम के साथ मनाते हैं, लेकिन इस त्योहार का बच्चों के लिए खासा महत्व है।

वे पूरी साल 25 दिसंबर का इंतजार करते हैं और इस पर्व को खास बनाने के लिए कई दिन पहले से ही इसकी तैयारियों में जुट जाते हैं।

इस मौके पर कई बच्चे सांता क्लॉज के वेष में लाल और सफेद कपड़े एवं बड़ी से सफेद दाढ़ी में नजर आते हैं और हर तरफ इस दिन ”जिंगल बेल, जिंगल बेल” की गूंज सुनाई देती है।

इसके साथ ही क्रिसमस के पर्व पर ईसाई धर्म के लोग अपने-अपने घरों और ऑफिस आदि में क्रिसमस ट्री सजाते हैं। स्कूलों में भी क्रिसमस से संबंधित कई प्रोजेक्ट दिए जाते हैं।

यह पर्व प्रेम, सदभाव का पर्व है जो की मानवता की भावना भी सिखाता है। वहीं क्रिसमस के पर्व पर लिखीं गईं यह कविताएं आपके चेहरे पर मुस्कान ला सकती हैं और आपके करीबियों को खुश कर सकती हैं।

देखो क्रिसमस का दिन है आया

देखो क्रिसमस का दिन है आया
सारा जहां है मुस्कुराया
हर तरफ क्रिसमस ट्री हैं सजे
सांता क्लॉस हैं उपहार बांट रहे
रात को सभी तरफ़ सितारों की है चमक
और साथ है क्रिसमस केक की महक
आज एक साथ हैं पूरा परिवार
ईसा मसि के जन्म दिवस पर
आप सब को भी ढेरों शुभकामनायें
क्रिसमस में हम सब खूब धूम मचायें

Christmas Card Poetry

आज ही भैया क्रिसमस आया

कुहरे ने जब चादर तानी
उतरा करने पर मनमानी
सूरज ने उसको फटकारा
खोला अपना भरा पिटारा
पूँछ छिपाकर भागा ऐसे
चूहा देखी बिल्ली जैसे
खुश हो बच्चे बजाय ताली
मिली मिठाई भरकर थाली
आज ही भैया क्रिसमस आया
खुशियों से भर झोली लाया

Funny Christmas Poems

उमंग और उल्लास का त्योहार क्रिसमस 12 दिनों तक मनाया जाता है। इस दिन कई देशों में राजकीय अवकाश भी घोषित किया गया है।

भारत में दिल्ली, गोवा समेत कई राज्यों में इस त्योहार को धूमधाम से मनाया जाता है। ईसाई मसीह के जन्मदिन के उपलक्ष्य में मनाया जाना वाला यह पर्व ईसाई मसीह के द्धारा समाज की भलाई के लिए किए कामों, उनके संघर्ष और त्याग की याद दिलवाता है।

ईसा मसीह ने अपनी शिक्षाओं के माध्यम से न सिर्फ मानवता का पाठ पढ़ाया बल्कि उनके अंदर दया और करुणा का भी भाव पैदा किया।

उनके उपदेशों को इस दिन हर व्यक्ति को याद करना चाहिए। क्रिसमस डे पर लिखी इस तरह की कविताओं से क्रिसमस डे के महत्व को भी समझने में मद्द मिलती है।

क्रिसमस

छुटि्टयों का मौसम है
त्योहारों की तैयारी है
रौशन हैं इमारतें
जैसे जन्नत पधारी है
कड़ाके की ठंड है
और बादल भी भारी है
बावजूद इसके लोगों में जोश है
और बच्चे मार रहे किलकारी हैं
यहाँ तक कि पतझड़ की पत्तियाँ भी
लग रही सबको प्यारी हैं
दे रहे हैं वो भी दान
जो धन के पुजारी हैं।
खुश हैं ख़रीदार
और व्यस्त व्यापारी हैं
खुशहाल हैं दोनों
जबकि दोनों ही उधारी हैं
भूल गई यीशु का जनम
ये दुनिया संसारी है
भाग रही है उसके पीछे
जिसे हो हो हो की बीमारी है
लाल सूट और सफ़ेद दाढ़ी
क्या शान से सँवारी है
मिलता है वो मॉल में
पक्का बाज़ारी है
बच्चे हैं उसके दीवाने
जैसे जादू की पिटारी है
झूम रहे हैं जम्हूरे वैसे
जैसे झूमता मदारी हैं

~ राहुल उपाध्याय

Christmas Hindi Poem

आज बड़ा दिन है आया

आज बड़ी और बात है
तुमसे हमको प्यार है कितना
निकले ये जज़्बात हैं
मौसम में है क्रिसमस की धूम
आओ नाचें झूम झूम
कभी सांता से कुछ मांगें
और बांटें कुछ उपहार
यूं ही हस्ते खेलते मनाएं
हम दोनों क्रिसमस का त्यौहार

~ अनुष्का सुरी

Christmas Poems for Kids

25 दिसंबर को क्रिसमस का पर्व मनाने की परंपरा कई सालों से चली आ रही है। आपको बता दें कि सबसे पहले 336 ईसवी में रोम में क्रिसमस का पर्व मनाया गया था।

क्रिसमस के पावन पर्व को मनाने को लेकर ईसा मसीह के जन्म के अलावा कई पौराणिक कथाएं जुड़ी हुई हैं। इस पर्व पर सांता क्लॉज के साथ क्रिसमस ट्री का भी काफी महत्व हैं।

क्रिसमस ट्री को सजाने के पीछे यह मान्यता है कि इस ट्री को सजाने से बच्चों की आयु लंबी होती है। वहीं इस दिन चर्च में जाकर प्रार्थना करने का भी अपना एक अलग महत्व है।

25 दिसंबर के दिन चर्च में बड़ी संख्या में भीड़ देखने को मिलती है। वहीं क्रिसमस पर लिखी गईं कविताएं न सिर्फ एक-दूसरे को क्रिसमस की बधाई देने के काम आएंगी बल्कि लोगों को क्रिसमस के पर्व का महत्व समझाने में भी कारगार साबित होंगी।

क्रिसमस का त्यौहार

क्रिसमस का त्यौहार
लगता सबको प्यारा
सजते सब गिरजाघर
झूमता शहर सारा
बच्चों को खुश करते
सांता लाते हैं ढेर सारे उपहार
गले सबके मिलते
करते हैं सबको प्यार
क्रिसमस ट्री से इस दिन होता
हर घर गुलजार
केक,चोकलेट,टाफियां
बच्चे खाते बार बार
जगमग रंगीन रोशनियों से
बाज़ार भी चमचम करते
पूरे विश्व में हो शान्ति
यहीं सभी कामना करते

~ मुकेश जैन

Religious Christmas Poems

‘क्रिसमस का दिन’

देखो दोस्तों आ गया यीशु का जन्मदिन,
जब लोग खुशियों के गीत गाते पूरे दिन।
इसी को कहते हैं क्रिसमस का त्योहार,
जिसपर सभी को मिलता प्यार।
क्रिसमस पर मिलते बच्चों को कई उपहार,
इसीलिए तो बच्चे सालभर करते क्रिसमस का इंतजार।
लोग सजाते घरों के सामने क्रिसमस ट्री,
ताकि बच्चों की हो हर खुशियां पूरी।
आओ साथ मिलकर मनाये क्रिसमस का त्योहार,
जो हममें बढ़ाता भाईचारा और प्यार।
जिसमें रहता बच्चों को सांता का इंतजार,
क्योंकि अपने साथ वह लाते ढेरो तोहफे हर बार।
इसीलिए सबको भाता यह क्रिसमस का त्योहार,
जिसे मिलकर मनाता पूरा घर परिवार।।

Read More:

Hope you find this post about “Christmas Poem in Hindi” useful. if you like this articles please share on facebook & whatsapp.

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.